कांग्रेस समर्थित पूर्व सरपंच सहित दो गिरफ्तार, फर्जी तरीके से भूखण्ड हड़पने का मामला

 


करेड़ा अशोक श्रोत्रिय। पुलिस ने फर्जी दस्तावेज के आधार पर स्वामित्व का पट्टा देने पर कांग्रेस  समर्थित चिलेश्वर पूर्व सरपंच सहित दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है।
करेड़ा थानाधिकारी ने हलचल को बताया कि थाना सर्कल के चिलेश्वर निवासी बालूराम वैष्णव ने पुलिस में 8 नवंबर 2021 को रिपोर्ट देकर बताया कि उसके स्वयं का स्टांप लिखित कब्जे सुदा भूखंड को चिलेश्वर निवासी फूलचंद पुत्र मोडीराम जैन को वर्ष 2004 में दस हजार रूपए उधार लेकर गिरवी रखा था जिसे वह रुपयों के अभाव में छुड़वा नहीं पाया था।  वर्ष 2018 में उक्त भूखंड को जिसके पास गिरवी रखा था उसके पुत्र निर्मल कुमार पुत्र फूलचंद जैन निवासी चिलेश्वर द्वारा तत्कालीन कॉन्ग्रेस समर्थित चिलेश्वर सरपंच भंवरलाल कुमावत के साथ मिलकर उक्त जमीन को अपना स्वामित्व हक बताते हुए आपराधिक षड्यंत्र रचकर उक्त भूमि को 30 वर्ष से कब्जा एवं स्वामित्व हक  होना बताते हुए ग्राम पंचायत चिलेश्वर में शपथपत्र पेशकर उक्त भूखंड का बालूराम वैष्णव ने जिसके पास भूखंड रहन रखा था उसके पुत्र निर्मल जैन के नाम कूटरचित दस्तावेज बनाकर 41 × 31 फिट का 26 दिसंबर 2018 को पट्टा जारी कर दिया जिसकी जानकारी भूखंड धारी बालूराम को मिलने पर करेड़ा थाने में 8 नवंबर 2021 को तत्कालीन सरपंच कुमावत एवं निर्मल जैन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। करेड़ा पुलिस द्वारा उक्त मामले में कार्रवाई करते हुए गुरुवार को तत्कालीन कांग्रेस समर्थित सरपंच भंवरलाल  पुत्र त्रिलोक कुमावत उम्र 40 वर्ष एवं निर्मल कुमार पुत्र फूल चंद जैन उम्र 47 वर्ष को गिरफ्तार कर लिया। तत्कालीन सरपंच की गिरफ्तारी की जानकारी मिलने पर कई ग्रामीण करेड़ा थाने के बाहर एकत्रित होकर उक्त मामले की निष्पक्ष जांच करने की मांग की। बताया जा रहा है कि गिरफ्तार पूर्व सरपंच भंवर लाल कांग्रेश जिला कार्यकारिणी में सदस्य है।

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?