कोरोना रिटर्न्स: लोगों की लापरवाही, पड़ न जाए भारी, अब है संभलने की बारी

 


भीलवाड़ा BHN
अमिताभ बच्चन का एक डायलॉग काफी मशहूर हुआ था- देखा आपने लापरवाही का नतीजा। हालांकि उनका यह डायलॉग बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाने के लिए लोगों को प्रेरित करने के लिए था लेकिन वर्तमान में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच भीलवाड़ा के लोगों द्वारा बरती जा रही लापरवाही को देखते हुए यह यहां सटीक बैठने वाला है क्योंकि हम हमेशा हालात बिगड़ने के बाद चेतते हैं। यह लापरवाही ही है जिससे भीलवाड़ा में कोरोना संक्रमण फिर से अपने पैर पसार रहा है।
बुधवार को नौ नए संक्रमित मिले हैं। इसे कोरोना के लौटने की आहट कहा जा सकता है क्योंकि पिछले 14 दिनों में 21 नए कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। कोरोना के बढ़ने के बाद भी लोग अभी भी लापरवाह हैं। न तो पुलिस प्रशासन और न ही चिकित्सा विभाग ने भी इसे बढ़ने से रोकने के लिए अभी तक कोई कदम नहीं उठाए हैं। ऐसे में लोगों को खुद ही सतर्क रहना होगा और कोरोनाकाल की पाबंदियों को फिर से अपनाना होगा ताकि कोरोना को बढ़ने से रोका जा सके।
अगर आप कोरोनाकाल व लॉकडाउन के वे दिन भूल गए हैं तो याद दिला देते हैं कि कोरोना की शुरुआत में एक दिन में दो या तीन मरीज मिलने की खबर से ही शहर कांप उठता था। हमने लॉकडाउन भी काटा। घरों में कैद रहे और बाहर निकलने को तरस गए। सबकी नजर रोज के कोरोना संक्रमितों के आंकड़ों पर लगी रहती थी। सभी भगवान से प्रार्थना करते थे कि कोरोना जल्द से जल्द खत्म हो ताकि सभी फिर से पूरी आजादी से जी सके। पिछले 14 दिन के आंकड़े देखने से लगता है कोरोना के लौटने की शुरुआत हो चुकी है। इन 14 दिनों में अब तक 21 नए कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। सबसे गंभीर बात तो यह है कि इनमें एक तीन साल का मासूम बालक भी शामिल है। इस फेहरिस्त में एक किशोरी, एक किशोरी सहित नौजवान और बुजुर्ग महिला-पुरुष भी शामिल हैं।
भीलवाड़ा हलचल टीम ने शहर का जायजा लिया तो सामने आया कि रेलवे स्टेशन, रोडवेज बस स्टैंड सहित महात्मा गांधी अस्पताल हो या कृषि या सब्जी मंडी, सभी जगह लापरवाही देखने को मिली। महात्मा गांधी अस्पताल में आउटडोर से लेकर वार्डों तक में लोगों ने मास्क नहीं लगा रखे थे जबकि कोरोना संक्रमित मरीजों की जांच एमजीएच में ही होती है। ऐसे में यदि किसी एक व्यक्ति से संक्रमण फैल गया तो वह पता नहीं कितने लोगों को अपनी जद में ले लेगा। हालांकि डॉक्टर भी मानते हैं कि कोरोना का फिर से संक्रमण बढ़ रहा है और ऐसे में यदि कोरोना गाइडलाइन की पालना नहीं की गई तो फिर से कोरोना भयावह हालात पैदा कर सकता है। डॉक्टरों ने वैक्सीनेशन पर जोर दिया और बताया कि कंपलीट वैक्सीनेशन वाले व्यक्ति की बॉडी में रोग प्रतिरोधात्मक क्षमता बढ़ने से कोरोना संक्रमित होने के बाद भी काफी हद तक सुरक्षा मिलती है।
कमोबेश ऐसे ही हालात रेलवे स्टेशन और रोडवेज बस स्टैंड के हैं, जहां भारी भीड़ होने के बावजूद भी कोई सावधानी नहीं बरती जा रही है। रेल और बसों से बाहर से यात्री आते हैं लेकिन इन दोनों ही स्थानों पर उन पर कोई रोकटोक नहीं है। ऐसे में कम्युनिटी स्प्रेड का खतरा बना हुआ है। कृषि मंडी में भी अन्य राज्यों से फल व सब्जियों वाले आते हैं और यहां काफी समय रुकते हैं। उनके लिए भी कोई अतिरिक्त व्यवस्था नहीं की गई है।
कैसे करें बचाव...
कोरोना गाइडलाइन की पालना करें। मास्क लगाएं, सोशल डिस्टेंस रखें। हाथों को सैनिटाइजर या साबुन से बार-बार धोते रहें। हेल्दी डाइट लें। कोरोना वैक्सीनेशन कंप्लीट करवाएं।
इनका कहना है...
कोरोना का संक्रमण भीलवाड़ा में फिर से बढ़ने लगा है। ऐसे में लोगों को सतर्क हो जाना चाहिए। कोरोना गाइडलाइन की पालना करें। बच्चों का खासतौर से ख्याल रखें। उन्होंने न्यूट्रीशन वाली डाइट दें। उनमें कोरोना संक्रमण बढ़ने से रोकने के लिए उनके लिए भी कोरोना गाइडलाइन की पालना अनिवार्य करें।
डॉ. जगदीश सोलंकी, शिशु विशेषज्ञ, महात्मा गांधी मातृ एवं शिशु चिकित्सालय, भीलवाड़ा
कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए हमने अतिरिक्त सावधानी बरतना शुरू कर दी है। बसों को सैनिटाइज किया जाता है। चालक-परिचालकों को भी यात्रियों को कोरोना से बचाव के लिए जागरूक करने के निर्देश दिए गए हैं। वर्कशॉप में भी कोरोना गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित की गई है। बस स्टैंड पर एक आदमी लगाया गया है जो यात्रियों को कोरोना गाइडलाइन की पालना के लिए प्रेरित करता है।
चंद्रशेखर महर्षि, कार्यकारी प्रबंधक, रोडवेज डिपो भीलवाड़ा
   
 
 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद