Saturday, September 26, 2020

अब आयोजनों में 50 की जगह 100 लोग हो सकेंगे शामिल

 

जयपुर
प्रदेश में हालांकि कोरोना तेजी से अपने पांव पसार रहा है। लेकिन राज्य सरकार की ओर से इसी बीच एक बड़ा फैसला लिया गया है। जी हां प्रदेश सरकार ने अब अनलॉक प्रक्रिया को विस्तारित करते हुए आयोजनों में 50 की जगह 100 लोगों के शामिल होने की छूट दे दी है। इससे पहले केन्द्र की ओर से जारी गाइडलाइन को मानते हुए प्रदेश में सभी नियमों को उसी के अनुरूप रखा गया था, सिर्फ आयोजनों में 100 लोगो को शामिल होने की छूट नहीं दी गई थी। लेकिन अब सरकार ने इस संबंध में भी फैसला ले लिया है।
जानिए किन बातों का रखना होगा खयाल
मिली जानकारी के अनुसार नए आदेश के तहत किसी भी व्यक्ति, संस्था या संगठन संबंधित विषय के आवेदन के लिए जिला मजिस्ट्रेट से इसकी अनुमति लेनी होगी। साथ ही आयोजन में सभी को मास्क पहनने के साथ सभी हैल्थ प्रोटोकॉल नियमों का पालन करना होगा। आपको बता दें कि गृह विभाग ने 22 सितंबर को इसका आदेश जारी कर दिया था, लेकिन 4 दिन बाद इसे सार्वजनिक किया गया है।



कोरोना काल में भी बेचा जा रहा है नकली मावा, सावधान रहें !

 

 धौलपुर
कोरोना काल में जहां देशभर में इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए सेहतमंद आहार लेने की सिफारिश की जा रही है। वहीं प्रदेश के लोगों की सेहत बिगाड़ने से जुड़ा मामला राजस्थान के धौलपुर से सामने आया है। यहां जिले की खाद्य विभाग एवं पुलिस विभाग की टीम ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए मिलावटखोरों के प्रतिष्ठानों पर छापा मारा है। इस कार्रवाई के दौरान नकली मावा,केक,बर्फी,सोन पपड़ी आदि बनाने के जखीरे का भंडाफोड़ हुआ है।


मिलावटखोरों में मचा हड़कंप
मिली जानकारी के अनुसार पुलिस एवं प्रशासन की ओर से अचानक की गई कार्रवाई से मिलावटखोरों में हड़कंप मच गया है। पुलिस प्रशासन की ओर से मिली जानकारी के अनुसार मनियां थाना और राजाखेड़ा थाना इलाके में आधा दर्जन मिलावटखोरों के स्थानों पर कार्यवाही को अंजाम दिया गया है। खाद्य विभाग की टीम ने तीन जगह से नमूने लिए हैं, जिन्हें जांच के लिए लैब भेजा जाएगा।


प्रशासन की ओर से चलाया जा रहा है अभियान
खाद्य विभाग के मुताबिक़ जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल,एसपी केसर सिंह शेखावत एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.गोपाल गोयल के निर्देश में मिलावटखोरों के खिलाफ अभियान की शुरुआत की है। उन्होंने बताया कि जिले में खाद्य पदार्थों में मिलावट की शिकायत मिल रही है। लिहाजा उच्च अधिकारियों के निर्देश पर मनियां थाना इलाके के दो प्रतिष्ठानों पर छापे मार कार्यवाही को अंजाम दिया है, जिसके बाद ये सनसनीखेज खुलासा हुआ है। खाद्य विभाग की टीम ने राजाखेड़ा इलाके के सांवलिया का पुरा एवं कंचनपुरा गांव में भी मावा संचालकों के यहां छापामार कार्यवाही को अंजाम दिया गया है। इसके अलावा एक कार्रवाई हाईवे के पास बिरजापुर गांव में की गई है।



जम्मू-कश्मीर में फिर से भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 4.8 मापी गई तीव्रता

 

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में शनिवार को रिक्टर पैमाने पर 4.8 तीव्रता के भूकंप के झटके आए। हालांकि, इसका असर सिर्फ श्रीनगर शहर और आसपास के इलाकों में ही महसूस किया गया। मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा कि भूकंप अपराह्न 12.02 बजे आया और इसका केंद्र जम्मू-कश्मीर क्षेत्र में रहा।
मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा, यह 34.86 डिग्री उत्तरी अक्षांश और 74.06 डिग्री पूर्वी देशांतर पर आया। इसेस पहले, शुक्रवार को रिक्टर पैमाने पर 5.4 तीव्रता वाला भूकंप जम्मू-कश्मीर में आाय था और इसका केंद्र लद्दाख-तिब्बत बॉर्डर था।



हर घर में 24 घंटे पानी पहुंचे, विकसित देशों की तर्ज पर होगी दिल्ली में वाटर सप्लाई : सीएम केजरीवाल

 

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में 24 घंटे पेयजल उपलब्ध कराने की योजना पर काम किया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत दिल्ली के प्रत्येक घर में 24 घंटे पानी मुहैया कराया जाएगा। खास बात यह है कि पानी उपलब्ध कराने के लिए पानी की टंकी या किसी पंप की जरूरत नहीं पड़ेगी। इस काम के लिए दिल्ली सरकार विश्व स्तरीय आधुनिक तकनीक अपनाएगी। दिल्ली को अतिरिक्त पानी देने के लिए हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश से पानी लिया जा सकता है।

दिल्ली में पानी वितरण की सुविधा बेहतर करने के लिए दिल्ली सरकार विकसित देशों की तर्ज पर नई तकनीक अपनाएगी। दिल्ली में विदेशों की तरह मॉडर्न तरीके से पानी का वितरण होगा। यह व्यवस्था सेंट्रलाइज होगी और कंट्रोल रूम से ही पानी की बबार्दी या चोरी का पता पता लग जाएगा। दिल्ली सरकार ने दिल्ली जल बोर्ड के निजीकरण से इनकार किया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, हम दिल्ली में पानी के वितरण एवं इससे संबंधित व्यवस्था का निजीकरण नहीं करेंगे। वैसे भी मैं व्यक्तिगत तौर पर निजीकरण के खिलाफ हूं।

शनिवार को एक प्रेस वार्ता के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, दिल्ली में 24 घंटे आधुनिक तकनीक के जरिए पानी उपलब्ध कराने के लिए हम एक कंसलटेंट नियुक्त करने जा रहे हैं। यह कंसलटेंट पानी के प्रबंधन को ठीक करने और पानी की प्रत्येक बूंद की जिम्मेदारी तय करने की व्यवस्था करेगा। साथ ही दिल्ली सरकार को जल वितरण की आधुनिक तकनीक से अवगत भी कराएगा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, दिल्ली में प्रतिदिन 930 मिलियन (93 करोड़) गैलन पानी का उत्पादन होता है। दिल्ली की आबादी लगभग 2 करोड़ है, यानी प्रत्येक व्यक्ति के लिए प्रतिदिन चाहे वह अमीर हो या गरीब लगभग 176 लीटर पानी का उत्पादन होता है। इसमें औद्योगिक, क्षेत्र स्विमिंग पूल, खेती, घरेलू पानी एवं पानी के अन्य उपयोग शामिल हैं। हमें अब पानी की उपलब्धता बढ़ानी है। इसके लिए हम उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड सरकार से बात कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने दिल्ली में पानी के प्रबंधन और उसके वितरण की जिम्मेदारी पर भी चिंता जताई। मुख्यमंत्री ने स्वीकार किया कि पानी के प्रबंधन में कई प्रकार की खामियां हैं। उन्होंने कहा, 930 मिलियन गैलन पानी पानी कम नहीं होता। इसमें से पानी चोरी हो जाता है, पानी लीक हो जाता है। हमें पानी का प्रबंधन ठीक करना है। प्रत्येक बूंद पानी के वितरण की सही जिम्मेदारी तय होनी चाहिए।



कृषि बिल के विरोध में पंजाब में किसानों का प्रदर्शन जारी, देखें तस्वीरें

 

अमृतसर । पंजाब में कृषि बिलों के विरोध में किसानों का रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन जारी है। किसान रेलवे ट्रैक पर अपने कपड़े उतारकर प्रदर्शन कर रहे हैं ताकि मोदी सरकार कृषि बिल को वापस लें । किसान मजदूर संघर्ष समिति का आरोप है कि अकाली दल ने अपने प्रदर्शन में मोदी सरकार और कृषि बिल के खिलाफ कुछ नहीं बोला। वे अपनी स्थिति स्पष्ट नहीं कर रहें,वे राजनीति कर रहें ।



जहर बेचने वाली महिलाएं अब बाटेंगी अमृत, कहां पर,यहां पढ़ें

 

बाराबंकी । बाराबंकी के चैनपुरवा गांव की महिलाएं अब 'जहर' नहीं बेचेंगी, बल्कि अब शहद बांटेंगी। यह गांव बाराबंकी जिले के रामनगर पुलिस थाने के मध्य उत्तर प्रदेश में 60 किलोमीटर दूर 12 बस्तियों में से एक है। यह 'अवैध शराब' के उत्पादन और बिक्री के लिए बदनाम था, जिसने न जाने कितने परिवारों को नष्ट कर दिया है और कई लोगों की जिंदगी खत्म कर दी।

वहीं इस काम में ज्यादातर महिलाएं शामिल हैं, जो अपनी रसोई चलाने के लिए अवैध शराब का उत्पादन करने के लिए बाध्य हैं, क्योंकि उनके पास आजीविका का कोई साधन नहीं है। हालांकि, इन महिलाओं द्वारा निर्मित इस 'जहर' ने उनके पति की भी जान ले ली। वहीं समय-समय पर पुलिस छापेमारी करती रहती है और अपराध के लिए महिलाओं को गिरफ्तार करती है।

कंचन (35) के पति की मौत अवैध शराब के कारण हुई थी। पति के जाने की त्रासदी के बावजूद वह अपने बच्चों का पेट भरने के लिए अवैध शराब बनाने और बेचने के लिए मजबूर है। इसी तरह 50 वर्षीय सुंदरा के पति, शराब पीने के बाद शारीरिक रूप से अक्षम हो गए, लेकिन सुंदरा लखनऊ में पढ़ रहे अपने दो बच्चों के स्कूल की फीस का खर्च उठाने के लिए इसे बेचना जारी रखने के लिए मजबूर हैं।

दोनों महिलाएं चैनपुरवा गांव की गरीबी का उदाहरण हैं, जिनके पास आजीविका चलाने के अलावा कोई और साधन नहीं है।

बाराबंकी पुलिस ने कानून की नजर में अपराधी इन महिलाओं की मदद के लिए एक पहल की है। पुलिस उन्हें शहद उत्पादन करने और सम्मानजनक जीवन जीने में मदद करके अब 'जहर के कारोबार' से बाहर लाने की कोशिश कर रही है।

आईएएनएस से बात करते हुए बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक अरविंद चतुर्वेदी ने कहा, "हमने चैनपुरवा में महिलाओं के एक चुनिंदा समूह को शहद के बक्से वितरित किए हैं। वे शहद का उत्पादन करेंगी और 5,000-6,000 रुपये कमाएंगे, जो कि वे कूड़े के कारोबार से अधिक है। हमने इसे इस महीने की शुरुआत में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया था। दो सप्ताह के बाद, हम गांव की सभी महिलाओं को शहद उत्पादक बक्से वितरित करेंगे। इन महिलाओं को लखनऊ के विशेषज्ञों द्वारा शहद उत्पादन का प्रशिक्षण दिया जाएगा। मुझे यकीन है कि इससे सामाजिक अस्वस्थता को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी।"

बाराबंकी जिले के ग्रामीण इलाकों में कम से कम 18 पुलिस स्टेशनों की पहचान की गई है जहां शहद के डिब्बे वितरित किए जाएंगे। इस प्रकार महिलाओं को अपराध मुक्त जीवन जीने के लिए गंदे व्यवसाय से बाहर आने में मदद मिलेगी।
 



सब्जी मंडी मे लापरवाही का आलम, प्रशासन के प्रयास नाकाम

 

चित्तौड़गढ़ (राजेश जोशी)।  चित्तौड़गढ़ जिले मे  कोरोना रोजाना तेजी से अपना पैर पसार रहा है और जिला प्रशासन भी इसे रोकने के लिए निरंतर प्रयास कर रहा है लेकिन जिला मुख्यालय पर मुख्य सब्जी मंडी मे लापरवाही का आलम देख  कर ऐसा नहीं लग रहा है की चित्तौड़गढ़ जिला कभी कोरोना को मात दे पाएगा।
 चित्तौड़गढ़ जिला मुख्यालय पर इन दिनों कोरोना संक्रमितो  का आंकड़ा दिनों दिन बढ़ रहा है और जिला प्रशासन के प्रयासों पर आमजन पानी फेरता दिखाई दे रहा है कुछ ऐसा ही नजारा आज जिला मुख्यालय पर स्थित मुख्य सब्जी मंडी में देखने को मिला जिसमें आमजनों के साथ साथ मंडी में अपना व्यवसाय कर रहे व्यापारियों को देखकर कैसा लगा जैसे चित्तौड़गढ़ से कोरोनावायरस समाप्त हो चुका है और चित्तौड़गढ़ ने कोरोना पर विजय प्राप्त कर ली है जैसा कि आप इन वीडियो में देख पा रहे होंगे की सब्जी मंडी में ना तो व्यापारियों और ना ही वहां पर आई आम जनता ने मास्क परहेज किया हुआ है सोशल  डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई जा रही है और यही हालात चित्तौड़गढ़ में कोरोना के संक्रमण को बढ़ाने के लिए काफी दिखाई दे रहे हैं।


बरहाल चित्तौड़गढ़ जिला मुख्यालय में आज के हालात को देखते हुए तो यही लग रहा है कि कोरोना  संक्रमण को रोकने में  जिला प्रशासन, और  आमजन  बिलकुल गंभीर दिखाई नहीं दे रहा है आज जिला मुख्यालय का नजारा यही है कि हर व्यक्ति लापरवाही करता हुआ दिखाई दे रहा है और कोरोना संक्रमण को बढ़ाने में अपना सहयोग दे रहा है जो कि आने वाले समय के लिए बहुत बड़ा खतरा साबित होगा 



सरेआम युवती को गोली मारी, चाकू से भी गोदा, मौत

 

 राजधानी जयपुर में अपराधी कितने बेखौफ है, इस बात का अंदाजा शनिवार को पिंकसिटी के आदर्श नगर थाना इलाके में हुई घटना से भांपा जा सकता है। यहां परनामी मंदिर के पास एक युवती की चाकू और गोली मारकर उसकी हत्या करने का मामला सामने आया है। इस मामले में पुलिस ने धौलपुर के रहने वाले आरोपी विष्णु चौधरी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार प्रारंभिक पूछताछ में आया सामने आया है। आरोपित चौधरी और मृतका दो साल एक-दूसरे के परिचित थे। संभवतः प्यार में धोखे के बाद हुई उसने युवती की हत्या कर दी है।


जानकारी के अनुसार युवती शनिवार सुबह सात बजे आदर्श नगर स्थित वैदिक बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में बीएससी फाइनल ईयर की परीक्षा आई थी। सुबह 10 बजे परीक्षा देकर जब वो बाहर निकली, तो बाहर निकलते ही धौलपुर निवासी विष्णु चौधरी ने रोक लिया। इसके बाद आरोपी विष्णु चौधरी ने युवती पर चाकू से हमला किया और गोली मार दी। मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने आरोपी के कब्जे से अवैध हथियार बरामद किए गए है।
 
यह बताया जा रहा है कि घटना के बाद आरोपी ने भागने का प्रयास किया, तो मोतीडूंगरी पुलिस थाने के कांस्टेबल कुंमेर सिंह ने आरोपी को भागकर दबोच लिया। सूचना मिलने पर आदर्श नगर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। अब पुलिस गिरफ्तार आरोपी से पूछताछ कर रही है।



मां के चरित्र पर संदेह था तो छोटे भाई की कर दी हत्या

 

भिंड।
मां के चरित्र पर संदेह के चलते एक भाई ने अपने 8 साल के मासूम छोटे भाई की हत्या कर दी। बड़े भाई को शक था कि छोटा भाई उसका सगा भाई नहीं है। उसे शंका थी कि वह दूसरे पिता की संतान है। इसी के चलते उसने अपने छोटे भाई को तालाब में धकेल कर उसकी हत्या कर दी।

मामला भिंड जिले के भीम नगर इलाके का है जहां मंगलवार के दिन 8 साल के मासूम बच्चे की लाश शहर के गौरी सरोवर में तैरती हुई मिली थी। लाश की शिनाख्त पियूष बघेल के रूप में हुई थी। पियूष बघेल रविवार की शाम को घर से लापता हो गया था। परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट सिटी कोतवाली थाने में दर्ज करवाई थी। लेकिन मंगलवार को उसका शव गौरी सरोवर में तैरता हुआ मिला।

पुलिस ने शुरुआत में मर्ग कायम करते हुए इसकी जांच शुरू की। जब जांच में तथ्य सामने आए तो पुलिस हैरान रह गई क्योंकि 8 साल के मासूम बच्चे की तालाब में धकेल कर हत्या कर दी गई थी। तफ्तीश से खुलासा हुआ कि मृतक के बड़े भाई राहुल ने ही उसकी तालाब में धकेल कर हत्या कर दी थी। पुलिस ने जब राहुल को अपनी हिरासत में लेकर पूछताछ की तो राहुल ने बताया कि अक्सर उसके मोहल्ले वाले उससे कहा करते थे कि पियूष उसका सगा भाई नहीं है और उसकी मां का चरित्र भी सही नहीं है। राहुल का कहना है कि उसके भाई की शक्ल भी उससे नहीं मिलती थी, इसलिए वह अपने भाई को पसंद भी नहीं करता था।

बार-बार मोहल्ले वालों की बातें सुनकर पियूष के प्रति उसकी नफ़रत और बढ़ती गई और रविवार के दिन राहुल बघेल ने अपने छोटे भाई को ही मारने की प्लानिंग कर ली। वह उसे अपने साथ गौरी सरोवर पर ले गया जहां उसने 8 साल के मासूम को गौरी शहर में धक्का दे दिया। पीयूष की पानी में डूबने से मौत हो गई। सिटी कोतवाली पुलिस ने आरोपी राहुल बघेल को गिरफ्तार कर लिया है।



पुलिस के हत्थे चढ़ा 20 से ज्यादा मर्डर कर चुका साइको किलर

 

पटना
बिहार पुलिस ने 20 से ज्यादा मर्डर के आरोपी एक साइको किलर को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। इस साइको किलर का नाम अविनाश श्रीवास्तव है। बताया जा रहा है कि पटना पुलिस को रक्सौल के एक होटल में उसके छिपे होने की जानकारी मिली थी, जिसके बाद कार्रवाई करते हुए बुधवार रात उसे गिरफ्तार कर लिया गया। इस कार्रवाई में उसके साथ मौजूद दो और आरोपियो गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि अविनाश अपनी मां के साथ इस होटल में छिपा हुआ था और नेपाल भागने की फिराक में था। पुलिस जांच में इस साइको किलर को लेकर कई सनसनीखेज खुलासे सामने आए हैं।

पूर्व एमएलसी का बेटा है शार्प शूटर अविनाश श्रीवास्तव
पुलिस ने बताया कि अविनाश श्रीवास्तव एक शार्प शूटर है, वो पूर्व एमएलसी ललन श्रीवास्तव का बेटा है। पटना के कंकड़बाग में स्थित एमआइजी कॉलोनी का रहने वाला था। अविनाश के पिता ललन श्रीवास्तव की साल 2002 में हत्या की कर दी गई थी। जिसके बाद उसने अपने पिता की हत्या का बदला लेने का फैसला लिया। यही नहीं उसने जल्द ही अपने पिता के हत्यारे को खोज लिया। उसे एक दो नहीं बल्कि 32 गोलियां मारी थीं।
एमसीए की थी डिग्री, नामी कंपनी में कर चुका है काम
पुलिस के मुताबिक, पिता की हत्या का बदला लेने के बाद अविनाश अपराध जगत में कुख्यात हो गया। पुलिस रिकार्ड में उसके खिलाफ हत्या के 20 से अधिक मामले दर्ज पाए गए हैं। बताया जा रहा कि अविनाश काफी पढ़ा लिखा है। उसके पास एमसीए की डिग्री थी, साथ ही वो अंग्रेजी में बात करता था। दिल्ली में रहकर पढ़ाई के बाद उसने एक बड़ी कंपनी में अच्छे पद पर नौकरी भी शुरू की थी। हालांकि, पिता की हत्या के बाद उसकी जिंदगी बदल गई और फिर उसने अपराध की राह पकड़ ली।


पिता की हत्या के बाद बदल गई जिंदगी, दर्ज हैं 20 मर्डर केस
पुलिस के हत्थे चढ़े अविनाश के खिलाफ हाजीपुर इलाके में कई वारदातों को अंजाम देने के आरोप हैं। हाजीपुर के साथ-साथ पटना में भी उसने कई वारदातों में शामिल होने के आरोप हैं। 2018 में पटना की पूर्व डिप्टी मेयर के पति और पूर्व वार्ड पार्षद दीना गोप की हत्या में भी उसे शामिल बताया जाता है। वह हाल ही में हाजीपुर जेल से छूटा था। जेल से निकलने के बाद ही वह नेपाल भागने के फिराक में था। जब पटना पुलिस को उसकी इस हरकत की जानकारी मिली। जिसके बाद पुलिस ने रक्सौल से उसे गिरफ्तार कर लिया।



बिना प्रशासन की अनुमति के निजी होटल में युवक-युवतियों ने की पार्टी, पुलिस के जवान भी रहे शामिल

 

चित्तौड़गढ़ (राजेश जोशी)  । केंद्र व राज्य सरकारें  जहां कोरोना को  खत्म करने के लिए  लंबी लड़ाई लड़ रही है  और आमजन को भी  इसके लिए प्रेरित कर रही है  कि सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए अपने आप को सुरक्षित रखे लेकिन चित्तौड़गढ़ जिला मुख्यालय पर बीती रात कोतवाली थाना पुलिस के जवानों के सामने बिना प्रशासन की अनुमति के एक निजी होटल कुम्भा में लगभग 200 युवक-युवतियों ने एक विशेष पार्टी का आयोजन किया जिसमें कोतवाली थाना पुलिस के जवान भी शामिल रहे।


चित्तौड़गढ़ जिला मुख्यालय पर  लेकिन बीती रात कोतवाली थाना अंतर्गत नई पुलिया पर कुम्भा होटल एक पार्टी का आयोजन किया गया था जिसमें लगभग 200 की संख्या में युवक-युवतियों ने मैं भाग लिया  इस पार्टी को देख कर लगता था कि चित्तौड़गढ़ से कोरोना महामारी  की समाप्ति हो गई है इस पार्टी में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को ताक में रखते हुए बिना प्रशासन की अनुमति  के ही इस पार्टी का आयोजन किया गया जिसमें तेज आवाज में डीजे भी बजाया गया जैसा क्या की आप  वीडियो में  देख सकते हैं जब चैंनल  की टीम वहां पहुंची उसी समय कोतवाली थाना पुलिस का भी होटल में प्रवेश हुआ लेकिन कोतवाली थाना पुलिस लगभग 20 से 25 मिनट तक उस पार्टी स्थल पर रही लेकिन उन्होंने इस पार्टी को रोकने का प्रयास नहीं किया और होटल मालिक से बात करके वहां से निकल लिये  जबकि नियमानुसार बिना प्रशासन के अनुमति के होटलों में इस तरह की बड़ी पार्टियों का आयोजन नहीं किया जा सकता और ना ही तेज आवाज में डीजे साउंड बजाया जा सकता है।


बरहाल जब पुलिस  की आंखों के सामने इस तरह के नियमों को तोड़कर कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है  तो फिर यही कहा जा सकता है कि  चित्तौड़गढ़ में बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन हो जाएगा।



कोरोना वायरस वैक्सीन मिलने से पहले हो सकती है 20 लाख लोगों की मौत: WHO

 

वॉशिंगटन
कोरोना वायरस से बचाव के लिए दुनियाभर में 150 से ज्यादा वैक्सीनों पर काम चल रहा है। हालांकि, सफल वैक्सीन के सबको मिलने से पहले ही COVID-19 के कारण दुनियाभर में 20 लाख लोगों की मौत हो सकती है। यह आशंका WHO के इमर्जेंसी प्रोग्राम के हेड माइक रायन ने जताई है। चीन में फैलने के बाद से 9 महीने में ही अब तक कोरोना के कारण करीब 10 लाख लोगों की मौत हो चुकी है।

अंतरराष्ट्रीय समुदाय से मदद की अपील
रायन ने चेतावनी दी है कि यूरोप में इन्फेक्शन और लोगों को अस्पताल में भर्ती करने की दर बढ़ती जा रही है और इंफ्लुएंजा सीजन से पहले इसे नीचे लाना होगा। WHO ने यह भी बताया है कि चीन से COVAX स्कीम में शामिल होने को लेकर बात की जा रही है ताकि दुनिया को जल्द वैक्सीन पहुंचाई जा सके। WHO ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से 35 अरब डॉलर की वित्तीय जरूरत पूरी करने की अपील की है।
चीन की मदद करने का आरोप
इससे पहले चीन के एक स्वास्थ्य अधिकारी ने इस बात को माना था कि जून में WHO ने इमर्जेंसी में वैक्सीन के इस्तेमाल के लिए चीन को सपॉर्ट किया था। तब तक वैक्सीनों का तीसरे चरण का ट्रायल नहीं हुआ था लेकिन इन्फेक्शन का रिस्क झेल रहे समूहों को वैक्सीन दिए जाने की मंजूरी दे दी गई थी। WHO पर सवाल उठाए गए थे कि क्या उसने महामारी के बारे में जानकारी छिपाने के लिए चीन की मदद की थी।

जानकारी के मुताबिक चीन नैशनल बायोटेक ग्रुप और साइनोवैक बायोटेक की कम से कम तीन वैक्सीन कैंडिडेट को इसमें शामिल किया गया है। तीनों का दूसरे देशों में तीसरे चरण का ट्रायल चल रहा है। वहीं, CanSino Biologics की बनाई चौथी वैक्सीन को चीनी मिलिट्री में इस्तेमाल के लिए जून में मंजूरी मिल गई थी।



प्रदेश तबादलों पर रोक लगाने के निर्देश

 

जयपुर ।राजस्थान सरकार द्वारा कर्मचारियों के तबादलों पर से रोक हटाने के आदेश पर चुनाव आयोग ने संज्ञान लिया है. आयोग से गहलोत सरकार को चिट्ठी लिखकर कहा है कि सर इसपर तत्काल रोक लगाएं. माना जा रहा है कि चुनाव आयोग की चिट्ठी के बाद राज्य में तबादला और नियुक्ति पर रोक लग सकती है.


न्यूज 18 की रिपोर्ट के अनुसार चुनाव आयोग ने राजस्थान की गहलोत सरकार को चिट्ठी लिखा है, अपने चिट्ठी में चुनाव आयोग ने कहा है कि 15 सितंबर से 31 अक्टूबर तक के लिए जो सभी विभागों पर से ट्रांसफर-पोस्टिंग पर से रोक हटाई गई है, वो गलत है और आचार सहिंता का उल्लंघन है.


यूपीएससी ने लगाई सरकार के फैसले पर मुहर- इधर, यूपीएससी ने 14 राजस्थान सिविल सेवा के अधिकारियों के प्रमोशन वाली फाइल पर मुहर लगा दी है. इसी के साथ ये सभी अधिकारी नॉन स्टेट सिविल सेवा में पदोन्नति से नियुक्ति पाएंगी। बताया जा रहा है कि अभी भी एक पद खाली है.


पंचायत चुनाव के कारण लागू है आचार संहिता- बता दें कि चुनाव आयोग ने राजस्थान पंचायत चुनाव के लिए कुल 3848 ग्राम पंचायतों में पंच व सरपंचों के चुनाव चार चरणों में कराने की घोषणा की है. चुनाव प्रक्रिया इसी माह 16 तारीख को शुरू है और पहले चरण का मतदान 28 सितंबर को होना है. राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार 3848 ग्राम पंचायतों में कुल 35968 वार्डों में मतदान 28 सितंबर, तीन अक्टूबर, छह अक्टूबर और दस अक्टूबर को होगा.


 भीलवाड़ा सहित इन जिलों में चुनाव- वहीं चुनाव आयोग ने बताया कि राज्य के जिन जिलों में बची हुई ग्राम पंचायतों में चुनाव होना है उनमें गंगानगर, धौलपुर, दौसा, चूरू, बीकानेर, भीलवाड़ा, बाड़मेर, बारां, अलवर, अजमेर, प्रतापगढ़, सीकर व उदयपुर शामिल हैं.



कोरोना रोगियों की बढ़ती संख्या के चलते डॉक्टरों की बढ़ाई संख्या

 

चित्तौड़गढ़ (राजेश जोशी) । सांवरिया चिकित्सालय में निरंतर मौसमी रोगियों का तथा कोरोना रोगियों की संख्या बढ़ती ही जा रही है इसको लेकर जिला प्रशासन में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में अपनी पूरी तैयारियां की है जहां मौसमी बीमारियों को देखते हुए आउटडोर में डॉक्टरों की संख्या बढ़ाई गई है तो वही कोरोना को लेकर भी जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं ।


सांवलिया चिकित्सालय के प्रभारी दिनेश वैष्णव ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा चलाए गए अभियान नौ मास्क नो एंट्री अभियान को जागरूकता के तौर पर प्राथमिकता दी जा रही है तो वहीं उन्होंने बताया कि 24 घंटे कोरोना को लेकर लोगों को मदद मिले इसके लिए हेल्पडेस्क भी शुरू की गई है उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को जनप्रतिनिधियों व प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा सूचित कर आने के बाद चित्तौड़गढ़ जिले में 20 अस्थाई डॉक्टर वह 40 नर्सिंग कर्मियों की भर्ती को भी मंजूरी मिली है इसके चलते चिकित्सा सुविधाओं में आने वाले समय में और भी विस्तार होगा।  उन्होंने लोगों से अपील की है कि कोरोना कोरोनावायरस को लेकर प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे अभियान के तहत अगर पालना की जाती है तो हम शायद कोरोना से बच सकते हैं उन्होंने कहा कि हमें गंभीरता बरतनी होगी क्योंकि चित्तौड़गढ़ में निरंतर कोरोना संक्रमितका आंकड़ा तो बड़ा ही है वही रोगियों की मौत भी चिंता का विषय बनी है।



जम्मू-कश्मीर में 4.5 तीव्रता का भूकंप

 

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी ने आज यह जानकारी दी है कि जम्मू-कश्मीर में 4.5 तीव्रता का भूकंप



कोरोना से मौतों का कहर जारी, एक और बुजुर्ग ने तोड़ा दम

 

  भीलवाड़ा हलचल।  भीलवाड़ा में कोरोना से मौतों का सिलसिला शनिवार को भी जारी रहा। आज 72 साल के एक संक्रमित बुजुर्ग ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। 
सूत्रों के अनुसार, दादाबाड़ी इलाके के 72 वर्षीय एक बुजुर्ग को 14 सितंबर को जिला अस्पताल में भर्ती किया गया था। जांच में बुजुर्ग पॉजिटिव आया था। इसके बाद से बुजुर्ग का उपचार किया जा रहा था। शनिवार को इस बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। 



पंचतत्व में विलीन एसपी बालासुब्रमण्यम, नम आंखों से दी गई विदाई

 

 दिल्ली ।बॉलीवुड के मशहूर गायक एसपी बालासुब्रमण्यम (SP Balasubrahmanyam) अब नहीं रहे. 74 साल की उम्र में उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया. एसपी बालासुब्रमण्यम का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार हो गया. उनके पार्थिव शरीर को तिरुवल्लूर जिले के तमराइपक्कम ले जाया गया, जहां उन्हें अंतिम विदाई दी गई. इस दौरान बंदूकों की सलामी भी दी गई.


एसपी बालासुब्रमण्यम के आखिरी दर्शन के लिए साउथ फिल्म इंडस्ट्री के कई बड़े सितारे पहुंचे. साथ ही राजनेता भी उनको श्रद्धांजलि देते नजर आए. उनका पार्थिव शरीर शुक्रवार रात चेन्नई के बाहर रेड हिल्स पर स्थित उनके फार्महाउस पर पहुंचा था. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने शुक्रवार को कहा था कि प्रसिद्ध गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा.



अखिल भारतीय मंसूरी समाज युवा प्रकोष्ठ की कार्यकारिणी का गठन

 

अजमेर । अखिल भारतीय मंसूरी समाज युवा प्रकोष्ठ की कार्यकारिणी का गठन और संगठन के बेच का विमोचन किया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष फरजान अली मंसूरी राष्ट्रीय सचिव उस्मान अली मंसूरी प्रदेश अध्यक्ष सफी मोहम्मद मंसूरी के निर्देशानुसार  अजमेर जिले के किशनगढ़ शहर में सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए  संपन्न हुआ।  मीटिंग मेें अखिल भारतीय मंसूरी समाज के युवा प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष अली भाई मंसूरी ने सभी नए पदाधिकारियों को नियुक्ति पत्र व  संगठन के बेच दिए।   मंसूरी सेना के प्रदेश अध्यक्ष सलीम  मंसूरी ने  मंसूरी समाज के बच्चों को ज्यादा से ज्यादा शिक्षा दिलाने को कहा और अजमेर जिला अध्यक्ष मुराद मंसूरी ने सभी नए पदाधिकारियों का इस्तकबाल किया।  अली भाई मंसूरी जिला उपाध्यक्ष शहजाद भाई मंसूरी जिला महासचिव फिरोज भाई मंसूरी जिला उपाध्यक्ष और जावेद भाई मंसूरी  इन को आज पद दिया गया है। जाकिर मंसूरी  यूनुस मंसूरी हारून मंसूरी  चांद मोहम्मद मंसूरी अलीमुद्दीन मंसूरी आफताब मंसूरी  सद्दाम मंसूरी अल्ताफ मंसूरी इमरान मंसूरी तालिब मंसूरी शाहरुख मंसूरी शाहीन मंसूरी आसिफ लहौरी वह और भी समाज के पदाधिकारी मौजूद रहे।



सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने ऑन लाईन विधिक जागरूकता शिविर में वरिष्ठ नागरिकों के अधिकारों के बारे में दी विधिक जानकारियां

 

राजसमन्द (राव दिलीप सिंह) । सदस्य सचिव, राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जयपुर तथा गिरीश कुमार, अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, राजसमंद (जिला एवं सेशन न्यायाधीश) के निर्देशानुसार नरेन्द्र कुमार, सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, राजसमंद की अध्यक्षता में सिस्को वैबेक्स आॅनलाईन प्लेटफार्म के माध्यम से अम्बेडकर शिक्षा कल्याण समिति, एन.जी.ओ के सदस्यों के साथ दिनांक 25.09.2020 को 2ः30 पीएम पर आॅनलाईन विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया।
नरेन्द्र कुमार ने प्राधिकरण की कार्यप्रणाली के बारे में जानकारी देते हुये बताया कि हमारे संविधान में वर्णित अनुच्छेद 39(ए) के तहत समाज के हर व्यक्ति तक न्याय पहुंचाने के उद्देष्य से वर्ष 1987 में विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम पारित किया गया जिसको वर्ष 1995 में संपूर्ण भारत में लागू किया गया तथा प्रत्येक राज्य में राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जिला स्तर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण तथा तालुका स्तर पर तालुका विधिक सेवा समिति की स्थापना की गयी। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा निषुल्क विधिक सहायता जिसके तहत जो व्यक्ति अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, जो महिला या बच्चे हो, जो व्यक्ति न्यायिक अभिरक्षा में हो, प्राकृतिक आपदा से पीडित, व जिसकी वार्षिक आय तीन लाख रूपये से कम हो उसको तत्काल विधिक सहायता उपलब्ध कराई जाती है।
कुमार ने बताया कि राष्ट्ीय विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा 10 प्रकार की जनकल्याणकारी योजनायें संचालित की जाती है उनमें से नालसा वरिष्ठ नागरिकों के लिये विधिक सेवा योजना 2016 है। कुमार ने षिविर के दौरान बताया कि ऐसे वृद्ध व्यक्ति जिनकी आयु 60 वर्ष से अधिक है, वरिष्ठ नागरिक की श्रेणी में रखा गया है। हिंदू दत्तक एवं भरण पोषण पेाषण अधिनियम 1956 के तहत स्वयं अपना भरण पोषण करने में असमर्थ माता पिता अपने पुत्र एवं पुत्री से भरण पोषण प्राप्त करने के हकदार है। आपराधिक प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 125 से 128 में ऐसे माता-पिता जो स्वयं अपना भरण पोषण करने में असमर्थ है, अपने पुत्र अथवा पुत्री से, यदि वे अपने माता-पिता का भरण पोषण करने में लापरवाही अथवा मनाही करते है तो भरण-पोषण का दावा करने का अधिकार दिया गया है। इसी प्रकार यदि माता को घरेलू हिंसा का षिकार बनाया जाता है तो घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम 2005 के तहत अपने पुत्र के विरूद्ध याचिका दायर कर सकती है। संवैधानिक उद्देष्यों की प्राप्ति के लिए माता-पिता और वरिष्ठ नागरिक भरण-पोषण एवं कल्याण अधिनियम 2007 अधिनियमित किया गया। असहाय वरिष्ठ नागरिकों के लिए वृद्धाश्रमों की स्थापना की गई है। वरिष्ठ नागरिकों को आयकर में रियायत दी गई है। वरिष्ठ नागरिकों को वृद्वावस्था पेंषन योजना के तहत प्रतिमाह पेंषन प्रदान की जाती है। वरिष्ठ नागरिकों को सभी श्रेणियों की रेलगाडियों में, घरेलू उडानों में राज्य पथ परिवहन उपक्रमों की बसों में यात्रा करने हेतु किराये में छूट प्रदान की जाती है। विधिक सेवा संस्थाएं वरिष्ठ नागरिकों के साथ सम्मानजनक व्यवहार करने हेतु जागरूकता पैदा करती है एवं समय-समय पर वृद्धाश्रमों का निरीक्षण कर वरिष्ठ नागरिकों की समस्याओं के समाधान हेतु तत्पर रहती है। वरिष्ठ नागरिकों के अधिकारों एवं हकदारियों के बारे में जागरूकता पैदा करने हेतु प्रतिवर्ष 01 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्ीय वरिष्ठ नागरिक दिवस मनाया जाता है। सचिव द्वारा वीडियो कान्फ्रेन्सिंग में जुड़े सदस्यों की जिज्ञासाओं का निराकरण भी किया गया।



बाजार पूरी तरह से बंद, सड़कों पर पसरा सन्नाटा, बाहर निकले कुछ लोगों को पुलिस ने लौटाया

 

जोधपुर । सूर्यनगरी में विकराल रूप धारण कर चुके कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लागू दो दिवसीय लॉक डाउन आज से शुरू हुआ। पहले दिन इसका अच्छा प्रभाव नजर आया। आज सभी बाजार कुछेक दुकानों को छोड़ पूरी तरह से बंद रहे। सड़कों पर आवागमन बहुत सीमित नजर आया। कई चौराहों पर पुलिस ने लोगों को वापस भेजा। वहीं जिला कलेक्टर व पुलिस कमिश्नर के नेतृत्व में पुलिस जवानों ने शहर के विभिन्न हिस्सों में रैली निकाल लोगों को जागरूक किया।


लॉक डाउन के कारम आज शहर की सड़कों पर सन्नाटा पसरा है। बीच मेंयदाकदा कुछ वाहनों का शोर सुनाई पड़ जाता है। सड़कों पर पुलिस ने मोर्चा संभाल रखा है। विभिन्न चौराहों पर खड़ी पुलिस वहां से निकलने वाले लोगों को रोक कर पूछताछ कर रही है। साथ ही वहां से आने-जाने वाले वाहन चालकों व राहगीरों से घरों में रहने के लिए समझाइश भी की। वहीं बाजार पूरी तरह से बंद है। आवश्यक वस्तुओं की कुछेक दुकानें अवश्य खुली हुई है।


जिला प्रशासन व पुलिस की एक संयुक्त रैली आज घंटाघर से नागौरी गेट क्षेत्र मेंनिकाली गई। इस रैली में जिला कलेक्टर इंद्रजीतसिंह, पुलिस कमिश्नर जोश मोहन, डीसीपी पूर्व धर्मेंद्र सिंह यादव डीसीपी पश्चिम आलोक श्रीवास्तव सहित आला अधिकारी मौजूद रहे। रैली के साथ चल रहे निगम के कर्मचारियों ने लोगों से मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने को लेकर जागरूक किया।



14 आरएएस बनेंगे आईएएस, दिवाकर को लेकर फिर संशय, दिल्ली स्थित यूपीएससी मुख्यालय में हुआ बोर्ड

 

जयपुर । राजस्थान प्रशासनिक सेवा (आरएएस) के 14 अफसरों का भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में चयन हाे गया है। शुक्रवार काे दिल्ली स्थित संघ लाेक सेवा आयाेग में बाेर्ड हुआ, जिसमें एक बार फिर आरएएस निष्काम दिवाकर के नाम काे लेकर संशय बना रहा। सूत्राें का कहना है कि दिवाकर के लिए लिफाफा बंद कर दिया गया।


दरअसल भाजपा सरकार के कार्यकाल में दिवाकर का नाम एकल पट्टा मामले में आया था। उन्हें जेल तक जाना पड़ा था। पिछले 4 साल से उनकी सीट कैरी फारर्वड हाे रही है। बाेर्ड मीटिंग के मिनट्स अब सीएम गहलाेत से मंजूर हाेने के बाद वापस आयाेग काे भेजा जाएगा। उसके बाद केंद्रीय कार्मिक व प्रशिक्षण मंत्रालय की ओर से 14 आरएएस के आईएएस में प्रमाेशन के लिए आदेश जारी होंगे।


अभी महेंद्र पारख, ह्देश शर्मा, लक्ष्मण सिंह कुड़ी, नलिनी कठाैतिया, राजेंद्र सिंह शेखावत, मेघराज सिंह, अनुप्रेरणा कुंतल, राजेंद्र विजय, पीसी शर्मा, शक्ति सिंह राठौड़, प्रज्ञा केवल रमानी, तारा चंद मीणा और हरी मोहन मीणा का आईएएस में चयन के लिए बाेर्ड से ग्रीन सिग्नल मिल गया।


राजस्थान के आईएएस कैडर को समझिए


प्रदेश में आईएएस का 313 का कैडर है। इसमें से 95 सीट प्रमोशन कोटे का है। 95 में से भी 81 पदों पर राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अफसरों को आईएएस में प्रमोट करके भरा जाता हैं, जबकि 14 सीटों पर अन्य सेवा के अफसरों को अब तक प्रमोट किया जाता रहा है। हालांकि पिछले दो साल से अन्य सेवा के पदों पर प्रमोशन नहीं किया गया है। अभी आरएएस कोटे की 66 पद भरे हुए हैं, जबकि 15 पद खाली थी। इसमें अब 14 सीटें नए प्रमाेशन के साथ भर जाएंगी।



500 रुपए के लिए एंबुलेंस कर्मी ने गर्भवती महिला को नीचे नहीं उतरने दिया, नाल के सहारे ढाई फीट नीचे जमीन पर लटका नवजात

 

भरतपुर । एक नवजात प्रसव के बाद अपनी मां के गर्भाशय से जुड़ी नाल के जरिए करीब ढाई फीट नीचे जमीन पर लटक गया। नवजात को जन्म देने से पहले मां ने कभी ऐसा सोचा भी नहीं होगा कि उसके उस बच्चे जिसे उसने नौ महीने तक अपने गर्भ में खून से सींचा उसे उसके गर्भ से जन्म लेते ही इतनी अमानवीयता का सामना करना पड़ेगा, लेकिन ऐसा हुआ, क्योंकि कुछ लोग 500 रुपए के लालच में अपनी इसानियत भूल गए थे। जिसका खामियाजा एक मां और उसके नवजात को कफी पीड़ा सहन कर भुगतना पड़ा।


दरअसल, जिले के जनाना जनाना अस्पताल में शुक्रवार को मानवीय संवेदनाओं को तार-तार करने वाली घटना ने वहां मौजूद हर शख्स को झकझोर दिया। निशुल्क सेवा के लिए चल रही एंबुलेंसकर्मी ने 500 रुपए के लिए प्रसूता को काफी देर तक एंबुलेंस में ही उलझाए रखा। इससे अस्पताल के गेट पर ही उसका प्रसव हो गया। इस दौरान नवजात नाल के जरिए करीब ढाई फुट नीचे जमीन पर लटक गया। गमीनत यह रही कि वहां परिजनों ने उसे तुरंत संभाल लिया।


अलवर के डेडकी निवासी संगीता (25 ) पुत्री राजू जाटव श्रीपुर स्थित अपने पीहर में रह रही थी। गुरुवार रात प्रसव होने पर उसे डीग अस्पताल लाया गया। यहां से डॉक्टरों ने भरतपुर के जनाना अस्पताल रैफर कर दिया। डीग अस्पताल से 104 एंबुलेंस से परिजन प्रसूता को लेकर अस्पताल के लिए रवाना हुए। रास्ते में उसे पीड़ा और बढ़ गई। एंबुलेंस सेवा निशुल्क होने के बाद भी एंबुलेंसकर्मी ने जनाना अस्पताल पहुंचते ही महिला के परिजनों से 500 रुपए भाड़ा मांगा।


संगीता के साथ आई महिला ने उसे थोड़ी देर इंतजार करने को कहा, लेकिन वह काफी देर तक जल्द से जल्द रुपए देने की जिद पर अड़ा रहा। उसके नहीं मानने पर महिला ने उसे रुपए दे दिए। इस बीच काफी समय खराब हो जाने के कारण अस्पताल के गेट पर रखे स्ट्रेचर पर लिटाने से पहले ही प्रसूता को खड़े-खड़े प्रसव हो गया। इस दौरान करीब ढाई फीट ऊंचाई से नवजात नाल के जरिए जमीन पर लटक गया। यह दृश्य देख वहां भीड़ इकट्ठा हो गई, लेकिन अस्पताल को कोई स्टाफ नहीं आया।


काफी देर शोर-शराबा होने के बाद ड्यूटी स्टाफ आया और मोबाइल से वीडियो बना रहे व्यक्ति फटाकरा। इसके बाद प्रसूता को पोस्ट नेटल केयर वार्ड तीन में भर्ती कर लिया गया था। लेकिन, सुबह 8 बजे ओपीडी में डॉक्टरों के राउंड से पहले ही प्रसूता और उसका नवजात शिशु वहां से जा चुके थे। अस्पताल प्रशासन ने बताया कि स्टाफ अन्य मरीजों की देखभाल में व्यस्त था। प्रसूता के परिजन बिना बताए उसे लेकर चले गए।



दो ट्रेलर की टक्कर के बाद केबिन में ही फंसे रह गए चालक और खलासी, दोनों की मौत

 

जयपुर । जिले के अकियावास इलाके में शुक्रवार देर रात एक भीषण हादसा हो गया। दो ट्रेलर की आमने-सामने टक्कर हो गई। हादसे में ड्राइवर और खलासी की मौत हो गई। वहीं, दो लोग घायल हो गए हैं। उनकी हालत गंभीर है। हादसे के दौरान हाइवे पर अंधेरा था, ऐसे में पीछे से आ रहे कई अन्य वाहन भी टकरा गए।


हादसा गोगुंदा पिंडवाड़ा हाईवे के बीच हुआ। सूचना मिलने पर बेकरिया थाना पुलिस मौके पर पहुंची। हादसा इतना भीषण था कि एक ट्रेलर का केबिन पूरी तरह से पिचक गया। इसमें ड्राइवर और खलासी फंस गए। मौके पर पहुंची पुलिस केबिन काटकर मशक्कत करके दोनों को बाहर निकाला। तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। इसके बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया।


वहीं, दूसरे ट्रेलर के ड्राइवर और खलासी घायल हो गए। उनकी हालत गंभीर है। पुलिस ने दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया है। हादसे के कारण हाइवे पर लंबा जाम लग गया। इसके बाद वाहनों को एक तरफ से निकाला गया। धीरे-धीरे ट्रेलरों को हाइवे से हटाकर यातायात सुचारू करवाया गया।



युवक ने बीच सड़क पर युवती पर चाकू से हमला किया फिर की फायरिंग, लड़की की मौत; आरोपी गिरफ्तार

 

जयपुर । शहर के आदर्श नगर थाना क्षेत्र में एक युवक द्वारा युवती को बीच सड़क पर गोली मारने का मामला सामने आया है। इस दौरान युवक द्वारा युवती पर तीन राउंड फायरिंग की गई। वहीं, मौके से भागते हुए एक युवक को पुलिसकर्मी द्वारा पकड़ लिया गया। घटना की सूचना मिलने पर आदर्श नगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची। जिसके बाद युवती को एंबुलेंस की मदद से अस्पताल भिजवाया गया है। जिसके बाद अस्पातल में इलाज के दौरान लड़की की मौत हो गई।


जानकारी अनुसार, युवक ने युवती पर पहले चाकू से हमला किया। जिसके बाद गोली मार दी घई। गोली चलाने के बाद बंदूक चौराहे पर ही फैंक कर फरार हो गए। जिसके साथ ही पुलिस आरोपी युवकों की तलाश में जुट गई है। मौके से देशी कट्टा बरामद कर लिया गया है। गिरफ्तार किया गया युवक धौलपुर निवासी बताया जा रहा है। जो जयपुर में रह रहा था। वहीं, युवती बीएससी का एग्जाम देने जयपुर पहुंची थी। जो झुंझुनू की रहने वाली थी।



40 घंटे से हाईवे के 10 किमी इलाके पर प्रदर्शनकारियों का कब्जा, दुकान-होटलों में लूटपाट, 30 वाहन फूंके; 700 पर केस दर्ज

 

जयपुर । राजस्थान के डूंगरपुर में टीचर भर्ती में अनारक्षित पदों को आरक्षित करने की मांग को लेकर लगातार तीसरे दिन भी हिंसक प्रदर्शन जारी है। 40 घंटे से उदयपुर-अहमदाबाद हाईवे के 10 किमी इलाके में तनाव बना हुआ है। उपद्रवी हाईवे और आसपास की पहाड़ियों पर डटे हैं। शनिवार को प्रदर्शनकारियों ने एक बार फिर हाईवे पर बनी होटलों और दुकानों में तोड़फोड़-लूटपाट की। 30 वाहनों में आग लगा दी। अब तक 700 लोगों पर केस दर्ज किया गया है।


प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि कुछ लोग बाइक पर आए थे, आंखों के सामने हमारी दुकान लूटकर ले गए। साथ ही वहां बने एक स्कूल में भी तोड़फोड़ की गई।


एक्शन मोड में पुलिस


एक्शन में आई पुलिस उपद्रवियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर रही है। 700 लोगों को नामजद भी किया गया है। प्रदर्शन के दौरान 7 कंटेनरों समेत 30 वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। जयपुर ग्रामीण एसपी शंकर दत्त शर्मा को स्पेशल ड्यूटी पर लगाया गया है।


रात 2 बजे तक पथराव, जलते रहे टायर
डूंगरपुर सीमा के मोथली मोड़ पर भारी संख्या में पुलिसबल तैनात है। खेरवाड़ा से उदयपुर रोड पर ढाई किमी दूर टोल प्लाजा से सटे हाईवे पर देर रात तक पहाड़ियों से वाहनों पर पथराव हुआ। पत्थर राहगीरों को भी लगे। टायर भी जलाए गए।


क्या चाहते हैं प्रदर्शनकारी?
प्रदर्शन करने वाले शिक्षक भर्ती के अनारक्षित 1167 पदों को एसटी वर्ग से भरने की मांग कर रहे हैं। इसको लेकर कांकरी डूंगरी पहाड़ी पर 17 दिन से प्रदर्शन चल रहा था। शुक्रवार को उदयपुर-अहमदाबाद हाईवे पर प्रदर्शन अराजकता की हदें पार कर गया। प्रदर्शनकारियों ने हाईवे के 10 किमी तक के इलाके को कब्जे में ले लिया। पिछले 40 घंटे के अंदर करोड़ों की संपत्ति फूंक डाली। मकानों में भी तोड़फोड़-लूटपाट की गई।


गुस्सा क्यों भड़का?
कैंडिडेट 7 सितंबर से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। पुलिस अधिकारियों ने बातचीत कर उन्हें समझाया कि यहां पर पड़ाव न डालें। फिर भी प्रदर्शन जारी रहा। बिछीवाड़ा पुलिस ने कोविड महामारी के नियम तोड़ने और गैर जमानती धारा में दो अलग-अलग मामले दर्ज किए थे। इसको लेकर कैंडिडेट का गुरुवार से गुस्सा भड़क उठा।



डूंगरपुर से शुरू हुए उग्र प्रदर्शन की लपटों में उदयपुर भी सुलगा

 

उदयपुर। राजस्थान में डूंगरपुर जिले की कांकरी डूंगरी से शुरू हुए आदिवासियों के प्रदर्शन की आग दूसरे दिन शुक्रवार को उदयपुर जिले तक पहुंच गई। प्रदर्शनकारियों ने उदयपुर जिले के खेरवाड़ा क्षेत्र में उत्पात मचाते हुए रोडवेज की तीन बसें फूंक दीं। डूंगरपुर जिले में सात ट्रकों सहित कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया। कई वाहनों से सामान और शराब से भरा ट्रक लूट लिया। एक पेट्रोल पंप और दो होटलों में लूटपाट की। ऐसे में चौबीस घंटे से ज्यादा समय से उदयपुर-अहमदाबाद हाईवे जाम है। ट्रकों की लगी लाइन लगी हैं। लगातार दूसरे दिन भी पुलिस वालों पर प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया है। उधर, जनजाति वर्ग के अभ्यर्थियों ने प्रदर्शन से दूरी बना ली है। उन्होंने कहा कि हिंसक प्रदर्शन करना हमारा काम नहीं है।


गौरतलब है कि तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा-2018 में जनजाति बहुल क्षेत्र में रिक्त रहे सामान्य वर्ग के 1167 पदों को जनजाति वर्ग के अभ्यर्थियों से भरे जाने की मांग को लेकर डूंगरपुर में आदिवासी कई दिनों से प्रदर्शन कर रहे थे। ये आदिवासी गुरुवार को महापड़ाव के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या आठ पर उतर आए थे। इस दौरान पुलिस ने खदेड़ने की कोशिश की तो उन्होंने पथराव शुरू कर दिया था। इसमें कई पुलिस वाले घायल हुए थे। गुरुवार रात को भी करीब पांच हजार प्रदर्शनकारी बिछीवाड़ा से मोतली मोड़ के बीच करीब 10 किलोमीटर क्षेत्र में डटे रहे। दूसरे दिन शुक्रवार को भी प्रदर्शनकारियों ने हंगामा किया।


इस दौरान उन्होंने मोतली मोड़ स्थित होटल में तोड़फोड़ की। पार्किंग में खड़े वाहनों को आग लगा दी। डूंगरपुर के पुलिस अधीक्षक जय यादव की कार जला दी। हिंसक प्रदर्शन पर उतरे प्रदर्शनकारी दिनभर पुलिस को छकाते रहे। हवाई फायर कर खदेड़ने का प्रयास कर रही पुलिस पर प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया, जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। ऐसे में उदयपुर और बांसवाड़ा से अतिरिक्त पुलिस बल बुलाया गया।



सचिन पायलट के दिल में भाजपा और मुंह में कांग्रेस! उपचुनाव के पहले सरगर्मी तेज

 

बिहार चुनाव की तारीखों का ऐलान किया जा चुका है. हालांकि चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश उपचुनाव की तारीखों का ऐलान शनिवार को नहीं किया. आपको बता दें मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर उपचुनाव होना है. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा है कि 29 सितंबर को सूबे के उपचुनाव की तारीखों का ऐलान किया जाएगा. मध्य प्रदेश उपचुनाव नए सुरक्षा मानकों के तहत होगा. एक बूथ पर सिर्फ 1 हजार वोटर ही जमा होंगे.


इधर मध्य प्रदेश उपचुनाव को लेकर सरगर्मी तेज हो गई है. भाजपा ने कांग्रेस पर करारा हमला किया है और राहुल गांधी-प्रियंका गांधी को आडे हाथ लिया है. आगामी उपचुनाव पर भाजपा नेता जयभान सिंह पवैया ने कहा कि प्रियंका हमारे लिए चुनौती नहीं, वो कांग्रेस के लिए पनौ… है और हम इंतजार कर रहे थे कि यहां भाई-बहन में से किसी एक के भी तो कदम पड़े…. इसलिए प्रियंका के आने का भाजपा स्वागत करती है और जो उत्तर प्रदेश में उनके जाने से हुआ वो मध्य प्रदेश में भी हो…आगामी उपचुनाव में सचिन पायलट के मोर्चा संभाले जाने पर कितनी चुनौती आएगी के सवाल का जवाब देते हुए जयभान सिंह पवैया ने कहा कि सचिन पायलट जी के दिल में भाजपा और मुंह में कांग्रेस होगा तो उनके आने से जनता गुमराह नहीं होगी…


झारखंड समेत अन्य राज्यों में उपचुनाव पर निर्णय 29 सितंबर को : निर्वाचन आयोग एक लोकसभा सीट और 64 विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव कराने पर 29 सितंबर फैसला करेगा. विभिन्न राज्यों में विधानसभा की 64 सीटें खाली हैं . इनमें से 27 सीटें मध्यप्रदेश में रिक्त हैं. झारखंड, असम, केरल, नगालैंड, तमिलनाडु और ओडिशा में दो-दो सीटें रिक्त हैं. मणिपुर में पांच और गुजरात और उत्तरप्रदेश में आठ-आठ सीटें रिक्त हैं. छत्तीसगढ़, हरियाणा, कर्नाटक और पश्चिम बंगाल में विधानसभा की एक-एक सीट रिक्त हैं. बिहार में वाल्मीकिनगर लोकसभा सीट का उपचुनाव भी लंबित है.


कोरोना पीड़ित डाल सकेंगे अपना वोट : मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि बिहार चुनाव देश के सबसे बड़े राज्यों में है और ये चुनाव कोरोना काल का सबसे बड़ा चुनाव होने जा रहा है. इसे लेकर काफी मंथन किया गया. उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमित भी अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे. उनके लिए अलग व्यवस्था की जाएगी. मतदान के अंतिम समय में कोरोना पीड़ित अपना वोट डाल सकेंगे, जिनके लिए अलग व्यवस्था होगी. हर पोलिंग बूथ पर साबुन, सैनिटाइजर समेत अन्य चीजों की व्यवस्था की जाएगी.



मुंबई के केइएम अस्पताल में आक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल शुरू

 

भारत में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच मुंबई को केइएम अस्पताल में कोरोना वायरस की दवा का ट्रायल शुरु होगा. सरकार द्वारा संचालित इस अस्पताल में ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय की कोविशील्ड वैक्सीन का ट्रायल तीन लोगों में होगा. केइएम अस्पताल के डीन डॉक्टर हेमंत देशमुख ने अब तक 10 लोगों समेत 13 लोगों की स्क्रीनिंग की गयी है, जिनमें से तीन लोगों को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी एस्ट्रेजेनेका द्वारा विकसित कोविशील्ड वैक्सीन का पहला ट्रायल होगा.साथ ही एक व्यक्ति को मानक परीक्षण प्रक्रिया के तहत प्लेसबो दिया जायेगा. केइएम मुंबई का पहला अस्पताल है जहां कोरोना वैक्सीन का ट्रायल किया जायेगा, जिसका उत्पादन देश में पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट में किया गया है.


बता दें कि भारत में कोरोना वायरस मरीजों की संख्या 60 लाख के करीब पहुंच गई है. पिछले 24 घंटे में तकरीबन 85 हजार नये केस सामने आए हैं, वहीं 10000 से अधिक मरीजों की मौत हुई है. मंत्रालय की मानें तो भारत में पिछ्ले 25 दिनों में औसत 10000 मरीजों की मौत हुई है.


वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, उन्होंने कहा कि देश में कोविड-19 मरीजों के ठीक होने की लगातार बढ़ रही दर और मृत्यु दर में कमी ने सभी राज्यों द्वारा अपनायी जा रही निषिद्ध रणनीति की कामयाबी को साबित किया है. हर्षवर्धन ने कहा, ‘हमने अपनी परीक्षण क्षमता को सफलतापूर्वक बढ़ाया है और आज यह देश भर में फैली 1,800 से अधिक प्रयोगशालाओं के साथ लगभग 15 लाख के उच्च स्तर तक पहुंच गया है.'


बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के अनुसार विश्व में कोरोनावायरस मरीजों की तादाद 3 करोड़ 23 लाख के करीब पहुंच गया है, जबकि भारत में अबतक करीब 60 लाख मरीज सामने आए हैं. वहीं 93000 से अधिक मरीजों की मौत हुई है. हालांकि रिकवरी मामले में भारत सबसे आगे है और यहां 45 लाख से अधिक केस रिकवर हो चुके हैं


झारखंड में कोरोना से अबतक 648 लोगों की मौत हो गयी है. बुधवार को मिले नये संक्रमितों के साथ ही राज्य में अबतक अबतक 75089 संक्रमित मिल चुके हैं. इनमें 61559 संक्रमित स्वस्थ हो चुके हैं. इस समय एक्टिव केस 12282 है.



चीन का वैक्सीन तैयार! इस साल के अंत तक 60 करोड़ डोज का करेगा उत्पादन, बेहद सस्ते दाम में होगा उपलब्ध

 

चीन से कोविड-19 वैक्सीन को लेकर एक बड़ी खबर आ रही है. दरअसल, चीनी अधिकारियों के अनुसार बीजिंग में इस साल के अंत तक 600 मिलियन अर्थात 60 करोड़ से अधिक वैक्सीन का उत्पादन करने की योजना है. जैसा कि ज्ञात हो दुनियाभर में कोरोना वायरस के रोकथाम हेतु प्रयास जारी है और वैक्सीन पर विभिन्न देशों द्वारा शोध किए जा रहे है.


दिसंबर 2020 तक 610 मिलियन वैक्सीन डोज का उत्पादन


इसी क्रम में चीन भी तेजी से आगे बढ़ रहा है. चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों ने शुक्रवार को एक संवाददाता सम्मेलन में बताया है कि इस साल के अंत तक 610 मिलियन वैक्सीन डोज का उत्पादन कर लिया जाएगा. इसके लिए प्रयास जारी है. वहीं, अगले साल तक इसकी उत्पादन क्षमता को कम से कम एक अरब डोज तक पहुंचने की कोशिश की जाएगी.


 


चीन के 4 वैक्सीन अंतिम चरण में


आपको बता दें कि विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के वू युआनबिन ने कहा है कि चीन में 11 कंपनियों द्वारा बनाए गए वैक्सीन का क्लिनिकल ट्रायल फिलहाल जारी है. इनमें से 4 ने तीसरे चरण के ट्रायल में इंट्री मार ली है, बाकी भी सुचारू रूप से प्रगति कर रहे हैं.


चीनी वैक्सीन का सकारात्मक प्रभाव


वू की मानें तो वर्तमान में चीन का कोविड-19 वैक्सीन बाकी देशों की तुलना में ज्यादा बेहतर स्थिति में दिख रहा है. उन्होंने बताया है कि वैक्सीन का अभी तक कोई साइड इफेक्ट सामने नहीं आया है. सभी वॉलंटियर्स पर इसका सकारात्मक प्रभाव देखने को मिला है.


डब्ल्यूएचओ के समर्थन से हजारों लोगों को दिया वैक्सीन डोज


वहीं, अन्य अधिकारियों ने कहा है कि जुलाई से पहले ही बंदरगाहों, अस्पतालों और अन्य जोखिम वाले स्थानों पर वैक्सीन का डोज दिया जा चुका है. इस प्रयोगात्मक वैक्सीन को हजारों श्रमिकों के अलावा स्वास्थ्य कर्मियों व अन्य लोगों को भी देकर देखा जा चुका है. उनमें भी कोई दुष्प्रभाव नहीं देखने को मिला है. उन्होंने बताया है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के समर्थन से ही ये कार्यक्रम सफलतापूर्वक किया गया है.


वैक्सीन सुरक्षित कम पैसे में होगा उपलब्ध


हालांकि, राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के एक अधिकारी झेंग झोंगवेई ने कहा कि आपातकालीन तौर पर यह वैक्सीन बिल्कुल सुरक्षित है. लेकिन, इसका सकारात्मक प्रभाव पूरी तरह से प्रमाणित अभी होना बाकी है. झेंग ने बताया कि हमारा वैक्सीन जनता के लिए बेहद सस्ते दाम में उपलब्ध होगा.


चीन में कुल 59 वैक्सीन पर हो रहा काम, ये कंपनियां अंतिम चरण में


वू ने बताया है कि वर्तमान में कुल मिलाकर 59 कंपनियां चीन में वैक्सीन पर कार्य कर रही है. नेशनल बायोटेक ग्रुप (CNBG) और उसकी सहायक सिनोपार्म द्वारा चीन में दो वैक्सीन का निर्माण किया जा रहा है. जिसका तीन चरण का परीक्षणों भी हो चुका है. यह परिक्षण में 35,000 से अधिक लोगों पर किया जा चुका है.


वहीं, सिनोवैक वैक्सीन द्वारा एक और वैक्सीन का निर्माण अपने चरम पर है. इसका दक्षिण अमेरिका और दक्षिण पूर्व एशिया के देशों में तीन चरण के परीक्षण किए जा चुके हैं. जबकि, कैनसिनो बायोलॉजिक्स और चीनी सेना द्वारा संयुक्त रूप से विकसित एक वैक्सीन को यूरोप और एशिया के देशों में तीसरे चरण के परीक्षणों के लिए अनुमति दी जा चुकी है.


रूस का दावा


इधर, बात करें रूस के दावों की तो उसने भी दुनिया का पहला कोरोना वायरस वैक्सीन, स्पुतनिक वी बना लेने की हाल में ही घोषणा की थी. लेकिन, अभी यह भी क्लिनिकल ​​परीक्षणों से गुजर रहा है.


Note : उपरोक्त जानकारियां अंग्रेजी वेबसाइट इकोनॉमिक टाइम्स से ली गयी है.



 दशहरा, दिवाली, छठ में घर जाना होगा आसान, अगले महीने से नई ट्रेन चलाने की तैयारी कर रहा है रेलवे

 

क्या आप झारखंड-बिहार के निवासी हैं…काम के सिलसिले किसी दूसरे राज्य में निवास करते हैं…और पर्व पर अपने घर जाना चाहते हैं तो यह खबर आपके लिए खास है. जी हां… भारतीय रेल कोरोना काल में सभी स्वास्थ्य प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए चलाई जा रही ट्रेनों की संख्या में अगले माह से और बढ़ोतरी करने की योजना पर काम कर रहा हैजानकारी के अनुसार त्योहार के दौरान अक्टूबर और नवंबर की संभावित यात्री संख्या को देखते हुए व्यस्ततम रूटों पर लगभग 80 और नई ट्रेन चलाई जा सकती है. आपको बता दें कि इन दो महीनों में दशहरा, दिवाली, नवरात्रि, भाई दूज, छठ जैसे त्योहार पड रहे हैं और लोग अपने घर जाना चाहते हैं. भारतीय रेल कोरोना काल में नई ट्रेन से जुड़ी हर  


रेलवे द्वारा चलाई जाने वाली ट्रेनों की बात करें तो इनमें अधिकांश गैर वातानुकूलित श्रेणी (सभी दर्जे) की होगी, जो त्योहारी सीजन में आम आदमी की यात्रा में सुविधाजनक होगी. आपको बता दें कि रेलवे अभी स्पेशल श्रेणी की ट्रेनों के साथ 40 क्लोन ट्रेन चला रही है. अधिकांश क्लोन ट्रेन वातानुकूलित श्रेणी की है, जिसमें किराया ज्यादा है. यही वजह है कि यह आम यात्री के सफर के लिहाज से लाभदायक नहीं है. हालांकि इससे मूल ट्रेन पर दबाव कम हुआ है, लेकिन शयनयान और सामान्य श्रेणी में यात्रा करने वाले यात्रियों की दिक्कतें अभी तक कम नहीं हुईं हैं.


त्योहारों का महीना : आपको बता दें कि अक्टूबर-नवंबर में जब दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली और छठ जैसे बड़े त्यौहार आते हैं उस समय यात्रियों की संख्या बढ जाती है. खासकर ट्रेनों में यात्रियों की संख्या में बढोतरी हो जाती है. रेलवे इस स्थिति के मद्देनजर अगले माह से लगभग 80 ट्रेन और चलाने की तैयारी पर काम कर रहा है जिनमें आधी से ज्यादा बिहार और बंगाल को जोड़ने वाली होंगी. बताया जा रहा है कि यह सभी ट्रेनें भी विशेष श्रेणी वाली होंगी जो सभी आरक्षित कोच वाली होगी. जनरल कोच में भी सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए आरक्षण की सुविधा रेलवे की ओर से की जाएगी.


जानें ट्रेनों के बारे में


-10 ट्रेन बिहार और दिल्ली के बीच चलेंगी. ये ट्रेनें बिहार के सहरसा, राजेंद्र नगर, राजगीर, दरभंगा और मुजफ्फरपुर से चलेंगी.


-दो ट्रेनें बिहार से ही कटिहार से दिल्ली के लिए चलेंगी और वापसी करेंगी.



-उत्तर रेलवे 10 ट्रेनों (5 जोड़े) चलाएगा जो दिल्ली और बिहार के बीच चलेंगी. इसके अलावा ट्रेनें पश्चिम बंगाल से दिल्ली, पंजाब से पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश से दिल्ली तक चलाने का काम रेलवे की ओर से किया जाएगा.


-दक्षिण मध्य रेलवे दानापुर (बिहार) से सिकंदराबाद के बीच दो ट्रेनों का संचालन करेगा. ये ट्रेनें वापस भी होंगी. दक्षिण पश्चिम रेलवे 6 ट्रेनें (3 जोड़े) चलाएगा जो गोवा और दिल्ली, कर्नाटक-बिहार और कर्नाटक-दिल्ली के बीच चलेंगी.


- पश्चिम रेलवे 10 ट्रेनें (5 जोड़े) चलाएगा जो बिहार (दरभंगा) -गुजरात (अहमदाबाद), दिल्ली-गुजरात, बिहार (छपरा) से गुजरात (सूरत), मुंबई-पंजाब, गुजरात (अहमदाबाद) -बिहार (पटना) के बीच दौडेंगी.



पॉजिटिव से निगेटिव आने के बाद हो सकती है ये समस्याएं, जरूरी बदलाव

 

कोरोना (Corona) संक्रमण के बीच ठीक होनेवालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है. राज्य में अभी तक कोरोना से 75,089 लोग संक्रमित हो चुके हैं. राहत की बात यह है कि 61,559 स्वस्थ भी हुए हैं, लेकिन निगेटिव रिपोर्ट के बाद भी कई समस्याएं दिख रही हैं. इसे कोरोना का आफ्टर इफेक्ट (Corona After Effects) कहा जा रहा है. पहले जैसी शारीरिक स्थिति में नहीं पहुंचने पर लोग हताश हो रहे हैं. विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श लेने पहुंच रहे हैं. वहीं डॉक्टरों का कहना है कि वायरस का दुष्प्रभाव (corona after effects on body) समाप्त होने में तीन-चार महीने का समय लगेगा. इसलिए लोगों को अनुशासित जीवनशैली जीने की सलाह दी जा रही है. कोरोना निगेटिव होने के बाद एक्सपर्ट क्या सलाह दे रहे हैं, इसपर पढ़िए  रिपोर्ट.


केस स्टडी-1


डोरंडा निवासी कोरोना संक्रमित एक मरीज अस्पताल में 10 दिनों तक भर्ती रहे़ रिपोर्ट निगेटिव होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी, लेकिन घर आने के बाद सांस लेेने में बार-बार तकलीफ की शिकायत होने लगी. हालांकि ऑक्सीजन का स्तर 95 से ज्यादा था. डॉक्टर ने फेफड़ा के लिए योगाभ्यास करने और पौष्टिक खाना लेने की सलाह दी. साथ ही नियमित टहलने के लिए कहा़


केस स्टडी-2


बरियातू निवासी एक कोरोना संक्रमित का इलाज रिम्स में चला. करीब 14 दिनों के बाद पूरी तरह स्वस्थ होकर घर पहुंचे़ इसके बाद उनको लगातार कमजोरी की समस्या बनी हुई थी. गले में भी कुछ शिकायत थी. डॉक्टर से संपर्क किया, तो बताया गया कि इस तरह की समस्या दो-तीन महीने तक रहेगी़ दिनचर्या व खानपान को सही रखें. योग व ध्यान करें. काढ़ा, गोल्डेन मिल्क व गुनगुना पानी लें.


खाना का नहीं मिल पाता है स्वाद


कोरोना वायरस से जंग जीतने के बाद शरीर का पहले से ज्यादा ख्याल रखना जरूरी है, क्याेंकि वायरस शरीर को कमजोर बना देता है. इम्युन सिस्टम मजबूत नहीं होने के कारण अन्य संक्रामक बीमारी की भी आशंका बढ़ जाती है. अगर बुजुर्ग हैं, तो ज्यादा ख्याल रखने की जरूरत है. बच्चों के स्वास्थ्य पर भी नजर रखनी चाहिए. सबसे बड़ी मुसीबत यह होती है कि स्वस्थ हाेने के बावजूद लोगों को खाने का स्वाद नहीं मिल पाता. इस कारण खाना नहीं चाहते. इस स्थिति में परिवार के सदस्यों को पौष्टिक व संतुलित खानपान व दिनचर्या में उनकी मदद करनी चाहिए.


ज्यादा काढ़ा भी हो सकता है हानिकारक


इम्युनिटी बुस्टप का उपयोग करना चाहिए. ज्यादा काढ़ा भी हानिकारक होता है. ज्यादा हल्दी प्रयोग करने से लीवर की समस्या हो सकती है़, इसलिए आधा चम्मच (एक बार) हल्दी का उपयोग करें. गरम पानी का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें. खाने में हाई प्रोटीन डायट को शामिल करें. विटामिन सी का प्रयोग करें. इम्युनिटी बनाये रखने के लिए इसकी बेहद जरूरत है. जिंक के लिए अंकुरित अनाज का उपयोग करें.


-डॉ विजयश्री प्रसाद, सीनियर डायटीशियन


कोरोना वायरस में फेफड़ा पर सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ता है, इसलिए फेफड़ा को मजबूत करनेवाला योगाभ्यास ज्यादा करें. इसके लिए प्राणायाम ज्यादा लाभकारी होता है. इसमें कपालभाति, भ्रामरी व अनुलोम-विलोम का अभ्यास करना चाहिए. इससे फेफड़ा मजबूत होता है. इसके अलावा ध्यान भी करें. सप्ताह में एक-दो दिन नेति क्रिया कर सकते हैं. अजवाइन, गिलोय या अदरक का भाप जारी रखें.


-स्वामी मुक्तरथ, योग प्रशिक्षक


वायरस का दुष्प्रभाव फेफड़े पर पड़ता है, इसलिए कई बार ठीक होने के बाद भी संक्रमण का खतरा रहता है. वायरस के कारण खून का थक्का जम जाता है, जो फेफड़ा को प्रभावित करता है. ऐसे में खानपान व लाइफ स्टाइल को ठीक रखना जरूरी है़ व्यायाम या योग को दिनचर्या मेें शामिल करें. ऑक्सीजन लेवल जांच करते रहें. इम्युनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ का सेवन करें.


-डॉ निशीथ कुमार, छाती रोग विशेषज्ञ


कोरोना से स्वस्थ होने के बाद ऐसी समस्या आम


एक्सपर्ट कहते हैं कि पोस्ट कोविड की समस्या आम बात है, लेकिन घबराये नहीं. हौसला बुलंद रखें. कोरोना के आफ्टर इफेक्ट में घबराहट, सांस लेेने व कमजोरी की समस्या शामिल है. इसे दूर होने में तीन-चार माह लग सकता है.


घबराहट की शिकायत


कोराना खतरनाक व जानलेवा वायरस है, इसलिए इसका प्रभाव काफी समय तक रहता है. स्वस्थ हाेने के बाद भी एंजाइटी आदि की समस्या रहती है. घबराहट होने पर योगाभ्यास और ध्यान करें. सुबह व शाम 15 से 20 मिनट तक टहलें.


सांस लेने की समस्या


कोरोना ठीक होने के बाद सांस की समस्या परेशान करती रहती है. फेफड़ा को वायरस काफी प्रभावित करता है, इसलिए निमोनिया आदि की शिकायत हो सकती है. सांस लेने में परेशानी हाेने पर ऑक्सीजन का स्तर की जांच करें. ऑक्सीजन लेवल 93 से कम हो जाये, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.


कमजोरी व भूख नहीं लगना


कोरोना के बाद कमजोरी ज्यादा अनुभव होता है. वायरस हमारे शरीर में मौजूद एंजाइम व हार्मोन को प्रभावित करता है. भोजन नहीं पचने की समस्या शुरू हाे जाती है. कुछ खाने का मन नहीं करता. कोरोना के बाद पौष्टिक खानपान काे शामिल रखना चाहिए. जंक फूड व तैलीय पदार्थ का उपयोग नहीं करें. हरी साग सब्जी व फल को प्रर्याप्त मात्रा में शामिल करें.


इसलिए इसका रखें ख्याल


कोरोना निगेटिव होने के बाद भी गुनगुने पानी का इस्तेमाल करते रहें


शरीर को डिटॉक्सीफाई (दूषित पदार्थ की सफाई) करने के लिए गुनगुना पानी में नींबू का इस्तेमाल करें


तरल पेय पदार्थ ज्यादा से ज्यादा लें


तीन लीटर पानी प्रतिदिन पीयें


स्वस्थ फेफड़ा के लिए योग


फेफड़ा मजबूत करने के लिए प्राणायाम ज्यादा लाभकारी होता है. कपालभाति, भ्रामरी व अनुलोम-विलोम का अभ्यास करना चाहिए. इससे फेफड़ा मजबूत होता है.


कोरोना से निबटने के लिए मेडिटेशन से भी लाभ पहुंचता है. एकाग्रता बढ़ती है, जिससे अनावश्यक चिंता व भय से राहत मिलती है.


संतुलित कैलोरी के लिए यह जरूरी




  1. ब्रेकफास्ट (नाश्ता) : नाश्ता में प्रोटीन व विटामिन युक्त भोजन शामिल करें. रोटी, दाल और सब्जी लें.




  2. नाश्ता और लंच के बीच अंकुरित अनाज, सलाद व फल को शामिल किया जा सकता है




  3. दोपहर का खाना (लंच) : रोटी, सब्जी, दाल, दही, गाय का घी और नॉन वेजीटेरियन अंडा को भी थाली में शामिल कर सकते हैं. मौसमी सब्जी को शामिल करें. नींबू को सालाद में जरूर रखें.




  4. लंच और डिनर के बीच पोहा, सूप व दलिया को शामिल कर सकते हैं




  5. रात का खाना (डिनर): रात में हल्का भोजन लेना चाहिए. इसमें एक या दो रोटी, एक कटोरी दाल, एक कटोरी सब्जी. नॉन वेजीटेरियन अपनी थाली में अंडा शामिल कर सकते हैं.




  6. रात में सोते समय हल्दी व दूध लें




शुरुआत में ज्यादा मेहनत नहीं करें


रिम्स के फिजिशियन डॉ बी कुमार ने बताया कि कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने के बाद भी जीवनशैली का बेहतर होना जरूरी है. इसलिए लोग दिनचर्या व खानपान को संतुलित रखें. कोरोना पॉजिटिव के बाद शरीर कमजोर हो जाता है, इसलिए दूसरी बीमारी होने की आशंका भी बनी रहती है. इसलिए पौष्टिक खानपान व इम्युनिटी बढ़ाने वाले खाद्य व पेय पदार्थ को दिनचर्या में शामिल करें. कोरोना निगेटिव होने के तुरंत बाद ज्यादा शारीरिक मेहनत नहीं करें. सुबह जल्दी उठें और रात में जल्दी सोयें.



कुछ देर में एनसीबी दफ्तर पहुंचेगी सारा अली खान, श्रद्धा-दीपिका से पूछताछ जारी

 

 सुशांत सिंह राजपूत केस में आज अहम दिन है. एनसीबी की टीम अभिनेत्री दीपिका पादुकोण से मुंबई स्थित गेस्ट हाउस में पूछताछ कर रही है. वहीं आज सारा अली खान और श्रद्धा कपूर को भी नारकोटिक्स विभाग ने समन जारी किया है. इसी बीच सुशांत के वकील विकास सिंह ने सीबीआई पर जांच धीमी गति से करने का आरोप लगाया है. सुशांत केस और एनसीबी से जुड़े हर अपडेट के लिए पेज पर बने रहिए...


एनसीबी ने दावा किया खारिज


रणवीर ने एनसीबी से अर्जी लगाई थी कि वह पूछताछ के दौरान दीपिका के साथ रह सकते है. इसके पीछे उन्होंने ठोस वजह भी बताई थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रणवीर सिंह ने एनसीबी को जो आवेदन दिया था उसमें उन्होंने कहा कि दीपिका को कभी-कभी घबराहट और पैनिक अटैक आते हैं. इसलिए उन्हें पत्नी के साथ रहने की अनुमति दी जानी चाहिए. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि वह एक कानून का पालन करने वाले नागरिक हैं और जानते हैं कि वह दीपिका से पूछताछ के समय उपस्थित नहीं हो सकते हैं. वहीं एनसीबी ने इस दावे को खारिज किया.


रकुलप्रीत से पूछताछ


एनसीबी सूत्रों के मुताबिक अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती से पूछताछ के दौरान अभिनेत्री सारा अली खान और रकुल प्रीत सिंह का नाम सामने आया था. रकुल प्रीत सिंह ने शुक्रवार को अपना बयान दर्ज कराया. उनसे करीब चार घंटे तक पूछताछ की गई.


करिश्मा प्रकाश के वॉट्सऐप चैट से खुलासा


एनसीबी के सूत्रों ने बताया था कि करिश्मा प्रकाश के वॉट्सऐप चैट से किसी ‘डी' के साथ हुई उनकी बातचीत का पता चला और केंद्रीय एजेंसी जानना चाहती है कि यह व्यक्ति कौन है. अधिकारी ने कहा कि राजपूत की टैलेंट मैनेजर जया साहा से पूछताछ के दौरान भी एनसीबी को कुछ महत्वर्ण जानकारियां मिलीं.


बॉलीवुड को बदनाम किया जा रहा- राउत


शिवसेना के प्रमुख प्रवक्ता संजय राउत ने आरोप लगाया है कि एनसीबी के बहाने बॉलीवुड को बदनाम किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि एनसीबी को जांच से पहली बार मामलों लीक होने पर भी कदम उठाना चाहिए.


श्रद्धा कपूर भी पहुंची


अभिनेत्री श्रद्धा कपूर मुंबई स्थित एनसीबी के दफ्तर पहुंच गई है. श्रद्धा कपूर से मुंबई और दिल्ली की दो अलग-अलग टीम पूछताछ करेगी.


सुरक्षा तैनात


एनसीबी के अधिकारी ने बताया कि अभिनेत्रियां आज दक्षिण मुंबई स्थित एनसीबी के कार्यालय पहुंचेंगी. अधिकारी के अनुसार, मुंबई पुलिस ने एनसीबी कार्यालय के बाहर पर्याप्त सुरक्षा तैनात की है.


एनसीबी ने भेजा समन


अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े मादक पदार्थ मामले की जांच के सिलसिले में शनिवार को अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान का बयान दर्ज कर सकता है. अधिकारी ने कहा कि स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने बॉलीवुड-मादक पदार्थों के कथित गठजोड़ की जांच के सिलसिले में बुधवार को इन तीनों अभिनेत्रियों को समन भेजा था.


सुशांत सिंह राजपूत केस अहम दिन


सुशांत सिंह राजपूत केस में आज अहम दिन है. एनसीबी की टीम अभिनेत्री दीपिका पादुकोण से मुंबई स्थित गेस्ट हाउस में पूछताछ कर रही है. वहीं आज सारा अली खान और श्रद्धा कपूर को भी नारकोटिक्स विभाग ने समन जारी किया है. इसी बीच सुशांत के वकील विकास सिंह ने सीबीआई पर जांच धीमी गति से करने का आरोप लगाया है.



आज का दिन आपके लिए रहेगा ऐसा, यहां देखें, सभी 12 राशि के लोगों का भविष्यफल

 

मेष: काम को लेकर कुछ परेशान रहेंगे। मानसिक रूप से मन बैचेन रहेगा। व्यापार में आर्थिक लाभ मनमुताबिक प्राप्त होगा। वाहन चलाते समय सावधानी बरतें। जीवनसाथी का सहयोग प्राप्त होगा। किसी नयी वस्तु की खरीदारी से मन प्रसन्न होगा।


शुभ अंक—5 शुभ रंग— बैंगनी


वृषभ: नौकरी में आज आपको अतिरिक्त सतर्कता रखनी है। दूसरे आप पर हावी होने की पूरी कोशिश करेंगे। व्यापार में आज अपने विवेक से शत्रु को परास्त करने में सफल होंगे। भूमि आदि में निवेश करना लाभदायक रहेगा। मानसिक अशांति का अनुभव होगा।


शुभ अंक— 2 शुभ रंग— नारंगी


मिथुन: आज कार्य करने का उत्साह चरम पर रहेगा। दैनिक व्यापार में अनियमितता रहेगी। मन परेशान रहेगा। संतान से सहयोग का लाभ मिलेगा। सम्बन्धों में मधुरता और मजबूती आयेगी। आज किसी प्रकार के निवेश से खुद को दूर रखें। प्रियजनों से मिलाप होगा।


शुभ अंक— 8 शुभ रंग— काला


कर्क: आज कार्य की व्यस्तता अधिक रहेगी। स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर ही कोई कार्य लें। व्यापार में आर्थिक लाभ मिलने की संभावना है। शुत्र पक्ष से बच कर रहें। भौतिक सुखों की वृद्धि तथा मनोरंजन की तरफ रूचि रहेगी। परिवार का सहयोग प्राप्त होगा।


शुभ अंक—6 शुभ रंग— भूरा


सिंह: आज अपनी क्षमताओं का मूल्यांकन करें। अचानक वर्षों बाद किसी प्रिय मित्र से मुलाकात होने से मन में प्रसन्नता रहेगी। वाहन की खरीदारी करेंगे। यात्रा संभल कर करें। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। बच्चों की शिक्षा पर अचानक धन खर्च हो सकता है।


शुभ अंक—9 शुभ रंग— लाल


कन्या: कार्यक्षेत्र में स्थान परिवर्तन का योग है। व्यापार में धन का लाभ होगा। जितनी जल्दी हो सके अपने खर्चों पर थोडा कंट्रोल करें। अनावश्यक खर्च आगे चलकर आपका बजट बिगाड़ सकते हैं। समीप की यात्रा का योग है। छात्रों को शिक्षा में प्रगति प्राप्त होगी।


शुभ अंक—2 शुभ रंग— काला


तुला: कार्यक्षेत्र में आज आपके कार्य को सहारा जायेगा और नई जिम्मेदारी प्राप्त होगी। व्यापार को ठीक दिशा मिलेगी। कुछ अनावश्यक खर्च हो सकते हैं। आज आप धार्मिक गतिविधियों में शामिल होंगे। परिवार से सहयोग और सहानुभूति प्राप्त होगी।


शुभ अंक— 4 शुभ रंग— नीला


वृश्चिक: आज तनाव उत्पन्न होने के बाद सहकर्मी से सहयोग प्राप्त होगा और शांति मिलेगी। व्यापार में प्रगति होगी। मित्र आज आपको किसी भी तरह का नुकसान पहुंचा सकते हैं, उनसे दूरियां बना कर रखें। परिजनों से सहयोग प्राप्त होगा। वरिष्ठों को नाराज ना करें।


शुभ अंक—6 शुभ रंग— मैरून


धनु: आज वाणी पर संयम रखें। उच्च अधिकारियों से विवाद करने से बचें। सामाजिक कार्यों में अधिक व्यस्तता रहेगी। कुछ पारिवारिक समस्याओं से परेशान हो सकते हैं। संतान सुख मिलेगा। दैनिक कार्यों में अनियमितता रहेगी। पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें।


शुभ अंक: 1 शुभ रंग: गुलाबी


मकर: आज कार्यक्षेत्र में उत्साह के साथ काम करेंगे। व्यापार में लाभ प्राप्त होगा। आज कहीं भी निवेश करने से पहले उसके बारे में अच्छे से समझ लें। जीवनसाथी के साथ बाहर छोटी यात्रा पर जा सकते हैं। अपने लिए या अपनों के लिए कुछ खरीदारी कर सकते हैं।


शुभ अंक—8 शुभ रंग— काला


कुम्भ: व्यापार में सफलता प्राप्त होगी। मित्र भरपूर साथ देंगे। धन लाभ रहेगा। कार्य में व्यस्तता बनी रहेगी। संतान सुख की प्राप्ति होगी। पेट में खराबी हो सकती है, स्वास्थ्य का ध्यान रखें। बाहरी खानपान से आज परहेज करें। वाहन चलाते हुए सावधानी बरतें।


शुभ अंक—4, शुभ रंग— ग्रे


मीन राशि : आज खर्च की अधिकता रहेगी,लेकिन मन प्रसन्न रहेगा। कार्यक्षेत्र में कार्य पूर्ण होंगे। व्यापार में विस्तार होगा। किसी मित्र के मिलने से प्रसन्नता प्राप्त होगी। नये सम्बन्ध बनेंगे और रिश्ते मजबूत होंगे। घरेलू समस्याओं का समाधान निकलने से मन में प्रसन्नता होगी।


शुभ अंक—9 शुभ रंग— बैंगनी



नरेला में जूता फैक्ट्री में भीषण आग, दमकल की 26 गाड़ियों ने पाया आग पर काबू

 

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी के नरेला औद्योगिक क्षेत्र में एक जूता कारखाने में शुक्रवार रात को भीषण आग लग गई। आग को काबू में करने के लिए घटनास्थल दमकल के कम से कम 26 वाहन भेजे गए। दिल्ली फायर सर्विस के निदेशक अतुल गर्ग ने कहा, "हमें फैक्ट्री से रात 10.45 बजे के आसपास फोन आया कि बेसमेंट और दूसरी मंजिलों में आग लग गई है। घटनास्थल पर दमकल की कुल 26 गाड़ियां भेजी गईं।"


हालांकि किसी के घायल होने की सूचना नहीं है और शनिवार सुबह तक आग बुझाने का काम जारी रहा। इससे पहले, शाहदरा जिले के जगतपुरी मुख्य बाजार में शुक्रवार शाम एक हार्डवेयर की दुकान में आग लग गई थी, जिसमें कोई हताहत नहीं हुआ था।



100 साल की संसद को 2022 में मिलेगा नया संसद भवन

 

नई दिल्ली । लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने उम्मीद जताई है कि 100 साल पुरानी संसद को 2022 में नया संसद भवन मिलेगा । संसद के मानसून सत्र पर मीडिया से बात करते हुए लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने कहा 'मॉनसून सत्र के दौरान उत्पादकता 167 प्रतिशत रही. हमने 37 घंटे अलॉट किए थे, लेकिन सदन 60 घंटे चला ।

कोरोना काल में असाधारण परिस्थितियों में आयोजित किए गया संसद का मॉनसून सत्र बुधवार 23 सितंबर को तय समय से पहले ही समाप्त हो गया ।
लोकसभा स्पीकर ने कहा, हम संसद का नया भवन बनाने जा रहे हैं. टेंडर हो चुका है, 892 करोड़ के बजट का अनुमान था. 21 महीने में नई बिल्डिंग का निर्माण पूरा होगा. 2022 में सेशन नए भवन में होगा इसकी संभावना है ।
ओम बिरला ने कहा, 'कृषि से जुड़े बिलों पर लोक सभा ने 5 घंटे 36 मिनट तक चर्चा की. जिस बिल के पक्ष में बहुमत होता है वो बिल लोकसभा में पास हो जाता है.'।
दस दिन चले सत्र में 25 विधेयक पारित किए गए तथा कई अन्य रिकॉर्ड भी बने है। I
23 सितंबर को सत्रहवीं लोकसभा के चौथे सत्र के समापन अवसर पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि वैश्विक महामारी के दौरान भी इस सत्र में सदन की कार्य उत्पादकता 167 प्रतिशत रही है जो अन्य सत्रों की तुलना में अधिक है. इस उपलब्धि के लिए आप सभी माननीय सदस्य बधाई के पात्र हैं ।
लोकसभा सत्र के आंकड़ों को देखें तो मानसून सत्र की उत्पादकता 167 प्रतिशत रही । इससे पूर्व आठवीं लोकसभा के तीसरे सत्र में कार्य उत्पादकता 163 प्रतिशत रही थी । सत्र के दौरान 21 सितंबर को 234 प्रतिशत उत्पादकता रही जो लोकसभा के इतिहास में किसी एक दिन में सर्वाधिक है । यह पहली बार हुआ जब सत्र के दौरान कोई अवकाश नहीं था I रविवार और सोमवार को दो दिन तक सदन ने देर रात 12.30 बजे तक काम किया ।
कुल 10 बैठकों में 37 घंटे के कार्य के स्थान पर 60 घंटे काम हुआ जो निर्धारित समय से डेढ़ गुना से भी अधिक है । सत्र के दौरान विधायी कार्यों को 68 प्रतिशत तथा अन्य कार्यों को 32 प्रतिशत समय दिया गया । सत्र के दौरान 16 विधेयक पुनर्स्थापित किए गए तथा 25 विधेयक पारित किए गए ।



पीएम मोदी और महिंदा राजपक्षे की वर्चुअल बैठक आज, द्विपक्षीय विषयों के साथ मछुआरों का मुद्दा भी होगा अहम

 

श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे से भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आज यानी शनिवार को वर्चुअल बैठक होने जा रही है। अधिकारियों के अनुसार, शनिवार को अपने वर्चुअल शिखर सम्मेलन के दौरान राजपक्षे और उनके भारतीय समकक्ष नरेंद्र मोदी के बीच द्विपक्षीय वार्ता में मछुआरों का मुद्दा एक महत्वपूर्ण बिंदु होगा। राजपक्षे के मीडिया कार्यालय ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री ने शुक्रवार को स्थानीय मछली पकड़ने वाले संगठनों की एक बड़ी टुकड़ी के साथ बातचीत की और दोनों देशों के बीच यह मुद्दा चर्चा का प्रमुख बिंदु होगा।


शिखर सम्मेलन प्रधानमंत्री मोदी की पहल पर आयोजित किया जा रहा है, जिनकी इस साल 6 अगस्त को श्रीलंका के नव-नियुक्त प्रधानमंत्री के साथ टेलीफोन पर बातचीत हुई थी। राजपक्षे के कार्यालय ने कहा कि मछुआरा समुदाय ने प्रमुख को बताया कि सीओवीआईडी -19 के प्रकोप के बाद से, भारतीय अधिकारी अब अवैध शिकार करने वाले अपने मछुआरों को उनकी सीमा तक नहीं रोकते। इससे स्थानीय मछली पकड़ने वाले समुदाय के लिए मुश्किलें बढ़ गई हैं। बता दें कि श्रीलंकाई जल में भारतीयों द्वारा मछली पकड़ना एक पुरानी और बड़ी समस्या रही है और पिछले दिनों भी दोनों पड़ोसियों के बीच इशपर उच्च-स्तरीय वार्ता में हुई थी।अब जहां राजपक्षे ने उन्हें आश्वासन दिया कि इस मुद्दे को भारतीय नेता के साथ उठाया जाएगा और श्रीलंकाई नौसेना को देश के जल में अवैध शिकार करने वाले किसी को भी गिरफ्तार करना चाहिए। इसके अलावा दोनों नेताओं के बीच आपसी द्विपक्षीय अंतर-राजनीतिक, आर्थिक, वित्त, विकास, रक्षा और सुरक्षा क्षेत्रों, शैक्षिक, पर्यटन और सांस्कृतिक के साथ-साथ पारस्परिक हित के क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर पूर्ण ध्यान केंद्रित करने की उम्मीद है। श्रीलंका के विदेश मंत्रालय ने बुधवार को एक बयान में कहा। पिछले महीने प्रीमियरशिप संभालने के बाद से प्रधान मंत्री राजपक्षे द्वारा यह पहली वर्चुअल शिखर-स्तरीय बातचीत है।


हिंद महासागर में शांति और स्वतंत्र आवागमन का पक्षधर


हिंद महासागर में चीन की ताकत बढ़ाने वाली हरकतों के बीच श्रीलंका ने साफ कर दिया है कि वह इस समुद्री क्षेत्र को किसी के शक्ति प्रदर्शन का अड्डा बनाए जाने के विरोध में है। संयुक्त राष्ट्र में श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने अपने प्री-रिकॉर्डेड भाषण में कहा, हमारी प्राथमिकता ¨हद महासागर क्षेत्र में शांति बनाए रखने की है, जहां कोई देश किसी अन्य पर अपनी बढ़त साबित न कर पाए। श्रीलंका हिंद महासागर क्षेत्र में रणनीतिक महत्व वाले स्थान पर स्थित है। भारत को घेरने के लिए चीन श्रीलंका के इस महत्व के इस्तेमाल की कोशिश में है।राजपक्षे ने कहा कि श्रीलंका आने वाले समय में भी अपनी निष्पक्ष विदेश नीति बनाए रखेगा। वह ऐसे किसी देश या समूह की नजदीकी से दूर रहेगा जिससे उसकी निष्पक्षता प्रभावित होती हो। इस समुद्री मार्ग के आर्थिक महत्व के मद्देनजर शक्तिशाली देशों की जिम्मेदारी है कि वे हिंद महासागर क्षेत्र को शांत, निष्पक्ष और स्वतंत्र आवागमन वाला क्षेत्र बनाए रखने में सहयोग दें। शक्तिशाली देश इस समुद्री क्षेत्र की प्राकृतिक संपदा को भी किसी तरह का नुकसान न खुद पहुंचाएं और न ही नुकसान होने दें।



पिछले 24 घंटे में 85,362 मामलों के साथ 1 हजार से ज्यादा मरीजों की मौत, जानें कुल आंकड़ा

 

नई दिल्ली । देशभर में प्रत्येक दिन संक्रमितों के नए मामले सामने आ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में 85,362 मामलों के साथ 1,098 मौतें दर्ज की गई हैं, जिसके बाद देश में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 59,03,933 तक पहुंच गया है, जिसमें से 9,60,969 एक्टिव केस हैं। जबकि 48,49,585 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक, देश में अब तक  93,379 मरीजों की मौत हो चुकी है। 


अबतक देश में 7,02,69,975 नमूनों की जांच 


गौरतलब है कि देश में पिछले कई दिनों से लगातार 80 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन राहत की बात यह है कि जिस गति से मामलों में इजाफा हो रहा है उसी गति से मरीज ठीक भी हो रहे हैं। वहीं देश में कोरोना नमूनों की जांच भी बढ़ गई है। देश में एक दिन मं 13 लाख से ज्यादा नमूनों की जांच हो होने के बाद 25 सितंबर तक देश में 7,02,69,975 नमूनों की जांच हो चुकी है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने अपनी ताजा रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी। बता दें कि दुनिया में इस भारत इस वक्त दूसरे नंबर पर संक्रमित देश है।


देश में महाराष्ट्र समेत यह राज्य सबसे ज्यादा संक्रमित


देश में इस वक्त सबसे ज्यादा संक्रमित राज्य महाराष्ट्र है। यहां पर संक्रमितों का आंकड़ा 12 ,82,963 तक पहुंच गया है वहीं मौत का आंकड़ा 34 हजार से ज्यादा हो गया है। इसके बाद दूसरे नंबर पर संक्रमित राज्य आंध्र प्रदेश है। 6,54,385 से ज्यादा लोग यहां संक्रमित हो चुके हैं वहीं मरनेवालों की संख्या 5 हजार से ज्यादा है। वहीं देश में तमिलनाडु तीसरे नंबर पर संक्रमित राज्य है। यहां पर संक्रमितों का आंकड़ा 5,48,557 तक पहुंच गया है। वहीं 9 हजार से ज्यादा मरीजों की मौत हो चुकी है। चौथे नंबर पर संक्रमित राज्य कर्नाटक है। इसके बाद उत्तर प्रदेश और देश की राजधानी दिल्ली सबसे ज्यादा संक्रमित है। 


 



बजरी परिवहन करता डंपर जब्त

 

सवाईपुर ( सांवर वैष्णव ) बड़लियास थाना पुलिस व माइनिंग विभाग की टीम ने सयुक्त कार्रवाई करते हुए, बीती रात सवाईपुर व आकोला के मध्य अवैध रूप से बजरी दोहन करते हुए डंपर को जब्त किया । बड़लियास थाना प्रभारी सुरजीत सिंह ने बताया कि बीती रात माइनिंग विभाग व पुलिस ने बजरी परिवहन पर सयुक्त कार्रवाई करते हुए आकोला व सवाईपुर के मध्य बजरी परिवहन करते हुए एक डंपर को जब्त किया । जब्त किये गए डंपर को थाने में लाकर खड़ा किया गया । माइनिंग विभाग की ओर से ललित सिंह ने ये कार्रवाई की। इस कार्रवाई से क्षेत्र के बजरी माफियों में खलबली सी मच गई ।



राम जन्मभूमि के बाद अब श्रीकृष्ण जन्मभूमि का मामला पहुंचा कोर्ट, शाही मस्जिद हटाने की मांग

 

मथुरा | भगवान राम की नगरी अयोध्या में श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण कार्य प्रारंभ होने के बीच अब भगवान श्रीकृष्ण की जन्मभूमि मथुरा में भगवान श्रीकृष्ण विरामजमान के नाम से दीवानी का केस दर्ज किया गया है।


श्रीकृष्ण विराजमान ने भी मथुरा की कोर्ट में 13.37 एकड़ भूमि को लेकर सिविल मुकदमा दायर किया। इसके साथ ही बगल से शाही ईदगाह मस्जिद हटाने की मांग की गई है। यह केस मथुरा की अदालत में दायर किया गया है। इस केस में श्रीकृष्ण जन्मभूमि की 13.37 एकड़ जमीन का मालिकाना हक देने और वहां से इदगाह मस्जिद को हटाने की अपील की गई है। यह वाद भगवान श्रीकृष्ण विराजमान की सखा रंजना अग्निहोत्री एवं छह अन्य लोगों ने दायर किया है। भगवान राम की नगरी अयोध्या में श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण कार्य प्रारंभ होने के बीच अब भगवान श्रीकृष्ण की जन्मभूमि मथुरा में भगवान श्रीकृष्ण विरामजमान के नाम से दीवानी का केस दर्ज किया गया है। यह केस मथुरा की अदालत में दायर किया गया है। इस केस में श्रीकृष्ण जन्मभूमि की 13.37 एकड़ जमीन का मालिकाना हक देने और वहां से ईदगाह मस्जिद को हटाने की अपील की गई है। यह वाद भगवान श्रीकृष्ण विराजमान की सखा रंजना अग्निहोत्री एवं छह अन्य लोगों ने दायर किया है।मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि को लेकर कोर्ट में सिविल सूट दायर किया गया है। यह केस सुप्रीम कोर्ट के वकील विष्णु शंकर जैन के साथ भगवान श्रीकृष्ण विराजमान की सखा रंजना अग्निहोत्री ने दायर किया है। इनकी याचिका में जमीन को लेकर 1968 के समझौते को गलत बताया गया है। विष्णु शंकर जैन के साथ ही रंजना अग्निहोत्री आयोध्या के श्रीराम जन्मभूमि वाले केस से भी जुड़े हैं। इस याचिका के माध्यम से 13.37 एकड़ की कृष्ण जन्मभूमि का स्वामित्व मांगा है। जिस पर मुगल काल में कब्जा कर शाही ईदगाह बना दी गई थी। शाही ईदगाह मस्जिद को हटाने की मांग की गई है। वाद भगवान श्रीकृष्ण विराजमान, कटरा केशव देव खेवट, मौजा मथुरा बाजार शहर की ओर से अंतरंग सखी के रूप में अधिवक्ता रंजना अग्निहोत्री और छह अन्य भक्तों ने दाखिल किया है।इसमें साफ किया गया कि वादी कटरा केशव देव केवट, मौजा मथुरा बाजार के श्रीकृष्ण विराजमान हैं। वकील हरिशंकर जैन और विष्णु शंकर जैन के मुताबिक यह मुकदमा मस्जिद ईदगाह प्रबंधन समिति ने अतिक्रमण को हटाने के लिए दायर किया गया है। वहीं दूसरी ओर मुकदमे में एक बड़ी रुकावट प्लेसेज ऑफ वर्शिप एक्ट 1991 है। इस एक्ट के मुताबिक आजादी के वक्त 15 अगस्त 1947 को जो धार्मिक स्थल जिस संप्रदाय का था, उसी का रहेगा। इस एक्ट के तहत श्रीरामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद को छूट दी गई थी।अभी कुछ दिन पहले प्रयागराज में अखाड़ा परिषद की बैठक में साधु-संत मथुरा कृष्ण जन्मभूमि और काशी विश्वनाथ मंदिर को लेकर चर्चा की थी। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने मथुरा की ईदगाह मस्जिद तथा काशी की ज्ञानवापी मस्जिद को हटाने को अपने एजेंडा में शामिल किया है। संतों ने काशी-मथुरा के लिए लामबंदी शुरू भी कर दी है। अखाड़ा परिषद ने प्रयागराज की अपनी बैठक में काशी और मथुरा के मंदिरों को मुक्त कराने का निर्णय लिया था। मथुरा में जिस भूमि पर ईदगाह मस्जिद है, उस भूमि को श्रीकृष्ण जन्मभूमि कहा जाता है।  



 आठ साल से पुलिस से भाग रहा डकैत साहुन मेव चढ़ा पुलिस के हत्थे, अहमदाबाद में दबोचा

 

 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। अजमेर हाइवे पर एक ट्रक के चालकों से मारपीट कर 6 टायर लूट ले जाने के मामले में आठ साल से पुलिस से भाग रहा डकैत साहुन मेव आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया। रायला पुलिस ने यह गिरफ्तारी  अहमदाबाद में की। 
सहायक उप निरीक्षक देवेंद्र सिंह ने हलचल को बताया कि वर्ष 2012 में बेरां निवासी संपतलाल शर्मा के ट्रक चालक नानूराम व गोवर्धन के साथ जसवंतपुरा के पास डकैतों ने मारपीट की। इसके बाद डकैत, ट्रक के छह टायर खोलकर ले गये थे। डकैती की रिपोर्ट रायला थाने में दर्ज की गई। पुलिस ने अन्य आरोपितों को पहले गिरफ्तार कर लिया था, जबकि हरियाणा के नूह जिले के गांव देवला नांगली निवासी साहुन मेव पुलिस से आंख-मिचौली का खेल-खेल रहा था। आरोपित के अहमदाबाद में होने की सूचना  पर एएसआई सिंह के नेतृत्व में टीम अहमदाबाद गई, जहां से उसे गिरफ्तार कर यहां ले आई। आरोपित को पुलिस ने अदालत में पेश किया। अदालत ने आरोपित को न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिये। 


 



रिश्तेदारों ने की मारपीट, प्रौढ़ की मौत, आपराधिक मानववध का मामला दर्ज

 

 भीलवाड़ा हलचल। जिले के मेरूणी गांव के एक प्रौढ़ के साथ उसी के रिश्तेदारों ने मारपीट की। पिटाई से घायल प्रौढ़ ने उदयपुर के एक निजी अस्पताल में दम तोड़ दिया। गंगापुर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद मृतक के भाई की रिपोर्ट पर 6 लोगों के खिलाफ आपराधिक मानववध का केस दर्ज किया है। 
गंगापुर पुलिस ने हलचल को बताया कि मेरूणी निवासी कालूराम बागरिया ने रिपोर्ट दी कि वह, उसका भाई हीरालाल (50) 16 सितंबर को घर में थे। इसी दौरान भैंरू बागरिया, देवा, रतन, नारायण, कालू निवासी मेरूणी व खन्ना पुत्र भूरा निवासी रूपाहेली वहां आये। इन लोगों ने परिवादी के भाई हीरालाल के साथ मारपीट की। इसके चलते वह गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे पहले शहर के निजी अस्पताल और इसके बाद उदयपुर के शर्मा हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया, जहां उपचार के दौरान हीरालाल ने दम तोड़ दिया। परिजन शव को गंगापुर ले आये, जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। 
पुलिस ने कालूराम की रिपोर्ट पर आपराधिक मानववध का केस दर्ज कर जांच शुरू की है। 



नहीं चला धोनी का जादू, दिल्ली ने चेन्नै को 44 रन से हराया, पॉइंट टेबल में टॉप पर पहुंची

 

दुबई
दिल्ली कैपिटल्स (DC) ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 2020 सत्र के 7वें मुकाबले में चेन्नै सुपर किंग्स (CSK) को 44 रनों से हरा दिया। इस तरह उसने अपने लगातार दूसरे मुकाबले में जीत दर्ज करते हुए पॉइंट टेबल में टॉप पोजिशन पर कब्जा जमा लिया है। दुबई इंटरनैशनल क्रिकेट स्टेडियम में टॉस हारकर पहले बैटिंग करते हुए दिल्ली कैपिटल्स ने 3 विकेट पर 175 रन बनाए। जवाब में चेन्नै की टीम शुरुआती विकेट गिरने के बाद उबर नहीं सकी और 20 ओवरों में 7 विकेट खोकर 131 रन तक पहुंच सकी। धोनी का जादू नहीं चला और वह 15 रन बनाकर आउट हुए, जबकि फाफ ने सबसे अधिक 43 रन बनाए।

बड़े स्कोर के आगे CSK की खराब शुरुआत
लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नै सुपर किंग्स की शुरुआत खराब रही। उसे पहला झटका लगा ऑस्ट्रेलियाई शेन वॉटसन के रूप में। उन्हें 14 रनों के निजी स्कोर पर अक्षर पटेल ने हेटमायर के हाथों कैच कराया। इसके बाद मुरली विजय (10) को नॉर्ट्जे ने कागिसो रबाडा के हाथों लपकवाते हुए टीम का स्कोर 34 रन पर दो विकेट कर दिया।

यहीं से हो गया खेल
धीमी शुरुआत और ओपनरों का विकेट गंवाने के बाद CSK दबाव में आ गई। उम्मीद जताई जा रही थी कि धोनी टॉप ऑर्डर में उतरेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। फाफ डु प्लेसिस तीसरे नंबर पर उतरे तो युवा ऋतुराज गायकवाड़ चौथे नंबर पर आए। गायकवाड़ से उम्मीद थी कि वह मौका भुनाएंगे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। वह पंत के सटीक थ्रो पर अक्षर के हाथों रन आउट हो गए। उन्होंने सिर्फ 5 रन बनाए।

फाफ और केदार के बीच 54 रनों की साझेदारी
इसके बाद फाफ डु प्लेसिस के साथ मिलकर केदार जाधव टीम को 100 रनों के करीब लेकर गए। हालांकि, दोनों ही बल्लेबाजों में बड़े शॉट लगाने की कमी दिखी और रिक्वॉयर्ड रन रेट 18 के पार पहुंच गया। तेजी से रन बनाने की जरूरत थी तो नोर्ट्जे ने 16वें ओवर की चौथी गेंद पर केदार जाधव को LBW आउट कर दिया। जाधव ने 21 गेंदों में 3 चौके की मदद से 26 रन बनाए। उनके और फाफ के बीच 54 रन की पार्टनरशिप हुई।
फिफ्टी चूके चूके फाफ और मैच फिसला हाथ से
इस दौरान एक छोर संभाले रखने वाले फाफ 18वें ओवर की दूसरी गेंद पर कागिसो रबाडा के शिकार बने। उन्होंने 35 गेंदों में 4 चौके की मदद से 64 रन बनाए। अब चेन्नै को जीत के लिए 16 गेदों में 63 रनों की जरूरत थी। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और रविंद्र जडेजा ने यहां से कुछ अच्छे शॉट्स जरूर लगाए, लेकिन वह टीम को लक्ष्य तक पहुंचाने में कामयाब नहीं हो सके। दिल्ली के लिए रबाडा ने 3, नॉर्ट्जे ने दो और अक्षर पटेल ने एक विकेट झटका।

दिल्ली की पारी का रोमांच
इससे पहले ओपनर पृथ्वी साव (64) की अगुआई में बल्लेबाजों के संयुक्त प्रयास से दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नै सुपर किंग्स के सामने 176 रनों का लक्ष्य रखा। चेन्नै ने टॉस जीतकर दिल्ली को बल्लेबाजी के लिए बुलाया। उसके गेंदबाजों ने शुरू में बल्लेबाजों को बांधे रखा लेकिन आखिरी में रन गंवाए, जिसके कारण दिल्ली 20 ओवरों में तीन विकेट खोकर 175 रन बनाने में सफल रही।
 


prithvi_shav


पृथ्वी ने शानदार अर्धशतक लगाया।
पृथ्वी साव ने जड़ी फिफ्टी, शिखर चूके
दिल्ली की सलामी जोड़ी शिखर धवन और पृथ्वी साव दोनों ने विकेट पर जमने के लिए समय लिया और फिर अपने शॉट खेले। शुरूआत में इन ने दोनों कम रनगति से रन बनाए और फिर बाद में तेजी दिखाई। दोनों ने मिलकर 94 रन जोड़े। यहां तक पृथ्वी अपना अर्धशतक पूरा कर चुके थे और धवन अर्धशतक की ओर बढ़ रहे थे। पीयूष चावला पर रिवर्स स्वीप खेलने के प्रयास में धवन पगबाधा आउट करार दे दिए गए। धवन ने 27 गेंदों में तीन चौके और एक छक्के की मदद से 35 रन बनाए।

पीयूष ने किए दो शिकार
पृथ्वी साव भी चावला के शिकार बने। साव को धोनी ने स्टम्प किया। साव ने 43 गेंदों पर नौ चौके और एक छक्के की मदद से 64 रन बनाए। इसके बाद ऋषभ पंत और कप्तान श्रेयस अय्यर ने तीसरे विकेट के लिए 58 रन जोड़े और यह सुनिश्चित किया कि टीम मजबूत स्कोर क पहुंच सके।

अय्यर 22 गेंदों पर 26 रन बनाकर सैम करन का शिकार बने। पंत 27 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 37 रन बनाने में सफल रहे। उनके साथ मार्कस स्टोइनिस पांच रन बनाकर नाबाद रहे। चेन्नै के लिए चावला ने दो और करन ने एक विकेट लिया।



  तीसर चरण : हुरड़ा की 23 पंचायतों में आज नामांकन

 

 भीलवाड़ा हलचल। पंचायत राज चुनाव के तृतीय चरण में शनिवार को हुरड़ा पंचायत समिति की 23 पंचायतों में सरपंच व 259 वार्ड पंचों के लिए नामांकन सुबह दस से शाम पांच बजे तक दाखिल किए जाएंगे। इसके बाद समीक्षा रविवार सुबह 10 बजे से, नाम वापसी दोपहर 3 बजे तक रहेगी।
 मतदान 6 अक्टूबर को सुबह 7.30 से शाम 5.30 बजे तक होगा। मतदान समाप्ति के बाद मतगणना होगी। अगले दिन उपसरपंच का चुनाव होगा। तीसरे चरण में आगूचा, बराठियां, बडला, भोजरास, दांतड़ा, गढवालो का खेडा, गागेडा, हुरडा, जालमपुरा, कवलियास, खेजडी, कोटडी, लाम्बा, फलामादा, रूपाहेली, सरेरी, सोडार, तस्वारिया, टोंकरवाड़, उखलिया, कानिया, अण्टाली, जालखेड़ा पंचायत में चुनाव होंगे।



 कोरोना से मौतों का रेकार्ड टूटा, एक दिन में 12 और 48 घंटे में गई 16 की जान, 106 नये रोगी 

 

 भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा में कोरोना अब खौफनाक रूप ले चुका है। लेकिन आमजन अब भी इस माहमारी को हल्के में ले रहा है। मौतों के साथ-साथ संक्रमितों के आंकड़े चौंका ही नहीं रहे हैं, बल्कि झकझौर रहे हैं।  शुक्रवार की बात कर करें तो कोरोना ने 12 जनों की जान ली है। एक दिन में अब तक की यह सर्वाधिक मौतें हैं। इससे पहले गुरुवार को चार जनों की मौत हुई थी। बीते 48 घंटे में 16 जने कोरोना की चपेट में आकर जान गंवा चुके हैं। उधर, संक्रमितों की बात करें तो शुक्रवार को 106 रोगी सामने आये हैं।  जिले में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 90 तक, जबकि पॉजिटिव रोगियों का आंकड़ा 5591 पहुंच चुका है। उधर, संक्रमितों में से 4061 लोग ठीक हो चुके हैं। डराने वाली बात यह भी सामने आ रही है कि एक पखवाड़े में भीलवाड़ा में कई ऐसे रोगी भी सामने आए, जिनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे, लेकिन वे दुनिया को अलविदा कह गये। 
चिकित्सा विभाग के सूत्रों के मुताबिक, एक जनप्रतिनिधि की एक सप्ताह से तबीयत खराब थी। वे होम आइसोलेशन में इलाज ले रहे थे कि फेफड़ों में संक्रमण हो गया। सांस में तकलीफ पर तीन दिन पहले एमजीएच लाए। गुरुवार को प्लाज्मा चढ़ाया लेकिन जान नहीं बचाई जा सकी। भीलवाड़ा के आजाद चौक निवासी  78 वर्षीय बुजुर्ग को कोरोना होने पर आरसी व्यास कॉलोनी के निजी अस्पताल के कोविड केयर सेंटर में भर्ती कराया। तबीयत बिगडऩे पर वेंटीलेटर पर रखा, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका।  सिंधुनगर के एक व्यक्ति ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। मृतक की पत्नी, बेटा व बहू भी पॉजिटिव हैं। आजाद मोहल्ला निवासी एक व्यक्ति को कोरोना होने पर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां शुक्रवार सुबह दम तोड़ दिया। आमा गांव के व्यक्ति व जवाहरनगर की महिला ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। इसी प्रकार निजी चिकित्सालय में 19 सितंबर से भर्ती 92 साल की महिला ने भी आज सुबह दम तोड़ दिया।
एमजीएच के अधीक्षक डॉ. अरुण गौड़ का कहना है कि शुक्रवार रात को ठिकोला के व्यक्ति, भीलवाड़ा के व्यक्ति, सिताराम बावड़ी क्षेत्र की महिला तथा बडलिया के एक व्यक्ति ने भी इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। इनमें से एक व्यक्ति के पिता की भी चार दिन पहले कोरोना से मौत हो चुकी हैं। उदयपुर के निजी अस्पताल में भर्ती राजेन्द्र मार्ग निवासी एक और व्यक्ति ने भी शुक्रवार शाम दम तोड़ दिया। इस परिवार में कोरोना से यह तीसरी मौत है। 10 सितम्बर को इस परिवार के दो भाइयों की उदयपुर ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई थी। इस परिवार के कुछ और सदस्य सदस्य संक्रमित हैं, जिनका निजी अस्पतालों में उपचार किया जा रहा है।  
अब तो संभल जाओ...
उधर, लगातार मौतें और संक्रमितों की बढ़ रही संख्या के बावजूद  भी भीलवाड़ा के कुछ बेपरवाह लोग अभी इस बीमारी को हल्के में ले रहे हैं। ऐसे लोग न तो मास्क पहन रहे हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग की पालना इनके द्वारा की जा रही है, जबकि पुलिस प्रशासन लगातार ऐसे लोगों को समझाने का प्रयास कर रहे हैं।  भीलवाड़ा हलचल की आमजन से अपील है कि वे, मास्क पहने, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना और सेनेटाइजर का उपयोग करें। बार-बार हाथ धोयें। बिना जरुरी काम के न घरों से निकलें और न ही भीड़-भाड़ वाले इलाकों में जायें, ताकि इस बीमारी को फैलने से रोका ही बल्कि बल्कि लोगों की जान बचाई जा सके। 



सात दिनों से लापता महिला का शव मिला बाजरे के खेत में, कपड़े कुछ दूरी पर मिले

 

राजस्थान में रेप की घटनाएं कम होने का नाम ही नहीं ले रही है। ताजा मानला भरतपुर जिले के बयाना थाना का है। यहां गुरुवार को झील चौकी इलाके में  बाजरे की फसल में एक महिला का शव पड़ा मिला है, जिसके कपड़े कुछ दूरी पर पाये गए हैं। 
सूचना के बाद मौके पर पुलिस भी पहुंची है। पुलिस ने जब इस मामले में छानबीन की, तो महिला के कपड़े में एक पासबुक मिली, जिससे मृतका की पहचान कर ली गई है। महिला सात दिन पहले अपनी तीन बेटियों से मिलने उनके ससुराल के लिए निकली थी तभी से वह अचानक लापता हो गयी थी। 
झील पुलिस चौकी प्रभारी पूरन सिंह के मुताबिक गुरुवार को ग्रामीण बाजरे की फसल को काटने खेतों पर पहुंचे थे, तो वहां फसल के बीच एक महिला का शव पड़ा मिला और उसके कपडे कुछ दूरी पर पड़े हुए मिले | अब महिला का शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपकर मामले की जांच की जा रही है। पुलिस का यह भी कहना है महिला का शव नग्न हालत में पड़ा मिला है। ऐसे में दुष्कर्म की संभावनाएं जताई जा सकती है।



निषेधाज्ञा लागू, इंटरनेट सेवाएं बंद

 

राजस्थान के डूंगरपुर जिले के बिछीवाड़ा थाना क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग आठ पर उग्र प्रदर्शनकारियों ने शुक्रवार को पुलिस दल पर पथराव किया और कुछ बसों को आग के हवाले कर सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। प्रशासन ने एहतियातन जिले में निषेधाज्ञा लगाते हुए इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं। इस प्रदर्शन को लेकर शुक्रवार रात यहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बैठक ली। शनिवार को उदयपुर में प्रदर्शनकारी युवाओं के प्रतिनिधियों से चर्चा होनी है। जिला कलेक्टर कानाराम ने 'भाषा' को बताया कि अभी स्थिति नियंत्रण में है लेकिन राष्ट्रीय राजमार्ग अभी भी बंद है। प्रदर्शनकारियों ने कुछ बसों को आग लगा दी। उदयपुर रेंज की पुलिस महानिरीक्षक विनिता ठाकुर ने बताया कि जिले में निषेधाज्ञा लागू की गई है और इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया है। वहीं इस आंदोलन को लेकर शुक्रवार शाम जनप्रतिनिधियों की यहां मुख्यमंत्री निवास में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से चर्चा हुई। बैठक में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के साथ साथ सम्बद्ध इलाके के कांग्रेस के व भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) के विधायकों ने भाग लिया।   इससे पहले मुख्यमंत्री गहलोत ने सुबह ट्वीट कर कहा, ‘'डूंगरपुर में उपद्रव एवं हिंसक प्रदर्शन बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। विरोध करने के संवैधानिक अधिकार का इस्तेमाल हो, शांतिपूर्ण प्रदर्शन हों लेकिन कानून को अपने हाथ में लेने का किसी को अधिकार नहीं है। प्रदर्शनकारियों से मेरी अपील है कि कृपया शांति एवं कानून-व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग करें।'’  



निजी अस्पतालों को 30 प्रतिशत बैड कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित रखने होंगे

 

कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच राजस्थान सरकार ने शुक्रवार को छह जिला मुख्यालयों पर स्थित बड़े निजी अस्पतालों को 30 प्रतिशत बैड कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के उपचार के लिए रखने को कहा है। प्रमुख शासन सचिव अखिल अरोरा ने इस आशय का आदेश जारी किया। आदेश में कहा गया है कि राज्य के जयपुर, जोधपुर, कोटा एवं उदयपुर जिला मुख्यालय में स्थित ऐसे निजी अस्पताल अपने तीस प्रतिशत बिस्तर अब कोरोना मरीजों के उपचार के लिए रखने होंगे, जिनकी बिस्तर की क्षमता 80 या इससे अधिक है और जहां फिलहाल कोरोना वायरस संक्रमितों का इलाज नहीं हो रहा है । इसमें कहा गया है कि इसी तरह अजमेर और बीकानेर जिला मुख्यालय में 60 व इससे अधिक बिस्तरों की क्षमता वाले निजी अस्पतालों को अपने तीस प्रतिशत बिस्तर अब कोरोना मरीजों के उपचार के लिए रखने होंगे। ये आदेश उन निजी अस्पतालों के लिए है जहां फिलहाल कोरोना संक्रमितों का इलाज नहीं होता। आदेश में इन अस्पतालों से कहा गया है कि वे संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए तय नियमों का पालन करते हुए अलग वार्ड या फ्लोर तय करें। अस्पतालों से कहा गया है कि संक्रमित मरीजों का इलाज चिकित्सा विभाग की तरफ से पूर्व में निर्धारित दरों के हिसाब से किया जाए। उल्लेखनीय है कि राजस्थान में शुक्रवार को 2010 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की अब तक कुल संख्या 1,24,730 हो गई है।



जेल में बंद आसाराम के बैरक से मिला मोबाइल

 

 जोधपुर। कैदी के गुप्तांगों से निकले ४ मोबाइल हैंडसेट  की सनसनीखेज खबर के बाद चर्चा में आई जोधपुर जेल में गुरुवार को हुई तलाशी में कैदियों की एक और करतूत सामने आई है। हाई प्रोफाइल बदमाशों और नेताओं के साथ इस जेल में सजा काट रहे आसाराम के बैरक से भी अब एक मोबाइल फोन मिला है। जेल के बैरक नंबर दो में मिले इस मोबाइल को लेकर डीसीपी धर्मेंद्रसिंह यादव ने पुष्टि की है। बता दें कि गैंगस्टर और क्राइम वर्ल्ड में कुख्यात लोगों के जेल से ही फोन पर अपनी गैंग चलाने के कई बार आरोप लगते रहे हैं। ऐसे में जोधपुर सेंट्रल में एक के बाद एक और मोबाइल मिलने से जेल सुरक्षा पर एक बार फिर सवाल उठ रहे हैं। 
डीसीपी धर्मेंद्र सिंह यादव सहित पुलिस अधिकारियों को जेल प्रशासन में जेल में मोबाइल को लेकर सर्च अभियान चलाया था। इस दौरान जोधपुर सेंट्रल जेल में बैरक नंबर दो, जिसमें आसाराम बंद है, उसमें एक मोबाइल मिला। दरअसल, यह मोबाइल आसाराम के शिष्य विवेक मिश्रा से बरामद हुआ जिसके खिलाफ थाने में मामला दर्ज करवाया गया है। डीसीपी धर्मेंद्र सिंह यादव ने बताया कि जेल से संचालित हो रहे अपराधों पर लगाम कसने के उद्देश्य से जेल में सर्च अभियान चलाया गया था। इसमें बैरेक नंबर दो जिसमें एक मोबाइल मिला है।



कोरोना वायरस पॉजिटिव हैं तो 5 मिनट में चलेगा पता, शुरू हुई मॉलिक्युलर टेस्टिंग

 

पुणे
महाराष्ट्र का पुणे पूरे देश में ऐसा जिला है जो कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है। हालांकि टेस्टिंग के मामले में भी पुणे सबसे आगे है। अब कोरोना टेस्टिंग के मामले में पुणे में एक और बड़ा काम होने जा रहा है। यहां पर अब कोविड की मॉलिक्युलर टेस्टिंग होगी, जिससे महज 13 मिनट के अंदर ही रिपोर्ट आ जाएगी।

देश में पुणे पहला ऐसा जिला है, जहां इस तरह की टेस्टिंग के लिए यूएस फूड ऐंड ड्रग ऐडमिनिस्ट्रेशन ऐंड कंट्रोलर जरनल ऑफ इंडिया ने अनुमति दी है। यह टेस्टिंग किट एक प्राइवेट लैब में लाई गई है। गुरुवार को डेप्युटी सीएम अजीत पवार ने इसका उदघाटन किया।

नाक और गले से स्वाब से ही होगा टेस्ट
इस टेस्टिंग किट की खास बात है कि पॉजिटिव रिपोर्ट 5 मिनट के अंदर ही मिल जाएगा, जबकि निगेटिव रिपोर्ट में 13 मिनट का समय लगेगा। डायग्नॉस्टिग सेंटर की मैनेजिंग डायरेक्टर पल्लवी जैन ने बताया कि यह टेस्ट पब्लिक के लिए अगले हफ्ते से शुरू हो जाएगा। यह टेस्ट भी गले और नाक के स्वाब से ही होगा।

नहीं रहना होगा ट्रॉमा में
पल्लवी जैन ने कहा कि यह टेस्टिंग डिवाइस पोर्टेबल है। टेस्टिंग पुणे म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के साथ पीपीपी मॉडल पर किया जाएगा। इस टेस्ट से मरीजों को ट्रॉमा में नहीं रहना पड़ेगा। उन्हें सैंपल देते ही कुछ मिनटों में रिपोर्ट मिल जाएगी और उनका समय से इलाज भी शुरू हो सकेगा। कई मरीजों को यात्रा करनी होती है और उन्हें रिजल्ट के लिए 12 से 24 घंटे का इंतजार करना पड़ता है, वह भी नहीं करना पड़ेगा।



बीजेपी नेता बाबूलाल मरांडी को हुआ कोरोना

 

रांची
झारखंड में शुक्रवार को बीजेपी विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी समेत 1261 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। इसके साथ ही राज्य में कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 77 हजार 709 हो गई है। वहीं आज 6 और कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गई। सूबे में अब तक 661 कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई है। जबकि झारखंड में अब स्वस्थ होने वाले मरीजों का दर राष्ट्रीय औसत से बेहतर हो गई है।

स्वास्थ्य विभाग के कोविड-19 बुलेटिन के अनुसार, राज्य में अब तक 64 हजार 515 लोगों ने कोरोना को मात देने में सफलता हासिल की है। स्वस्थ होने वाले 1270 लोगों को आज अस्पताल से छुट्टी मिल गई। वहीं 12 हजार 533 सक्रिय मरीजों का इलाज अब भी विभिन्न कोविड-19 वार्ड में चल रहा है। राज्य में अब तक 19 लाख 90 हजार 078 सैंपल की जांच हो चुकी है।



शराब के साथ पकड़ा गया आरोपी

 

 भीलवाड़ा हलचल ।शहर की भीमगंज थाना पुलिस पर अवैध शराब के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है पीएम ने थाना प्रभारी मेघनाथ त्रिपाठी ने बताया कि पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा के आदेश पर भीलवाड़ा में पंचायती राज चुनाव और अपराधियों पर अंकुश के साथ ही नशाखोरी के खिलाफ विशेष अभियान चलाया जा रहा है इसी के तहत पुलिस ने आदर्श नगर इलाके से 22 पेटी और 10 बोतल शराब के साथ धर्मेंद्र सासी को गिरफ्तार किया है आरोपित के खिलाफ पुलिस ने आबकारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया।



जय श्री कोटड़ी श्याम दरबार आज मंगला श्रृंगार आरती के दर्शन


पूर्वी यूक्रेन में सैन्य विमान दुर्घटनाग्रस्त, 25 की मौत

 

यूक्रेन । कीव (स्पूतनिक) यूक्रेन के खार्किव क्षेत्र में एक सैन्य विमान दुर्घटनाग्रस्त होने कम से कम 25 लोगों की मौत हो गयी।
यूक्रेन के सरकारी अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।
अधिकारियों ने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त विमान में तीन सैन्य पायलट तथा कोझेदुब वायुसेना संस्थान के जवान सवार थे। दुर्घटना के समय विमान में चालक दल के सात सदस्यों सहित 27 लोग सवार थे। अधिकारियों ने बताया कि विमान लैंडिंग के समय दुर्घटनाग्रस्त हुआ।
महाभियोजक कार्यालय ने बयान जारी कर कहा, "प्रारंभिक सूचना के मुताबिक अभी तक 25 लोगों की मौत हुई है तथा दो लोग घायल हुए हैं। घायलों की स्थिति गंभीर है और उनका उपचार किया जा रहा है।"
प्रांतीय गवर्नर ओलेक्सी कुचर के अनुसार यह दुर्घटना विमान का इंजन फेल होने की वजह से हुई। उन्होंने कहा, "जैसा कि मुझे सूचना मिली है कि पायलट ने दुर्घटना से पहले इंजन फेल होने की सूचना दी थी। अभी तक यह स्पष्ट है कि इसके बाद क्या हुआ। इसका खुलासा जांच के बाद होगा।
उन्होंने कहा, "हम पूरी परिस्थिति और दुर्घटना की वजहों का पता लगाने के लिए तत्काल एक आयोग का गठन कर रहे हैं। मैंने प्रधानमंत्री को संबंधित निर्देश दिए हैं। एक जांच दल पहले से ही मौके पर काम कर रहा है। कल मैं खार्किव क्षेत्र में जाऊंगा। ', 25 की मौत



एक अक्तूबर से ये चीजें बदल जायेंगी, आपके लिए जानना है जरूरी

 

टीवी खरीदना होगा महंगा


अक्तूबर महीने से टीवी खरीदना महंगा हो जायेगा. टीवी उद्योग से जुड़े पांच प्रतिशत कस्टम ड्‌यूटी को सरकार ने एक साल के लिए रद्द किया था जिसकी अवधि 30 सितंबर को खत्म हो रही है जिसके कारण टीवी के दाम में वृद्धि होगी. टीवी के मूल्य में 600 से 1500 रुपये तक की वृद्धि होगी.


फेसबुक पर शेयर नहीं कर पायेंगे कोई न्यूएक अक्तूबर से फेसबुक और इंस्टाग्राम ने अपने नियमों में बदलाव किया है और कोई भी प्रकाशक या कोई व्यक्ति स्थानीय या अंतरराष्ट्रीय खबरों को फेसबुक पर शेयर नहीं कर पायेगा. साथ ही फेसबुक ने अपने यूजर के लिए कई तरह के बदलाव किये हैं, जिसे जानना आपके के लिए बहुत जरूरी है.


 


7 लाख रुपये से ज्यादा विदेश भेजने पर लगेगा TCS


अगले महीने से देश में एक नया नियम TCS (Tax Collected at Source लागू हो रहा है. आयकर विभाग ने सेक्शन 206C (1G) के तहत TCS का दायरा बढ़ाते हुए इसे लिबरलाइज्ड रेमिटेंस स्कीम (LRS) पर भी लागू करने का फैसला किया है. रेमिटेंस यानी देश से बाहर भेजा गया पैसा. रेमिटेंस किसी भी रूप में हो सकता है. ट्रैवल, शिक्षा या फिर निवेश के रूप में भी हो सकती है. यह नया नियम फाइनेंस एक्ट 2020 के तहत लागू किया गया है.


मध्यप्रदेश के कई विश्वविद्यालयों में शुरू होंगे रेडियो क्लास


मध्यप्रदेश के चार बड़े विश्वविद्यालयों में एक अक्तूबर से अंडरग्रेजुएट और ग्रेजुएट के लिए क्लासेस शुरू होंगी. सेशन 2020-21 के लिए रेडियो पर लेक्चर का प्रसारण होगा. आडियो-वीडियो लेक्चर को विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड भी किया जायेगा.


 


30 सितंबर के बाद राशन कार्ड आधार से लिंक नहीं होगा


गरीबों को राशन उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने उन्हें 30 सितंबर तक का समय राशन कार्ड को आधार से लिंक कराने के लिए दिया है. लेकिन 30 सितंबर के बाद लोगों को यह सुविधा उपलब्ध नहीं होगी, जिसके कारण उन्हें राशन मिलने में परेशानी होगी.


 

भारतीयों की जिंदादिली ने अर्थव्यवस्था को संभाला, 8 कोर सेक्टर्स में पा

 

कोरोना के बढ़ते मामलों के बावजूद भारतीयों की जिंदादिली ने देश की अर्थव्यवस्था को संभालने का काम किया है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय अर्थव्यवस्था में गिरावट रुकने और स्थिर होने के संकेत अगस्त महीने में मिले हैं। यानी, भारतीय अर्थव्यवस्था में गिरावट का दौर खत्म हो गया है। यह मैन्युफैक्चरिंग (विर्निमाण) और सेवा क्षेत्र में लगातार हो रहे सुधार के कारण हुआ है।


ये पांच सूचक दे रहे सुधारक के संकेत


1. पेट्रोल और डीजल की मांग में बढ़ोतरी


 


2. बिजली की मांग 90% तक पहुंची


3. टो संग्रह में लगातार हो रही वृद्धि


4. जीएसटी संग्रह में गिरावट के बाद सुधार


5. ई-वे बिल की संख्या में बढ़ोतरी जारी


रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय अर्थव्यवस्था के आठ कोर सेक्टर्स में पांच में सुधार हुआ है। वहीं, दो में बदलाव नहीं औैर एक में गिरावट दर्ज की गई है। रिपोर्ट के अुनसार लोगों की जिंदादिली (एनिमल स्पिरिट) ने अर्थव्यवस्था को नीचे लुढ़ने से रोका है। कोरोना और लॉकडाउन के कारण तीन महीने तक भारतीय अर्थव्यवस्था एकदम रुक गई थी। इससे अर्थव्यवस्था में बड़ी गिरावट चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में आई थी।


भारतीय जीडीपी पहली तिमाही में करीब 24 फीसदी नीचे लुढ़क गई थी लेकिन तीन महीने के बाद अगस्त में एक बार फिर से मांग बढ़ी है। यह भारतीय अर्थव्यवस्था को स्थिर करने का काम कर रहा है। हालांकि, अभी भी अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से रफ्तार में आने में लंबा वक्त लगेगा क्योंकि कोरोना के बढ़ते मामले से आर्थिक गतिविधियां लगातार बाधित हो रही हैं। इसके चलते कई रेटिंग एजेंसियों और अर्थशास्त्रतियों ने भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर पहले लगाए गए अनुमान में कमी की है।


कारोबार जगत में लगातार सुधार


                                       14


रिपोर्ट के अनुसार, भारत के सेवा क्षेत्र में लगातार सुधार हो रहा है। सेवा क्षेत्र का सूचकांक अगस्त में बढ़कर 41.8 हो गया जो जुलाई महीने में 34.2 था। वहीं, अप्रैल में यह गिरकर 5.4 पर पहुंच गया था। यह सूचकांक इस बात के संकेत हैं कि भारतीय अर्थव्यवस्था में लगातार सुधार हो रहा है। हालांकि, 50 50 से नीचे की संख्या यह बताती है कि अभी भी भारतीय अर्थव्यवस्था संकुचन में है। इसी तरह मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर चार महीने लगातार संकुचन के बाद अगस्त में उछला है।


निर्यात पर संकट बरकरार


export  photo - mint


निर्यात के मार्चे पर अभी भी संकट बरकार है क्योंकि दुनिया के अधिकांश देश कोरोना से लड़ाई लड़ रहे हैं। इसके चलते पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले इस साल अगस्त में शिपमेंट में 12.7 फीसदी की गिरावट आई है। हालांकि, दवा और फार्मास्युटिकल्स निर्यात का शिपमेंट क्रमशः 22% और 17% बढ़ा है। वहीं, दूसरी ओर त्योहारों को देखते हुए सोने की मांग बढ़ी थी जिससे व्यापार घटा बढ़ा है।


उपभोक्ताओं की ओर से मांग बढ़ी


liquor store in shopping mall


लॉकडाउन में ढील के बाद से उपभोक्ता गतिविधि में लगातार सुधार हो रहा है। अगस्त महीने में गाड़ियों की बिक्री पिछले साल के मुकाबले 14.10 फीसदी बढ़ी। यह संकेत हैं कि बाजार में मांग फिर से लौट रही है। रिटेल सेल्स में भी लगातार सुधार हो रहा है। खुदरा दुकानदारों की बिक्री बढ़ी है लेकिन अभी भी सालाना अधार पर 70 फीसदी कम है। इस सब के बीच लोन की मांग नहीं बढ़ी है जो एक चिंता का विषय है। सेंट्रल बैंक के डेटा के अनुसार, लोन की मांग अगस्त महीने में 5.5 फीसदी बढ़ी जबकि पिछले साल समान अवधि में यह 12 फीसदी की दर से बढ़ी थी।


औद्योगिक मोर्चे पर भी राहत


food processing industry


 


जुलाई में औद्योगिक उत्पादन 10.4% गिरा था। वहीं, जून में यह 15.8% गिरा था। कैपिटल गुड्स आउटपुट जो अर्थव्यवस्था में मांग का एक प्रमुख संकेतक 22.8% गिरा था। इंफ्रास्ट्रक्चर में भी गिरावट दर्ज की गई लेकिन सभी सेक्टर्स में सुधार के संकेत मिल रहे हैं। अर्थशास्त्रियों का कहना है कि आने वाले महीने में और सुधार होंगे और अर्थव्यवस्था तेजी से पटरी पर लौटेगी।



खाखलिया श्याम गौशाला में लगाये कल्पवृक्ष

 

भीलवाड़ा (हलचल) नवग्रह वाटिका कपासन तहसील के तुरकिया खुर्द गांव में स्थित जय खाखलिया श्याम गौ सेवा संस्थान   के तत्वावधान में कल्पवृक्ष रौपन हुआ एवं आध्यात्मिक महत्त्व के वृक्षों के रौपन की चर्चा हुई यह जानकारी देते हुए संस्थान के धर्मराज जाट ने बताया कि गौ शाल परिषर में कल्पवृक्ष रौपन चित्तौड़गढ़ के पर्यावरण प्रेमी धर्मपाल गोयल,सुनील अग्रवाल  सरपंच प्रतिनिधि राधेश्याम राव सत्यनाराण लोहार राधेश्याम पांडिया के हाथों हुआ  साथ ही शीघ्र ही गौशाला परिषर में नवग्रह वाटिका लगाने पर सहमति बनी नवग्रह वाटिका के बारे में जानकारी देते हुए पर्यावरणविद धर्मपाल गोयल ने बताया कि भारतीय ग्रंथो में वृक्षो का पर्यापत वर्णन है तथा आयुर्वेद सम्पूर्ण रूप से वन औषधियों को समर्पित है इसी प्रकार मानव को सबसे अधिक नवग्रह प्रभावित करते है उनका अनुकूलन वृक्ष लगा के किया जा सकता है यह पुराणों में वर्णन है कार्यक्रम में अन्य औषधीय वृक्ष लगाने पर चर्चा हुई इस दौरान सत्यनारायण लौहार , राधेश्याम जी पाण्डिया सरपंच प्रतिनिधि राधेश्यामजी राव,मांगू खा पिंजरा गौरव टांक मनोज टांक आदि उपस्थित रहे।



हिन्दू हेल्प लाइन एप लॉन्च

 

भीलवाड़ा (हलचल) । अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष केंसर सर्जन डॉ प्रवीण भाई तोगड़िया द्वारा हिन्दुओ की विश्वसनीय मित्र हिन्दू हेल्प लाइन एप को फेसबुक लाइव पर लॉन्च किया गया।लांचिंग के समय हिन्दू हेल्प लाइन के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय कुमार रेड्डी,राष्ट्रीय महामंत्री डॉ दिनेश अग्रवाल उपस्थित थे।विजय कुमार रेड्डी ने जानकारी देते हुए बताया कि आज पूरे देश मे पांच सौ स्थान पर हिन्दू हेल्प लाइन के महामंत्री राज्य,विभाग,जिला केंद्र पर काम कर रहे है।
हिंदू हेल्पलाइन की स्थापना कर हिंदुओं को मेडिकल, प्रशासनिक, न्याय, आवास-प्रवास व धार्मिक समस्याओं के समाधान के लिए पूरे भारत में सहायता 2009 से उपलब्ध करवाया जा रहा हैं।पहले टोल फ्री न से सहायता की जा रही थी।अब एप्प के द्वारा भी रजिस्ट्रशन कर कहि भी सहायता ली जा सकती हैं।
डॉ प्रवीण तोगड़िया ने एप का उदघाटन करते हुए कहा कि देश का सौ करोड़ हिन्दू मेरा परिवार हैं।उसे कहि भी किसी भी जिले में 24 घंटे कोई भी सहायता की आवश्यक्ता होगी तो हिन्दू हेल्प लाइन के कोर्डिनेटर मदद करेंगे।यह एप गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता हैं।एप लॉन्च के बाद रात्रि 10 बजे गूगल मीट पर देश भर हिन्दू हेल्प लाइन कोर्डिनेटर से बातचीत कर उन्हें एप्प के द्वारा आ रही सहायता मांगने वालो की मदद कैसे की जाए उसकी जानकारी दी गयी।
गूगल मीटिंग में हिन्दू हेल्प लाइन चितौड़ प्रान्त पालक विनीत द्विवेदी, जिला प्रभारी राजेन्द्र शर्मा, बृजेश पारीक,भारतीय मानव अधिकार एसोसियन के जिला अध्यक्ष लक्ष्मी नारायण व्यास ने भाग लिया।



गजब है... नकली रेमडेसिविर लेने से ठीक हो गए 90 फीसदी कोरोना मरीज, पुलिस भी हैरान

  भोपाल ।कोरोना की दूसरी लहर में रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग में एका-एक बढ़ोतरी हो गई है। हालांकि, इस बीच कई राज्यों में नकली रेमडेसिविर बेच...