एक घंटे की बारिश से दिल्ली में आफत, कई जगह सड़कों पर जलभराव; नंद नगरी में इमारत गिरने से कई दबे

 

नई दिल्ली । दिल्ली-एनसीआर में शनिवार सुबह तकरीबन एक घंटे की बारिश लोगों के लिए आफत बन गई। जलभराव के चलते दिल्ली-एनसीआर में कई जगहों पर जाम लगने की सूचना है, तो दोपहर बाद दिल्ली में एक इमारत के गिरने की भी जानकारी सामने आई है। जागरण संवाददाता से मिली जानकारी के मुताबिक, पूर्वी दिल्ली के नंद नगरी स्थित ई-ब्लॉक में शनिवार दोपहर में अचानक तीन मंजिला मकान गिर गया। इसमें कुछ लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। सूचना पर दमकल की कई गाड़ियां मौके पर हैं और स्थानीय पुलिस भी मौके पर मौजूद है। राहत और बचाव का काम जारी है।

यहां पर बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में शनिवार सुबह 11 बजे के आसपास एक घंटे झमाझम बारिश हुई। वहीं,यह  बारिश लोगों के लिए आफत बन गई। बदहाल ड्रेनेज सिस्टम और खराब सफाई व्यवस्था की वजह से महज एक घंटे में दिल्ली एनसीआर की ज्यादातर सड़कें जलमग्न हो गईं। इस वजह से शनिवार का दिन होने से बेहद कम यातायात में भी लोगों को जाम का सामना करना पड़ा। वहीं नंद नगर इलाके में बाररिश की वजह से तीन बहुमंजिला इमारत ढह गई। इसमें कुछ लोगों के दबे होने की बात सामने आ रही है। 

jagran

इससे पहले 18 जुलाई को बारिश के चलते गुरुग्राम के फर्रूखनगर के ख्वासपुर गांव में कारगो डिलक्स कंपनी में श्रमिकों के रहने के लिए बनी तीन मंजिला इमारत बरसात के कारण भर-भरा कर गिर गई थी। इसमें एक शख्स की जान चलगी गई थी।

घटना की जानकारी के बाद जिला मुख्यालय से एनडीआरएफ की टीम ने मौके पर पहुंच कर बचाव और राहत कार्य शुरू कर दिया था। एससीपी पटौदी वीर सिंह सहित आसपास के सभी थाना प्रभारी व करीब 200 पुलिस जवान, छह फायर ब्रिगेड की गाडियां, पांच जेसीबी, करीब एक दर्जन से अधिक एबुलेंस मौके पर पहुंची थी।

बता दें कि शनिवार सुबह हुई बारिश के कारण दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे की सड़क भी तालाब में तब्दील हो गई। शनिवार सुबह खोड़ा के पास दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर सड़क पर इतना पानी भर गया कि बच्चे उसमें नहाने लगे।

तीन साल पहले दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा के ग्रेटर नोएडा वेस्ट के शाहबेरी गांव में 6 मंजिला बिल्डिंग गिरने से तकरीबन 2 दर्जन लोगों की मौत हो गई थी। दअसल, बिसरख कोतवाली क्षेत्र के शाहबेरी गांव के पास निर्माणधीन बिल्डिंग गिर गई थी। ग्रामीणों के अनुसार सावेरी गांव के पास गांव की आबादी की जमीन पर निर्माणाधीन 6 मंजिला इमारत दूसरी इमारत पर जा गिरी थी, जिसमें मजदूर सहित दर्जनों लोग दब गए थे।

 

    Popular posts from this blog

    भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

    सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

    वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक