पटवारी 60 हज़ार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

 


टोंक.

एसीबी की टीम ने गुरुवार को  पहाड़ी गांव के हलका पटवारी जितेंद्र बैरवा को 60 हज़ार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। इस कार्रवाई की भनक लगते ही निवाई के नायब तहसीलदार ओमप्रकाश सिंह मौके से फरार हो गए। एसीबी फरार हुए आरोपी नायब तहसीलदार ओमप्रकाश सिंह के आवास और ठिकानों पर सर्च ऑपरेशन चला रही है।

एसीबी टोंक के  राजेश आर्य ने बताया कि निवाई निवासी एक किसान ने एसीबी को शिकायत दी थी। उसने बताया कि पहाड़ी गांव के हलका पटवारी जितेंद्र बैरवा व निवाई नायब तहसीलदार ओमप्रकाश सिंह ने जमीन के बंटवारे के मामले में फैसला उसके पक्ष में करने की एवज में डेढ़ लाख रुपए की रिश्वत की मांग रहे हैं। इस पर एसीबी की टीम ने शिकायत का सत्यापन करवाया, जिसमें शिकायत सही पाई गई। इस पर एसीबी की टीम ने आरोपियों को रंगे हाथों ट्रैप करने का प्लान बनाया, लेकिन पीड़ित के पास 60 हजार रुपए ही थे। इस पर एसीबी की टीम ने सौ-सौ के नोट मिलाकर गड्डियां इस तरह से बनाई की नोट देखने मे डेढ़ लाख से कम नहीं लगे। इसके बाद पीड़ित को केमिकल लगे 60 हजार रुपए देकर पटवारी को देने भेजा।

एएसपी ने बताया कि पटवारी के बताए अनुसार पीड़ित ने निवाई तहसील ऑफिस से कुछ ही मीटर की दूरी पर कार में बैठे पटवारी जितेंद्र बैरवा को रिश्वत के 60 हज़ार रुपए दे दिए। उसके बाद उसने एसीबी की टीम को इशारा कर दिया। टीम ने इशारा पाकर कार से पटवारी जितेंद्र बैरवा को पकड़ लिया। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

कार खड़े ट्रक से टकराई भीलवाड़ा के एक ही परिवार के तीन लोगों सहित 4 व्यक्तियों की मौत

फार्म हाउस पर छापा, भीलवाड़ा -चित्तौड़गढ़ जिले के 31 जुआरी गिरफ्तार सात लाख से ज्यादा की नकदी बरामद

कपड़ा व्यवसायी के घर चल रहा था सेक्स रैकेट , 2 लड़कियां सहित 6 हिरासत में