Tuesday, January 26, 2021

दिल्ली में किसानों के हिंसक प्रदर्शन पर गृहमंत्री अमित शाह ने बुलाई आपात बैठक

 

नई दिल्ली। दिल्ली में मंगलवार को गणतंत्र दिवस पर किसानों के हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने आपात बैठक बुलाई है। सूत्रों के मुताबिक गृहमंत्री अमित शाह के आवास पर चल रही इस उच्चस्तरीय बैठक में गृहसचिव सहित दिल्ली पुलिस के आला अफसर मौजूद हैं। इस अहम बैठक में राजधानी की सुरक्षा व्यवस्था पर मंथन चल रहा है। दिल्ली में जिस तरह से लाल किले जैसे राष्ट्रीय महत्व के स्मारक पर किसानों ने झंडा फहराया, और आईटीओ आदि स्थानों पर हिंसक घटनाएं हुईं, उससे गृहमंत्रालय हरकत में आया है। गृहमंत्री अमित शाह ने पूरे मामले को बेहद गंभीरता से लेते हुए अपने आवास पर उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है। इसमें राजधानी की सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता करने की रणनीति पर मंथन चल रहा है। खुफिया एजेंसियों को इनपुट मिले हैं कि किसानों के हिंसक प्रदर्शन के पीछे कई प्रतिबंधित संगठनों का भी हाथ है। ऐसे में सभी सुरक्षा एजेंसियां चौकन्नी हैं।
सूत्रों के मुताबिक बैठक में इस बात पर भी चर्चा हो रही है कि आखिर किसानों का ट्रैक्टर परेड कैसे हिंसक प्रदर्शन में बदला और कौन किसान नेता या संगठन इसके पीछे जिम्मेदार रहे। किसने किसानों को लाल किले पर जाकर झंडा फहराने के लिए उकसाया। राजधानी के सीमा क्षेत्रों की सुरक्षा व्यवस्था की भी समीक्षा हो रही है।
दिल्ली में किसानों के हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए फिलहाल गृहमंत्रालय ने राजधानी के कुछ क्षेत्रों में आज रात 12 बजे तक अस्थाई तौर पर इंटरनेट सेवाओं को बंद करने का फैसला किया। गृहमंत्रालय ने सिंघु, टीकरी, गाजीपुर बॉर्डर, नांगलोई आदि क्षेत्रों में इंटरनेट सेवाएं बंद करने के आदेश दिए हैं। वहीं आईटीओ, दिलशाद गार्डन आदि मेट्रो स्टेशन भी एहतियातन बंद हैं।

बाजाद खुले, वाहनों की रेलमपेल रही और लोगो ने की खरीददारी

  भीलवाड़ा। जिले में लगभग पिछले दो माह से कर्फ्यु घोषित किया हुआ था राज्य सरकार के आदेशानुसार कर्फ्यु में ढ़ील देने के बाद बुधवार को सुबह 6 बज...