Saturday, October 31, 2020

सरकार और गुर्जर नेताओं के बीच आरक्षण समेत 14 बिंदुओं पर बनी सहमति

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति द्वारा रविवार से प्रस्तावित आंदोलन के बीच गुर्जर नेताओं के एक प्रतिनिधि मंडल ने शनिवार को यहां सरकार के साथ वार्ता की। इस वार्ता में दोनों पक्षों में 14 बिंदुओं पर सहमति बनी। बैठक में शामिल हुए गुर्जर नेता हिम्मत सिंह ने बातचीत को सकारात्मक बताते हुए कहा कि इससे समाज संतुष्ट होगा और उसे आंदोलन की जरूरत नहीं पड़ेगी। बैठक में हालांकि कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला शामिल नहीं हुए।


यहां सचिवालय में मंत्रिमंडलीय उपसमिति व गुर्जर नेताओं के प्रतिनिधि मंडल की लगभग सात घंटे चली बैठक के बाद रात में आयोजित संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में चिकित्सा मंत्री डा रघु शर्मा ने उन 14 बिंदुओं को पढ़कर सुनाया जिन पर सहमति बनी है। युवा मामले व खेल राज्य मंत्री अशोक चांदना ने कहा कि समझौते के बिंदुओं की पालना तुरंत प्रभाव से की जाएगी।


वहीं गुर्जर नेता हिम्मत सिंह ने सरकार के साथ बातचीत को सकारात्मक बताते हुए कहा कि सरकार को इन बिंदुओं पर तय समय के अनुसार कार्रवाई करनी चाहिए ताकि गुर्जर समाज को आगे आंदोलन की राह नहीं पकड़नी पड़े। उन्होंने कहा कि समाज संतुष्ट होगा तो आगे आंदोलन नहीं होगा।


बैठक में गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला शामिल नहीं हुए। इस पर हिम्मत सिंह ने कहा कि अगर सरकार के साथ 14 बिंदुओं पर बनी सहमति से समाज संतुष्ट होता है तो बैंसला भी संतुष्ट होंगे। उल्लेखनीय है कि बैंसला ने समाज के लोगों से एक नवंबर यानी कल रविवार को बयाना के पीलूपुरा पहुंचने को कहा है।


इस बीच संभावित आंदोलन को लेकर पुलिस प्रशासन सतर्क है। कई जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गयी हैं तो गृह विभाग ने भरतपुर, धौलपुर, सवाई माधोपुर, दौसा, टोंक, बूंदी, झालावाड़ व करौली जिले में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लागू कर दिया है।


 


पूजास्थल कानून-1991 की वैधानिकता को शीर्ष अदालत में चुनौती, कहा- भेदभावपूर्ण और मौलिक अधिकारों का उल्लंघन है कानून

नयी दिल्ली : अयोध्या में रामजन्म भूमि का फैसला आने के बाद मथुरा के श्रीकृष्ण विराजमान की जन्मस्थली को लेकर अदालती लड़ाई के बीच सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता व बीजेपी नेता अश्विनी उपाध्याय ने शीर्ष अदालत में याचिका दाखिल कर पूजास्थल कानून-1991 की वैधानिकता को चुनौती दी है.बीजेपी नेता अश्विनी उपाध्याय ने शीर्ष अदालत में दाखिल याचिका में पूजास्थल कानून-1991 को भेदभावपूर्ण बताते हुए मौलिक अधिकारों का उल्लंघन बताया है. उन्होंने पूजास्थल कानून-1991 की धारा 2, 3 और 4 को संविधान का उल्लंघन बताते हुए इन्हें रद्द करने की मांग की है.याचिका में उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार को इस तरह का कानून बनाने का अधिकार ही नहीं है. उन्होंने कहा है कि संविधान में तीर्थस्थल राज्य का विषय है. यह संविधान की सातवीं अनुसूची की दूसरी सूची में शामिल है. साथ ही पब्लिक ऑर्डर भी राज्य का विषय है. इसलिए केंद्र ने ऐसा कानून बनाकर क्षेत्राधिकार का अतिक्रमण किया है.अश्विनी उपाध्याय ने याचिका में कहा है कि ऐतिहासिक तथ्यों, संवैधानिक प्रावधानों और हिंदू, जैन, बौद्ध और सिखों के मौलिक अधिकारों को संरक्षित करते हुए शीर्ष अदालत उनके धार्मिक स्थलों को पुनर्स्थापित करे. साथ ही कानून की धारा 2, 3 और 4 को संविधान के अनुच्छेद 14, 15, 21, 25, 26 और 29 का उल्लंघन बताते हुए रद्द करने की अपील की है.


बीजेपी नेता का कहना है कि पूजास्थल कानून-1991 को 11 जुलाई, 1991 को अतार्किक तरीके से लागू करते हुए कहा गया था कि 15 अगस्त, 1947 को जो स्थिति पूजा स्थलों और तीर्थस्थलों की थी, वही आगे भी कायम रहेगी.


उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार कानून को पूर्व की तारीख से लागू नहीं कर सकता है. साथ ही लोगों को ज्यूडिशियल रेमेडी से वंचित भी नहीं कर सकता है. केंद्र सरकार कानून बनाकर हिंदू, जैन, बौद्ध और सिख समुदाय के लिए अदालत का दरवाजा भी बंद नहीं कर सकता है.


नमकीन फैक्‍ट्री और ड्राई फ्रुट की दुकान पर छापा

भीलवाड़ा (हलचल) । शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत प्रशासन और स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की टीम ने आज नमकीन फैक्‍ट्री और ड्राई फ्रुट की दुकान पर छापा मारा। ड्राई फ्रुट की दुकान बिना लाइसेंस होने पर उसके खिलाफ धारा 38 के तहत कार्यवाही भी की गयी। इसके साथ यहां से ड्राई फ्रुट और नमकीन फैक्‍ट्री से तेल व बेसन के सैंपल भी लिये गये। कार्यवाही के दौरान खाद्य सुरक्षा अधिकारी देवेन्द्र सिंह सहित कई अधिकारी भी मौजूद रहे।
            नायब तहसीलदार गोपाल जीनगर ने कहा कि शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत आज कुंभा सर्किल चौराहे के पास स्थित रॉयल गोवा मेवा वाला ड्राई फ्रुट की दुकान पर छापा मारा गया। दुकान संचालक बिना खाद्य सुरक्षा लाईसेस के संचालन कर रहा था। इसके साथ ही ड्राई फ्रुट के कई पैकेट बिना किसी बैच के भी मिले है। जिनका सैंपल भी लिया गया है। इससे पूर्व बिलियां फैज नं.3 में एक नमकीन फैक्‍ट्री पर छापा मारा गया। जहां पर नमकीन बनाने वाले तेल, बेसन और मसालों के सैंपल भी लिये गये है। 


प्यास के बहाने आई मौत-11 साल के बालक की कुएं में गिरने से गई जान

भीलवाड़ा हलचल। जिले के रामपुरिया गांव के एक 11 साल के बालक की कुएं में गिरने से मौत हो गई। घटना से गांव में शोक छा गया। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद बालक का शव परिजनों को सौंप दिया। 
करेड़ा थाने के हैडकांस्टेबज जगदीश प्रजापत ने बीएच को बताया कि रामपुरिया निवासी बाबूलाल सालवी अपने परिवार सहित खेत पर कृषि कार्य करने गया था। दोपहर में करीब 3 बजे खेत पर ही मौजूद बाबू का 11 वर्षीय बेटा सोनू कुमार प्यास लगने से कुएं पर गया, जो पैर फिसलने से कुएं में जा गिरा और डूबने से उसकी मौत हो गई। परिजनों ने सोनू का शव कुएं से निकाल कर करेड़ा अस्पताल पहुंचाया, जहां पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। मासूम बालक की मौत से रामपुरिया में शोक छा गया।  


नाहर पेट्रोल पंप पर लूट की कोशिश, दो युवक पकड़े, पूछताछ जारी

 भीलवाड़ा हलचल। शहर में पुर रोड़ स्थित एक पेट्रोल पंप पर शनिवार शाम को दो युवकों ने नकदी लूटने की कोशिश की, जिन्हें पंपकर्मियों व आस-पास मौजूद लोगों ने दबोच कर पुलिस के सुपुर्द कर दिया। फिलहाल पुलिस के पास कोई रिपोर्ट नहीं आई है। 
प्रताप नगर थाना प्रभारी भजन लाल ने हलचल को बताया कि पुर रोड पर स्थित नाहर ब्रदर्स के पेट्रोल पंप पर शनिवार को दो युवक पहुंचे। इन युवकों ने पंप के गल्ले से नकदी लूटने की कोशिश की। पंपकर्मियों ने आस-पास मौजूद लोगों की मदद से दोनों युवकों को दबोच लिया और पुलिस को सूचना दी। प्रताप नगर पुलिस मौके पर पहुंची जो दोनों युवकों को थाने ले आई। युवक  नरेश नाथ व प्रकाश रैगर बताये गये हैं। दोनों थाना सर्किल के रहने वाले है, जिनसे पुलिस पूछताछ कर रही है। 


कोविड-19 के विरुद्ध जन आंदोलन-जिला कलेक्टर ने दिखाई रैली को हरी झंडी

भीलवाड़ा हलचल। कोविड-19 विरुद्ध जन आंदोलन के तहत चलाए जा रहे अभियान के तहत शनिवार को शहर भर में विभिन्न आयोजन हुए। जिला कलेक्टर श्री शिवप्रसाद एम नकाते ने मुखर्जी उद्यान  से स्काउट गाइड की ओर से निकाली गई जागरूकता रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।


            स्थानीय संघ के सचिव पे्रमशंकर जोशी ने बताया कि रैली को रवाना करते वक्त पूर्व यूआईटी चेयरमैन अक्षय त्रिपाठी, पूर्व सभापति मंजू पोखरना उपस्थित रहे।  इस अवसर पर जिला कलक्टर ने कहा कि स्काउट गाइड बालक बहुत अच्छा काम कर रहे हैं । जोशी ने बताया कि रैली में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सुभाष नगर के स्काउट- गाइड, कुडोज पब्लिक स्कूल की गाइड, सेठ मुरलीधर मानसिंहका राजकीय बालिका महाविद्यालय की रेंजर ,आजाद ओपन रोवर क्रु के रोवर ,मीरा ओपन रेंजर टीम की रेंजर ने हाथों में कोरोना महामारी से बचाव के नारे लिखी तख्तियां बैनर पेंपलेट लेकर जोरदार नारे लगाते हुए सेशन कोर्ट रेलवे स्टेशन गोल प्याऊ चैराहा हेड पोस्ट आॅफिस होते हुए नगर परिषद कार्यालय तक जोरदार जन जागरूकता फैलाई।
          रैली में जोन एक के समन्वयक अमित टेलर, राज कुमार गहलोत, एनसीसी की जया, दीपशिखा, रेंजर साक्षी ,शशिकंवर, कुडोज पब्लिक स्कूल की मधुबाला यादव, लायंस क्लब (रूबी ) की अनीता, हलेड के स्काउट मास्टर मुकेश प्रजापत ने भी भाग लिया। रैली के साथ स्काउट गाइड स्थानीय संघ का वैगनआर कार का बनाया रथ चल रहा था जो आकर्षण का केंद्र था। रैली की समाप्ति के बाद जोन एक वार्ड नंबर 13 सर्किट हाउस के आसपास के क्षेत्रा में भी स्काउट गाइड कोरोना रथ द्वारा  पेप्लेट, स्टीकर ,पोस्टर, कार्ड बोर्ड के माध्यम से सरकारी गाइडलाइन का आकर्षक तरीके से प्रचार- प्रसार किया। स्काउट गाइड  स्थानीय संघ  जिला मुख्यालय भीलवाड़ा पर सभी को कौमी एकता दिवस के अवसर पर स्थानीय संघ सचिव  प्रेम शंकर जोशी ने  राष्ट्रीय एकता व कौमी एकता को अक्षु्ण बनाए रखने की शपथ दिलाई। स्थानीय संघ के तत्वाधान में मार्च 20 से ही निरंतर कोरोना महामारी के बचाव के कार्यक्रम व सेवा कार्य किए जा रहे हैं। सेवाकार्य में मास्क वितरण, राशन सामग्री वितरण, भोजन पैकेट वितरण, रंगोली बनाओ, नारा लेखन द्वारा सरकारी गाइडलाइन का प्रचार- प्रसार  किया जा रहा है।
             जोन 6 में वार्ड नंबर 31 व 32 में  ’’नो मास्क - नो एंट्री’’ कार्यक्रम प्रारंभ किया गया। जोन  समन्वयक व्याख्याता विक्रम सिंह जैन ने बताया कि शनिवार को सूर्य महल के सामने आने-जाने वाले लोगों को मास्क के पूरी तरह नाक तक लगाने की सलाह दी गई।,उनको समझाइश करके उनके  नाम,मोबाइल नंबर, उम्र तथा फोटो अपलोड किए गए। जिन लोगों ने मास्क नहीं पहन रखे थे उनको मास्क तथा पेम्पलेट वितरित किए गए । वाहनों पर स्टीकर लगाए गए। कार्यक्रम में स्वास्थ्य निरीक्षक राजेंद्र खोखर, जमादार गोपाल चन्नाल, भैरूदत्त, एनसीसी कैडेट सत्यनारायण मालावत उपस्थित  रहे।
आमजन से की ’’दो गज दूरी- मास्क जरूरी’’
              सहयोग सेवार्थ फाउंडेशन संस्थान भीलवाड़ा द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रसाशन द्वारा चलाये जारहे कोविड-19 के विरुद्ध जनआंदोलन में सहभागिता निभाते हुए कोरोना जागरूकता अभियान में जोन 7 के सदस्यों ने आजाद चैक मार्केट, प्रताप टाकीज रोड, सिटी सेंटर सहित पूरे मार्केट में वैवाहिक एवं त्योहारों के सीजन के चलते  खरीददारी  के लिये उमड़ रही भारी भीड़ को कोरोना बचाव के लिए जागरूक करते हुए ’’दो गज दूरी-मास्क जरूरी’’ का महत्व समझाते हुए मास्क लगाने, सोशल डिस्टेनसिंग की पालना करने एवं सेनिटाइजर के उपयोग करने की अपील करते हुए कोरोना बचाव हेतु जागरूक किया एवं रोको- टोको अभियान के तहत 300 मास्क वितरित किए ।
           फाउंडेशन के सचिव गोपाल विजयवर्गीय ने बताया की  जोन  7 के समन्वयक व्याख्याता रोहित शर्मा, फाउंडेशन के कोषाध्यक्ष हेमन्त गर्ग, स्वास्थ्य निरीक्षक गोविंद चन्नाल , जमादार छोटू चन्नाल, श्यामलाल नकवाल, रवि नकवाल,  एन सी की कैडेट्स सहित जोन 7 की पूरी टीम ने जागरूकता अभियान के तहत बाजारों में दुकानों पर जाकर व्यापारियो को दो गज दूरी एवं मास्क लगाकर एवं ग्राहकों को बिना मास्क एंट्री नही देने की अपील की ।  आमजन एवं व्यापारियों ने सरकार द्वारा कोविड-19 के विरुद्ध चलाये जा रहे जनआंदोलन का समर्थन किया एवं अभियान की सराहना की । प्रताप टाकीज के पास गारमेंट व्यवसायियों ने ’’नो मास्क- नो एंट्री’’ की शपथ ली ।


दो दिन के नवजात शिशू को छोड़ा पालनागृह में

भीलवाड़ा हलचल। जिला मुख्यालय पर स्थित मातृ एवं शिशू चिकित्सालय परिसर स्थित पालनागृह में शनिवार देर शाम नवजात शिशू मिला है। इस नवजात को किसी महिला ने जन्म देने के बाद यहां छोड़ दिया, जिसे चिकित्सकर्मियों ने उपचार के लिए भर्ती कर लिया। फिल्हाल शिशू स्वस्थ बताया गया है। 
जानकारी के अनुसार, मातृ एवं शिशू चिकित्सालय के वार्ड में शनिवार शाम 7.20 बजे घंटी बजी। चिकित्साकर्मी तुरंत पालनागृह पहुंचे, जहां एक नवजात शिशू बिलखता मिला। उसे तुरंत ही वार्ड में ले जाकर भर्ती कर उपचार शुरू कर दिया। चिकित्सालय सूत्रों के अनुसार, नवजात बच्चे का जन्म करीब दो दिन पहले हुआ था, जिसका वजन लगभग ढाई किलो है। बच्चा स्वस्थ है। बताया गया है कि किसी महिला ने इस शिशू को जन्म देने के बाद पालनागृह में छोड़ दिया।  


जंगल में बेहौश मिली किशोरी, सनी थी खून से, फैली सनसनी

भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। मंगरोप थाना सर्किल में 17 साल की एक किशोरी खून सनी हालत में जंगल में अचेत मिली। इस घटना से ग्रामीणों में सनसनी फैल गई। किशोरी को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। 
मंगरोप पुलिस ने हलचल को बताया कि थाना सर्किल के एक गांव की 17 वर्षीय किशोरी शनिवार सुबह साढ़े आठ बजे खाना खाने के बाद घर से बिना बताये निकल गई। किशोरी जब लौटकर घर नहीं आई तो परिजनों की चिंता बढ़ गई। वे, किशोरी की तलाश में निकल पड़े। शाम को यह किशोरी गांव से करीब दो किलोमीटर दूर जंगल में अचेत पड़ी मिली। उसको ब्लीडिंग हो रखी थी। 
यह देखकर परिजन सकते में आ गये। किशोरी को परिजन तुरंत ही जिला अस्पताल ले गये, जहां उसे गहन चिकित्सा इकाई में भर्ती कर उपचार शुरू कर दिया गया। अभी तक पुलिस को इस संबंध में परिजनों ने कोई रिपोर्ट नहीं दी है। उधर, किशोरी के अचेत होने से अभी यह पता नहीं चल पाया कि किशोरी घर से इतनी दूर कैसे पहुंची और उसके साथ क्या घटना हुई। पुलिस किशोरी के हौश में आने का इंतजार कर रही है, ताकि घटना का पता चल सके। फिलहाल घटना को लेकर पीडि़ता के गांव में सनसनी फैली है। 


बाबा शेवाराम साहब जी का 104वां प्राकट्य उत्सव मनाया

भीलवाड़ा हलचल। हरी शेवा उदासीन आश्रम सनातन मंदिर  में सतगुरु बाबा शेवाराम साहब जी का 104वां प्राकट्य उत्सव हर्षोल्लास एवं उत्साह के साथ मनाया गया। पुरुषोत्तम मास से प्रारंभ हुए 45 दिवसीय आध्यात्मिक एवं धार्मिक अनुष्ठान संपूर्ण होकर पूर्णाहुति भी हुई। परंपरा अनुसार विद्वान ब्राह्मणों द्वारा वैदिक मंत्रोचार के साथ महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन के सानिध्य में प्रातःकाल ध्वजारोहण संतों महात्माओं एवं श्रद्धालुओं ने किया। इससे पूर्व सतगुरु की समाधि साहेब पर ध्यान मौन एकाग्र पूजन वंदन हुआ। श्रद्धालु ताराचंद, हेमंत रामरख्यानी परिवार रतलाम, दुबई, खटवानी परिवार अमेरिका सहित बड़ौदा, सूरत, अजमेर, कोटा, वाराणसी, कोडीनार, अहमदाबाद, मुंबई व अन्य शहरों के श्रद्धालु, आश्रम के ट्रस्टीगण आदि ने कथा के दौरान पूजन अर्चन किया एवं संत महात्माओं तथा व्यासपीठ का पूजन अर्चन कर आशीर्वाद प्राप्त किया।


दो दिवसीय श्री रामायण अखंड पाठ संपूर्ण होने पर भोग लगाया गया। बाबा शेवाराम साहब जी के प्राकट्य उत्सव पर लड्डू महाप्रसाद का दीप प्रज्वलित कर भोग लगाया गया। सभी श्रद्धालुगण संगीत एवं भजनों पर झूम उठे। अजमेर के श्रीमहंत स्वरूपदास, स्वामी अर्जुनदास, स्वामी ईश्वरदास, पुष्कर के श्रीमहंत हनुमानराम, रीवा के स्वामी कमलदास ने अपने आशीर्वचन एवं दर्शन दिए।


 


महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन ने  भजन *"बाबा हरिराम बाबा शेवा राम बाबा गंगाराम तुहिंजा बचड़ा आहियूं तुहिंजे चरणन में सिर था निवायूं* " प्रस्तुत करते हुए कहा कि व्यवस्थाओं, पद्धतियों, पूजन पाठ का पालन जो विभिन्न आश्रमों में होता है, उनको गृहस्थो को अपनाना चाहिए। संतो के ऊपर किसी प्रकार का बंधन नहीं है। संतगण संकल्प को पूर्ण करने वाले हैं।  कोरोना काल से जो सेवा कार्य चल रहे हैं, उनको पूर्ण करने की शक्ति एवं सामर्थ्य गुरू और संतों के आशीर्वाद से ही प्राप्त हो रही है।


 


व्यासपीठ के सम्मान में भजन *हरि की कथा सुनाने वाले तुमको लाखों प्रणाम*  संगीतमय प्रस्तुति दी गई ।व्यासपीठ की विदाई पूजन अर्चन कर शाल, मौली, पुष्प माला आदि द्वारा सम्मान किया गया। इस अवसर पर संत मयाराम, गोविंदराम, संत राजाराम एवं अन्य उपस्थित रहे। आचार्य पंडित सत्यनारायण शास्त्री, चंद्रशेखर शास्त्री, मनोजकृष्ण शास्त्री,  जितेंद्र शास्त्री, भरत चतुर्वेदी, मनमोहन शर्मा आदि ब्राह्मणों द्वारा वैदिक मन्त्रोचार किया गया। हवन यज्ञ पूर्णाहुति के पश्चात कन्याओं का भोज व संतों का ब्रह्मभोज हुआ। इस बार आम भंडारा नहीं होकर अन्नपूर्णा रथ से कच्ची बस्तियों में प्रसाद वितरण हुआ। संतों महात्माओं व विप्रजनों को परंपरा अनुसार विदाई दी गई। उत्सव के कुशल एवं सफल संपूर्ण होने पर हर्ष व्यक्त किया गया।


 


आज व्यास पीठ से स्वामी योगेश्वरानंद जी महाराज कल्याण आश्रम अमरकंटक ने श्री महादुर्गा लीला कथा का वाचन किया। कथा के दौरान अंबे गौरी के आकर्षक स्वरूप का दर्शन हुए।  सायंकाल में श्रीमद् भागवत कथा का वाचन करते हुए व्यासपीठ से कथा प्रवक्ता ने कहा कि ईश्वर सत्घन, घटघन, चैतन्य है। वही हमें इस प्रकृति की समस्त घटनाओं एवं आनंद की अनुभूति का भान करवाता है। आज श्री भागवत महापुराण कथा संपूर्ण हुई एवं कथा का विश्राम हुआ। 


सायंकाल में गुरुओं की समाधि साहब पर पूजन, अर्चना, चादर चढ़ाने का कार्यक्रम हुआ। रात्रि में शरद पूर्णिमा के अवसर पर करुणामयी लीला मंडल बरसाने द्वारा महारास लीला हुई । अंत में पल्लव कार्यक्रम हुआ, जिसमें सनातन धर्म एवं विश्व कल्याण सहित  कोरोना वायरस से मुक्ति की प्रार्थना की गई।


वेतन -भत्तों की कटौती के आदेशों के खिलाफ रेलकर्मियों का हरिद्वार ट्रेन पर प्रदर्शन

 भीलवाड़ा हलचल। नार्थ वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन के आह्वान पर शनिवार को रेलकर्मियों ने  भारत सरकार एवं रेल मंत्रालय की ओर से  किये जा रहे वेतन -भत्तों की कटौती के आदेशों के खिलाफ भीलवाड़ा स्टेशन पर उदयपुर-हरिद्वार ट्रेन पर प्रदर्शन किया।  
यूनियन अध्यक्ष कैलाशचंद्र सुवालका ने हलचल को बताया कि नॉर्थ वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन शाखा भीलवाड़ा  द्वारा 18 माह के लिए मंहगाई भत्ते एवं मंहगाई राहत को फ्रीज़ किये जाने और रात्रि भत्ते से 43600 से अधिक वेतन पाने वाले कर्मचारियों को बाहर किये जाने व जुलाई 2017 से कटौती किये जाने के आदेशों को लेकर रेलकर्मियों में जबरदस्त आक्रोश है। इसी के चलते शनिवार को भीलवाड़ा  रेलवे स्टेशन पर  गाड़ी संख्या 19609 उदयपुर- हरिद्वार के आगमन पर भारी  संख्या  में  एकत्रित होकर  रेल कर्मचारियों ने रेल मंत्रालय के खिलाफ  जमकर नारेबाजी की , मुर्दाबाद के नारे लगाए तथा  सरकार को बड़े आंदोलन की चेतावनी दी ।
 प्रदर्शन में शाखा सचिव राधेश्याम शर्मा, गोरधन राम, सुभाष दीक्षित, विमला पाराशर, तुलसीराम खटीक,हरिराम,संगीता,अशोक कुमार, मनोज नागर सहित सभी विभागो से भारी संख्या मे रेलवे कर्मचारी मौजूद रहे। 


दीपावली में देसी और मिट्टी के दीपकों की रहेगी भरमार

भीलवाड़ा।दीपावली पर्व में दीपों का सबसे ज्यादा महत्व है। यही कारण है कि इसपर्व पर दीपकों की जोरदार बिक्री होती है। इसलिए पिछले कई वर्षों से दीपकों के बाजार पर चीन ने कब्जा जमा रखा था। जानकार बताते हैं कि चीनी दीपक जलाना लोगों को सस्ते पड़ते हैं, इसलिए उनकी बाजार में ५० फीसदी तक पकड़ थी। लेकिन इसबार चीन से छिड़े विवाद के चलते हर आदमी चीनी उत्पाद का बहिष्कार कर रहा है। यही कारण है कि इसबार बाजार में चीनी दीपक अभीतक नजर नहीं आ रहे। वहीं दुकानदार बताते हैं कि चीनी सामान का बहिष्कार हो रहा है इसलिए उन्होंने इसबार चीनी दीपक नहीं मंगवाए हैं। ऐसे में साफ है कि इसबार दीपावली में देसी और मिट्टी के दीपकों की भरमार रहेगी। इसे लेकर कुंभकार भी उत्साहित हैं। उन्होंने गतवर्षों की तुलना में ज्यादा मिट्टी केबाजार में चीनी दीपक नहीं  दीपक बनाने का लक्ष्य लिया है।


टे्रनों में सीटों को लेकर वेटिंग की स्थिति

चित्तौडग़ढ़. दीपोत्सव से पहले अगर आप दूर-दराज रह रहे परिजनों के साथ त्योहार मनाने की सोच रहे है तो आपकी मुश्किल खड़ी हो सकती है। कारण, अनलॉक के बाद दौड़ लगा रही टे्रनें आपको घर पहुंचाने में बाधा बन सकती है। अभी से टे्रनों में सीटों को लेकर वेटिंग की स्थिति आ गई है। खासतौर से कई टे्रनों में स्लीपर श्रेणी में तो वेटिंग का आंकड़ा पचास के पार हो गया है।
जानकारी के अनुसार चित्तौडग़ढ़ जंक्शन से होकर इस समय छह टे्रनें गुजर रही है। मेवाड़ एक्सप्रेस, अजमेर-बांद्रा, उदयपुर-बांद्रा, उदयपुर-हरिद्वार, अजमेर-हैदराबाद तथा उदयपुर-जयपुर इंटरसिटी शामिल है। इनमें से वर्तमान में आपको इंटरसिटी में ही जगह मिल सकती है। शेष टे्रनों में सीटें बुक है। अगले सप्ताह १-२ नवम्बर तक मेवाड़ एक्सप्रेस, बांद्रा और हरिद्वार में एसी श्रेणी के कोच में १५ से २० वेटिंग चल रही है। जबकि स्लीपर में ४० से ५० वेटिंग है।


नहीं बढ़ाई टे्रनों की संख्या, दीपावली पर थी उम्मीद
दीपावली से पहले उम्मीद थी कि रेलवे और स्पेशल टे्रनों को दौड़ा सकता है। लेकिन अभी एेसा नहीं हुआ। टे्रनें नहीं बढ़ाने से वेटिंग लिस्ट लम्बी है। जबकि दीपोत्सव में महज एक पखवाड़ा रह गया है। इस समय बिहार, उत्तरप्रदेश, उत्तराखण्ड समेत कई दूर-दराज राज्यों के लोग जिले में काम कर रहे है। एेसे में वह त्योहार पर अपने घर जाना चाहते है।


दीपावली से एक सप्ताह पहले स्थिति विकट
दीपावली से एक सप्ताह पहले ८ नवम्बर से लगाकर १२ नवम्बर के बीच वातानुकृलित एसी की श्रेणी फस्ट, सैकण्ड और थर्ड श्रेणी में ही वेटिंग का आंकड़ ५० से ६० के बीच चल रहा है। जबकि स्लीपर श्रेणी सौ के करीब पहुंच गई है। एेसे में लम्बी दूरी की टे्रनों में जगह मिलना मुश्किल हो सकता है। जिन्होंने वेटिंग में टिकट लिए है वह भी सीट मिलने को लेकर संशय में है। जिन्होंने पहले ही टिकट आरक्षित करवा लिए। वह निश्चिंत है।


ऑनलाइन बुकिंग भी मुसीबत, कोरोना ने बिगाड़ा गणित
कोरोना महामारी ने इस बार टे्रनों के संचालन का गणित बिगाड़ दिया है। ऑनलाइन बुकिंग कराने पर ही टे्रन में प्रवेश दिया जाएगा। एेसे में कई लोग ऑनलाइन टिकट बुक करवाने पहुंचे इससे पहले ही बुकिंग हो गई। इस बार जनरल कोच नहीं होने से भी यात्रा में मुसीबत हो रही है। बड़ी संख्या में लोग जनरल कोच में यात्रा करते हैं।


चोरी के वाहन छिपाने का अड्डा बना रखा था हरणी महादेव मंदिर की पहाड़ी को

भीलवाड़ा। शहर में दुपहिया वाहन चोरी में लिप्त शातिर अपराधी को पुलिस ने गिरफ्तार कर नौ दुपहिया वाहन बरामद किए। आरोपित ने हरणी महादेव मंदिर की पहाड़ी को वाहन छिपाने का अड्डा बना रखा था। 


शहर में दुपहिया वाहन चोरी की बढ़ती वारदतों को लेकर पुलिस अधीक्षक ने कोतवाली प्रभारी नेमीचंद चौधरी की अगुवाई में विशेष टीम गठित की। टीम को चोरी की वारदातों में तेजाजी चौक के सोरगरों का बाड़ा निवासी जमील उर्फ बाबू उर्फ कारी (३५) पुत्र फ कीर मोहम्मद पठान के लिप्त होने की जानकारी मिली। २७ अक्टूबर को आरोपित के तेज सिंह सर्किल क्षेत्र में होने की सूचना मिली। इस पर टीम ने सर्किल क्षेत्र में दबिश देकर आरोपित को पकड़ा लिया। आरोपित के कब्जे से बरामद हुई स्कूटी भी चोरी की निकली। आरोपित जमील को परिवादी गायत्रीनगर निवासी बालूसिंह पंवार की रिपोर्ट पर गिरफ्तार कर कोतवाली लाया गया। यहां पूछताछ में उसने शहर में हुई दुपहिया वाहनों की चोरी में लिप्त होना बताया।


जमील ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वो गत एक साल से वाहन चोरी की वारदात कर रहा है। लॉक डाउन के कारण चोरी किए गए वाहन नहीं बिक रहे थे। इस लिए उसने चोरी के वाहन बाइक,स्कूटर को हरणी महादेव की पहाडिय़ों पर स्थित गड्ढे में छिपा दिया। पुलिस ने बाद में यह वाहन बरामद कर लिए। आरोपित ने बताया कि शौक- मौज व आर्थिक तंगी के कारण उसने चोरी की वारदातें की।


गुर्जर आंदोलन की चेतावनी: सरकार ने 8 जिलों में लगाया रासुका

जयपुर। राजस्थान में आगामी 1 नवंबर को गुर्जर आंदोलन की चेतावनी को देखते हुए राज्य सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। आंदोलन से निपटने के लिए गृह विभाग ने गुर्जर बाहुल्य भरतपुर, धौलपुर, सवाई माधोपुर, दौसा, टोंक, बूंदी, झालावाड़ और करौली में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगा दिया है।


मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अप्रूवल के बाद गृह विभाग ने इसके आदेश जारी किए। गृह विभाग ने इन 8 जिलों के कलेक्टर्स को रासुका का प्रयोग करने के लिए अधिकार दिए हैं। गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने अति पिछड़ा वर्ग (मोस्ट बैकवर्ड क्लास यानी एमबीसी वर्ग) के पांच फीसदी आरक्षण सहित अन्य मांगों को लेकर एक नवंबर को फिर से आंदोलन की राह पकड़ने का एलान किया है।


शुक्रवार को महज चार मिनट की प्रेसवार्ता में कर्नल बैंसला ने दो-टूक कहा कि अब कोई वार्ता नहीं, आंदोलन होगा। 17 अक्टूबर को गांव अड्डा में हुई गुर्जर समाज की महापंचायत में राज्य सरकार को मांगों के लिए 15 दिन का समय दिया था, लेकिन सरकार ने मांगों को अनदेखा कर सकारात्मक पहल नहीं की। एक भी मांग नहीं मानी है। ऐसे में एमबीसी समाज में कड़ा आक्रोश है।


पटरी से सड़क तक होगा आंदोलन
कर्नल बैंसला के पुत्र विजय बैसला ने प्रेसवार्ता में कहा कि हक के लिए गुर्जर समाज इस बार पटरी के साथ सड़क पर भी आंदोलन करेगा। उन्होंने कहा कि एक नवंबर को पीलूपुरा में जुटने के साथ गुर्जर समाज के लोग सिकंदरा में राष्ट्रीय राजमार्ग 11 पर एकत्र होंगे। विजय बैसला ने कहा कि कुछ लोगों के आंदोलन से दूर होने से फर्क नहीं पड़ता। आरक्षण और अन्य मांगों के लिए राजस्थान का गुर्जर समाज एक है।


सुरक्षा बलों की 19 कंपनियां भेजी, कई जगह इंटरनेट बंद
गुर्जर आंदोलन के मद्देनजर कानून-व्यवस्था के लिए पुलिस ने व्यापक तैयारी की है। सुरक्षा बलों की 19 कंपनियां गुर्जर बहुल इलाकों में भेजी गई हैं। करौली और भरतपुर के गुर्जर बहुल क्षेत्रों में बीती रात 12 बजे से इंटरनेट बंद कर दिया गया है। जरूरत पडऩे पर पूरे करौली और भरतपुर का इंटरनेट बंद किया जाएगा। जयपुर में 5 तहसीलों में इंटरनेट सेवा बंद की गई है। आदेश के तहत शुक्रवार शाम 6 से शनिवार शाम 6 बजे तक 24 घंटे के लिए दौसा, कोटपूतली, पावटा, शाहपुरा, विराटनगर और जमवारागढ़ में इंटरनेट सेवाएं बंद रहेंगी।


ओड़ों का खेड़ा में खूनी संघर्ष- हत्या के 5 आरोपित चढ़े पुलिस के हत्थे

 भीलवाड़ा हलचल। शहर कोतवाली पुलिस ने पिछले दिनों ओड़ों का खेड़ा में एक ही परिवार के दो पक्षों में हुये खूनी संघर्ष में दो युवकों की मौत को लेकर दर्ज दो मुकदमों में 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। 
कोतवाल नेमीचंद चौधरी ने बीएच को बताया कि 24 अक्टूबर को दोपहर करीब तीन बजे सूचना मिली कि ओड़ों का खेड़ा के पास स्मृतिवन  के पास ओड़ों का खेड़ा के युवक आपस में झगड़ा कर रहे हैं। सूचना पर  पुलिस टीम मौके पर पहुंची, जबकि कोतवाल चौधरी अस्पताल पहुंचे। जहां पता चला कि दीपक पुत्र अंबालाल ओड़ व विकास पुत्र श्यामलाल ओड़ के दादाजी सगे भाई होकर दोनों रिश्ते में भाई लगते हैं। विकास की बुआ का बेटा अभिषेक पुत्र बाबूलाल ओड़ और दीपक के बीच मोबाइल पर वाट्सएप्प स्टेटस डालने को लेकर 10-15 दिन पहले विवाद हुआ झगड़ा हुआ था। जिसे दोनों पक्षों के परिजनों ने दोनों को समझाकर मामला शांत करवा दिया था। 
स्मृतिवन के पास अभिषेक व दीपक के बीच पुन: गाली-गलौच होकर मारपीट होने लगी। इनके बीच-बचाव में विकास के पीठ में चाकू लग गया। वहीं दीपक के पेट में भी चाकू लगा। राहगीरों ने विकास व दीपक को जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टर्स ने विकास को मृत घोषित कर दिया। वहीं दीपक उर्फ मुन्ना ओड़ को प्राथमिक उपचार के बाद उदयपुर रैफर किया, जहां उसने भी दम तोड़ दिया। इस घटना को लेकर पूर्व में दोनों पक्षों के 19 लोगों को शांतिभंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया। वहीं 27 लोगों को पाबंद करवाया गया। खूनी संघर्ष को लेकर दोनों ही पक्षों की रिपोर्ट पर परस्पर केस दर्ज किये थे।  पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा के निर्देशानुसार एएसपी गजेंद्रसिंह जोधा व डीएसपी सिटी भंवररणधीर सिंह के मार्गदर्शन में टीमें गठित की गई। इनमें कोतवाल चौधरी, हैडकांस्टेबल चांद सिंह, सत्यकाम, हनुमानराम, मुकेश, सत्तार खां, प्रदीप, संजय, भूपेंद्र को शामिल किया गया। 
इस टीम ने विकास की हत्या के मामले में महेंद्र पुत्र अंबालाल ओड़, अंबालाल पुत्र रतन लाल ओड़, जबकि दीपक उर्फ मुन्ना की हत्या के मामले में अभिषेक पुत्र बाबूलाल ओड़ राहुल पुत्र बाबूलाल ओड़ व अंबालाल पुत्र हजारी ओड़ को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपितों से पूछताछ कर रही है। 


पुलिस ने पकड़ी बजरी भरी व खाली दो ट्रैक्टर-ट्रॉलियां, चालक भागे

 भीलवाड़ा हलचल। जिले के रायपुर थाना इलाके में बजरी परिवहन के रोकथाम के लिए लगाई गई पुलिस टीम ने बजरी से भरी एक व दूसरी खाली ट्रैक्टर-ट्रॉली को जब्त किया है, जबकि चालक भाग छूटे। 
पुलिस के अनुसार, बजरी परिवहन व खनन की रोकथाम के लिए पुलिस लाइन से एक टीम रायपुर थाना इलाके में लगाई गई। इस टीम ने गश्त के दौरान बजरी परिवहन करती मिली एक ट्रैक्टर-ट्रॉली और एक खाली ट्रैक्टर-ट्रॉली को जब्त कर लिया, जबकि पुलिस को देखकर दोनों ट्रैक्टर-ट्रॉली चालक भाग निकले। दोनों ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को रायपुर थाने में खड़ा करवाया गया है। 


चार साल के मासूम की टैंक में गिरने से मौत

 भीलवाड़ा (हलचल)। आटूण गांव के चार साल के एक बालक की शनिवार सुबह टैंक में गिरकर डूबने से मौत हो गई। एमजीएच चौकी सूत्रों के अनुसार, आटूण निवासी अरविंद का चार साल का बेटा आयूष घर में ही खेल रहा था। परिजन काम में व्यस्त थे। आयूष खेल-खेल में टैंक में जा गिरा। परिजनों को घटना का पता चला तो उन्होंने आयूष को टैंक से निकाला और जिला अस्पताल ले गये, जहां डॉक्टर्स ने आयूष को मृत घोषित कर दिया। उधर, मासूम की मौत से आटूण में शोक छा गया। 


क्या सलमान खान निकालेंगे अपनी भड़ास

 सलमान खान (Salman Khan) के विवादित रियलिटी शो 'बिग बॉस 14' (Bigg Boss 14) में इन दिनों फुल ऑन लड़ाई देखने को मिल रही है. बीते दिनों में कई कंटेस्टेंट की लड़ाई ने शो में जबरदस्त तड़का लगाया है. हाल ही में बिग बॉस कंटेस्टेंट राहुल वैद्या ने घर में जमकर बवाल किया था. सिंगर राहुल वैद्य (Rahul Vaidya) ने इस हफ्ते के नॉमिनेशन के दौरान जान कुमार सानू के ऊपर नेपोटिज्म से जुड़ा कमेंट किया था. राहुल के इस बयान की काफी आलोचना भी हुई थीं. वहीं, राहुल और जैस्मिन का भी जबरदस्त झगड़ा हुआ था, जिससे काफी हंगामा मचा था. वहीं, सलमान राहुल की इस हरकत पर बेहद गुस्सा है और उनकी जबरदस्त क्लास लगाने वाले है.सलमान राहुल वैद्या से कहते है कि, तुम शो में क्या कर रहे हो. इसपर राहुल कहते है कि वो शो में इंटरटेनमेंट कर रहे है. सलमान राहुल पर भड़कते हुए कहते है कि इस तरीके से. तुमने क्या बोला, नेपोटिज्म. तुमको किसने बोला जान शो में नेपोटिज्म की वजह से है. उसमें टैलेंट है उसने खुद का नाम बनाया है. इस वजह से वो शो में है. जैसा तुम्हारा नाम है वैसे ही उसका भी नाम है. तुम उसको नेपोटिज्म कैसे बोल सकते हो. तुमको मालूम है नेपोटिज्म का मतलब भी क्या होता है.इसके अलावा सलमान राहुल को डांटते हुए कहते है कि, एक अगर मां-बाप काम करता है और नाम करता है या मां बाप का नाम होता है तो क्या बच्चे अपने मां- बाप का टैंलेट का खाते है क्या. ऐसा नहीं है. बात तुमने बहुत गलत की है. इस इंडस्ट्री में टिकने के लिए अगर कोई गॉडफादर की जरूरत होती है तो वो बहुत ही गलत है. अगर आपमें टैलेंट होगा तो ही आप टिक पाओगे. आपको कोई इंडस्ट्री में डेब्यू करा देगा लेकिन अगर आपमें टैलेंट नहीं होगा तो एक मिनट में बाहर चले जाओगे.वहीं, भाईजान जान कुमार सानू से पूछते है कि कितनी जगह आपके पिता ने आपको काम दिलवाने के लिए बात की है. इसपर जान कहते है कही नहीं. मैंने खुद की मेहनत से अपनी पहचान बनाई है. जिसके बाद सलमान कहते है कि ये कोई प्लेटफार्म नहीं है जिसपर नेपोटिज्म को लेकर बात की जाए. वहीं, जान से कहते है कि मराठी भाषा का अपमान करने के लिए वो सबसे माफी मांगे.


इसके अलावा वो जैस्मिन को भी फटकार लगाते है औऱ कहते है आपका गेम अच्छा चल रहा था, लेकिन अब आप कुछ ज्यादा ही ओवर एक्टिंग कर रही है. इससे आपके फैंस नाराज हो गए है. जिसके बाद वो रूबीना पर आते है और कहते है कि आप जैस्मिन को समझाने के बजाय उसको राहुल पर पानी फेंकने के लिए कहती है. जिसपर रूबीना कहती है आप ना एक काम करो, मुझे सारे घरवालों से एक-एक वोट देकर घर से निकलवा दो. इसपर सलमान कहते है कि बदतमीजी की भी हद होती है.


बता दें कि सलमान खान पर भी नेपोटिज्म का आरोप लगता रहा है. कुछ समय पहले ही मॉडल और बॉलीवुड एक्ट्रेस सोफिया हयात ने सोशल मीडिया पर कहा था कि शो के जरिए नेपोटिज्म को प्रमोट किया जाता है. उन्होंने कहा था कि शो में स्टार किड को लाना गलत है. वहीं, सलमान खान पर यूजर्स ने जमकर निशाने साधा था क्योंकि उन पर नेपोटिज्म का आरोप लगता रहा है, जो अक्सर स्टार किड्रस को प्रमोट करते दिखते है.


पुलवामा हमले पर बोले पीएम, अंहकार और भद्दी राजनीति को देश नहीं भूलेगा

केवडिया /राष्ट्रीय एकता दिवस पर गुजरात के केवडिया स्थित स्टेच्यू ऑफ यूनिटी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबाधित किया. इस दौरान उन्होंने पुलवामा हमले का जिक्र करते हुए कहा कि, देश कभी भूल नहीं सकता कि जब अपने वीर बेटों के जाने से पूरा देश दुखी था, तब कुछ लोग उस दुख में शामिल नहीं थे, वो पुलवामा हमले में भी अपना राजनीतिक स्वार्थ देख रहे थे. देश भूल नहीं सकता कि तब कैसी-कैसी बातें कहीं गईं, कैसे-कैसे बयान दिए गए.आगे उन्होंने कहा कि देश भूल नहीं सकता कि जब देश पर इतना बड़ा घाव लगा था, तब स्वार्थ और अहंकार से भरी भद्दी राजनीति कितने चरम पर थी. पिछले दिनों पड़ोसी देश से जो ख़बरें आई हैं जिस प्रकार वहां की संसद में सत्य स्वीकारा गया है, उसने इन लोगों के असली चेहरों को देश के सामने ला दिया है.बीते कुछ समय से दुनिया के अनेक देशों में जो हालात बने हैं, जिस तरह कुछ लोग आतंकवाद के समर्थन में खुलकर सामने आ गए हैं, वो आज वैश्विक चिंता का विषय है. आज के माहौल में, दुनिया के सभी देशों, सभी सरकारों, सभी पंथों को आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होने की बहुत ज़्यादा जरूरत है.


चीन और पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री मे कहा कि आज भारत की भूमि पर नज़र गड़ाने वालों को मुंहतोड़ जवाब देने की ताकत हमारे वीर जवानों के हाथ में है. आज का भारत सीमाओं पर सैकड़ों किलोमीटर लंबी सड़कें बना रहा है, दर्जनों ब्रिज, अनेक सुरंगें बना रहा है. अपनी संप्रभुता और सम्मान की रक्षा के लिए आज का भारत पूरी तरह तैयार है.


कोरोना से लड़ाई में देशवासियों के साहस और एकजुटता की तारीफ करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी अचानक आई, इसने पूरे विश्व में मानव जीवन को प्रभावित किया, हमारी गति को प्रभावित किया है लेकिन इस महामारी के सामने 130 करोड़ देशवासियों ने जिस तरह अपने सामूहिक सामर्थ्य को साबित किया है वो अ​भूतपूर्व है.सरदार पटेल की जयंती पर उन्हें याद करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की सैकड़ों रियासतों को, राजे-रजवाड़ों को एक करके, देश की विविधता को आज़ाद भारत की शक्ति बनाकर सरदार पटेल ने हिंदुस्तान को वर्तमान स्वरूप दिया


Friday, October 30, 2020

बचत खाते में न्यूनतम बैलेंस 500 रुपए रखना अनिवार्य

भीलवाड़ा /अगर आप डाकघर बचत बैंक खाताधारक savings bank accounts हैं तो यह खबर आपके काम की है। डाक विभाग ने अब बचत खाते में न्यूनतम बैलेंस 500 रुपए रखना अनिवार्य कर दिया है। 11 दिसम्बर से यह व्यवस्था लागू हो जाएगी। यदि खाताधारक के खाते में राशि 500 रुपये से कम है तोउसे डाकघर जाकर या डाकघर के ही इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (आईपीपीबी) के अपने खाते से बचत खाते में न्यूनतम 500 रुपए के बैलेंस  के लिए पैसे जमा करने होंगे। यह नए नियम डाकघर बचत खाता खुलवाने पर भी लागू होंगे। अब नया खाता 50 रूपए की जगह न्यूनतम 500 रुपए से ही खुलवाया जा सकेगा है व इतना ही न्यूनतम बैलेंस खाते में रखना भी खाताधारक के लिए जरूरी  होगा। यदि निर्धारित समय सीमा के बाद बचत खातों में न्यूनतम बैलेंस नहीं रखा गया तो इस स्थिति में 100 रूपए का रखरखाव शुल्क काटा जाएगा और अगर शुल्क कटौती के उपरांत खाते में बैलेंस शून्य हो जाता है तो ऐसी परिस्थिति में बचत खाता स्वत: ही बंद हो जाएगा।


 अजमेर डाक परिक्षेत्र के अधीन आने वाले सभी 8 मंडलों अजमेर भीलवाड़ा,बांसवाड़ा, बारां,बूंदी ,चित्तौडगढ, डूंगरपुर,झालावाड़ ,कोटा,प्रतापगढ़, राजसमन्द, टोंक एवं उदयपुर जिल के बचतबैंक खाताधारकों को अवगत कराने के लिए विशेष निर्देश जारी कर दिए गए हैं। निर्धारित समय सीमा तक वे अपने खातों में निर्धारित राशि जमा करा लेवें।


खनिज विभाग करेगा बजरी नीलाम

भीलवाड़ा।
खनिज विभाग अब जब्त बजरी नीलाम करेगा। इसके लिए दो दिन में विभाग टैण्डर करेगा। इसे लेकर बजरी माफियों में खासी चर्चा होने लगी है। जिला कलक्टर शिवप्रसाद एम नकाते ने १५ अक्टूबर को सरकारी प्रेस नोट में जब्त बजरी की नीलामी दर ३५० रुपए प्रति टन कर बजरी सरकारी निर्माण में देने के निर्देश दिए थे लेकिन खनिज विभाग ने जिला टास्क फोर्स का हवाला देते इसकी दर बढ़ाकर ४२५ रुपए प्रति टन कर दी और इसे सार्वजनिक रूप से नीलाम करने का निर्णय किया।

खनिज विभाग ने एक पखवाड़े में अवैध बजरी दोहन व परिवहन के खिलाफ कार्रवाई करते लगभग 28 हजार टन बजरी जब्त की। खनिज अधिकारियों का दावा है कि जिले से बनास व कोठारी नदी से प्रतिदिन 25 हजार टन बजरी अवैध रुपए से जिले व जिले से बाहर जा रही है। विभाग ने जिले में 14 स्थानों पर अवैध खनन व परिवहन के खिलाफ कार्रवाई करते 27,806 टन बजरी जब्त की। बजरी जैसी स्थिति में है, वैसी स्थिति में नीलाम की जाएगी। 14 स्थान पर 50 टन से 14,803 टन बजरी पड़ी है।


>शरद पूर्णिमा मनाई, इस बार मंदिरों में बड़े आयोजन नहीं

भीलवाड़ा .
जिले शरद पूर्णिमा सादगी से मनाई गई। इस बार मंदिरों में बड़े आयोजन नहीं हुए। केवल खीर का भोग लगा पूजा की गई। महिलाएं शनिवार को व्रत रखेगी। मुख्य डाकघर के सामने श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर के महंत बाबूगिरी ने बताया कि कोरोना को देखते भोग के लिए खीर बना हनुमानजी को चढ़ाई। सांगानेर के खाखरा वाले देवता के यहां बड़ा आयोजन नहीं रखा। 30वां श्वास रोग निदान शिविर हुआ। सुबह 9 से शाम 5 बजे तक ६०० श्वास रोगियों को निशुल्क दवा दी। रात्रि में खीर प्रसाद नहीं किया। पुजारी श्यामलाल ने बताया कि बिन मास्क रोगियों को शिविर में प्रवेश नहीं दिया। रोगियों को दवा देने के साथ ही आयुर्वेदिक पद्धति से खीर बनाना सिखाया। मंशापूर्ण महादेव मंदिर में आकर्षक फूलों का सिंगार किया गया।
बालाजी मार्केट के बालाजी मंदिर में राम दरबार का आकर्षक नयनाभिराम धवल शृंगार, हनुमानजी महाराज के रजत चोला श्रृंगार व भगवान के चंद्रमा की किरणों में रखी खीर का भोग रात्रि 12 बजे लगाया गया। भगवान के दर्शन रात्रि 10 बजे बाद नहीं करने दिया गया। पंडित आशुतोष शर्मा ने बताया की कोरोना के कारण खीर का प्रसाद नहीं बांटा गया।
विवेकानन्द नगर स्थित राधा कृष्ण मंदिर के पुजारी श्यामसुंदर आचार्य, गिरधर आचार्य ने बताया कि रात 12 बजे खीर प्रसाद व दमा की दवाई वितरित की गई।


गुर्जर आरक्षण: इंटरनेट सेवाएं बंद, सुरक्षा बलों की 19 कंपनी भेजी

जयपुर। गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति की ओर से एक नवंबर को बयाना के पीलूपुरा में समाज के लोगों को एकत्रित होने के आहवान को देखते हुए जयपुर जिला प्रशासन भी चाक—चौबंद हो गया है। जिले की पांच तहसीलों में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई है। वहीं पुलिस मुख्यालय के अधिकारियों ने गुर्जर आंदोलन को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की। कानून व्यवस्था के लिए सुरक्षा बलों की 19 कंपनी भरतपुर, करौली, दौसा, सवाईमाधोपुर सहित जयपुर ग्रामीण क्षेत्र में भेजी है।


पांच तहसीलों में इंटरनेट सेवाएं बंद
जिले की पांच तहसीलों में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई है। संभागीय आयुक्त ने शुक्रवार शाम इसका आदेश जारी किया। आदेश के तहत शुक्रवार शाम छह बजे शनिवार शाम छह बजे तक 24 घंटे के लिए कोटपूतली, पावटा, शाहपुरा, विराटनगर और जमवारागढ़ में इंटरनेट सेवाएं बंद रहेंगी। इन पांचों तहसीलों में कानून व्यवस्था बाधित होने की आशंका को देखते हुए इंटरनेट सेवाएं बंद करने के लिए जिला कलक्टर अंतर सिंह नेहरा ने संभागीय आयुक्त को पत्र लिखा था।


केन्द्र से 10 कंपनी और मांगी
अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक सौरभ श्रीवास्तव ने बताया कि केन्द्र से सुरक्षा बलों की 10 कंपनी और मांगी है। उन्होंने बताया कि क्षेत्र में पहले से 5 आरएसी कंपनी और 2 कम्पनी रेपिड एक्शन फोर्स की तैनात है। जबकि बॉर्डर होमगार्ड की सात, आरएसी की आठ, रेपिड एक्शन फोर्स की चार कम्पनी और रवाना की है। 6 अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, 4 उप अधीक्षक और निरीक्षक स्तर के अधिकारी भेजे हैं। केन्द्र से सीआरपीएफ की आठ और रेपिड एक्शन फोर्स की 2 कम्पनी जल्द क्षेत्र में पहुंच जाएगी।


एम्स डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने देश में कोरोना के एक और पीक के आने को लेकर किया आगाह

नई दिल्ली
भारत में पिछले कई दिनों से कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों की कमी आ रही है। करीब 3 महीने बाद पहली बार ऐक्टिव केसों की संख्या 6 लाख से कम हो चुकी है। तो क्या भारत में कोरोना का पीक गुजर चुका है? क्या अब केसों में गिरावट का ही दौर रहेगा? इस सवाल पर दिल्ली एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि अगर दिवाली के बाद भी केस कम रहते हैं तो ऐसा कहा जा सकता है। लेकिन दिल्ली की तरह अगर और जगहों पर भी केस बढ़ने लगे तो देश में एक और पीक आ सकता है। उन्होंने एक निजी न्यूज चैनल के साथ बातचीत में यह बात कही।

'...तब देश में कोरोना का एक और पीक आ सकता है'
क्या भारत कोरोना का पीक देख चुका है, इस सवाल पर गुलेरिया ने कहा कि अगर फेस्टिव सीजन में लोगों ने एहतियात बरता और दिवाली के बाद भी अगर केस कम आते हैं तो हम कह पाएंगे कि भारत में कोरोना का पीक गुजर चुका है। लेकिन अगर इसी तरह से और जगह भी केस बढ़ने शुरू हो गए जैसे दिल्ली में हो रहा है तो देश में एक और पीक आ सकता है। इसलिए आगे और ज्यादा सतर्कता की जरूरत है।

दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर पर क्या बोले एम्स डायरेक्टर
दिल्ली में क्या कोरोना वायरस की तीसरी लहर चल रही है? पिछले कुछ दिनों से रेकॉर्ड संख्या में नए मामले आने के बाद इसे लेकर चर्चाएं चल रही हैं। लेकिन दिल्ली एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया तीसरी लहर से साफ इनकार करते हैं। एक निजी न्यूज चैनल से बातचीत में गुलेरिया ने कहा कि दिल्ली में कोरोना की दूसरी लहर ही तेज हुई है। उन्होंने इसके लिए लोगों की लापरवाही और प्रदूषण को भी जिम्मेदार बताया।

'ठंड में और बढ़ सकता है संक्रमण'
गुलेरिया ने कहा कि जाड़े के दिनों में वायरस हवा में ज्यादा देर तक रहता है जिस वजह से संक्रमण की गुंजाइश बढ़ जाती है। एम्स डायरेक्टर ने कहा कि प्रदूषण की वजह से भी संक्रमण बढ़ सकता है लिहाजा पहले से ज्यादा सावधानी की जरूरत है। संक्रमण और प्रदूषण दोनों से ही फेफड़ों को नुकसान पहुंचता है। उन्होंने कहा कि सर्दियों में हमें और ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है नहीं तो संक्रमण के मामले बहुत ज्यादा बढ़ सकते हैं और हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर पर बहुत ज्यादा जोर पड़ेगा।



'कोरोना और पलूशन का दोहरा खतरा, और सतर्कता की जरूरत'
गुलेरिया ने आगाह किया कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है लिहाजा लापरवाही न करें। उन्होंने यूरोप का उदाहरण दिया कि वहां एक बार फिर संक्रमण बढ़ने लगा है। कोरोना और प्रदूषण के दोहरे खतरे के बारे में पूछने पर गुलेरिया ने कहा कि एहतियातों का सख्ती से पालन करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जब तक बहुत ज्यादा जरूरी न हो बुजुर्ग तब तक बाहर न निकलें। सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें। गुलेरिया ने कहा कि बुजुर्गों या पहले से किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित लोग बाहर जाने से बचें। एयर क्वॉलिटी खराब होने से सेहत को नुकसान पहुंचेगा। बाहर तब जाएं जब धूप हो और जब भी बाहर जाएं तो मास्क जरूर लगाएं।

'फ्लू वैक्सीन से कोरोना से बचाव होगा, यह मिथक'
गुलेरिया ने कहा कि फ्लू वैक्सीन लगाने से आप कोरोना वायरस से बच जाएंगे, यह एक मिथक है। उन्होंने कहा कि फ्लू वैक्सीन से आपको फ्लू से निजात मिलेगी न कि कोरोना से। गुलेरिया ने त्योहारी सीजन में लोगों से और ज्यादा सतर्कता बरतने की अपील की है।


गुर्जर आंदोलन को लेकर पुलिस अलर्ट, गुर्जर समाज की ली बैठक, कहा कानून हाथ में न लें

भीलवाड़ा हलचल। गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति ने अपनी मांगें नहीं माने जाने पर एक नवंबर से फिर आंदोलन की घोषणा की, जिसके मद््देनजर भीलवाड़ा पुलिस भी अलर्ट मोड में है। शुक्रवार को शंभुगढ़ थाना पुलिस ने आंदोलन की चेतावनी को देखते हुये इलाके की 13 पंचायतों के गुर्जर समाज के प्रमुख लोगों के साथ बैठक कर कानून व्यवस्था बनाये रखने में सहयोग की अपील की।
शंभुगढ़ थाना प्रभारी राजूराम काला ने हलचल को बताया कि गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के एक नवंबर से प्रस्तावित आंदोलन के मद््देनजर आज 13 पंचायतों के गुर्जर समाज के प्रमुख लोगों के साथ थाने पर बैठक आहूत की गई। बैठक में गुर्जर समाज के लोगों को संबोधित करते हुये कहा कि राज्यस्तरीय गुर्जर आरक्षण को लेकर प्रस्तावित आंदोलन में शंभुगढ़ थाना इलाके में कोई गतिविधियां नहीं हो, कानून  हाथ में नहीं लें। प्रशासन का सहयोग करें। काला ने गुर्जर समाज के लोगों से समझाइश की कि आप, जिले के अन्य गुर्जर समाज के लोगों से भी इस मामले में बातचीत करें और उन्हें भी बतायें कि आंदोलन से कुछ नहीं होगा। इन लोगों ने पुलिस को प्रशासन का सहयोग करने व इलाके में कानून व्यवस्था बनाये रखने में सहयोग करने का आश्वासन दिया। 


ट्रक ने स्कूल बस को मारी टक्कर, 20 बच्चों की मौत, कई घायल

लागोस
नाइजीरिया में एक ट्रक के स्कूली बस से टक्कर हो जाने से 21 लोगों की मौत हो गई है। मरने वालों में अधिकतर बच्चे शामिल हैं। नाइजीरिया के राष्ट्रपति मुहम्मदू बुहारी ने भी इस भीषण दुर्घटना पर शोक जताया है। पुलिस के अनुसार, ट्रक का ब्रेक फेल होने के कारण यह एक्सीडेंट हुआ था।


मृतकों में एक शिक्षक भी शामिल
यह दुर्घटना बुधवार को इनुगू प्रांत के अवगू में हुई जब एक ट्रक चालक ने वाहन पर से अपना नियंत्रण खो दिया। जिससे वाहन ने एक स्कूल बस को टक्कर मार दी। इस बस में 61 बच्चे सवार थे। जिसमें से 20 की मौत हो गई, जबकि कई अन्य घायल बताए जा रहे हैं। मृतकों में एक शिक्षक भी शामिल है।

ब्रेक फेल होने से हुई दुर्घटना
ये बच्चे अवगू के कैथोलिक डायोसिस द्वारा संचालित प्रेजेंटेशन नर्सरी एंड प्राइमरी स्कूल के थे। राष्ट्रपति मुहम्मदू बुहारी ने वाहन मालिकों से सावधानी बरतने की अपील की क्योंकि प्रारंभिक रिपोर्ट में यह बात सामने आयी कि उक्त दुर्घटना ट्रक के ब्रेक खराब होने के चलते हुई।


जिला कलेक्टर ने दी त्योहारों की शुभकामनाएं

                                
भीलवाड़ा हलचल।  जिला कलेक्टर  शिवप्रसाद एम नकाते ने जिलेवासियों को त्योहारी सीजन की शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा कि हर्षोल्लास के साथ त्योहार मनाएं। उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा जारी कोरोना गाइडलाइन की पालना करते हुए घरों में ही रहते हुए परिजनों के साथ त्योहार मनाने की अपील की।
           जिला कलेक्टर ने कहा कि कोविड-१९ के विरुद्ध जन आंदोलन के सकारात्मक परिणाम प्राप्त हुए हैं जिसके चलते संक्रमण की गति में कमी आई है। लेकिन हमें यह याद रखना होगा कि खतरा अभी टला नहीं है इसलिए सावधानी बरतते हुए इस आंदोलन को आगे भी जारी रखना होगा। उन्होंने जिलेवासियों के नाम जारी सन्देश में कहा कि को मौसमी बीमारियों से बचने हेतु भी मास्क की उपयोगिता को समझते हुए स्वयं इसका उपयोग करें और अन्य लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करें।  


पुलिस की बड़ी कार्रवाई- डंपर में जोधपुर ले जाया जा रहा 12 क्विंटल डोडा-चूरा व 2 किलो अफीम जब्त, चालक गिरफ्तार

 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। जिले की हनुमान नगर थाना पुलिस ने शुक्रवार को एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुये 12 क्विंटल 30 किलो डोडा-चूरा व दो किलो अफीम जब्त की है। यह मादक पदार्थ डंपर में परिवहन कर जोधपुर ले जाया जा रहा था, जिसे पुलिस ने जब्त कर चालक को गिरफ्तार कर लिया।
हनुमान नगर थाना प्रभारी गंगाराम विश्नौई ने बीएच को बताया कि  शुक्रवार को आरपीएस (प्रोबेशनर) सुशील मान कोटा-जयपुर हाइवे स्थित थाने के सामने नाकाबंदी कर रहे थे। इसी दौरान एक डंपर को संदेह के आधार पर रोकना चाहा तो चालक डंपर को तेजी से भगा ले गया। शंका होने पर आरपीएस मान ने पुलिस जाब्ते के साथ डंपर को पीछा करते हुये उसे रुकवा लिया। डंपर की जांच की तो उसमेें कट्टे भरे थे। जिनमें डोडा-पोस्त था। पुलिस ने चालक से पूछताछ की तो उसने खुद को दांतीवाड़ा, डांगियावास, जोधपुर निवासी विनोद पुत्र निंबाराम ढोली बताया। पुलिस चालक व  डंपर को थाने ले आई। जहां जांच करने प डंपर में 55 कट्टों में 12 क्विंटल 30 किलो डोडा-चूरा और इसी के नीचे थैली में दबाकर रखी 2 किलो अफीम मिली, जिसे पुलिस ने डंपर सहित जब्त कर चालक विनोद को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। प्रारंभिक पूछताछ में डोडा-चूरा तस्करी कर जोधपुर ले जाने की बात सामने आई है। 


डिस्कॉम में घोटाला, 6 अफसर और कर्मचारी सस्पैंड

प्रतापगढ़ /बिजली वितरण कंपनी के प्रतापगढ़ डिस्कॉम में घोटाले का मामला सामने आया है। जांच में खुलासा हुआ है कि जो सामान कभी आया ही नहीं उसका इस्तेमाल होना बता दिया। मामले में प्रबंध निदेशक ने कार्रवाई करते हुए कंपनी के 6 अफसर और कर्मचारियों को सस्पैंड कर दिया। सप्लायर फर्म के खिलाफ केस दर्ज कराने के निर्देश जारी कर दिए हैं।


जानकारी के मुताबिक अजमेर विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक वीएस भाटी को 24 अक्टूबर को सूचना मिली थी कि प्रतापगढ़ में विद्युत कनेक्शन के लिए काम आने वाले सामान में स्टोर और सब डिवीजन स्तर पर अनियमितताएं की जा रही हैं। सूचना को गंभीरता से लेते हुए प्रबंध निदेशक भाटी ने अधीक्षण अभियंता मुकेश बाल्दी को जांच के आदेश दिए थे।विद्युत वितरण निगम की जांच में पता चला है 137 सब स्टेशन से भरा ट्रक सप्लाई देने वाली फर्म शान्वी प्लास्टिक प्रोडक्ट जयपुर से चला लेकिन स्टोर में कोई एंट्री नहीं मिली। यहां तैनात सहायक भंडार नियंत्रक पीसी बुंदेला ने बताया कि ट्रक सीधे ही दलोट और अरनोद उपखंडों के सहायक अभियंता कार्यालयों में खाली करवा लिया गया। इनमें 50 सेट अरनोद व 87 सेट दलोट में उतारना बता दिए।जांच दल ने मौके पर जाकर सत्यापन किया तो दोनों ही जगह ये सामान नही मिले। दलोट में दूसरी फर्म के कुछ सेट मिले, लेकिन शान्वी प्लास्टिक से प्लाई किए गए सामान नहीं थे। जिम्मेदार सहायक अभियंताओं एवं कर्मचारियों ने बहाना बनाया कि सेट फील्ड में अलॉट कर दिए गए हैं। लेकिन, वे जांचकर्ताओं को संतुष्ट नहीं कर सके। जब दबाव पड़ा तो सहायक नियंत्रक भंडार बुंदेला, कार्यवाहक सहायक अभियंता अरनोद नरेंद्र सिंह व कार्यवाहक सहायक अभियंता दलोट रविशंकर ने 25 अक्टूबर को फर्म से सेट मिलने को बहाना बनाया
प्रबंध निदेशक भाटी ने सहायक भंडार नियंत्रक पीसी बुंदेला, कार्यवाहक सहायक अभियंता नरेंद्र सिंह, कार्यवाहक सहायक अभियंता रविशंकर, दलोट स्टोर इंचार्ज दुर्गा लाल नागर, तकनीकी सहायक प्रतापगढ़ अभय सिंह राव, तकनीकी सहायक अरनोद मुकेश कसाना को निलंबित कर दिया। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए निगम का विशेष जांच दल यह देखेगा कि इस तरह का फर्जीवाड़ा कबसे चल रहा है।


महादेव कॉटन मिल को फर्जी तरीके से बैचने वाला प्रोपर्टी दलाल आंचलिया गिरफ्तार

भीलवाड़ा राजकुमार माली । भीलवाड़ा की महादेव कॉटन मिल और गंगरार की मनोहर कॉटन मिल की करोड़ों रुपये की जमीन की फर्जी रजिस्ट्री कराने के मामले में भीलवाड़ा पुलिस ने एक और आरोपित प्रोपर्टी दलाल प्रवीण आंचलिया को गिरफ्तार कर दो दिन रिमांड पर लिया है। वहीं एक अन्य आरोपित और खुद को जमीन का मालिक बताने वाला रतन लाल जाट दूसरी बार इस मामले में गिरफ्तार हो चुका है।
भीलवाड़ा की महादेव कॉटन मिल और गंगरार की मनोहर कॉटन मिल के मालिक दीपक मानसिंहका ने नवंबर 2019 में भीलवाड़ा के प्रताप नगर और गंगरार थाने में दोनों ही मिलों की फर्जी रजिस्ट्री कराने के मामले दर्ज करवाये थे। इस मामले में गंगरार थाना पुलिस और तहसीलदार द्वारा की गई जांच में रजिस्ट्री कराना फर्जी माना गया और तहसील के कुछ कर्मचारी भी इसमें लिप्त पाये गये। तहसीलदार की रिपोर्ट पर अपने-आप को जमीन का मालिक बताने वाले रतन जाट को कुछ समय पूर्व गंगरार पुलिस ने गिरफ्तार किया था। 
उधर, फर्जी रजिस्ट्री और पॉवर ऑफ अटॉर्नी के मामले में भीलवाड़ा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गजेंद्रसिंह जौधा ने शास्त्रीनगर निवासी प्रोपर्टी दलाल प्रवीण आंचलिया को गिरफ्तार किया है। आंचलिया को आज पुलिस ने अदालत में पेश किया, जहां से उसे दो दिन पुलिस अभिरक्षा में भेजा गया है। पुलिस ने आंचलिया से जमीन बैचान को लेकर तैयार की गई पॉवर ऑफ अटॉर्नी संबंधित दस्तावेज बरामद कर लिये हैं। 
उल्लेखनीय है कि भीलवाड़ा की महादेव कॉटन मिल वर्षों से मानसिंहका परिवार के पास है, लेकिन जाट ने इसे बर्षों पूर्व अपने रिश्तेदारों द्वारा खरीदने की बात कही है और जमीन की दूसरे के नाम रजिस्ट्री करवा दी। करोंड़ों रुपयों की जमीन खरीदने का दावा करने वाले इस परिवार के कुछ लोगों का नाता संगीन अपराधों से भी रहा है। इस मामले में जाट परिवार की कुछ महिलायें भी आरोपित बनाई गई है, जिनकी गिरफ्तारी अभी होनी है। 
खास बात यह है कि इस मामले की जांच कई अधिकारियों के हाथों से निकली है, लेकिन यह मामला कुछ बड़े सफेदपॉश लोगों और भूमाफियाओं के कारण अटकता रहा। इसके बाद मामला सीएमओ तक गया। इसके बाद उदयपुर आईजी को जांच दी गई। लेकिन आरोपित गिरफ्तार नहीं हो पाये। इसके चलते फिर जांच बदल कर भीलवाड़ा के अतिरिक्त पुलिस को सौंपी गई थी। अब जाकर इस मामले में करोड़ों रुपयों की जमीन को हड़पने की साजिश करने वाले प्रोपर्टी दलाल आंचलिया को गिरफ््तार कर लिया गया, जबकि रतन जाट पूर्व में गिरफ्तार हो चुका है। 


मुंगेर में उपद्रवियों ने थाने से लूटा कारतूस मैगजीन, चुनावी दौर में बड़े खतरे के संकेत

बिहार चुनाव 2020 का दूसरा चरण सामने है और मुंगेर में सड़क पर उतरी उग्र भीड़ द्वारा गुरूवार को हुई हिंसा में पुरबसराय ओपी से बड़ी संख्या में कारतूस और मैगजीन गायब कर दिए गए हैं. जिसने अब प्रशासन व चुनाव आयोग सहित आम जनों की भी चिंताए बढ़ा दी हैं.


पुरबसराय ओपी से भारी संख्या में कारतुस व मैगजीन गायब


गुरूवार को उग्र भीड़ द्वारा की गई हिंसा में पुरबसराय ओपी से एसएलआर के 100 राउंड कारतुस , दो मैगजीन के साथ इंसास के 40 राउंड कारतुस और दो मैगजीन गायब हो गए हैं. जिसके बाद अब यह एक बड़े खतरे का संकेत बनकर लोगों के बीच चर्चे का विषय बन चुका है. वहीं पुलिस महकमे की भी चिंता इस बात से बढ़ चुकी है कि आखिर थाने से लूटी गईं सैकड़ों राउंड कारतूस और मैगजीन का आखिर कहां इस्तेमाल किया जाएगा.



दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान हुई फायरिंग का विरोध


दरअसल, दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान सोमवार की रात हुई फायरिंग में एक छात्र की मौत के बाद जनता के अंदर पुलिस और प्रशासन के खिलाफ काफी गुस्सा देखने को मिला. सोशल मीडिया पर भी इस कार्रवाई की कड़ी निंदा की जाती रही. वहीं गुरूवार को गुस्साए लोग सड़क पर उतर गए और उन्होंने पुलिस स्टेशनों और SP सहित अन्य अधिकारियों के कार्यालय पर अपना गुस्सा निकाला.


आक्रोशित भीड़ का शिकार बना पुलिस महकमा


इस दौरान उग्र भीड़ ने पुलिस को निशाने पर लिया. आक्रोशित भीड़ ने मुंगेर एसपी कार्यालय व एसडीओ आवास में तोड़-फोड़ करने के साथ ही पूरबसराय में जहां दो पुलिस वाहन, एक मोटरसाइकिल, साइकिल व ठेला को आग के हवाले कर दिया वहीं ओपी पर भी पथराव किया गया. और अब लूट की खबर भी सामने आ रही है, जिसकी पुष्टि खुद थानाध्यक्ष कर रहे हैं.


मतदान को लेकर रखे गए थे पूरबसराय थाने में भारी मात्रा में कारतूस


बता दें कि 28 अक्टूबर को मुंगेर में पहले चरण की मतदान की वजह से बड़ी संख्या में जवान मुंगेर आए थे. इसलिए पूरबसराय थाने में भारी मात्रा में कारतूस आदि रखे हुए थे.वहीं गुरूवार को भड़की हिंसा पर चुनाव आयोग ने फौरन कार्रवाई करते हुए मुंगेर से SP और DM को हटाने का आदेश जारी कर दिया और नए एसपी और डीएम की तैनाती कर दी है.


दिसंबर में आएगी कोरोना वैक्सीन! कीमत से लेकर खुराक तक, आपके हर सवाल का जवाब

नयी दिल्ली: कोरोना महामारी के खात्में के लिए इंतजार कारगर वैक्सीन का है. हर जुबां पर यही सवाल है कि आखिर कोरोना का वैक्सीन कब तक मिलेगा. इस बारे में भारत की वैक्सीन निर्माता कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने एक समाचार बेवसाइट को दिए इंटरव्यू में कई बातों का खुलासा किया. बताया कि वैक्सीन कब तक मिल सकेगी.


वैक्सीन कितनी कारगर होगी. वैक्सीन की कीमत कितनी होगी. जब वैक्सीन का निर्माण हो जाएगा तो इसका वितरण कैसे किया जाएगा.


क्या दिसंबर तक मिल जाएगी कोविड वैक्सीन


सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला से पूछा गया कि, क्या वैक्सीन इस साल के अंत तक यानी दिसंबर तक मिल जाएगी, इसके जवाब में अदार पूनावाला ने कहा कि ये कहना जल्दीबाजी होगी. फिलहाल ट्रायल चल रहे हैं. ट्रायल की कामयाबी से पता चलेगा कि वैक्सीन कितनी कारगर है. लोगों में इसका कितना प्रभाव है तभी सटीक तरीके से बता पाना संभव होगा कि वैक्सीन वास्तव में कब तक मिल पाएगी.


अदार पूनावाला ने कहा कि वैक्सीन के दीर्घकालिक प्रभाव को समझने में कम से कम 2 से 3 साल लग जाएंगे. अदार पूनावाला ने ये भी बताया कि फिलहाल वैक्सीन के ट्रायल में किसी भी तरह की सुरक्षा चिंता सामने नहीं आई है. अब तक के ट्रायल में वैक्सीन का सकारात्मक प्रभाव रहा है.


एसआईआई मांग सकता है इमरजेंसी लाइसेंस


अदार पूनावाला ने बताया कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया कोविड-19 वैक्सीन के लिए इमरजेंसी लाइसेंस की मांग कर सकती है, जो ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका द्वारा किए जा रहे ट्रायल पर आधारित होगी. हमें देखना होगा कि ट्रायल का परिणाम कैसा रहता है. अदार पूनावाला ने कहा कि एक बार वैक्सीन मिल जाती है तो फिर इसे लोगों को सस्ती दरों पर उपलब्ध करवाया जाएगा. पूनावाला ने कहा कि वैक्सीन के वितरण को यूनिवर्सल इम्यूनाइजेशन प्रोग्राम में शामिल किया जाएगा.


जनवरी में लांच हो सकता है कोरोना वैक्सीन!


सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ ने कहा कि इस वक्त ये कहना जल्दीबाजी होगी कि कोरोना का वैक्सीन इस साल के अंत तक आ जाएगा. ये इस बार पर निर्भर करता है कि ट्रायल में वैक्सीन ने कितना सकारात्मक प्रभाव छोड़ा और लोगों में किस तरीके से एंटीबॉडी का विकास हुआ. अदार पूनावाला ने कहा कि यदि जनवरी तक ट्रायल सफलतापूर्वक पूरा हो जाता है तो फिर हम इसको जनवरी में यहां लांच कर सकते हैं.


लोगों को कोरोना वैक्सीन का 2 डोज दिया जाएगा


एसआईआई से सीईओ अदार पूनावाला से पूछा गया कि ट्रायल के दौरान मिले डाटा से सकारात्मक संकेत मिले हैं. क्या लोगों को वैक्सीन का 1 डोज दिया जाएगा. जवाब में पूनावाला ने कहा कि अब तक हजारों लोगों को ट्रायल में शामिल किया गया. भारत में भी वैक्सीन का ट्रायल किया जा चुका है. फिलहाल किसी भी वॉलेंटियर्स में ऐसा कुछ नहीं दिखा जिसकी वजह से चिंता की जाए.


वैक्सीन के दीर्घकालीन प्रभाव का पता लगाने के लिए 2 से 3 साल का वक्त लगेगा. पूनावाला ने बताया कि जब वैक्सीन आएगी तो लोगों को इसकी 2 खुराक दी जाएगी. दोनों खुराक के बीच का अंतर 28 दिनों का होगा. वैक्सीन की लागत को भी पूनावाला ने स्पष्ट किया.


कोरोना वैक्सीन की लागत क्या होने वाली है?


वैक्सीन की लागत को लेकर अदार पूनावाला ने कहा कि हम लागत को लेकर फिलहाल सरकार से बातचीत कर रहे हैं. जल्दी की कीमत की पुष्टि कर दी जाएगी. लेकिन, हम ये सुनिश्चित करते हैं कि वैक्सीन काफी सस्ती दरों में आम लोगों को उपलब्ध करवाया जाएगा. पूनावाला का मानना है कि वैक्सीन का सार्वभौमिक वितरण सुनिश्चित करने के लिए यूनिवर्सल इम्युनाइजेशन प्रोग्राम चलाया जाना चाहिए.


सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ ने बताया कि पहले चरण में 60 से 70 मिलियन डोज का उत्पादन किया जाएगा. इसके बाद प्रत्येक माह 100 मिलियन डोज के उत्पादन का लक्ष्य तय किया गया है. सबसे पहले कोरोना महामारी में फ्रंटलाइन वर्कर्स, जैसे डॉक्टर्स, नर्स, स्वास्थ्यकर्मी, पुलिसकर्मी और इससे संबंधित अन्य लोगों का टीकाकरण किया जाएगा. उम्मीद है कि जल्दी ही लोगों को वैक्सीन मिलेगा.


गुर्जर समाज की 1 नवंबर को पूरे राजस्थान को जाम करने की चेतावनी, आरक्षण आंदोलन को लेकर सरकार अलर्ट

जयपुर। राजस्थान में गुर्जर आरक्षण आंदोलन की चिंगारी एक बार फिर से भड़क सकती है। आरक्षण की मांग पूरी तरह से नहीं माने जाने से नाराज गुर्जर समाज ने 1 नवंबर को सड़क पर उतरने का ऐलान किया है । गुर्जर समाज ने भरतपुर जिले के पीलूपुरा से आंदोलन शुरू करने का निर्णय लिया है। इसके लिये 1 नवंबर को सुबह 10 बजे शहीद स्थल पर महापंचायत होगी । गुर्जर समाज ने आगामी दो दिनों में मांगें पूरी नहीं होने पर पूरे प्रदेश को जाम करने की चेतावनी दी है। इसी दिन नगर निगम चुनावों के दूसरे चरण के तहत मतदान होगा । 


राज्य सरकार ने गुर्जर नेताओं को मंत्रिमंडल की उप समिति के साथ बैठक के लिए बुलाया गया था, लेकिन वे नहीं पहुंचे। उधर प्रदेश के खेल मंत्री अशोक चांदना ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने गुर्जर सहित पांच जातियों के आरक्षण को संविधान की 9वीं अनुसूची में शामिल करने को लेकर केंद्र सरकाअब एक बार फिर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय को पत्र लिखा जाएगा । राज्य सरकार ने इस संबंध में विधानसभा में प्रस्ताव पारित कर केंद्र सरकार को भेज दिया है । चांदना ने कहा कि कोविड़ काल में आंदोलन करना और भीड़ एकत्रित करना समाज के हित में नहीं है।


यह बात गुर्जर नेताओं को समझनी चाहिए । उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने देवनारायण बोर्ड का बजट 30 करोड़ बढ़ाया है । उन्होंने कहा कि पिछले आंदोलनों के दौरान 3 लोगों के पुलिस फायरिंग में मौत की बात सामने आई है तो उनके परिजनों को सामाजिक सहयोग से 5-5 लाख की मदद दी जाएगी।


संविधान की 9वीं अनुसूची में शामिल करने की मुख्य मांग 


गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला की अध्यक्षता में हुई 36 गांवों के समाज की बैठक में तय किया गया कि अगले दो दिन तक सरकार के निर्णय का इंतजार किया जाएगा । वहीं राज्य सरकार ने कहा है कि सभी मांगों का निस्तारण बातचीत से ही संभव होगा। सरकार ने गुर्जर नेताओं को वार्ता के लिये जयपुर आने का न्यौता दिया है, लेकिन वे इससे सहमत नहीं हैं।


कोरोना काल: शादीवालों की परेशानी, किसे बुलायें, किसे नहीं, रिश्ते टूटने का सता रहा डर

भीलवाड़ा हलचल। एक और जहां कोरोना का असर कम होता नजर नहीं आ रहा है, वहीं दूसरी और शादियों का सीजन भी नजदीक है और शहनाई बजवाने का आतुर लोगों के मन में शादी की खुशी में रिश्ते टूटने की कड़वाहट न घुल जाये। शादियों की तैयारियों में जुटे लोगों का कहना है कि  कोरोना के चलते गाइड लाइन के मुताबिक सौ से अधिक लोगों के शादी समारोह में शामिल होने की ही छूट है। इस पर मेजबान भी ऊहापोह में हैं कि किसे मना करें और किसको बारात में शामिल होने का न्यौता दें। वहीं, विवाह का खर्चा भी कम करना पड़ रहा है। बिंदोरी या महिला संगीत बंद है तो खाने के मैन्यू में भी कटौती हो रही है, वहीं मेहमानों  की सूची भी छोटी की जा रही है। साथ-साथ अभी यह भी इंतजार है कि अक्टूबर के आखिर तक  दो सौ जनों को विवाह में शामिल होने की छूट मिल जाए। ऐसा नहीं होने पर यह डर है कि विवाह की खुशी में कही रिश्ते टूटने की कड़वाहट ना घुल जाए।


परेशानी! निमंत्रण देते वक्त कैसे कहें, शादी में किसे आना है
मेहमानों की संख्या कम होने से शादी का निमंत्रण देना तो आसान हो गया है, लेकिन अपने मुंह से कैसे कहें कि कम जनों को आना है, या बारात में नहीं चलना है। यह भी एक बड़ी चिंता और परेशानी सामने आ रही है।  कोरोना में कम लोगों को बुलाने के लिए शादी समारोह वाले परिवार कम से कम कुमकुम पत्रिका छपवा रहे हैं जिससे कि अपने खास लोगों को ही निमंत्रण भेज सकें। इतना ही नहीं दूर-दराज रहने वाले रिश्तेदारों के घर कार्ड नहीं भेजने का मानस भी बना रहे हैं। गांव में भी जो खास हैं, उनके घर ही पत्रिका देने की बात सोची जा रही है। विभिन्न स्टॉल लगाने की जगह इक्की-दुक्की स्टॉल लगाने की तैयारी है तो मिठाई व अन्य आइटम भी कम किए जा रहे हैं।


सावे भी कम 
 नवम्बर-दिसम्बर में मात्र पांच ही सावे हैं। नवम्बर में २५, ३० नवम्बर तथा दिसम्बर में ७,८ ,११ दिसम्बर को सावे हैं। इसके बाद चार महीने पश्चात अप्रेल माह में ही सावे हैं, जिस पर इन पांच सावों में बम्पर विवाह समारोह की उम्मीद है। 


पड़ेगा गाइड लाइन का असर 
 शादी-ब्याह के कर्म-कांड से जुड़े पुरोहितों के अनुसार इस बार नवम्बर-दिसम्बर में कम ही सावे हंै, जिस पर ज्यादा शादियां होने की उम्मीद है। कोरोना के चलते कम लोगो के शामिल होने की गाइड लाइन का असर भी इस पर पड़ेगा। वहीं कैटरिंग और मिठाई विक्रय के कार्य से जुड़े लोग बताते हैं कि पहले जहां शादियों में ६०० से लेकर १००० व्यक्तियों की मिठाई के ऑर्डर मिलते थे लेकिन अब यह ऑर्डर ८० से १०० लोगों के ही मिलने लगे हैं। दीपावली को लेकर पहले अतिरिक्त स्टाफ  रखते थे लेकिन अब तो नियमित स्टाफ  जितना भी काम नहीं है। शादियों की सीमाबंदी का हमारे काम में काफी उल्टा असर पड़ा है।


 


दो दिन बाद बदल रहे है पैसों से जुड़े ये नियम, आपकी जेब पर पडे़गा सीधा असर

देश में परसों यानी 1 नवंबर से आपकी रोजाना की जरूरतों से जुड़ी वस्तुओं और सर्विस से जुड़े सात नियमों में बदलाव होने वाला है जिसका सीधा असर आपकी जेब पर पड़ने वाला है। रसोई गैस सिलेंडर (LPG) से जुड़े नियमों में बड़ा बदलाव होने वाला है। एक नवंबर से सिलेंडर बिना ओटीपी के नहीं मिलेगा। अब आपके घरेलू गैस सिलेंडर की होम डिलीवरी की प्रक्रिया पहले जैसी नहीं होगी। 1 नवंबर से सिलेंडर की कीमतों में भी बदलाव होगा।


बदलेगा सिलेंडर मंगाने का तरीका


चोरी रोकने और सही ग्राहक की पहचान के लिए तेल कंपनियां नया एलपीजी सिलेंडर का नया डिलीवरी सिस्टम  1 नवंबर से लागू करने वाली हैं। इस नए सिस्टम को DAC का नाम दिया जा रहा है यानी  डिलीवरी ऑथेंटिकेशन कोड। पहले 100 स्मार्ट सिटी में यह सिस्टम लागू होगा। केवल बुकिंग करा लेने भर से सिलेंडर की डिलीवरी नहीं होगी। आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक कोड भेजा जाएगा उस कोड को जब तक आप डिलीवरी ब्वाय को कोड नहीं दिखायेंगे तब तक सिलेंडर की डिलीवरी नहीं होगी। अगर किसी कस्टमर का मोबाइल नंबर अपडेट नहीं है तो डिलीवरी ब्वाय के पास के ऐप होगा, जिसके जरिए वह रियल टाइम अपना नंबर अपडेट करवा लेगा और उसके बाद कोड जनरेट हो जाएगा। ये सिस्टम कमर्शियल सिलेंडर पर लागू नहीं होगा।


बदलेंगी एलपीजी सिलेंडर की कीमतें
हर महीने की पहली तारीख को ऑयल कंपनियां एलपीजी सिलेंडर की कीमतें तय करती हैं। ऐसे में 1 नवंबर को सिलेंडर की कीमतों में बदलाव हो सकता है। अक्टूबर में ऑयल कंपनियों ने कमर्शियल सिलेंडर की कीमतों में बढ़ोतरी की थी।


बैंक ऑफ बड़ौदा में पैसा जमा कराने के बदलेंगे नियम
बैंक ऑफ बड़ौदा में अब अपना पैसा जमा करने और निकालने के लिए भी फीस देना पड़ेगी। 1 नवंबर से तय सीमा से ज्यादा बैंकिंग करने पर अलग से शुल्क लगेगा। इस पर बैंक ऑफ इंडिया, पीएनबी, एक्सिस और सेंट्रल बैंक भी जल्द फैसला लेंगे। बैंक ऑफ बड़ौदा ने चालू खाते, कैश क्रेडिट लिमिट और ओवरड्राफ्ट अकाउंट से जमा-निकासी के अलग और बचत खाते से जमा-निकासी के अलग-अलग शुल्क निर्धारित किए हैं। लोन अकाउंट के लिए महीने में तीन बार के बाद जितनी बार ज्यादा पैसा निकालेंगे, 150 रुपये हर बार देने पड़ेंगे। बचत खाते में तीन बार तक जमा करना मुफ्त मगर चौथी बार जमा किया तो 40 रुपये देने होंगे। वरिष्ठ नागरिकों को भी बैंक ने कोई राहत नहीं दी है।


रेलवे बदलेगा ट्रेनों का टाइम टेबल
इंडियन रेलवे पूरे देश की ट्रेनों के टाइम टेबल को बदलने जा रहा है। पहले ट्रेनों की टाइम टेबल 1 अक्टूबर से बदलने वाली थी, लेकिन किन्हीं कारणों से इसे आगे बढ़ाते हुए 31 अक्टूबर की तारीख को फाइनल किया गया है। 


इंडेन गैस ने बदला बुकिंग नंबर
इंडेन ग्राहकों के लिए गैस बुक करने का नंबर बदल गया है। इंडियन ऑयल ने बताया कि पहले रसोई गैस बुकिंग के लिए देश के अलग-अलग सर्किल के लिए अलग-अलग मोबाइल नंबर होते थे। अब देश की सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी ने सभी सर्किल के लिए एक ही नंबर जारी किया है, अब देश भर के ग्राहकों को एलपीजी सिलेंडर बुक कराने के लिए 7718955555 पर कॉल या एसएमएस भेजना होगा।


केरल में लागू होगी एमएसपी योजना
केरल सरकार ने सब्जियों के लिए आधार मूल्य तय कर दिया है। केरल सब्जियों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) तय करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। सब्जियों का यह न्यूनतम या आधार मूल्य उत्पादन लागत से 20 फीसदी अधिक होगा। ये योजना 1 नवंबर से लागू होगी।


चंडीगढ़ से न्यू दिल्ली के बीच चलेगी तेजस एक्सप्रेस
1 नंवबर से प्रत्येक बुधवार को छोड़कर चंडीगढ़ से न्यू दिल्ली के बीच तेजस एक्सप्रेस चलेगी। गाड़ी संख्या 22425 न्यू दिल्ली-चंडीगढ़ तेजस एक्सप्रेस न्यू दिल्ली रेलवे स्टेशन से प्रत्येक सेामवार, मंगलवार, गुरुवार, शुक्रवार, शनिवार रविवार को सुबह 9.40 पर चलेगी और दोपहर 12.40 पर चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पहुंचेगी। यानी आप 3 घंटे में चंडीगढ पहुंच जाएंगे।


देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग

उपरेडा  ( मुबारक मंसूरी )। राजसमंद जिले के देवगढ़ उपखंड के कामलीघाट चौराया ( एनएच 8 ) से देवगढ़ होते हुए करेड़ा हरीपुरा  रूपाहेली खुर्द लांबिया स्टेशन लांबिया खुर्द मेघ राश उपरेडा  मुंशी प्रतापपुर शाहपुरा  उत्तर में बाईपास निकालते हुए कनेछन कलां फुलिया कला शाहपुरा केकड़ी तक 160 किलोमीटर की लगभग दूरी है यह सड़क डामरीकरण होने के बावजूद भी बहुत ही सक्रिय आए दिन इस मार्ग पर दुर्घटनाएं होती रहती है अनेक बार यातायात प्रभावित हो जाता है और  वाहन रास्ते में फंसे  है  उक्त सड़क को  चौड़ा करवा कर नवीन स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने पर लगभग देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन  उपरेडा शाहपुरा कनेक्शन कला फुलिया कला केकड़ी तक उक्त मार्ग में लगभग 70 ग्राम पंचायतों के ग्रामीण क्षेत्र की आम जनता को काफी लाभ मिलेगा यातायात के साधनों में बढ़ोतरी होगी रोजगार के साधन बढ़ेंगे एवं औद्योगिक इकाइयां स्थापित होगी और  पिछड़े क्षेत्र में विकास की गंगा  बहेगी ।


उक्त प्रकरण में उपरेडा के समाजसेवी एवं राजस्थान प्रदेश मंसूरी महासभा के मुबारक मंसूरी ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि पूर्व में कुछ वर्षों पर इस मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की राज्य सरकार की एवं केंद्र सरकार की प्रक्रिया भी चली थी लेकिन किन्हीं कारणों से   रुक गई थी   जिस को फिर से प्रक्रिया को गति देते हुए नवीन स्टेट हाईवे घोषित करके उक्त मार्ग  पर नवीन स्टेट हाईवे निर्माण कराने के लिए काफी समय से क्षेत्र वासियों के द्वारा मांग की जा रही है इस हेतु जिला कलेक्टर भीलवाड़ा की जनसुनवाई एवं प्रभारी मंत्री  एवं चिकित्सा मंत्री राजस्थान सरकार जयपुर पूर्व खनिज मंत्री एवं मंडल विधायक एवं राजस्थान विधानसभा के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एवं शाहपुरा बनेड़ा की विधायक एवं विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी  वं भीलवाड़ा के जिला प्रभारी सचिव एवं संभागीय आयुक्त अजमेर एवं मुख्यमंत्री राजस्थान सरकार जयपुर एवं मुख्य अभियंता सार्वजनिक निर्माण विभाग जयपुर मुख्य सचिव महोदय मुख्यमंत्री कार्यालय राजस्थान सरकार जयपुर एवं सार्वजनिक निर्माण मंत्री राजस्थान सरकार जयपुर राज्यपाल राजस्थान सरकार जयपुर प्रधानमंत्री भारत सरकार नई दिल्ली एवं महामहिम राष्ट्रपति भारत सरकार नई दिल्ली को भी अनेकों बार प्रकरण में लिखित में अवगत कराया जा चुका है अतः शीघ्र स्टेट हाईवे का निर्माण कराया जाए जिससे पिछड़े हुए क्षेत्र में विकास के  चार चांद लगेंगे साथ ही राजसमंद से देवगढ़ करेड़ा लंबिया स्टेशन उपरेडा शाहपुरा  फुलिया कला केकड़ी एवं जयपुर की दूरी भी कम होगी इस मार्ग का स्टेट अनेक धार्मिक एवं पर्यटक करेड़ा में सैलानी सरकार की दरगाह एवं लांबिया कला का प्रसिद्ध भेरुजी का मंदिर वह रायला का चौथ माता मंदिर मेघ राश कि सदियों पुरानी समाधि एवं   बेस कलाइ    खेरिया रानी माता मंदिर एवं उपरेड़ा का प्रसिद्ध फुटिया देवनारायण मंदिर जोगी राम जी का मंदिर एवं मोडिया खेड़ा हनुमान जी का मंदिर जा तल का प्रसिद्ध विश्वनाथ मंदिर एवं मुंशी का  मूसा  देवनारायण मंदिर प्रतापपुरा का कदमा का मंदिर एवं ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व के शाहपुरा कस्बे अनेक स्थान आपस में जुड़ेंगे  एवं मेवाड़ का प्रसिद्ध छोटा पुष्कर धनेश्वर जी मंदिर शाहपुरा का गोपाल मंदिर एवं केकड़ा दिस मंदिर केकड़ी  एवं कृषि मंडी एवं ऑन मंडी केकड़ी का सीधा जुड़ा होगा साथ ही साथ राजसमंद जिले की मार्बल व्यवसाय भीलवाड़ा जिले की औद्योगिक कपड़ा इकाइयां और अन्य स्थान आपस में जुड़ेंगे आता जन भावनाओं को मध्य नजर रखते हुए शीघ्र उक्त मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन किया जाए तो क्षेत्र वासी यो को राहत मिलेगी और आम जनता के लिए रोजगार के साधन बढ़ेंगे प्रकरण में काफी समय से लिखित मांग की जा रही है अतः शीघ्र समस्या का समाधान कर नवीन स्टेट हाईवे घोषित कर शीघ्र सड़क कॉल नवीन स्टेट हाईवे निर्माण कराने की राजस्थान सरकार और केंद्र सरकार को प्रक्रिया को गति देते हुए सर्वे करवाकर कराया जाए।


स्वास्थ्य क्षेत्र में नवग्रह आश्रम के यूट्यूब चैनल को प्रदेश में पहला व देश में चौथा स्थान मिला

भीलवाड़ा-(मूलचन्द पेसवानी)। भीलवाड़ा जिले में आयुर्वेद चिकित्सा पद्वति से केंसर निवारण के लिए काम कर रही संस्था श्री नवग्रह आश्रम सेवा संस्थान के अधिकाधिकारिक यू-ट्यूब चेनल को यू-ट्यूब की ओर से सिल्वर प्ले बटन अवार्ड मिला है। यह अवार्ड अपने आप में बहुत मायने रखता है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में अब तक यह अवार्ड राजस्थान में केवल आश्रम को ही मिला है।
आश्रम के संस्थापक हंसराज चोधरी द्वारा संचालित इस चेनल के आज दिनांक तक 2.18 लाख सब्सक्राइबर हो चुके है तथा इसके 2 करोड़ 4 लाख 24 हजार 854 व्यूज हो चुके है। सोशल मीडिया प्लेट फार्म पर नवग्रह आश्रम की यह उपलब्धि एक लंबी छलांग के रूप में देखी जा रही है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में यू-ट्यूब की ओर से सिल्वर प्ले बटन अवार्ड राजस्थान में ही पहला है। भीलवाड़ा जिले में प्रथम तो है ही है वरन देश भर में स्वास्थ्य के क्षेत्र में यह चौथा सिल्वर प्ले बटन अवार्ड है। नवग्रह आश्रम को मिली इस उपलब्धि पर आश्रम संस्थापक हंसराज चोधरी ने संपूर्ण जिले व प्रदेश वासियों के साथ विश्व के दो करोड़ से ज्यादा अपने व्यूवर्स का आभार ज्ञापित किया है।
श्री नवग्रह आश्रम सेवा संस्थान के संस्थापक हंसराज चोधरी ने बताया कि यू-ट्यूब अमरीका का प्रबंधन यह प्ले बटन अवार्ड चेनल पर अपलोड़ किये जाने वाले सभी विडियो के प्रमाणिक सिद्व होने पर यह अवार्ड देता है, इसके मायने यह हुआ कि आश्रम की चिकित्सा पद्वति से जुड़े डाले गये सभी विडियो की वैश्विक पटल पर प्रमाणिकता सिद्व हुई है। उन्होंने बताया कि यह प्ले बटन तब मिलता है जब हमारे चेनल पर कोई भी विडियो कॉपी राइट के क्षेत्राधिकार में नहीं आया तथा प्रत्येक विडियो यू ट्यूब की कसौटी पर खरा उतरा। उसकी का परिणाम है कि आज चेनल के 2.18 लाख सब्सक्राइबर तथा 2 करोड़ 4 लाख 24 हजार 854 व्यूवर्स जुड़ चुके है। हंसराज चोधरी ने बताया कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में श्रीनवग्रह आश्रम का चेनल देश में चोथे स्थान पर तथा प्रदेश में पहले स्थान पर रहा है। यह सब आश्रम से जुड़े स्वयंसेवकों की सेवा की बदौलत ही संभव है।
हंसराज चोधरी ने बताया कि 17 मार्च 2017 को प्रांरभ किये इस चेनल के प्रांरभ होने के बाद धीरे उनके चेनल की लोकप्रियता इतनी बढ़ गई कि महज तीन साल में देश-विदेश में बैठे दो लाख से अधिक लोग उनके चेनल से जुड़ गए। उनकी कई वीडियो को तो एक लाख से अधिक लोग देख चुके हैं। लोगों के रुझान ने इन्हें आगे और वीडियो बनाने की प्रेरणा दी।
श्री नवग्रह आश्रम सेवा संस्थान के सचिव जितेंद्र चोधरी ने बताया कि यू-ट्यूब की ओर से सिल्वर प्ले बटन अवार्ड मिलने से अब आश्रम की जवाबदेही और ज्यादा हो गयी है। यू-ट्यूब के अगले अवार्ड में भी हमारे चेनल को शामिल करना है। आश्रम द्वारा कोराना काल में भी सेवा कार्यो को जारी रखा गया है वर्तमान में प्रतिदिन ही आश्रम पहुंचने वाले रोगियों को दवा मुहैया करायी जा रही है। इसके अलावा आश्रम की ओर से सामाजिक सरोकारों के कार्यो को भी बढ़ाया जा रहा है।


शारदा एवरग्रीन पार्क में अब कुछ ही विला शेष

भीलवाड़ा (हलचल)। शारदा एवरग्रीन पार्क के बेहतरीन डिजाइन एवं नक्शे से तैयार प्रीमियम विला शहरवासियों की पहली पसंद बने हुए है। शहरवासियों ने यहां नवरात्रि में उत्साह के साथ साइट विजिट किया और नवरात्रि स्पेशल ऑफर के तहत अपने पसंद किये विला पर 10 त्न की छूट का लाभ उठाया।  


शारदा समूह के एमडी अनिल मानसिंहका ने बताया कि शारदा समूह की पांसल  चौराहा स्थित प्राइम लोकेशन के पास शारदा एवरग्रीन पार्क में विभिन्न प्रकार की डिजाइनों एवं नक्शों में प्रीमियम विला उपलब्ध है।  कॉलोनी के नजदीक 200 फीट रिंग रोड होने के कारण यहां बने आवासों की जल्द ही कीमतें भी बढ़ेगी। यहां पर आवास 36.51 लाख से आवास प्रारंभ है। कॉलोनी में सीसी रोड, अंडर ग्राउंड केबल, जल व्यवस्था, पार्क, सुरक्षा दीवार, सीसी टीवी कैमरे, मंदिर, शॉपिंग काम्पलेक्स सहित अनेकों सुविधाएं मौजूद है। शारदा समूह ने भीलवाड़ा में दो बड़ी आवासीय योजनाओं की सफलता के बाद चित्तौड़ में रॉयल ग्रीन और रायला में आशियाना आवासीय योजना की शुरुआत की है। दोनों योजनाओं में भी आवासों की बुकिंग जारी है।


सात माह से बंद पड़ी भीलवाड़ा-अजमेर ग्रामीण बस सेवा शुरू करने की मांग

मेंघरास हेमराज तेली) ।  बनेड़ा कोरोना काल के कारण मार्च में बंद हुई भीलवाड़ा अजमेर वाया बनेड़ा कोडलाई भीमपुरा लाम्बा उपरेड़ा मूंशी बल्दरखा डाबला ग्रामीण बस सेवा का सात माह बाद भी संचालन शुरू नहीं हो सका है। जबकि सभी मार्गों पर बस सेवा दोबारा शुरू कर दी गई हैं। बस सेवा बंद होने से करीब 8 ग्राम पंचायतों के दर्जनों गांवों के लोग प्रभावित हैं। त्योहारी सीजन होने से अब आम लोगों के साथ व्यापारी वर्ग भी परेशान है। लोगों ने उच्च अधिकारियों को पत्र भेजकर बंद पड़ी रोडवेज बस सेवा वापस सुरु करने की मांग की है। लेकिन इस बार कोई ध्यान नहीं दे रहा है। जिला मुख्यालय से लगभग 30 किलोमीटर की दूरी पर बनेड़ा उपखंड मुख्यालय के करीब 8 ग्राम  पंचायत के दर्जनों गांव के ग्रामवासी बीते सात माह से बंद पड़ी बनेड़ा उपखंड मुख्यालय से होकर गुजरने वाली भीलवाडा अजमेर बस सेवा से परेशान है। ग्रामीण बस सेवा भीलवाडा अजमेर बस सेवा संचालित हो रही थी। लेकिन मार्च में कोरोना संक्रमण के चलते यातायात सेवा बंद हो गई थी। क्षेत्र में आसपास लगभग दो दर्जन से अधिक गांव है।उपरेड़ा सरपंच मैं मुख्य प्रबंधक को पत्र भेजकर भीलवाड़ा अजमेर वाया बनेड़ा उपरेडा मुंशी बल्दरखा डाबला भटेडा रोडवेज बस का संचालन शुरू कराए जाने की मांग की है। 


शुद्ध के लिए युद्ध - दो डेयरियों से लिये घी के सैंपल

 भीलवाड़ा हलचल। राज्य सरकार के निर्देश पर जिला कलक्टर  शिवप्रसाद एम नकाते के निर्देशन में चल रहे  शुद्ध के लिये युद्ध  अभियान के पांचवें दिन घी के सेम्पल लिये गये।
 प्रशासन, रसद और चिकित्सा विभाग की टीम शुक्रवार सुबह पांसल रोड़ जवाहर नगर पहुंची। जहां क्रीम से घी बनाने वाली दो डेयरियों पर जांच करते हुये घी के सैंपल लिये गये। सैंपल का मौके पर ही स्पॉट टेस्ट किया गया।    


रिक्शे पर मिली चद्दर से ढंकी प्रौढ़ की लाश, पुलिस कर रही है पहचान के प्रयास

 भीलवाड़ा हलचल। शहर के अशोक नगर में शुक्रवार सुबह एक रिक्शे में चद्दर से ढंकी प्रौढ़ की लाश पाई गई। शव की पहचान अभी नहीं हो पाई है। मृतक कपासन क्षेत्र का निवासी हो सकता है, ऐसी आशंका पुलिस ने जताई है। 
भीमगंज थाना प्रभारी प्रकाश भाटी ने हलचल को बताया कि शुक्रवार सुबह अशोक नगर में बीएसएनएल टावर के पास साइकिल रिक्शे पर एक प्रौढ़ की लाश होने की सूचना मिली। पुलिस मौके पर पहुंची, जहां रिक्शे पर चद्दर से ढंकी एक प्रौढ़ की लाश  पाई गई। पुलिस प्रौढ़ को जिला अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टर्स ने प्रौढ़ को मृत बताया। पुलिस ने शव को मोर्चरी में सुरक्षित रखवाया है। साथ ही मृतक के हाथ पर मिठूलाल गुदा होने और उसके कपासन क्षेत्र का होने की बात सामने आई है, परिजनों के आने पर ही मृतक की पहचान हो पायेगी। यह प्रौढ़ शहर में ही रिक्शा चलाकर अपना गुजर-बसर कर रहा था।


Thursday, October 29, 2020

प्रधान हमारा बने' की मशक्कत शुरू

मांडल(चन्द्रशेखर तिवाड़ी) --  अगले महीने जिले की जिला परिषद में जिला प्रमुख  व पंचायत समितियों में अपनी अपनी पार्टी का प्रधान बनाने बनाने के लिए राजनीतिक दलों ने मशक्कत शुरू कर दी है। इसी सिलसिले में आज भाजपा ने मांडल ब्लॉक के कार्यकर्ताओं की बैठक घोड़ास हनुमानजी के स्थान पर आयोजित करी तो कांग्रेस ने अपने कार्यकर्ताओं से मांडल तालाब की पाल पर राय जानी। भाजपा की बैठक को पूर्व मुख्य सचेतक कालूलाल गुर्जर ने संबोधित करते हुए कहा जिला प्रमुख और प्रधान की सीट पर भाजपा का प्रधान बैठाने के लिए कार्यकर्ता मतभेद भुलाकर चुनाव के दौरान जिला परिषद व पंचायत समिति सदस्य अधिक से अधिक जीतें इसके प्रयास अभी से शुरू कर दें। पंचायत चुनाव में विजयी हुए अधिकतर भाजपा समर्थित सरपंचों से उत्साहित भाजपा नेताओं ने कहा, कांग्रेस की कार्यशैली से नाराज लोगों ने सांसद और अधिकांश सरपंच भाजपा के बनाये हैं इससे उसका जनाधार घटा है। गुर्जर ने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया किवे समय रहते आमजन तक मोदी सरकार की उपलब्धियों व गहलोत सरकार की नाकामियों को पहुचाएं। बैठक को लादूवास के सरपंच मुरलीधर जोशी, पूर्व उपप्रधान मुरलीधर जाट, लुहारिया के पूर्व सरपंच ठा. मणिराज सिंह सहित अन्य पदाधिकारियों ने संबोधित किया। वहीं मांडल तालाब की पाल पर कांग्रेस की बैठक में पूर्व मंत्री व विधायक रामलाल जाट ने संबोधित करते हुए गहलोत सरकार की उपलब्धियां गिनाई तथा अपने विधानसभा क्षेत्र में उनके द्वारा करवाये जा रहे विकास कार्यों को उपस्थित जनसमूह के सामने बताया। और पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव में कांग्रेस का जिला प्रमुख व प्रधान बनाने के लिये कांग्रेस के अधिकाधिक उम्मीदवारों को जिताने का आह्वान किया।उन्होंने कहा विकास के लिये कड़ी से कड़ी जोड़ना जरूरी है। दोनों दलों द्वारा जिला परिषद व पंचायत समिति सदस्य का चुनाव लड़ने के इच्छुक कार्यकर्ताओं से आवेदन लिये जाने की जानकारी मिली है। दोनों प्रमुख राजनीतिक दलों की बैठक में शोसल डिस्टेंस की पालना की धज्जियां उड़ती दिखी।


राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने वृक्षारोपण कर मनाया स्थापना दिवस

 

भीलवाड़ा/  राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी  ने  कार्यकर्ता , पूर्व विधायक प्रत्यासी शाहपूरा- बनेड़ा देवीलाल मेघवंशी ,  मनोज कुमार जाट राजू लाल जाट , नारायण लाल कुमावत रूपाहेली खुर्द , प्रेम लाल माली, रामस्वरूप जाट ,भंवर लाल जाट खेमराज भील , दिनेश भील सत्यनाराण मेघवंशी , आदि ने वृक्षारोपण कर मनाया 

बालाजी मंदिर में शरद पूर्णिमा महोत्सव 30 को

भीलवाड़ा (हलचल) । स्थानीय बालाजी मार्केट स्थित बालाजी मंदिर में शरद पूर्णिमा महोत्सव शुक्रवार 30 अक्‍टूबर  को ठाट बाट से मनाया जाएगा। इसके अंतर्गत श्री राम दरबार का आकर्षक नयनाभिराम धवल शृंगार श्री हनुमान जी महाराज के रजत चोला श्रृंगार एवं भगवान के चंद्रमा की किरणों में रखी खीर का भोग रात्रि 12:00 बजे लगाया जाएगा। भगवान के दर्शन रात्रि 10:00 बजे तक रहेंगे। पंडित आशुतोष शर्मा ने बताया कि‍ कोरोना महामारी के कारण सरकारी निर्देश अनुसार खीर प्रसाद वितरण का कार्यक्रम नहीं होगा। रात्रि की सेवा पूजा मंदिर के भीतर ही रहेगी। रात्रि 10 बजे बाद मुख्य द्वार बंद रहेगा एवं प्रसाद वितरण नहीं होगा।


साले ने पवित्र पूजा की नकल कर बना दी प्रवित्रपूजा अगरबत्ती,

 भीलवाड़ा हलचल। इंदौर की ब्रांडेड पवित्रपूजा अगरबत्ती की नकल कर प्रवित्र पूजा के नाम से बनाई गई अगरबत्ती के 4 कर्ट्न कोतवाली पुलिस ने श्याम विहार स्थित अमरचंद मूंदड़ा एक मकान पर रेड कर बरामद किये हैं। पुलिस का कहना है कि केकड़ी के एक व्यक्ति ने यह डूप्लीकेट अगरबत्ती बनाई, जिसे उसका जीजा मार्केट में सप्लाई कर रहा था। हालांकि इस मामले में अभी कोई गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।  
कोतवाली थाने के सब इंस्पेक्टर गणपतलाल शर्मा ने बीएच को बताया कि नई शाम की सब्जी मंडी स्थित खुशबु एजेंसी के प्रोपराइटर अशोक कुमार बांगड़ ने थाने में रिपोर्ट दी कि परिवादी, पवित्र पूजा अगरबती जिसके ट्रेड मार्क नम्बर 1272458 होकर राजकमल परम्यूमरी वक्स 100/ए सेक्टर दू सांवर रोड इंदौर का अधिकृत विक्रेता है। यह कम्पनी का ब्राण्ड कापीराईट (डुप्लीकेट) माल बाजार में विक्रय होने की जानकारी उसे होने पर कंपनी ने डूप्लीकेट माल के संदर्भ में कानूनी कार्रवाई के लिए उसे अधिकृत किया है। 
बांगड़ ने रिपोर्ट में बताया कि उसे जानकारी में आया कि कैलाश अजमेंरा मालिक माहेश्वरी अगरबत्ती वक्र्स कृषि मण्डी के सामने केकडी द्वारा परिवादी की अधिकृत कम्पनी पवित्र पूजा की कापी करते हुये बिना ट्रेड मार्क प्राप्त किये प्रवित्र पुजा अगरबत्ती व हुबहु लेबल व कलर के रुप में डुप्लीकेट नाम के माल को अमरचंद मूंदड़ा अ 102 / 32 श्याम बिहार शास्त्रीनगर  व अन्य द्वारा मिली भगत कर डुप्लीकेट माल को परिवादी का माल बताकर बडे लेवल पर बेचा जा रहा है। इससे हमारी कम्पनी व आम जनता के साथ धोकाधडी की जा रही है । 
इस शिकायत पर सब इंस्पेक्टर गणपत लाल शर्मा ने परिवादी अशोक कुमार बांगड के साथ अमरचंद मूंदड़ा के मकान पर पहुंचे, जहां फाटक के पास बाहर 4 कटर््न पड़े मिले । घर में आवाज लगाने पर एक महिला बाहर आई, जिसने खुद को संगीता मुन्दडा बताया। संगीता ने अपने पति अमरचंद मुन्दडा के बाहर गांव गये होने की बात कही। मौके पर मिले प्रवित्र पूजा अगरबत्ती के 4 कटर््न के बारे में संगीता ने बताया कि यह कटर््न  अमरचंद मुन्दडा द्वारा बेचने के लिए रखना बताया व सभी पेकेट अपने भाई कैलाश अजमेंरा निवासी केकडी के होना बताया । कटर््न में 5, 10 व 20 रुपये बिक्री के अगरबत्ती के पैकेट थे। ये पैकेट बिना ट्रेड मार्क व कापीराईट का उल्लधन कर बेचान करना व रखना व आम जनता के साथ हुबहु पवित्र पुजा अगरबत्ती की नकल कर प्रवित्र पुजा का निर्माण कर बेचना व धोखा किया जा रहा था। 
पुलिस ने कटर््न जब्त कर धोखाधड़ी व कॉपीराइड एक्ट के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू की है। मामले में अग्रिम जांच सब इंस्पेक्टर मूलचंद वर्मा द्वारा की जा रही है। 


गुरु की सेवा, सिमरन और सत्संग से ही सभी सुख प्राप्त होते हैं

  भीलवाड़ा हलचल।हरी शेवा उदासीन आश्रम, सनातन  मन्दिर  में महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन के सानिध्य में आयोजित विभिन्न धार्मिक और आध्यात्मिक अनुष्ठानों के अन्तर्गत आज रामस्नेही संप्रदाय के पीठाधीश्वर अनंत श्रीविभूषित रामदयाल जी महाराज पधारे। उन्होनेे अपने  आशीर्वचनों में कहा कि गुरु की सेवा,  सिमरन और सत्संग से ही सभी सुख प्राप्त होते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना प्रकृति से नहीं अपितु विकृति से पैदा हुआ है और इस विकृति का अंत संस्कृति की ताकत से ही हो सकता है। अपने गुरु तथा ईश्वर की अलौकिक शक्ति एवं कृपा ही वैक्सीन है, जो राष्ट्र के नागरिकों की इस कोरोना से रक्षा कर पायेगी। प्रातःकालीन कथासत्र में पाक्षिक श्री महाशक्ति लीला कथा में तेरहवें दिन की कथा का वाचन और प्रवचन करते हुए व्यासपीठ से कथा-प्रवक्ता स्वामी योगेश्वरानन्द जी महाराज ने  कहा कि परमेश्वरी दुर्गा भगवती ने असुरों का संहार करके देवों और मानवों में धर्ममय और अध्यात्ममय जीवन की स्थापना की जिससे सर्वत्र प्रकृति सर्व जीवो के अनुकूल हो गई।सायंकालीन कथासत्र में 45 दिवसीय श्रीमद्भागवत महाकथा के आज 42वें दिन की कथा का वाचन और प्रवचन करते हुए व्यासपीठ से कथा-प्रवक्ता ने  कहा कि तितिक्षा अर्थात सहनशीलता की साधना से समस्त कामनाएं सिद्ध होती हैं। किसी भी लक्ष्य को साधने के लिए सहनशीलता की नितान्त आवश्यकता होती है। सब प्रकार की विपरीत परिस्थितियों का सामना करते हुए लक्ष्य केन्द्रित दृष्टि रखना साधक के लिए अत्यंत आवश्यक है। आरती में सारस्वत समाज भीलवाड़ा के जिलाध्यक्ष शंभू लाल जोशी, नगर अध्यक्ष रामेश्वर लाल भंडिया, सचिव जितेंद्र कुमार ओझा, कोषाध्यक्ष जगदीश चंद्र ओझा, संरक्षक ताराचंद ढांचा व अन्य ने उपस्थित होकर व्यासपीठ का पूजन अर्चन कर आशीर्वाद प्राप्त किया।रात्रिकालीन सत्र में रासलीला के अंतर्गत भगवान श्री कृष्ण की अनेक बाल लीलाओं के साथ कालिया नाग मर्दन के दृश्य का भी मंचन किया गया।


पुलिस के जवान ने रक्तदान कर बचाया जीवन

राजसमन्द( राव दिलीप सिंह )जिला मुख्यालय आर के हॉस्पिटल में भर्ती पेशेंट नीलम सालवी को ओ पॉजिटिव ब्लड की आवश्यकता होने पर ब्लड बैंक में उपलब्ध नहीं होने से पेशेंट परिवार के सदस्य एक यूनिट ब्लड दिया अन्य परिवार वालों के ब्लड ग्रुप नहीं मिला तब परिवार के सदस्य टीम जीवनदाता राजसमंद से संपर्क किया टीम जीवनदाता राजसमंद के सदस्यों ने मैसेज बनाकर व्हाट्सएप ग्रुप में डालें जहां राजस्थान पुलिस के जवान राजसमंद पुलिस लाइन में सेवा दे रहे *पंकज नागदा* जब ये मेसेज पड़ा तो तुरंत पीड़ित के लिए रक्तदान करने जिला मुख्यालय ब्लड बैंक राजसमंद पहुंच कर रक्तदान किया और जीवनदान दिया !


मंत्री मास्टर मेघवाल की बेटी का निधन, मंत्री खुद भी अस्पताल में भर्ती

जयपुर /सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल की पुत्री बनारसी मेघवाल का आज निधन हो गया। वह चुरु जिले में जिला प्रमुख रह चुकी थी। बनारसी मेघवाल को आज अचानक तबीयत खराब होने के बाद सुजानगढ़ से जयपुर लाया जा रहा था। लेकिन, बीच रास्ते में ही उनकी तबियत और ज्यादा बिगड़ गई।


जानकारी के मुताबिक मेघवाल को जयपुर लाने के बाद मणिपाल अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन डॉक्टरों ने वहां उन्हें मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि बनारसी को सांस लेने में काफी दिक्कत हुई थी, हालांकि वे कोरोना पॉजीटिव थी या नहीं इसकी अभी पुष्टि नहीं हुई।


उनके निधन की सूचना पर मुख्यमंत्री गहलोत ने ट्वीट के जरिए संवेदना जताई। वहीं प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा सहित अन्य कई कांग्रेसी नेताओं ने भी बनारसी के असमय निधन पर शोक जताया है। आपको बता दें कि बनारसी के पिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल स्वयं गुडगांव के मेदांता अस्पताल में पिछले कुछ माह से भर्ती है। उन्हें ब्रेन हेमरेज के बाद जयपुर से गुडगांव शिफ्ट किया था। तब से लेकर अब तक मंत्री अस्पताल में ही भर्ती है। उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है


बाजार नंबर तीन में घी के लिए सैंपल

 भीलवाड़ा (हलचल)।शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत आज चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बाजार नंबर तीन में एक व्यापारी के यहां घी के सैंपल लिये। सूत्रों के अनुसार स्वास्थ्य विभाग की टीम गुरुवार दोपहर बाजार नंबर तीन पहुंची। जहां एक व्यापारी के यहां से घी के सैंपल लिये। प्रारंभिक जांच में घी सही पाया गया है।


पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती को पुलिस ने लिया हिरासत में, नए भूमि कानून का कर रही थीं विरोध

जम्मू/ जम्मू-कश्मीर में जमीन की खरीद-बिक्री (jammu Kashmir new land law) को लेकर केंद्र सरकार ने नए नियमों को मंजूरी दी है जिसके बाद से सूबे की राजनीति गरम है. केंद्र सरकार के इस फैसले के खिलाफ पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी यानी पीडीपी के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया. इसके बाद पुलिस ने पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती (mehbooba mufti) सहित कई कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई करते हुए हिरासत में ले लिया.


आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए भूमि कानून से जुड़ा एक नोटिफिकेशन जारी किया है. इसके तहत अब कोई भी भारतीय कश्मीर और लद्दाख में जमीन खरीद सकेगा. हालांकि, अभी खेती की जमीन को लेकर रोक जारी रहेगी. अभी तक कश्मीर में जमीन खरीदने के लिए वहां का नागरिक होने की बाध्यता थी. अब यह बाध्यता केंद्र ने खत्म कर दी है. केंद्र ने जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन के तहत यह आदेश जारी किया है.


गृह मंत्रालय ने अपनी विज्ञप्ति में कहा है कि इस आदेश को केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन (केंद्रीय कानूनों का अनुकूलन) तीसरा आदेश, 2020 कहा जायेगा. यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है. जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम के तहत अब कोई भी भारतीय नागरिक जम्मू-कश्मीर में फैक्ट्री, घर या दुकान के लिए जमीन खरीद सकता है. इसके लिए उसे किसी भी तरह के स्थानीय निवासी होने का सबूत देने की जरूरत नहीं होगी. इसके अलावा, सार्वजनिक प्रतिष्ठान बनाने के लिए कृषि भूमि के इस्तेमाल की मंजूरी दे दी गयी है.


मुंगेर में हिंसा, SP कार्यालय में हमला, पुलिस की गाड़ी फूंकी

मुंगेर/दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान मुंगेर में पुलिस फायरिंग एवं एक युवक की मौत के मामले को लेकर गुरुवार को मुंगेर शहर मैं लोगों का आक्रोश फूट पड़ा और सैकड़ों की संख्या में आक्रोशित भीड़ ने पहले पुलिस अधीक्षक कार्यालय में भारी तोड़फोड़ की और कई वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया. वही शहर के पूरबसराय ओपी के सामने पुलिस वाहन को आग के हवाले कर दिया.


सैकड़ों की संख्या में सड़क पर उतरे लोग


सैकड़ों की संख्या में सड़क पर उतरे लोग पुलिस प्रशासन के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं और मुंगेर के पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह को निलंबित करने सहित दोषी पुलिसकर्मियों पर हत्या की मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान पुलिस बर्बरता के विरोध में आज मुंगेर के युवाओं का आक्रोश सड़कों पर उतर आया है. 


पुलिस वाहन व ओपी में लगाई आग 


सैकड़ों की संख्या में युवा शहर में प्रदर्शन करते हुए पहले किला परिसर स्थित पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे और वहां भारी तोड़फोड़ की. आक्रोशित व उग्र लोगों की भीड़ किला परिसर से निकलकर पहले कोतवाली थाना और फिर सड़कों पर प्रदर्शन करते हुए पूर्वसराय ओपी पहुंचा और वहां ओपी के सामने एक पुलिस वाहन में आग लगा दी है.मुंगेर शहर के बासुदेवपुर ओपी में भी किया तोड़फोड़ व आगजनी की गई है.


मुंगेर में स्थिति पूरी तरह अनियंत्रित


बता दें कि मुंगेर में स्थिति पूरी तरह अनियंत्रित हो चुका है और सड़कों पर पहले से तैनात पुलिस बल जान बचाकर इधर-उधर छिप गए हैं. इस मामले में कोई अधिकारिक जानकारी उपलब्ध नहीं कराई जा रही.


मुंगेर मुफस्सिल थानाध्यक्ष एवं बासुदेवपुर ओपी के प्रभारी तत्काल प्रभाव से निलंबित


मुंगेर के जिला पदाधिकारी राजेश मीणा द्वारा एक अधिकारिक बयान जारी कर बताया गया है कि दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान हुए फायरिंग एवं घटित घटना को लेकर मुंगेर मुफस्सिल थानाध्यक्ष बृजेश कुमार सिंह एवं बासुदेवपुर ओपी के प्रभारी सुनील कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।


सदर अनुमंडल पदाधिकारी के आवास पर भी तोड़फोड़


ताजा जानकारी के अनुसार उग्र भीड़ के द्वारा मुंगेर के सदर अनुमंडल पदाधिकारी के आवास पर भी तोड़फोड़ किया गया


अचानक तबीयत बिगडऩे के बाद प्रौढ़ और सर्पदंश से बुजुर्ग की मौत

 भीलवाड़ा हलचल। जिले के आमली गांव के एक प्रौढ़ की अचानक तबीयत बिगडऩे के बाद, जबकि कोदूकोटा के वृद्ध की सर्पदंश से मौत हो गई। 
एमजीएच चौकी सूत्रों के अनुसार, आमली निवासी नारायण (53) पुत्र अमरचंद जाट की अचानक तबीयत बिगड़ गई। उसे उपचार के लिए पहले गंगापुर व बाद में महात्मा गांधी चिकित्सालय ले जाया गया, जहां उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। उधर, प्रताप नगर थाना इलाके में सौ फीट रोड़ पर सर्पदंश से कोदूकोटा के लादू (60) पुत्र नारायण बैरवा की सर्पदंश से मौत हो गई।  गंगापुर व प्रताप नगर पुलिस मामले की जांच कर रही है।


रेलवे ने दिवाली और छठ के लिए 68 नए फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों का किया ऐलान

 भारतीय रेलवे ने दीपावली और छठ पर्व को देखते हुए 68 और ट्रेनों को चलाने का फैसला लिया है. जिससे सीधे तौर पर बिहार-उत्तर प्रदेश समेत दिल्ली व अन्य राज्यों के लोगों को फायदा होगा. ऐसे में यदि आप भी दीपावली और छठ पर्व में अपने घर जाना चाहते हैं तो देखें पूरी ट्रेनों की सूची और जानें ट्रेन नंबर व अन्य डिटेल...


दरअसल, यह सभी रेलगाड़ियां पूरी तरह से आरक्षित है. रेलवे ने पहले भी फेस्टिवल ट्रेनों को चलाने का फैसला लिया था. जिससे कोरोना काल में कई यात्रियों को अपने काम पर लौटने या घर वापस होने में बहुत सुचविधाएं हुई. 100 से अधिक ट्रेनों को चलाने के बावजूद बढ़ती मांग को देखते हुए रेलवे ने एकबार फिर 68 अन्य फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों को चलाने का फैसला लिया है. जिससे सीधे तौर पर गुजरात, यूपी, बिहार समेत अन्य राज्यों के यात्रियों को फायदा होगा.


आपको बता दें कि पूर्व में दुर्गा पूजा से लेकर छठ तक चलायी गयी ट्रेनें पहले की तरह 30 नवंबर तक वैसी ही चलती रहेंगी.


देखें फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों की पूरी लिस्ट, ट्रेन नंबर के साथ




  1. ट्रेन नंबर 04998/04997 (भटिंडा से वाराणसी जंक्शन) Bhatinda to Varanasi Junction




  2. ट्रेन नंबर 04612/04611 (श्री माता वैष्णो देवी कटरा - वाराणसी जंक्शन) Shri Mata Vaishno Devi Katra – Varanasi Junction




  3. ट्रेन नंबर 04422/04421 (आनंद विहार टर्मिनल से लखनऊ) Anand Vihar Terminal to Lucknow




  4. ट्रेन नंबर 04924/04923 (चंडीगढ़ से गोरखपुर) Chandigarh to Gorakhpur




  5. ट्रेन नंबर 04090/04089 (आनंद विहार टर्मिनल से भागलपुर) Anand Vihar Terminal to Bhagalpur




  6. ट्रेन नंबर 04012/04011 (आनंद विहार टर्मिनल से जोगबनी) Anand Vihar Terminal to Jogbani




  7. ट्रेन नंबर 02237/02238 (वाराणसी जंक्शन से जम्मू तवी तक) Varanasi Junction to Jammu Tawi




  8. ट्रेन नंबर 02231/02232 Lucknow से Chandigarh




  9. ट्रेन नंबर 04092/04091 New Delhi से Jaynagar




  10. ट्रेन नंबर 04030/04029 Delhi Junction से Muzaffarpur Junction




  11. ट्रेन नंबर 04624/04623 Amritsar Junction से Saharsa Junction




  12. ट्रेन नंबर 04656/04655 Firozpur Cantt से Patna Junction




  13. ट्रेन नंबर 04084/04083 Delhi Junction से Katihar Junction




  14. ट्रेन नंबर 04401/04402 New Delhi से Shri Mata Vaishno Devi Katra




  15. ट्रेन नंबर 04418/04417 Hazrat Nizamuddin से Pune




  16. ट्रेन नंबर 02422/02421 Jammu Tawi से Ajmer Junction




  17. ट्रेन नंबर 04041/04042 Delhi Junction से Dehradun




  18. ट्रेन नंबर 02448/02447 Hazrat Nizamuddin से Manikpur Junction




  19. ट्रेन नंबर 04515/04516 Kalka से Shimla




  20. ट्रेन नंबर 04854/04853 Jodhpur Junction से Varanasi Junction




  21. ट्रेन नंबर 04864/04863 Jodhpur Junction से Varanasi Junction




  22. ट्रेन नंबर 04866/04865 Jodhpur Junction से Varanasi Junction




  23. ट्रेन नंबर 05115/05116 Chhapra से Delhi Junction




  24. ट्रेन नंबर 02581/02582 Manduadih से New Delhi




  25. ट्रेन नंबर 06229/06230 Mysore Junction से Varanasi Junction




  26. ट्रेन नंबर 07323/07324 Huballi Junction से Varanasi Junction




  27. ट्रेन नंबर 02587/02588 Gorakhpur से Jammu Tawi




  28. ट्रेन नंबर 05097/05098 Bhagalpur से Jammu Tawi




  29. ट्रेन नंबर 05251/05252 Darbhanga Junction से Jalandhar




  30. ट्रेन नंबर 02397/02398 Gaya से New Delhi




  31. ट्रेन नंबर 03255/03256 Patliputra से Chandigarh




  32. 32- ट्रेन नंबर 02355/02356 Patna Junction से Jammu Tawi




  33. ट्रेन नंबर 02595/02596 Gorakhpur से Anand Vihar Terminal




  34. ट्रेन नंबर 02331/02332 Howrah Junction से Jammu Tawi




  35. ट्रेन नंबर 02819/02820 Bhubaneshwar से Anand Vihar Terminal




  36. ट्रेन नंबर 02549/02550 Kamakhya से Anand Vihar Terminal




  37. ट्रेन नंबर 02530/02529 Lucknow से Patliputra Junction




  38. ट्रेन नंबर 02033/02034 Kanpur Central से New Delhi




  39. ट्रेन नंबर 08215/08216 Durg से Jammu Tawi




  40. ट्रेन नंबर 02458/02457 Bikaner Junction से Delhi Sarai Rohilla




  41. ट्रेन नंबर 02485/02486 Delhi Sarai Rohilla से Jodhpur Junction




  42. ट्रेन नंबर 09027/09028 Bandra Terminus से Jammu Tawi




  43. ट्रेन नंबर 02887/02888 Vishakhapatnam से Hazrat Nizamuddin




  44. ट्रेन नंबर 08237/08238 Korba से Amritsar Junction




  45. ट्रेन नंबर 04887/04888 Barmer से Rishikesh




  46. ट्रेन नंबर 04519/04520 Delhi Junction से Bhatinda Junction




  47. ट्रेन नंबर 02471/02472 Shri Ganganagar से Delhi Junction




  48. ट्रेन नंबर 09611/09612 Ajmer Junction से Amritsar Junction




  49. ट्रेन नंबर 09613/09614 Ajmer Junction से Amritsar Junction




  50. ट्रेन नंबर 02683/02684 Yasvantpur Junction से Lucknow




  51. ट्रेन नंबर 02539/02540 Yasvantpur Junction से Lucknow




  52. ट्रेन नंबर 02851/02852 Vishakhapatnam से Hazrat Nizamuddin




  53. ट्रेन नंबर 01407/01408 Pune Junction से Lucknow




  54. ट्रेन नंबर 02883/02884 Durg से Hazrat Nizamuddin




  55. ट्रेन नंबर 04404/04403 Anand Vihar Terminal से Bhagalpur




  56. ट्रेन नंबर 04406/04405 New Delhi से Barauni




  57. ट्रेन नंबर 04408/04407 New Delhi से Darbhanga




  58. ट्रेन नंबर 04410/04409 New Delhi से Patna Junction




  59. ट्रेन नंबर 04412/04411 Delhi Junction से Saharsa




  60. ट्रेन नंबर 09717/09718 Jaipur से Daulatpur Chowk




  61. ट्रेन नंबर 04131/04132 Prayagraj Junction से Udhampur




  62. ट्रेन नंबर 09017/09018 Bandra Terminus से Haridwar Junction




  63. ट्रेन नंबर 02191/02192 Jabalpur से Haridwar Junction




  64. ट्रेन नंबर 09805/09806 Kota से Udhampur




  65. ट्रेन नंबर 01449/01450 Jabalpur से Shri Mata Vaishno Devi Katra




  66. ट्रेन नंबर 04321/04322 Bareilly से Bhuj




  67. ट्रेन नंबर 04311/04312 Bareilly से Bhuj




  68. ट्रेन नंबर 09090 Gorakhpur से Ahmedabad


     




गर्म कपड़े निकाल लें लोग,और गिरेगा अगले हफ्ते तक पारा

सुबह और शाम की ठंड भी बढ़ने लगी है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, अगले महीने दीपावली तक ठंड बढ़ जाएगी। बता दें कि 15 नवंबर को दीपावली का त्योहार, जबकि इसके इसके एक सप्ताह के भीतर छठ का त्योहार मनाया जाएगा। कुलमिलाकर छठ और दीपावली त्योहार मनाने के दौरान ठीक-ठाक ठंड हो रही होगी।


लगातार गिर रहा है न्यूनतम और अधिकतम पारा


पिछले एक सप्ताह से सुबह और शाम ठंड बढ़ने से लगातार पारा गिरता जा रहा है। बृहस्पतिवार को भी सुबह पारे में गिरावट देखन को मिली, जबकि भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, अब दिन के तापमान में भी गिरावट आनी शुरू हो गई है। धीरे-धीरे यह ठंड और बढ़ने की संभावना है। नवंबर के मध्य तक  ठीक-ठाक ठंड हो रही होगी।


वहीं, मौसम की जानकारी मुहैया कराने वाले स्काईमेट वेदर के अनुसार, अगले कुछ दिन  तक मौसम साफ रहेगा, तेज धूप भी निकलेगी। इसके साथ ही इससे ठंड तेजी से बढ़ेगी। सुबह के समय हल्की धुंध भी बरकरार रहेगी। इससे आने वाले दिनों में तापमान में भी दो से तीन डिग्री तक की गिरावट आने की संभावना है।







कब है छठ, जानिए तारीख, नहाय-खाय, खरना, व्रत नियम और पूजा विधि...

अगले महीने हिन्दू धर्म का महापर्व छठ पूजा है. बिहार और पूर्वी उत्‍तर प्रदेश का सबसे प्रमुख त्‍योहार छठ पूजा होत है. इस बार छठ पूजा 20 नवंबर को पड़ रहा है. ऐसे में छठ पूजा का पर्व 18 नवंबर से शुरू हो जाएगा. क्योंकि यह त्योहार 4 दिनों का होता है. छठ पूजा को लेकर लोगों के बीच में अभी से चर्चा शुरू हो गई है. छठी माई की पूजा का महापर्व छठ दीपावली के 6 दिन बाद मनाया जाता है. छठ पूजा में सूर्य देवता की पूजा का विशेष महत्‍व होता है. मान्यता है कि छठ माता सूर्य देवता की बहन हैं. सूर्य देव की उपासना करने से छठ माई प्रसन्न होती हैं और मन की सभी मुरादें पूरी करती हैं. छठ की शुरुआत नहाय खाय से होती है और 4 दिन तक चलने वाले इस त्‍योहार का समापन उषा अर्घ्‍य के साथ होती है. आइए जानते हैं छठ पूजा से संबंधित पूरी जानकारी...इस वर्ष यह त्योहार 18 नवंबर से 21 नवंबर तक मनाया जाएगा. 18 नवंबर को नहाय खाय, 19 नवंबर को खरना, 20 नवंबर को संध्या अर्घ्य और 21 नवंबर को उषा अर्घ्‍य के साथ इसका समापन होगा, इन 4 दिनों तक सभी लोगों को कड़े नियमों का पालन करना होता है. इन 4 दिनों में छठ पूजा से जुड़े कई प्रकार के व्‍यंजन, भोग और प्रसाद बनाया जाता है.छठ पूजा कार्तिक मास के शुक्‍ल पक्ष की षष्‍ठी से शुरू हो जाती है. इस व्रत को छठ पूजा, सूर्य षष्‍ठी पूजा और डाला छठ के नाम से भी जाना जाता है. इसकी शुरुआत नहाय खाय से होती है, जो कि इस बार 18 नवंबर को है. इस दिन घर में जो भी छठ का व्रत करने का संकल्‍प लेता है वह, स्‍नान करके साफ और नए वस्‍त्र धारण करता है. फिर व्रती शाकाहारी भोजन लेते हैं. आम तौर पर इस दिन कद्दू की सब्‍जी बनाई जाती है.


 नहाय खाय के अगले दिन खरना होता है. इस दिन से सभी लोग उपवास करना शुरू करते हैं. इस बार खरना 19 नवंबर को है. इस दिन छठी माई के प्रसाद के लिए चावल, दूध के पकवान, ठेकुआ (घी, आटे से बना प्रसाद) बनाया जाता है. साथ ही फल, सब्जियों से पूजा की जाती है. इस दिन गुड़ की खीर भी बनाई जाती है.


हिंदू धर्म में यह पहला ऐसा त्‍योहार है जिसमें डूबते सूर्य की पूजा की जाती है. छठ के तीसरे दिन शाम यानी सांझ के अर्घ्‍य वाले दिन शाम के पूजन की तैयारियां की जाती हैं. इस बार शाम का अर्घ्‍य 20 नवंबर को है. इस दिन नदी, तालाब में खड़े होकर ढलते हुए सूर्य को अर्घ्य दिया जाता है. फिर पूजा के बाद अगली सुबह की पूजा की तैयारियां शुरू हो जाती हैं.


चौथे दिन सुबह के अर्घ्‍य के साथ छठ का समापन हो जाता है. सप्‍तमी को सुबह सूर्योदय के समय भी सूर्यास्त वाली उपासना की प्रक्रिया को दोहराया जाता है. विधिवत पूजा कर प्रसाद बांटा जाता है और इस तरह छठ पूजा संपन्न होती है. यह तिथि इस बार 21 नवंबर को है.


रेलवे के इतिहास में पहला मामला, 'किडनैप' बच्ची को बचाने को 240 KM बिना रुके दौड़ी ट्रेन

भोपाल /भारतीय रेलवे के इतिहास में ऐसा पहला मामला सामने आया है, जहां एक किडनैप हुई बच्ची को सकुशल बचाने के लिए रेलवे ने एक ट्रेन को किसी भी स्टेशन पर बिना रोके 240 किलोमीटर तक दौड़ाया और अंत में बच्ची को सकुशल बरामद किया.किसी फिल्मी कहानी की तरह लगने वाली ये घटना दरअसल हकीकत में देखने को मिली है. जब उत्तर प्रदेश के ललितपुर से मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल तक रेलवे ने करीब 240 किलोमीटर तक एक ट्रेन को बिना किसी स्टेशन पर रोके एक बच्ची को सकुशल बरामद किया है.दरअसल, ललितपुर में एक महिला ने आरपीएफ को बताया था कि एक पुरुष उसकी बेटी को जबरन अपने साथ ले गया है. जिसे उसने ट्रेन में चढ़ते देखा है. सूचना मिलते ही ललितपुर स्टेशन के सीसीटीवी फुटेज देखे गए, जिसमें महिला ने बच्ची की पहचान कर ली. फुटेज के आधार पर पता चला कि बच्ची को लेकर जो शख्स दिख रहा है वह राप्तीसागर एक्सप्रेस पर चढ़ा है.इसके तुरंत बाद फैसला किया जाता है कि ट्रेन को भोपाल तक बिना रुके जाने दिया जाए. इसकी जानकारी तुरंत भोपाल आरपीएफ को भेजी गई. इस बीच पड़ने वाले किसी भी स्टेशन पर ट्रेन को नहीं रोका गया. ट्रेन जब भोपाल पहुंचने ही वाली थी तो प्लेटफॉर्म पर आरपीएफ और जीआरपी ने घेराबंदी कर दी.


एमजीएच हॉस्पिटल में एम्बुलेंस चालकों को दिलाया नो मास्क नो एंट्री का संकल्प

भीलवाड़ा (हलचल)। सहयोग सेवार्थ फाउंडेशन संस्थान भीलवाड़ा ( रज़ि.) द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रसाशन द्वारा चलाये जा रहे कोविड के  विरुद्ध जनआंदोलन में सहभागिता निभाते हुए जोन 7 में राजकीय महात्मा ग़ांधी चिकित्सालय सम्पूर्ण परिसर में पेम्पलेट वितरित किये एवं स्टिकर चिपकाए एवं रोगियों के परिजनों को दो गज दूरी मास्क जरूरी का महत्व समझाते हुए कोरोना से बचाव में हेतु जागरूक किया । एम्बुलेंस चालकों ने अभियान का समर्थन करते हुए नो मास्क नो एंट्री का संकल्प लिया । 


फाउंडेशन के सचिव गोपाल विजयवर्गीय ने बताया की  जोन  7 के समन्वयक व्याख्याता रोहित शर्मा, स्वास्थ्य निरीक्षक गोविंद चन्नाल , जमादार छोटू चन्नाल, श्यामलाल नकवाल, रवि नकवाल,  एन सी की कैडेट्स राजनंदिनी वैष्णव, मनीषा बैरवा , सहित जॉन 7 की पूरी टीम ने  राजकीय चिकित्सालय में टीबी हॉस्पिटल, जनाना हॉस्पिटल, कोविड वार्ड, सायकिल स्टैंड, एम्बुलेंस स्टैंड, ब्लड बैंक, एआरटी सेंटर, कैंटीन, बहिरंग विभाग , मदर मिल्क बैंक सहित सभी विभागों में कर्मचारियों नर्सिंग स्टाफ एवं रोगीयों एवं उनके परिजनों को दो गज दूरी मास्क जरूरी का संकल्प दिलाते हुए जागरुक किया एवं नो मास्क नो एंट्री के स्टिकर लगाए  । इसके साथ ही टीम द्वारा माणिक्यनगर में घर घर दस्तक देतें हुए नो एंट्री के स्टिकर लगाकर कोरोना से बचाव हेतु जागरूक किया ।महात्मा ग़ांधी चिकित्सालय में घूम रहे रोगियों के परिजनों को कोरोना से बचाव हेतु जागरुक करते हुए जब मास्क ही वैक्सीन है का महत्व समझाते हुए मास्क वितरित किए ।


Wednesday, October 28, 2020

एक बार फिर जनधन खाते में 1500 रुपये भेज सकती है मोदी सरकार

कोरोना वायरस महामारी की वजह से सबसे अधिक मार देश के गरीब परिवारों पर पड़ी है. आर्थिक तंगी के इस दौर में गरीबों को सहायता देने के लिए मोदी सरकार ने पहले 30 नवंबर तक मुफ्त में राशन उपलब्ध कराने का ऐलान किया था, लेकिन अब उसे बढ़ाकर मार्च 2021 किया जा सकता है. इसके साथ ही, खबर यह भी है कि संकट की इस घड़ी में गरीब परिवारों को आर्थिक मदद पहुंचाने के लिए मोदी सरकार जनधन खातों में एक बार फिर 1500 रुपये की रकम भेज सकती है.


इससे पहले मोदी सरकार ने लॉकडाउन के दौरान गरीब परिवार की महिलाओं के जनधन खातों में तीन महीनों के लिए 500-500 रुपये करके 1500 रुपये की रकम भेजी थी. अब त्योहारी सीजन के मद्देनजर मोदी सरकार महिलाओं के जनधन खातों में दोबारा 1500 रुपये भेजने की तैयारी कर रही है. इसके पीछे सरकार का मकसद यह है कि गरीब परिवार खुशी-खुशी त्योहार मना सकें.


गरीबों के लिए तीसरे प्रोत्साहन पैकेज देने की तैयारी में सरकार


मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार गरीब और कमजोर परिवार के लोगों के लिए तीसरे प्रोत्साहन पैकेज तैयारी कर रही है. सरकार गरीब कल्याण योजना के तहत अनाज और पैसे देने की घोषणा कर कर सकती है. दरअसल, सरकार ने 20 करोड़ से अधिक महिला जनधन खाताधारकों के खातों में 3 महीने में 1500 रुपये भेजे थे. बता दें कि केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत प्रधानमंत्री जनधन योजना लागू की है.


जानिए कैसे खुलेगा जनधन खाता


प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत जीरो बैलेंस पर बचत खाता खुलवाया जा सकता है. इसमें चेकबुक और बीमा जैसी तमाम सुविधाएं दी जाती हैं. आप किसी भी बैंक की शाखा में जाकर जरूरी दस्तावेज जमा करवाने के बाद खाता खुलवा सकते हैं.