सर्दियों में बच्चों को संक्रमण से लड़ने में मदद करते हैं ये 6 सुपरफूड्स

 


लाइफस्टाइल डेस्क। जब बात आती है हमारी सेहत की, तो पोषण की अहमियत सबसे ज़्यादा हो जाती है। फिर चाहे वयस्क हों या फिर बच्चे, सभी को पोषण से भरपूर डाइट की ज़रूरत होती है। बच्चों को कई तरह की इंफेक्शन्स और बीमारियां आसानी से हो जाती हैं। उनको एक्टिव बनाएं रखें, खूब सारा पानी पिलाएं और पोषण से भरपूर खाना खिलाने से सेहत को फायदा पहुंचाता है।

खाने की ऐसी चीज़ें जो बीमारियों से बचाती हैं

सर्दियों में बीमारियों का शिकार हर कोई आसानी से हो जाता है। ऐसे में खाने की कुछ चीज़ों को डाइट में ज़रूर शामिल करना चाहिए। तो आइए जानें कि बच्चों को सर्दियों में इंफेक्शन्स से बचाने के लिए क्या-क्या खिलाना चाहिए।

हरी पत्तेदार सब्ज़ियां

पालक, केल और लेटस फाइबर, फोलेट, आयरन, कैल्शियम और विटामिन-सी जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। इसलिए बच्चों की डाइट में इन सब्ज़ियों को ज़रूर शामिल करें।

ब्रॉकली

ब्रॉकली फाइबर और कई तरह से पोषक तत्व और खनीज से भरपूर होती है। ब्रॉकली प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद करती है और संक्रमण से लड़ने में मदद करती है।

नट्स

अपने बच्चों को नाश्ते के लिए कुछ स्वस्थ मेवे दें। ये आपके बच्चे को इस सर्दी के मौसम में गर्म और ऊर्जावान बनाए रखने में मदद करेंगे।

शकरकंद

शकरकंद न सिर्फ स्वाद के मामले में बेहतरीन होती है, बल्कि पोषण से भी भरपूर होती है।

आंवला

आंवला भारतीय किचन में ज़रूर मिल जाता है। यह सर्दी, गले में ख़राश और अस्वस्थ आंत के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। सूक्ष्म पोषक तत्वों से भरपूर आंवला, बीमारियों को दूर रख सकता है।

गुड़

गुड़ खनिजों और एंटीऑक्सिडेंट का एक बड़ा स्रोत है, यही वजह है कि यह प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने का काम करता है। बच्चों और वयस्कों को आम सर्दी या फ्लू जैसे संक्रमण से उबरने में मदद करता है।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?