यूआईटी के तीन अभियंताओं के ट्रेप का मामला- एएसपी डॉ. रावत को सौंपी जांच, न्यास से 46 फाइलें तलब की

 



 भीलवाड़ा हलचल। नगर विकास न्यास के तीन अभियंताओं के रिश्वत लेने के मामले की जांच चित्तौडग़ढ़ एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. विक्रमसिंह रावत को सौंपी गई है। इस बीच, आज एसीबी ने ठेकेदार से संबंधित 46 फाइलें न्यास से तलब की है। 
 मिली जानकारी के अनुसार,  टोंक की एसीबी टीम ने पिछले  गुरुवार को  एसई यूआईटी  रामेश्वर शर्मा और एक्सईएन संतोष शारदा को 75 हजार की घूस लेते जबकि सहायक अभियंता ब्रह्मलाल शर्मा को 25 हजार की रिश्वत लेते अरेस्ट किया था।
एसीबी के महानिदेशक दिनेश एमएन ने मामले की जांच चित्तौडग़ढ़ एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. विक्रमसिंह रावत को सौंप दी। 
डॉ. रावत ने हलचल को बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है। इसी के तहत अभियंताओं को ट्रेप कराने वाले ठेकेदार से संबंधित 46 फाइलों को न्यास से तलब किया गया है। उधर, चर्चा है कि न्यास द्वारा इस ठेकेदार को नोटिस थमाने का प्रयास किया जा रहा था, जिसकी शिकायत उसने एसीबी से की। इसके बाद एसीबी ने ठेकेदार से संबंधित सभी 46 फाइलों को न्यास से तलब कर लिया है।