Friday, February 12, 2021

अब ट्रेनों की थर्ड एसी में विमान जैसी सुविधाएं, कपूरथला RCF ने बनाई खास बोगियां, जानें 10 खासियतें

कपूरथला, । अब आम यात्रियों के लिए ट्रेनों में सफर आरामदेह और अधिक सुविधाजनक होगा। अब हर वर्ग के लोग एसी कोच में सफर कर सकेंगे। कपूरथला रेल कोच फैक्‍टरी ने खास वातानुकूलित 3 टियर इकनॉमी कोच बनाई है। आरसीएफ द्वारा विश्‍व की सबसे सस्ती व उम्‍दा एसी थ्री टियर इकनॉमी कोच (Three tier Economy) भारतीय रेल के सुपुर्द किया है। इस कोच में बेहद खास सुविधाएं हैं और इसके इंटेरियर लुक भी बेहतरीन है। इसमें विमानों की तरह की सुविधाएं दी गई हैं। इनकी 10 खासियतें यात्रियों को आरामदेह यात्रा का अहसास देंगी।

अब ट्रेनों में सफर होगा आरामदेह, कपूरथला रेल कोच फैक्‍टरी ने बनाई खास 3 Tier Economy Bogie

इस नए 3 टियर इकनॉमी क्‍लास के आने से अब हर वर्ग के यात्रियों का एसी बोगी में सफर करने का सपना साकार होगा तथा हमारी एक्‍सप्रेस ट्रेनों की क्षमता भी बढ़ सकेगी। हर डिब्‍बे में दिव्‍यांगजनों के लिए व्‍हील चेयर सहित एंट्री की सुविधा वाले दरवाजों तथा शौचालयों की व्‍यवस्‍था की गई है। यह यात्री डिब्‍बों के डिजाइन में एक नयी पहल है।

 

कपूरथला कोच फैक्‍टरी से रेल कोच को रवाना करते अधिकारी।

कपूरथला रेल कोच फैक्‍टरी से एसी थ्री टियर इकानमी कोच रेलवे को सुपुर्द

इस एसी थ्री टियर इकनॉमी क्‍लास कोच को कपूरथला आरसीएफ से आरडीएसओ लखनऊ के लिए आगामी ट्रायल के लिए रवाना कियाग गया। महाप्रबंधक रवींद्र गुप्ता ने हरी झंडी दिखाकर इसे रवाना किया। इस एलएचबी थ्री टियर कोच की परिकल्पना कपूरथला आरसीएफ ने वर्ष 2020 में की थी और रेल मंत्रालय की अनुमति मिलते ही नवंबर 2020 से इसके डिज़ाइन पर काम युद्धस्‍तर पर शुरू किया गया। इन नए यात्री डिब्‍बों में एक ओर आधुनिक यात्री सुविधाओं को एक नए शिखर पर ले जाया गया है। इसके साथ ही इन बोगियों की यात्री क्षमता 72 से बढ़ाकर 83 सीटें की गई हैं।

हर बोगी में 11 अतिक्ति सीटें लगने से ट्रेनाें की बढ़ेगी यात्री क्षमता

इस डिब्‍बे के डिज़ाइन में कई नवीनताएं लाई गई हैं। यात्री स्‍पेस को बढ़ाने के लिए कोच में लगने वाले हाई वोल्टेज इलेक्ट्रिकल उपकरणों को पहली बार बोगी के अंडर फ्रेम में जगह दी गई है। इससे इन डिब्‍बों में 11 अतिरिक्‍त सीटें के लिए जगह बनाकर यात्री क्षमता को बढ़ाया गया है। इन डिब्‍बों की यात्री क्षमता बढ़ाने के साथ साथ यात्रियों के लिए वर्तमान कोचों की अपेक्षा बेहतर आधुनिक सुविधाएं भी प्रदान की गई हैं।

 

थ्री टियर इकनॉमी ट्रेन कोेच का दृश्‍य।

विमानों की तरह इन बोगियों में होंगी सुविधाएं

इनमें पहले से बेहतर, आरामदायक, कम वजनी तथा सुविधाजन मॉड्यूल डिजाइन वाले बर्थ लगाए गए हैं। प्रत्‍येक बर्थ के लिए अलग-अलग एसी वेंट की सुविधा दी गई है। हर यात्री को अपना यूएसबी चार्जर प्‍वाइंट तथा रीडिंग लाइट दी गई है। यह हवाई जहाज समान सुविधा ट्रेनों में देने की पहल है।

फोल्‍डेबल टेबल व होल्‍डर्स होंगे, शौचालयों को किया गया रिडिजाइन

डिब्‍बे की साइड बर्थ की तरफ भी अब फोल्‍डेबल स्‍नैक टेबल, पानी की बोतलों, मोबाइल फोन एवं मैगज़ीन रखने के लिए होल्‍डर्स लगाए गए हैं। मिडिल और अपर बर्थ पर चढ़ने के लिए बेहद आकर्षक और नए डिज़ाइन की सीढि़यां लगाई गई हैं। इंडियन और वेस्टर्न स्टाइल की टॉयलेट को भी रिडिज़ाइन कर नया स्‍वरूप दिया गया है और इन्हें दिव्‍यांगजनों के लिए अधिक सुविधाजनक बनाया गया है। इन डिब्‍बों मे पेसेंजर सुविधाओं के लिए सार्वजनिक उद्घोषणा और यात्री सूचना प्रणाली भी लगाई गई है।

इस एसी थ्री टियर इकॉनमी क्‍लास कोच के इंटीरियर को नया रूप देने तथा यात्रियों की सुविधाओं को बढ़ाने के लिए सुविधाजनक प्रवेश, जगमगाते मार्कर, बर्थ संकेतक और सीट नंबर भी डिस्‍पले किए गए हैं। ये बोगियां 160 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से चलने में सक्षम हैं। बेहतर फायर सेफ्टी के लिए इन डिब्‍बों में दुनिया के उच्‍चतम मानक वाले समान का प्रयोग किया गया है।  कपूरथला आरसीएफ को वर्तमान तथा अगले वित्तीय वर्ष में इस प्रकार के कुल 248 डिब्बों के निर्माण का लक्ष्य दिया गया है। इसके तहत इसकी निरंतर निर्माण प्रक्रिया इसी महीने में शुरू कर दी जाएगी।

  

जानें ये 10 खासियतें-

- बोगी की यात्री क्षमता 72 से बढ़ाकर 83 की गई।

- हाई वोल्‍टेज इलेक्ट्रिकल उपकरणों को पहली बार बोगी के अंडर फ्रेम में जगह।

- आरामदाय‍क, कम वजनी व सुविधाजनक माॅड्यूल डिजाइन वाले बर्थ।

- प्रत्‍येक बर्थ के लिए अलग-अलग एसी वेंट की सुविधा।

 

- हर यात्री के लिए यूएसबी चार्जर प्‍वाइंट और रीडिंग लाइट।

- मिडिल और अपर बर्थ पर चढ़़ने के लिए आकर्षण, सुविधाजनक व नए डिजाइन की सीढि़यां।

- सुविधाजनक प्रवेश, जगमगाते मार्कर, बर्थ संकेतक और सीट नंबर डिस्‍पले।

- दिव्‍यांगों के लिए खास सुविधाएं और नए डिजाइन के शौचालय।

- सार्वजनिक उद्घोषणा और यात्री सूचना प्रणाली।

- 160 किलोमीटर की स्‍पीड में दौड़ने में सक्षम।

भीलवाड़ा में कोरोना का महाब्लास्ट, 407 नये पॉजिटिव, मांडल, बापूनगर, मांडलगढ़ बने हॉट स्पॉट

   भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा में कोरोना का शनिवार को महाब्लास्ट हुआ है। कोरोना ने पुराने सभी रेकार्ड तोडते हुये अपना रौद्र रुप दिखाया है। शनिव...