Thursday, March 25, 2021

तीन बेरोजगारों को हाथ ठेले के लिए आर्थिक सहायता देकर मनाया जन्मदिन


भीलवाड़ा (हलचल)। किसी को भीख देकर हम एक दिन के लिए  उसका पेट भर सकते हैं लेकिन किसी को रोजगार का साधन देकर हम उसको जिन्दगी भर के लिए अपने पैरों पर खड़ा कर सकते हैं, यह बात स्वर्गीय श्री रामजस जी सोडाणी स्मृति संस्थान भीलवाड़ा के मुख्य निदेशक डॉ अशोक सोडाणी ने कही।
वे गुरुवार को उदयपुर के नारायण सेवा संस्थान की निदेशिका वंदना अग्रवाल के जन्मदिन पर आयोजित भीख नहीं, रोजगार दो कार्यक्रम में बोल रहे थे। इस दौरान नारायण सेवा संस्थान के प्रमुख कैलाश अग्रवाल व मुख्य निदेशक प्रशांत अग्रवाल की प्रेरणा से सोडाणी स्मृति संस्थान की ओर से तीन व्यक्तियों को हाथ ठेले के लिए आर्थिक सहायता दी गई।

कोविड टेस्ट क्षमता बढ़ाने के लिए लगाईं 44 नई आरटीपीसीआर और 28 नई आरएनए एक्सट्रेक्शन मशीन -चिकित्सा शिक्षा सचिव

    जयपुर । कोरोना महामारी के बढ़ रहे खतरे के मद्देनजर राज्य में वर्तमान की 50 हजार टेस्ट प्रतिदिन की क्षमता को बढ़ाकर 1 लाख टेस्ट प्रतिदिन कि...