दौलत-शौहरत यहीं छूट जाने वाली पुण्य रूपी संपदा ही साथ जाएगी- समकित मुनि

 


भीलवाड़ा BHN

ये दौलत, शोहरत कोई भी परलोक में साथ नहीं जाने वाली है। हमारे पुण्य व कर्म ही ऐसी दौलत है जिसे हम परलोक में साथ ले जा सकते है। इसलिए दौलत व शोहरत के पीछे भागने की बजाय अच्छे पुण्यअर्जित करने को जीवन का लक्ष्य बनाए ताकि हमारा यह भव और परभव दोनों ही सुधर सके। ये विचार आगमज्ञाता प्रज्ञामहर्षि डॉ. समकितमुनि ने सोमवार को हरणी महादेव रोड स्थित श्यामविहार कॉलोनी में आयोजित प्रवचन में व्यक्त किए। भीलवाड़ा के शांति भवन में आगामी चातुर्मास करने जा रहे पूज्य समकितमुनि ने सम्राट सिंकदर की जीवनी सहित विभिन्न प्रसंगों के माध्यम से ये समझाने का प्रयास किया कि हम अभी जिस रूप में जीवन को जी रहे है वह सार्थक नहीं है। उन्होंने गाड़ी को फिट रखने के लिए नियमित अंतराल पर सर्विस कराने और थोड़े-थोड़े दिन में चलाते रहने का उदाहरण देते हुए कहा कि जिस तरह हम गाड़ी फिट रखने पर ध्यान देते है उसी तरह शरीर को सेहतमंद रखने के लिए शारीरिक श्रम पर भी ध्यान दे अन्यथा शरीर की गाड़ी भी खटारा होते देर नहीं लगेगी। डॉ. समकितमुनिजी म.सा. ने सहयोग व सहायता की भावना हमेशा मन में रखने की प्रेरणा देते हुए सिख धर्म की लंगर परम्परा की सराहना की जिसके माध्यम से प्रतिदिन लाखों लोग भोजन पाते है। उन्होंने कहा कि लंगर में भोजन कराने वाले स्वयं को भाग्यशाली समझते है ओर कभी ये जानने का प्रयास नहीं किया जाता कि लंगर में भोजन पाने वाला कौन है। उन्होंने भागदौड़ भरी जिंदगी में कुछ सकुन के पल स्वयं के लिए निकालने का आग्रह करते हुए कहा कि खूब कमाने के बावजूद यदि भोजन करने के लिए भी समय नहीं मिले और भोजन से भरा टिफिन लेकर शाम को घर आ जाए तो सोचना ही पड़ेगा कि आखिर हम कमा किस लिए रहे है। मुनि ने 10 जुलाई को शांति भवन में चातुर्मासिक मंगलप्रवेश के बाद 12 से 14 जुलाई तक होने वाले सामूहिक तेला तप आराधना में भी अधिकाधिक सहभागिता का आग्रह करते हुए कहा कि प्रत्येक परिवार से कम से कम एक तेला तप आराधना करने का भाव रखा जाना चाहिए। चातुर्मासिक नियमित प्रवचन 13 जुलाई से शुरू हो जाएंगे। धर्मसभा में गायनकुशल जयवंत मुनि एवं प्रेरणाकुशल भावन्त मुनि का भी सानिध्य प्राप्त हुआ। धर्मसभा में श्यामविहार श्रीसंघ के अध्यक्ष कुशल बुलिया, श्रावक रतनलाल झामड़, हरनामसिंह कोठारी आदि ने विचार व्यक्त किए। धर्मसभा का संचालन श्यामविहार श्रीसंघ के उपाध्यक्ष सुशीलकुमार चपलोत ने किया। 

कांचीपुरम में होगा मंगलवार का प्रवचन

डॉ. समकितमुनि आदि ठाणा-3 मंगलवार सुबह श्यामविहार से मंगल विहार कर कांचीपुरम पहुंचेंगे। शांति भवन श्रीसंघ के मंत्री राजेन्द्र सुराणा ने बताया कि डॉ. समकितमुनि के मंगलवार सुबह 9 से 10 बजे तक कांचीपुरम स्थानक में प्रवचन होगा।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

VIDEO आसींद में युवक से मारपीट, तोड़फोड़, आगजनी का प्रयास, बाजार बंद, दो के खिलाफ रेप का मामला दर्ज

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

पुलिस के साये में रहेगा विशाल,दो हथियारबंद जवान करेंगे सुरक्षा