भीलवाड़ा- कोविड केयर सेंटर के बाथरूम की जाली तोड़कर भाग छूटे मारपीट के दो आरोपित, मचा हड़कंप, तलाश में जुटी पुलिस

 


 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। शहर के पंचवटी इलाके में स्थित कोविड-केयर सेंटर के बाथरूम की जाली तोड़कर गुरुवार रात दो आरोपित फरार हो गये। दोनों मारपीट के एक मामले में गिरफ्तार हुये थे, जिन्हें न्यायालय ने जेल भेजने का आदेश दिया था। लेकिन कोरोना जांच की रिपोर्ट नहीं आने से  इन युवकों को कोविड केयर सेंटर में रखा गया था। कड़ी सुरक्षा के बीच इन दो युवकों के फरार होने से सेंटर पर तैनात पुलिस जाब्ते में हड़कंप मच गया। पुलिस दोनों आरोपितों की सरगर्मी से तलाश कर रही है। 

मिली जानकारी के अनुसार, मंगरोप थाना पुलिस ने सातलियास निवासी भवानीराम ने 2 मई 20 को मंगरोप थाने में रिपोर्ट दी थी। इस रिपोर्ट में बताया गया कि कुछ लोगों ने परिवादी के घर में घुसकर लाठियों व डंडों से उसके साथ मारपीट की। इस मामले में पुलिस ने पांच लोगों  गोपाल जाट, राधेश्याम उर्फ रामा बजरंगी  जाट, भगवानलाल  लाल बलाई, कैलाश  जाट व शंकर जाट  को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने इन सभी को न्यायालय में पेश किया जहां से इन्हें न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिये। 
इसके बाद पुलिस ने इनकी कोरोना जांच के लिए सैंपल दिये। कोरोना जांच रिपोर्ट आने तक  इन आरोपितों को पंचवटी सामुदायिक भवन स्थित कोविड केयर सेंटर में रखा गया था। बता दें कि कोरोना जांच नेगेटिव आने के बाद ही ऐसे आरोपितों को जेल में दाखिल किये जाने का नियम लागू किया हुआ है। 
उधर, कोतवाली सूत्रों के अनुसार, गुरुवार रात करीब दस बजे पांच में से दो आरोपित कैलाश जाट व गोपाल जाट कोविड केयर सेंटर के बाथरूम की जाली तोड़कर फरार हो गये। यह दोनों  आरोपित  15 दिसंबर से  इस सेंटर में थे .वहीं दूसरी और इन दो आरोपितों के सेंटर से फरार होने की जानकारी जब वहां तैनात जाब्ते को लगी तो उनमें हड़कंप मच गया। पुलिस ने दोनों को पकडऩे के लिए नाकाबंदी करवाते हुये तलाश शुरू की है। समाचार लिखे जाने तक आरोपितों का पता नहीं चल पाया। पुलिस दोनों की तलाश में जुटी है। खास बात यह है कि कोविड केयर सेंटर में ऐसे करीब 30 लोगों को रखा गया है और करीब एक दर्जन पुलिसकर्मी भी सुरक्षा के लिए वहां तैनात है। इसके बावजूद इन दो आरोपितों के वहां से भाग जाने के बाद सुरक्षा व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह इंगित हुआ है।