शिक्षक अभिनंदन.... प्रकृति वंदन" कार्यशाला सम्‍पन्‍न

 

भीलवाडा। समाजसेवी संस्था सुमंगल सेवा संस्थान एवं रामभक्त टोली आजाद नगर के संयुक्त तत्वावधान में "शिक्षक अभिनंदन प्रकृति वंदन" नामक एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन रखा गया। 

आयोजन संयोजक दिनेश सेन ने बताया कि कोरोना महामारी के घटते दुष्प्रभाव एवं छात्र छात्राओं के भविष्य  को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा सरकारी एवं निजी विद्यालयों मे अध्ययन को नियमित किए जाने के दिशा-निर्देश जारी किए जाने के पश्चात आज सुमंगल सेवा संस्थान एवं रामभक्तो टोली आजाद नगर के संयुक्त तत्वावधान में  राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय बापू नगर मे कक्षा 6 से 8 तक बालिकाओं द्वारा शिक्षक अभिनंदन प्रकृति वंदन नामक एक दिवसीय कार्यशाला का  आयोजन रखा गया ।

आयोजन की शुरूआत वार्ड संख्या 9 तथा 20 के पार्षद लवकुमार जोशी एवं राजैन्द्र पोरवाल द्वारा राजकीय विद्यालय के प्रधानाचार्य सहित सभी शिक्षक शिक्षिकाओ को तिलक कर की गई तत्पश्चात लगभग 18 माह के पश्चात अध्ययन के लिए विद्यालय मे आने वाली समस्त छात्राओं द्वारा विद्यालय प्रधानाचार्य अभिषेक मिश्रा सहित सभी शिक्षक शिक्षिकाओ को सम्मान स्वरूप तुलसी , गिलोय, अश्वगंधा तथा कालमेघ के औषधीय पौधो के भेंट कर सभी का अभिनंदन किया  गया ।

संस्थान द्वारा आयोजित इस एक दिवसीय कार्यशाला से प्रेरित होकर विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाओ ने भी बेटी बचाओ और बेटी पढाओ का संकल्प दोहराने के साथ ही छात्राओ को प्रकृति से मित्रता कर इसकी सुरक्षा का संकल्प दिलवाया ।

संस्थान द्वारा आयोजित इस एक दिवसीय कार्यशाला मे विद्यालय की वृक्षारोपण प्रभारी नीलम शर्मा, इंजीनियर एल डी तिवारी , मधुबाला जोशी , नारायण गाडरी , सुधा जाट , विश्व हिन्दू परिषद के प्रांत पदाधिकारी बद्री लाल सोमानी,  संस्थान के अमित काबरा, रामभक्त टोली सदस्य , नरेन्द्र लोढा, नरेंद्र मिश्रा, नटराज पारीक, सत्यनारायण सोनी, राजेश शोत्रीय, बबलू हेड़ा,  बालक दास मनोज सेन, कुमार मंगलम, मनीष सांखला, सौरभ राठी, दसरथ सिंह सहित अनेक सदस्यो के सहयोग से विद्यालय स्टाफ सहित सभी क्षैत्रवासियो को कुल 1760 औषधीय पौधो का वितरण किया गया

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !