Thursday, February 4, 2021

जहरीली शराब कांड: संभागीय आयुक्त जांच के लिए भीलवाड़ा पहुंची, दर्ज किये बारह निलंबित अधिकारियों व कर्मचारियों के बयान, कल करेंगी सारण का खेड़ा का दौरा


 भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा जिले के सारण का खेड़ा गांव मे जहरीली शराब पीने से महिला सहित पांच लोगों की मौत के मामले की जांच के लिए गुरुवार को अजमेर संभागीय आयुक्त डॉ. वीणा प्रधान भीलवाड़ा पहुंची। उन्होंने यहां सर्किट हाउस में जहरीली शराब कांड मामले में निलंबित आबकारी व पुलिस के अधिकारियों व कर्मचारियों के बयान दर्ज कर मामले की जांच शुरू की है। 
संभागीय आयुक्त डॉ. वीणा प्रधान ने सर्किट हाउस में हलचल से बातचीत में जहरीली शराब के संबंध में एक सवाल के जवाब में कहा कि कई बार जौ पुराना पड़ जाने या कोई और प्रोब्लम होने से भी यह प्रोब्लम हो सकती है। उन्होंने कहा कि वे, मामले की जांच करेंगी। आज इस मामले में सभी 12 निलंबित आबकारी व पुलिस के अधिकारियों व कर्मचारियों के बयान दर्ज किये हैं। संभागीय आयुक्त ने कहा कि वे, कल सारण का खेड़ा जायेंगी। जहां शराब से जान गंवा चुके 5 लोगों के घरों पर जाकर उनके परिवार से मिलेंगी, उन्हें सांवत्ना देंगी और उनके बयान भी लिये जायेंगे। इसके अलावा जो लोग अस्पताल में उपचाररत हैं, उनसे भी मिलेंगी। 
इससे पहले संभागीय आयुक्त के भीलवाड़ा पहुंचने पर कलेक्टर शिवप्रसाद एम नकाते, एडीएम प्रशासन राकेश कुमार, एडीएम सिटी वंदना और एसडीएम ओमप्रभा ने उनका स्वागत किया। 
बता दें कि जिले के सारण का खेड़ा गांव में गुुरुवार की शाम कुछ लोगों ने गुल्ला कंजर से शराब खरीद कर पी थी। इस शराब का सेवन खुद गुल्ला कंजर ने भी किया था। इस शराब को पीने से गुल्ला कंजर, सत्तूड़ी, दलेल सिंह, सरदार भाट,सहित पांच लोगों की मौत हो गई थी, जबकि चार अन्य की तबीयत बिगड़ गई। इनमें से तीन का अभी भी उपचार किया जा रहा है।  उधर, इस घटना को गंभीरता से लेते हुये राज्य सरकार ने पुलिस के साथ ही आबकारी विभाग के 11 अधिकारियों व कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया था। इस मामले की  प्रशासनिक जांच संभागीय आयुक्त , अजमेर को सौंपी गई थी। इसी जांच के सिलसिले में गुरुवार को संभागीय आयुक्त डॉ. वीणा प्रधान  भीलवाड़ा आई हैं। 
 
इनके दर्ज किये बयान  

मांडलगढ़ डीएसपी विनोद कुमार, थाना प्रभारी मनोज कुमार जाट, बीट प्रभारी हैड कांस्टेबल जगदीशचंद्र, कांस्टेबल शिवराज,  जिला आबकारी अधिकारी मुकेश देवपुरा, सहायक आबकारी अधिकारी निरोधक दल महिपाल सिंह, मांडलगढ़ के आबकारी निरीक्षक डॉ. विकासचंद्र शर्मा, प्रहराधिकारी निरोधक दल सरदार सिंह, जमादार नरेंद्र सिंह, सिपाही राजेंद्र सिंह, जगदीश प्रसाद, अरुण कुमार ।