Thursday, December 31, 2020

सस्ती कार खरीदने का आज आखिरी मौका, 1 जनवरी से बढ़ जाएगी फोर-व्हीलर्स की कीमत

 


नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। भारत में 31 दिसंबर यानी आज का दिन बेहद ख़ास है, ऐसा इसलिए है क्योंकि 1 जनवरी से दिग्गज कार निर्माता कंपनियां अपने वाहनों की कीमत बढ़ाने जा रही हैं। कल से आपको कार खरीदने के लिए पहले से ज्यादा कीमत चुकानी पड़ेगी हालांकि वाहनों की कीमत में कंपनियां कुछ ही फीसद का इजाफा करने जा रही हैं, इसके बावजूद ग्राहकों की जेब पर बोझ पड़ना तय है। साल 2020 ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री के लिए कुछ ख़ास नहीं रहा है, जहां एक तरफ सेक्टर मंदी की मार झेल रहा था वहीं कोविड-19 की वजह से हालात और भी खराब हो गए। हालत तो ये थी कि वाहनों की बिक्री का स्तर काफी नीचे आ गया जिसके चलते कंपनियों को काफी नुकसान झेला पड़ा है।

क्या हैं कीमत बढ़ने के कारण

भारत में 1 अप्रैल 2020 से नये BS6 नॉर्म्स को लागू कर दिए गये हैं जिसके बाद देश भर में पुराने BS4 वाहनों को रिप्लेस करके उनकी जगह पर BS6 वाहनों की बिक्री शुरू कर दी गई है। इस नियम के चलते कंपनियों के पास भारी संख्या में पुराने नॉर्म्स वाला वाहनों का स्टॉक बचा रह गया। नतीजतन कंपनियों को इससे काफी नुकसान झेलना पड़ा है। इसके साथ ही नये नॉर्म्स वाले इंजन और इसके इक्विपमेंट्स की कीमत पुराने नॉर्म्स वाले वाहनों की तुलना में ज्यादा है, हालांकि कंपनियों ने कीमत में ज्यादा बढ़ोत्तरी नहीं की है जिसके चलते भी काफी नुकसान हुआ है और यही सब वजहें हैं जिनके चलते कार निर्माता कंपनियों को अपने वाहनों की कीमत बढ़ानी पड़ रही है।

इसके अलावा कोविड-19 की वजह से वाहनों को तैयार करने के लिए इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल की उपलब्धता भी प्रभावित हुई है जिसकी वजह से इनकी कीमत में बढ़ोत्तरी आई है। प्लास्टिक और स्टील अब पहले के मुकाबले महंगा हो गया है, नतीजतन इसके इस्तेमाल से कारों की कीमत भी बढ़ जाएगी। यही नहीं प्रोडक्शन प्लांट पर अब पहले के मुकाबले काफी कम कर्मचारी काम कर रहे हैं जिससे प्रोडक्शन स्पीड काफी कम हो गई है और कंपनियां नुकसान झेलने को मजबूर हैं। ये सब कारण वाहनों की कीमत बढ़ने के लिए जिम्मेदार हैं।

ये कंपनियां बढ़ाएंगी अपनी कारों की कीमत

अगर कीमत बढ़ाने की बात करें तो इस रेस में मारुति सुजुकी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, स्कॉडा, एमजी मोटर्स, टाटा मोटर्स, होंडा कार्स, रेनॉ, हुंडई, डैटसन, निसान, किआ मोटर्स, बीएमडब्लू ,फोर्ड, फॉक्सवैगन आदि शामिल हैं। इन कंपनियों की कारें खरीदने के लिए आपको बढ़ी हुई कीमत चुकानी पड़ेगी। कीमत मामूली बढ़ोत्तरी हुई है लेकिन ग्राहकों की जेब पर फिर भी बोझ पड़ेगा, साथ ही डिस्काउंट ऑफर भी कुछ दिनों तक रोके जा सकते हैं।

 

ममता के भतीजे अभिषेक के करीबी TMC नेता विनय मिश्रा के ठिकानों पर CBI की रेड



कोलकाता । पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के एक नेता के कई ठिकानों पर सीबीआई ने छापेमारी की है। सीबीआई ने पश्चिम बंगाल में मवेशी तस्करी के सिलसिले में तृणमूल कांग्रेस नेता विनय मिश्रा के ठिकानों सहित कई स्थानों की तलाशी ली। अधिकारी की मानें तो मवेशी तस्करी के मामले में सीबीआई ने तृणमूल कांग्रेस नेता विनय मिश्रा के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया है। टीएमसी नेता विनय मिश्रा सांसद अभिषेक बनर्जी के काफी करीबी माने जाते हैं और अभिषेक बनर्जी बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे हैं। 

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, अधिकारी ने कहा कि मवेशी तस्करी के सिलसिले में गुरुवार को पश्चिम बंगाल में टीएमसी नेता वियन मिश्रा के कई ठिकानों पर सीबीआई ने छापेमारी की। उन्होंने कहा कि एजेंसी ने उन्हें देश छोड़ने से रोकने के लिए मिश्रा के खिलाफ एक लुक आउट सर्कुलर भी जारी किया है।

अधिकारी ने बताया कि सीबीआई कोलकाता में मिश्रा के दो ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। बीते दिनों एजेंसी ने तस्करी मामले के सिलसिले में पश्चिम बंगाल में पशु तस्करी के एक कथित किंगपिन और बीएसएफ के दो अधिकारियों को गिरफ्तार किया था। अधिकारी के मुताबिक, सीबीआई ने प्रारंभिक जांच की थी, जिसमें पता चला था कि भारत-बांग्लादेश सीमा पर खूब पशु तस्करी होती है, जिसमें तस्करों को कथित तौर पर बीएसएफ के कुछ भ्रष्ट अधिकारियों और कस्टम अधिकारियों का सहायता प्राप्त है।

सीबीआई के इस एक्शन के बाद भारतीय जनता पार्टी के नेता कैलाश विजयर्गीय का ट्वीट आया है। उन्होंने ट्वीट किया, 'बंगाल के एक पॉवर ब्रोकर विनय मिश्रा के यहां सीबीआई के छापे के बाद बंगाल के उच्च अधिकारियों की आपातकालीन बैठक और मुख्यमंत्री एवं भाइयों के यहां हलचल, प्रदेश में चर्चा का विषय है!'

गौरतलब है कि भारत और बांग्लादेश की सीमा पर मवेशियों की तस्करी के कई मामले सामने आए हैं। ऐसा माना जाता है कि अधिकारियों, स्थानयी नेताओं और तस्करों के के मिली-भगत से ही सीमा पार मवेशियों की तस्करी होती है। सीबीआई पिछले कुछ समय से इस मामले पर नजर बनाई हुई है। 

समाजसेवी रामगोपाल जागेटिया की अंत्येष्टि, बेटियों ने दिया कंधा

 


शाहपुरा (मूलचंद पेसवानी)। शाहपुरा के समाजसेवी व व्यापार मंडल के पूर्व अध्यक्ष लालूराम जागेटिया के बड़े भाई रामगोपाल जागेटिया की आज अंत्येष्टि फुलिया गेट मोक्ष धाम में हुई। उनकी तीनों पुत्रियों ने उनको कंधा देकर नया बाजार स्थित आवास से अंतिम विदाई दी। वो 88 वर्ष के थे। जागेटिया के निधन से शाहपुरा में शोक की लहर छा गयी है। अंतिम संस्कार में भीलवाड़ा के सांसद सुभाष बहेड़िया सहित शाहपुरा के जनप्रतिनिधियों व सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने शिरकत की।

रामगोपाल जागेटिया पिछले कुछ दिनों से जयपुर में उपचार करा रहे थे। घर पर ही गिरने से उनका उपचार चल रहा था। बुधवार को जयपुर में उनका निधन हो गया था। आज नया बाजार स्थित निवास से अंतिम यात्रा प्रारम्भ हुई व फुलिया गेट मोक्ष धाम में अंतिम संस्कार किया गया।

रामगोपाल जागेटिया की तीनों पुत्रियों प्रतिभा, प्रीति व सीमा ने अपने पिता की अर्थी को कंधा देकर अपनी भावनाओं का इजहार किया कि पुत्र व पुत्री समान है।


हाइवे पर सिर कुचली लाश मिली, फैली सनसनी

 



 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। अजमेर हाइवे पर मांडल-रायला थाने की सीमा पर गुरुवार सुबह एक युवक की सिर व हाथ कुचली लाश मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में कर रायला अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवाया है। मृतक हरियाणा निवासी बताया जा रहा है। पुलिस इसे दुर्घटना का मामला मानते हुये मृतक के चालक या खलासी होने की बात कही है, लेकिन मृतक का कोई वाहन आस-पास नहीं मिला। 
पुलिस सूत्रों के अनुसार, भीलवाड़ा-अजमेर हाइवे पर मांडल-रायला थाने की सीमा पर स्थित रायसिंहपुरा के नजदीक गुरुवार अल सुबह लोगों ने एक युवक की सिर व हाथ कुचली लाश देखकर पुलिस को सूचना दी। रायला पुलिस मौके पर पहुंची, जहां हाइवे पर करीब 26 वर्षीय युवक की क्षत-विक्षत लाश पड़ी मिली। पुलिस ने मृतक के पहने कपड़ों की तलाशी ली, जिसमें आधार कार्ड व अन्य दस्तावेज मिले, जिनके आधार पर शव की पहचान हरियाणा के जिंद जिले के सेवाहा निवासी दीपक पुत्र रामपाल के रूप में कर ली। पुलिस ने गांव के सरपंच से बात की, जिसने बताया कि दीपक दो माह से घर नहीं लौटा है। उधर, पुलिस इसे दुर्घटना का मामला मान रही है। साथ ही मृतक के चालक-खलासी होने की आशंका जताई हेै, लेकिन दुर्घटनास्थल और आस-पास में कोई वाहन पुलिस को नहीं मिला है। 

हाई वोल्टेज से किराने की दुकान का जला सामान, विद्युत विभाग पर लगाया लापरवाही का आरोप


बनेड़ा ( केके भण्डारी ) । बनेड़ा क्षेत्र के कुंवार गांव में आज सुबह लगभग 11 बजे हाई वोल्टेज से किराना की दुकान में आग लग गई जिससे उसमें रखा सारा सामान जलकर राख हो गया । सुरेश शर्मा ने बताया कि कुंवार गांव में बिजली विभाग की लापरवाही के कारण हाई वोल्टेज से राधेश्याम गिरी पिता भेरु गिरी गोस्वामी की किराने की दुकान में आग लग गई जिससे दुकान में रखा किराने का सारा सामान तथा फ्रिज जलकर राख हो गया । हालांकि वास्तविक नुकसान पता आंकलन के बाद ही लग पाएगा । दुकान मालिक राधेश्याम ने विद्युत विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए उचित कानूनी कार्यवाही की मांग की ।


भाजपा गणेश मंडल ने किया मास्क वितरण



भीलवाड़ा (हलचल)। कोरोना महामारी के प्रकोप से बचने के लिए गणेश मंदिर के सामने मास्क वितरण किये । कार्यक्रम संयोजिका रूपल कुमारी ने बताया मंडल अध्यक्ष घनश्याम सिंघीवाल महामंत्री राधेश्याम सोमानी उपाध्यक्ष गोपाल बंसल गोवर्धन सिंह कटार राजेश शर्मा स्वाति  सोनी मंत्री कलावती  अजमेरा भूपेंद्र  मोगरा शंभू लाल सोनी अशोकजी खंडेलवाल माैैैैजूद थे । 

बनेड़ा में मेट प्रशिक्षण आयोजित

 

भीलवाड़ा (हलचल)।  पूरा काम पूरा दाम अभियान के तहत ब्लॉक बनेड़ा में मेट प्रशिक्षण आयोजित किया गया जिसमें पूरा काम हो सके। कार्यस्थल पर तकनीकी एवं गतिविधियां को फोकस करने के लिए सुझाव दिए गए तथा महा नरेगा योजना के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए पूरी संपत्ति निर्माण एवं जल संरक्षण के काम एवं वनस्पति विकास के कार्य हो जिससे गांव की आजीविका पर प्रभाव पड़े इस थीम को लेकर दो   बेच  में प्रशिक्षण आयोजित किया गया प्रशिक्षणार्थियों  की संख्या लगभग 300 को प्रशिक्षित किया।


कुवाड़ा में अतिक्रमण पर चला पीला पंजा, कई मकान व पक्के निर्माणों को किया ध्वस्त

 




 भीलवाड़ा संपत माली। शहर के कुवाड़ा गांव क्षेत्र में नगर विकास न्यास की जमीन पर अतिक्रमण कर बनाये गये मकान व करीब दो दर्जन पक्के निर्माणों को नगर विकास न्यास के अतिक्रमण निरोधक दस्ते ने ध्वस्त कर दिया। इस कार्रवाई से अतिक्रमियों में खलबली मच गई। कार्रवाई की जद में आये अतिक्रमियों में कुछ ऐसे लोग भी हैं जिन्होंने ये भूखंड भू माफियाआ से झांसे में आकर खरीदे थे। इस कार्रवाई के बाद कुछ परिवार बेघर हो गये और उन्हें सर्दी में खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर होना पड़ रहा है। 
न्यास व पुलिस सूत्रों के अनुसार, कुवाड़ा गांव में नगर विकास न्यास की जमीन पर अतिक्रमण की सूचना पर न्यास तहसीलदार लवाजमे के साथ बुधवार को कुवाड़ा पहुंचे। जहां उन्होंने जेसीबी की मदद से चार से पांच पक्के ऐसे मकान, जिनमें फैमिली रह रही थी, उनके साथ ही नींव भरने सहित करीब दो दर्जन अतिक्रमणों को ध्वस्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी। इससे पहले न्यास ने ये मकान खाली करवा दिये। तोडफ़ोड़ की कार्रवाई फिल्हाल जारी है।  उधर, यह बात भी सामने आई कि भोले-भाले कुछ लोगों ने भूमाफियाओं के झांसे में आकर भूखंड खरीदे और उन पर निर्माण करवा लिया था। ये खरीदार इस बात से अनजान थे कि यह जमीन भूमाफियाओं की नहीं, बल्कि नगर विकास न्यास की है। ऐसे परिवार अब सर्दी के बीच खुले में रहने को विवश हो गये हैं। मौके पर यूआईटी तहसीलदार के साथ ही सुभाषनगर थाना प्रभारी पुष्पा कासौटिया पुलिस जाब्ते के साथ मौजूद है। 

VIDEO : छेड़छाड़ व मारपीट के दो मामलों से आरोपितों के नाम हटाने की एवज में हैडकांस्टेबल ने ली सात हजार की रिश्वत, चढ़ा एसीबी के हत्थे

   भीलवाड़ा (हलचल)। नये साल से ठीक एक दिन पहले भीलवाड़ा की खाकी पर भ्रष्टाचार का एक और आरोप लगा है। बुधवार को पंडेर थाने का हैडकांस्टेबल मुकेशकुमार मेहतर सात हजार रुपये की रिश्वत लेते एसीबी के हत्थे चढ़ गया। हैडकांस्टेबल ने यह रिश्वत राशि एक ग्रामीण से उसके व परिजनों के खिलाफ दर्ज छेड़छाड़ व मारपीट के मामले से आरोपितों के नाम हटाने की एवज में ली। एसीबी की कार्रवाई के बाद पंडेर थाना स्टॉफ में खलबली मच गई। बता दें कि 4 दिन पहले ही कोटड़ी थाने का एक एएसआई ट्रैप हो चुका है। 

एसीबी स्पेशल यूनिट के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बृजराजसिंह चारण ने हलचल को बताया कि पंडेर थाने के बिहाड़ा क्षेत्र निवासी संतोष कुमार गुर्जर व उसके परिवारजनों के खिलाफ पंडेर थाने में मारपीट व छेड़छाड़ के दो मुकदमे 165/20 और 170/20 दर्ज हैं। इसकी जांच पंडेर थाने का हैडकांस्टेबल उदयभान गेट, शाहपुरा निवासी दीवान मुकेश कुमार पुत्र जगदीशचंद्र मेहतर कर रहा था। इन दो मामलों से आरोपितों के नाम हटाने की एवज में हैडकांस्टेबल मुकेश ने परिवादी संतोष कुमार से 10 हजार रुपये रिश्वत की मांग की गई। इसे लेकर परिवादी संतोष ने हैडकांस्टेबल की एसीबी में शिकायत की। एसीबी ने 25 दिसंबर को शिकायत का सत्यापन करवाया। सत्यापन के दौरान हैडकांस्टेबल ने 3 हजार रुपये संतोष गुर्जर से ले लिये। सात हजार रुपये की और मांग की। सत्यापन के बाद एसीबी ने ट्रैप की योजना तैयार की। इसी के तहत  एसीबी की टीम ने परिवादी संतोष कुमार को 7 हजार रुपए की राशि के साथ हैडकांस्टेबल के पास भेजा। हैडकांस्टेबल ने रिश्वत राशि प्राप्त कर अपने जैकेट की जेब में रख ली। इसी दौरान परिवादी का संकेत पाकर एसीबी टीम मौके पर पहुंची और हेड कांस्टेबल मुकेश कुमारको रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। इस कार्रवाई को एएसपी चारण के निर्देशन और पुलिस निरीक्षक दीपिका राठौड़ के नेतृत्व में हेड कांस्टेबल रामपाल तेली, गोपाल, जयंत और शिवराज व हेमेन्द्र सिंह ने अंजाम दिया। 



खुले मैदानों में जमी बर्फ, पारा स्थिर जनजीवन प्रभावित

 


सवाईपुर ( सांवर वैष्णव ) सवाईपुर कस्बे सहित सोपुरा, सालरिया, ढ़ेलाणा, बड़ला, बनकाखेड़ा, चावंडिया, ककरोलिया माफी, लसाड़िया, खजीना कालिरड़िया जित्यास नोहरा सबला जी का खेड़ा गुवारड़ी रेड़वास पीथास सोलकिया का खेड़ा महेशपुरा आदि आसपास के क्षेत्रों में सर्दी का टॉर्चर जारी है, दो दिन से रात का पारा स्थिर बना हुआ है, पारा 0.9 डिग्री दर्ज है, खुले मैदानों, खेतों की मेड़ों व फसलों तथा खुले मे पड़े बर्तनों में बर्फ की परते जम गई | ग्रामीण सर्दी के सितम से बचने के लिए अलाव का सहारा लेते दिखाई दे रहे हैं, बुजुर्ग व बच्चे सुबह शाम को गर्म कपड़ों में दुबके हुए रहते हैं, घरों में दाल ढोकले व दाल बाटी का व्यजन बनाये जा रहे हैं !

कोरोना काल में खाकी ने दिखाया मानवीय चेहरा, भूखे को भोजन, बीमार को दवा,हलचल भी नही रहा पीछे

 


भीलवाड़ा( हलचल )कोरोना कॉल में  स्वयंसेवी संगठनों के साथ-साथ पुलिस ने भी  भूखे को भोजन  तो कराए ही साथी  कई तरह की मदद भी की और कानून आस्था बनाए रखने में भी लॉकडाउन के दौरान अलर्ट रहे
वर्ष 2020 सभी के लिए दुखदाई रहा है और इसकी शुरुआत भीलवाड़ा में एक निजी अस्पताल में कोरोना संक्रमित मिलने के साथ हुई इससे पहले सबकुछ ठीक था। उसके बाद शुरू हुआ कोरोना काल और लाकडाउन। डेढ़ महीने तक लोगों को घरों में कैद होना पड़ा। सड़कों से लेकर गलियों तक पुलिस का पहरा। बेवक्त और बेवजह बाहर घूमने वालों को कभी फटकार तो कभी डंडे के बल पर अंदर करना पड़ा। मगर इस बुरे दौर ने खाकी के मानवीय चेहरे से भी लोगों को रूबरू करवाया।  पुलिस के काम इंटरनेट मीडिया पर छाए रहे। भूखे को भोजन, बीमार को दवा  भी मुहैया करवाई गई। इन नेक कामों ने लोगों के दिलों में पुलिस की पुरानी छवि और धारणा को काफी हद तक बदला भी।

 

कोरोना काल में पुलिस की चुनौतियां काफी बढ़ चुकी थी। लाकडाउन का पालन करवाना। चेकिंग कर कार्रवाई करना। बार्डरों पर बगैर अनुमति किसी को प्रवेश नहीं देने  की जिम्मेदारी उस पर थी। इसके अलावा कंटेनमेंट जोन के हंगामों से निपटने के लिए भी अलग से तैयारी करनी पड़ी। लाकडाउन में सिपाही से लेकर एसपी तक सड़कों पर नजर आए।

 


कई थाने ऐसे थे। जहां सिपाही से लेकर दारोगा तक ने  जमकर लोगों से मदद की ।  पुलिस ने साबित कर दिया कि वो हकीकत मेंं 'मित्र' पुलिस है।

*भीलवाड़ा हलचल* ने भी करीब 2000 लोगों को चाय पत्ती दाल चावल तेल आटा नमक मिर्ची और हल्दी उपलब्ध कराइए भीलवाड़ा शहर के अधिकांश समाचार पत्रों के होकर्स के करो तक बियर सामान पहुंचाया ताकि उनका जीवन भी संकट में ना आए भीलवाड़ा में सबसे बड़ा भोजन पहुंचाने का काम अग्रवाल समाज द्वारा किया गया इसके अलावा विभिन्न समाज के लोगों ने भी अपने स्तर पर कोरोना संक्रमण काल के दौरान लोगों को विभिन्न तरह की मदद पहुंचाई है

PM मोदी आज गुजरात के राजकोट में एम्स की रखेंगे आधारशिला

 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज गुजरात के राजकोट में एम्स की आधारशिला रखेंगे। लगभग 1,195 करोड़ रुपये की लागत वाली इस परियोजना के 2022 के मध्य तक पूरा होने की उम्मीद है। प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुबह 11 बजे आधारशिला रखेंगे।

प्रधानमंत्री कार्यालय के एक बयान से पता चला है कि इस प्रोजेक्ट के लिए 201 एकड़ भूमि आवंटित की गई है।

बयान में कहा, "परियोजना अनुमानित 1,195 करोड़ रुपये की लागत से बनाई जाएगी, और 2022 के मध्य तक पूरा होने की उम्मीद है। अस्पताल में 750 बेड होंगे, वहीं आयुष ब्लॉक में 30 बेड होगा। इसमें 125 एमबीबीएस का सीट होगा, जबकि 60 सीटें नर्सिग बेड के लिए बनेगा।"

गुजरात के राज्यपाल, गुजरात के मुख्यमंत्री, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री भी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे।
 


सोने के वायदा भाव में गिरावट, चांदी भी हुई सस्ती, जानें क्या रह गए हैं रेट

 



 नई दिल्ली। सोने एवं चांदी के वायदा भाव में गुरुवार को गिरावट देखने को मिली। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) पर सुबह 10:52 बजे फरवरी, 2021 में डिलिवरी वाले सोने का भाव 81 रुपये यानी 0.16 फीसद की गिरावट के साथ 50,054 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेंड कर रहा था। इससे पिछले सत्र में फरवरी, 2021 अनुबंध वाले सोने का दाम 50,135 रुपये प्रति 10 ग्राम पर रहा था। इसी तरह अप्रैल, 2021 में डिलिवरी वाले सोने का दाम 50 रुपये यानी 0.10 फीसद की भाव कमी के साथ 50,095 रुपये प्रति 10 ग्राम पर चल रहा था। बुधवार को अप्रैल, 2021 अनुबंध वाले सोने का रेट 50,145 रुपये प्रति 10 ग्राम पर रहा था।

चांदी की वायदा कीमत 

मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर सुबह 10:52 बजे मार्च, 2021 में डिलिवरी वाली चांदी की कीमत 165 रुपये यानी 0.24 फीसद की गिरावट के साथ 68,449 रुपये प्रति किलोग्राम पर ट्रेंड कर रही थी। इससे पिछले सत्र में मार्च अनुबंध वाली चांदी की कीमत 68,614 रुपये प्रति किलोग्राम पर रही थी। वहीं, मई 2021 में डिलिवरी वाली चांदी की कीमत 68 रुपये यानी 0.10 फीसद की गिरावट के साथ 69,390 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेंड कर रही थी। बुधवार को मई में डिलिवरी वाली चांदी की कीमत 69,458 रुपये प्रति किलोग्राम पर रही थी।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोने का भाव  

ब्लूमबर्ग के मुताबिक कॉमेक्स पर फरवरी, 2021 में डिलिवरी वाले सोने का रेट 1.30 डॉलर यानी 0.07 फीसद की तेजी के साथ 1,894.70 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेंड कर रहा था। वहीं, हाजिर बाजार में सोने का भाव 3.97 डॉलर यानी 0.21 फीसद की गिरावट के साथ 1,890.42 डॉलर प्रति औंस पर चल रहा था। 

वैश्विक स्तर पर चांदी की कीमत

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चांदी की कीमत 0.01 डॉलर यानी 0.05 फीसद की तेजी के साथ 26.59 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेंड कर रही थी। दूसरी ओर हाजिर बाजार में चांदी की कीमत 0.23 डॉलर यानी 0.85 फीसद की गिरावट के साथ 26.44 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेंड कर रही थी। 

आज गुलमर्ग, पहलगाम में होगा नए साल पर जश्न, सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ नाइट स्कीइंग का ले मजा

 



श्रीनगर | बर्फ की सफेद चादर से ढकी कश्मीर घाटी में आज नए साल का जश्न मनाया जाएगा। सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। स्थानीय लोगों के साथ देश भर से घाटी आए पर्यटक इस जश्न में शामिल होंगे। वे सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ-साथ विंटर गेम्स का भी आनंद उठा पाएंगे। जश्न का आयोजन गुलमर्ग और पहलगाम में किया गया है|

कश्मीर पर्यटन विभाग के निदेशक निसार अहमद वानी ने बताया कि गुलमर्ग और पहलगाम में नववर्ष पर आयोजित किए जा रहे कार्यक्रमों में पर्यटकों को घाटी की संकृतिक को दर्शाते रंगारंग कार्यक्रमों के साथ विंटर गेम्स का आनंद उठाने का मौका मिलेगा। इस अवसर पर खासतौर पर नाइट स्कीइंग भी आयोजित किया जा रहा है। सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं, बस पर्यटकों के आने का इंतजार है।

वहीं जम्मू-कश्मीर टूरिस्ट डेवलपमेंट कारपोरेशन के एक अधिकारी ने बताया कि गुलमर्ग, पहलगाम, टंगमर्ग में उनकी सभी हट्स, होटल बुक हैं। नए साल के जश्न में शामिल होने के लिए काफी संख्या में यहां पर्यटक पहुंचे हुए हैं।

इसी बीच गुजरात के अहमदाबाद से बर्फबारी के बीच नया साल मनाने पहुंचे हेमत चौहान ने कहा कि उन्हें कश्मीर में बहुत मजा आ रहा है। उन्होंने अपनी खुशी को जाहिर करते हुए कहा कि मैं गुलमर्ग, पहलगाम और सोनमर्ग जैसे प्रमुख पर्यटन स्थलों पर गया। वहां की खुशसूरती अभी तक उनके मन में बसी हुई है। यह एक अद्भुत अनुभव था। सर्दियों में कश्मीर जाना उनके जीवन का सपना था, जो आज पूरा हुआ है।

वहीं लुधियाना, पंजाब से अपने परिवार के साथ पहुंचे मनीष अग्रवाल का कहना था कि वह कोविड-19 महामारी से तंग आ चुके थे। लॉकडाउन के कारण वह ही नहीं उनके बीवी बच्चे भी तनाव में थे। उसे कम करने के लिए ही वह घाटी में नए साल का जश्न मनाने आए हैं। हम सभी को यहां बहुत मजा आ रहा है। 

2020 में आए 28030 पर्यटक: यात्रा पर प्रतिबंध हटाने के बाद 28030 पर्यटक छुट्टियां मनाने के लिए कश्मीर पहुंचे जिनमें 3808 विदेशी पर्यटक शामिल थे। डायरेक्टर टूरिज्म कश्मीर निसार अहमद वानी ने कहा कि पर्यटन को अधिक से अधिक बढ़ावा देने के लिए निरंतर प्रयास जारी है। हम घाटी में घरेलू और विदेशी पर्यटन को बढ़ावा दे रहे हैं। इसका असर देखने को भी मिल रहा है। नए साल के जश्न में शामिल होने के लिए काफी संख्या में पर्यटक कश्मीर पहुंचे हुए हैं। पर्यटकों को लुभाने के लिए विभाग ने पिछले महीनों में अंतर्राष्ट्रीय पर्वतीय दिवस मनाया। यही नहीं गुलमर्ग में विंटर गेम्स करवाए गए। क्रिसमस बड़ी धूमधाम से मनाया गया। नए साल पर भी विशेष सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ विंटर गेम्स का आयोजन किया जा रहा है।

पाकिस्तान में हिंदुओं के मंदिर को तोड़कर जलाया गया, पुलिस- प्रशासन बना तमाशबीन

 


पेशावर। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के गृह राज्य खैबर पख्तूंख्वा के करक जिले में हिंदुओं के एक मंदिर को सौ से अधिक मुस्लिम कट्टरपंथियों के एक समूह ने तोड़फोड़ कर नष्ट कर दिया। और जब उनका इससे भी मन नहीं भरा तो उसे जला डाला। डेली टाइम्स के मुताबिक पाकिस्तान की सुन्नी देवबंदी विचारधारा की राजनीतिक पार्टी जमीयत उलेमा-ई-इस्लाम-फज्ल (जेयूआइ-एफ) की ओर से आयोजित एक रैली में वक्ताओं के भड़काऊ बयान देने के बाद नारेबाजी करती भीड़ ने मंदिर पर हमला कर दिया था। इसे तोड़ने के बाद इन कट्टरपंथियों ने मंदिर में आग लगाकर उसे जलाया और ढहा दिया। 

कट्टरपंथियों के एक समूह ने मंदिर को तोड़ा  

हालांकि जेयूआइ-एफ की रैली के बाद हुए हमले पर उसके नेता आमिर मौलाना अतौर रहमान ने कहा कि मंदिर को जलाने को लेकर उनकी पार्टी का कोई लेना-देना नहीं है। कराची के एक पत्रकार मुबाशिर जैदी ने ट्वीट करके बताया कि करक जिले में हिंदुओं ने स्थानीय निकाय से एक मंदिर के विस्तार के लिए अनुमति मांगी थी, लेकिन स्थानीय कट्टरपंथियों के एक समूह ने मंदिर पर हमला करके उसे तहस-नहस कर दिया।पुलिस और प्रशासन इस शर्मनाक घटना को तमाशबीन बनकर देखते रहे। इसीतरह एक शोधकर्ता व पत्रकार राबिया महमूद ने मंदिर पर हमले की निंदा करते हुए ट्वीट किया कि पाकिस्तान सरकार भारत में हिंदुत्व के उत्थान से घबराई हुई है और इसीलिए पाकिस्तान के फासीवादी गैर-मुस्लिम पाकिस्तानियों का जीवन नर्क बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस प्रांत में इमरान की पार्टी की ही सरकार है।

2020 ने एकजुटता, प्रकृति रक्षा और जीवन की महत्ता का अहसास कराया, इसी विजन के साथ 2021 में प्रवेश करें

 



 

2020 ने एकजुटता, प्रकृति रक्षा और जीवन की महत्ता का अहसास कराया, इसी विजन के साथ 2021 में प्रवेश करें

कोरोना ने हमें सिखाया कि जीवन बहुत महत्वपूर्ण है।

अब यदि हम वर्ष 2021 से उम्मीदों की बात करें तो इसमें कुछ चीजों का पालन करना बहुत जरूरी है। जैसे-हम शारीरिक दूरी बनाए रखें मास्क लगाएं और भीड़भाड़ वाली जगहों पर सावधानी बरतें। वर्ष 2021 में नई समझदारियों को बढ़ावा देना होगा।

 कोरोना वायरस से उत्पन्न कोविड-19 महामारी के दौरान वर्ष 2020 में लोगों की मानसिकता में क्या बदलाव आया और आने वाले वर्ष 2021 से क्या उम्मीदें हैं? इसे हम आध्यात्मिक दृष्टिकोण से समझें तो कह सकते हैं कि हमारे कितने भी संकल्प हों, कितनी भी उम्मीदें हों और हमारे पास कितनी भी नई योजनाएं हों, परंतु होगा वही जो परमात्मा ने हमारे लिए सोच कर रखा है। जब 2020 शुरू हुआ था तो लोगों ने अपने नए वर्ष के लिए कई संकल्प लिए होंगे, अनेक योजनाएं बनाई होंगी, बहुत सारे सपने देखे होंगे, परंतु वर्ष 2020 ने हमें वह दिखाया जो शायद किसी ने सोचा भी नहीं होगा। इसने हमें बताया है कि योजनाएं बनाना और उन्हें पूरा करना केवल हमारे हाथ में नहीं है, बल्कि हमारे कर्म के ऊपर भी निर्भर करता है। आज हम अपने चारों ओर कोविड-19 के मरीज देख रहे हैं। इसे भगवान ने हमें दंड स्वरूप नहीं दिया है। ऐसा नहीं है कि वे हमसे नाराज हैं। यह कोई निरुद्देश्य घटना नहीं है, बल्कि हमारे कर्मों का ही परिणाम है।

 

खतरनाक वायरस के जन्म से शारीरिक प्रतिरक्षा तंत्र प्रभावित हो रही है

आज हम अपने आसपास जो फल, फूल और पत्तियां देख रहे हैं वे सब भी हमारे द्वारा बोए गए बीजों के ही परिणाम हैं, लेकिन अक्सर हम भ्रांतियों के साथ जीते हैंं। सोचते हैं कि हम सबसे अलग हैं। इसी कारण अपनी धरती माता, जल स्रोतों, वायु और मिट्टी को नुकसान पहुंचाते रहते हैं। वास्तव में हमने कहीं न कहीं अपने व्यवहार से एक ऐसी स्थिति उत्पन्न कर दी जिससे इतने खतरनाक वायरस का जन्म हुआ। इससे न केवल शारीरिक प्रतिरक्षा तंत्र प्रभावित हो रहा है, बल्कि हमारा समाज भी प्रभावित हो रहा है। हमारे पास इसे ठीक करने का कोई उचित माध्यम या कोई मंत्र ही नहीं है।

 

कोरोना ने हमें दिखाया कि हम सभी एक-दूसरे से कितने जुडे़ हैं

कोरोना ने हमें दिखाया है कि हम सभी एक-दूसरे से कितने जुडे़ हैं। अगर कोई चीन के मीट मार्केट में कुछ खा रहा है तो उससे पूरा विश्व प्रभावित हो सकता है। पूरी दुनिया में ऐसी कोई जगह नहीं है जहां पर इस वायरस का प्रभाव नहीं हुआ हो। इससे यह शिक्षा मिलती है कि हममें से कोई भी एक-दूसरे से पृथक नहीं है। जब शुरुआत में लॉकडाउन हुआ तब पूरा विश्व जैसे रुक-सा गया था। उस समय समूची दुनिया की वायु शुद्ध हो गई थी। जल स्वच्छ हो गया था। कार्बन के कण घट गए थे। धरती माता मुस्कुराने लगी थीं। इससे पूरे विश्व का पर्यावरण शुद्ध और पवित्र हो गया था। उस दौरान हम सभी अंदर थे, परंतु पृथ्वी उस समय खिल रही थी। प्रकृति ने कारोना के माध्यम से यह भी एक बड़ी शिक्षा दी है कि जिस तरह से हम रह रहे हैं वह जीने का सतत और सुरक्षित तरीका नहीं है। ऐसा नहीं हो कि जब हम बीमार हों तो हमारी धरती माता स्वस्थ रहें और जब हम स्वस्थ हों तो धरती माता बीमार रहें। जैसे ही लॉकडाउन खत्म हुआ, बाजार खुले, वस्तुओं का उत्पादन शुरू हुआ तो वापस पर्यावरण प्रदूषित होने लगा। इससे आने वाले दिनों में कोई भी समस्या उत्पन्न हो सकती है। लोग कह रहे हैं कोविड-19 एक आपात स्थिति है, इमरजेंसी है। वास्तव में यह स्वास्थ्य की दृष्टि से इमरजेंसी है, अर्थव्यवस्था की दृष्टि से इमरजेंसी है, परंतु एक अवसर भी है कि कैसे हम अपनी भ्रांतियों, अपने अंदर के अंधकार को दूर करें। अर्थात इस समय इमरजेंसी से ‘इमर्ज एंड सी’ की ओर हम जा सकते हैं या जा रहे हैं।

 

कोरोना ने हमें सिखाया कि जीवन बहुत महत्वपूर्ण है

अगर हम आध्यात्मिक दृष्टिकोण से देखें तो कोरोना ने हमें यह भी सिखाया है कि जीवन बहुत महत्वपूर्ण है। इसने यह भी बताया है कि जीवन में सबसे महत्वपूर्ण क्या है? हम सभी सच में भूल गए थे कि हमारे लिए सबसे जरूरी क्या है? हमारा स्वास्थ्य, हमारा परिवार, दूसरे लोगों से हमारा जुड़ाव और हमारे मूल्य यही सबसे महत्वपूर्ण हैं। अक्सर हम यह भूल जाते हैं और हमें लगता है कि पैसा ही सबसे महत्वपूर्ण है, लेकिन आज हम जान गए हैं कि पैसा महत्वपूर्ण नहीं है। उससे एक सांस भी नहीं खरीदी जा सकती। इस महामारी ने हमें सिखाया है कि अपनी जड़ों से जुड़ें, अपने मूल्यों को जानें और उनका अनुसरण करें। इसने हमें एक-दूसरे से जुड़ने की भी शिक्षा दी है। चूंकि हम सभी के अंदर परमात्मा का अंश है इस नाते भी हम एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं। हम सभी एक ही भगवान की संतान हैं इस नाते भी हम सभी अलग-अलग नहीं हैं, बल्कि एक हैं। इसके साथ हमें यह भी याद रखना है कि हम एक-दूसरे के साथ कैसे रहें? अपनी धरती माता के साथ कैसे रहें? हमारी धरती माता केवल उपयोग या उपभोग करने के लिए नहीं, बल्कि उन्हें संरक्षित करें, उनकी रक्षा करें। उनका शोषण नहीं, पोषण करें।

 

वर्ष 2021 में नई समझदारियों को बढ़ावा देना होगा

अब यदि हम वर्ष 2021 से उम्मीदों की बात करें तो इसमें कुछ चीजों का पालन करना बहुत जरूरी है। जैसे-हम शारीरिक दूरी बनाए रखें, मास्क लगाएं और भीड़भाड़ वाली जगहों पर सावधानी बरतें। यह समय धैर्य के साथ रहने का है। लोगों को इन नियमों का पालन करने में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। इसके अलावा हमें अब पीछे भी नहीं जाना है। अर्थात जैसे हम 2019-20 में रह रहे थे वैसे नहीं रहना है। वर्ष 2021 नए मूल्यों को लेकर आएगा। लिहाजा हमें इसमें नई समझदारियों को बढ़ावा देना होगा। नए आचार-विचार, नई दृष्टि के साथ आगे बढ़ना होगा। वर्ष 2020 ने हमें एक विजन दिया है, एक नई पहचान दी है। एकजुटता, धरती माता की रक्षा और जीवन की महत्ता का अहसास कराया है। आइए इसी विजन के साथ 2021 में प्रवेश करें।

मेल नर्स ने Corona मरीज के साथ Hospital के टॉयलेट में किया सेक्स, PPE किट भी उतार दिया



जकार्ता: कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण दुनियाभर में करोड़ों लोग संक्रमित हो चुके हैं और महामारी को रोकने के लिए सोशल डिस्टेसिंग (Social Distancing) का पालन करने की अपील की जा रही है. लेकिन इस बीच कुछ लोग लापरवाही की हद पार कर रहे हैं. ऐसा ही एक चौंकाने वाला मामला इंडोनेशिया (Indonesia) के जकार्ता के एक हॉस्पिटल से आया है, जहां एक गे नर्स ने कोरोना मरीज (Corona Patient) के साथ अस्पताल के टॉयलेट में सेक्स किया.

कैसे हुआ मामले का खुलासा
कोरोना (Corona) मरीज के साथ सेक्स के दौरान मेल नर्स ने पीपीई किट (PPE Kit) उतार दिया था. इस बात का खुलासा सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए हुआ. दरअसल, मरीज ने नर्स के साथ व्हाट्सऐप पर हुई बातचीत का स्क्रीनशॉट ट्विटर पर शेयर किया था. इसके बाद इसका स्क्रीनशॉट वायरल हो गया, जिस पर प्रशासन की नजर पड़ी और अधिकारियों ने नर्स व मरीज दोनों से पूछताछ की. पुलिस के सामने दोनों ने टॉयलेट में सेक्स करने की बात मान ली. साथ ही नर्स ने बताया कि उसने अपनी पीपीई किट उतार दी थी

ठंड में बीमार होने से चाहती हैं बचना तो खाएं भुनी लहसुन, बेहद हैरान करने वाले हैं इसके फायदे

 


सर्दियों में बढ़ती हुई ठंड के कारण हमें कई तरह की बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। ऐसे में फिर हम ठंड से बचने की कोशिश करते हैं जिससे हमें बिलकुल ठंड न लगे और हम बीमार न पड़ें। लेकिन फिर भी ठंड हमें लग ही जाती है। इसके लिए जरुरी है के आप अपनी डाइट का खास ध्यान रखें। जैसे के सर्दियों की कपकपाती ठंड से बचने के लिए भुने लहसुन का सेवन जरूर करें। आपको बता दें के लहसुन में विटामिन, आयरन, कैल्शियम, एलिसिन, मैंगनीज, पोटैशियम, एंटी- ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। इसके सेवन से कई प्रकार की बिमारिओं से हम बचे रह सकते हैं। तो चलिए जानते यहीं इससे मिलने वाले अन्य फायदों के बारे में। 

 

कैंसर से बचाव :लहुसन में एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल गुण होते हैं। ऐसे में यह शरीर में कैंसर की कोशिकाएं पनपने से रोकता है। साथ ही इस गंभीर बीमारी को ठीक करने में मदद करता है। रोजाना खाली में 2 भुनी लहसुन की कलियां खाने से बॉडी में कैंसर के बैक्टीरिया फैलने का खतरा कम रहता है।

 

दिल के लिए फायदेमंद :लहसुन में मौजूद पौषक तत्व शरीर से खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। साथ ही खून के थक्कों को जमने से रोकता है। इससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहने में मदद मिलती है। ऐसे में दिल स्वस्थ होने से इससे जुड़ी बीमारियों के लगने का खतरा कम रहता है।

 

अस्थमा के मरीजों के लिए फायदेमंद :लहसुन में औषधीय गुण होते हैं। ऐसे में भुना लहसुन का सेवन करना अस्थमा के मरीजों को जरूर करना चाहिए। इसके सेवन से सांस संबंधित परेशानी दूर होने के साथ अस्थमा पर कंट्रोल रहने में मदद मिलती है। भुनी लहसुन की 2 कलियों को गुनगुने दूध के साथ खाना फायदेमंद रहेगा। 

 

स्ट्रांग इम्यूनिटी :आज के समय में कोरोना कहर से बचने के लिए हर किसी को अपनी इम्यूनिटी स्ट्रांग करने की सलाह दी जा रही है। ताकि इस गंभीर बीमारी की चपेट में आने से बचा जा सके। इसके लिए रोजाना भुने लहसुन की 2-3 कलियों को शहद के साथ सेवन करना फायदेमंद रहेगा। इससे शरीर को रोगों से लड़ने की शक्ति मिलेगी। साथ ही मौसमी सर्दी, खांसी, जुकाम व बुखार से बचाव रहेगा। 

 

सर्दी व खांसी से दिलाए राहत :सर्दी में सबसे ज्यादा शरीर खांसी, जुकाम व मौसमी बुखार की चपेट में आता है। ऐसे में इससे बचने के लिए औषधीय स्वरूप भुने लहसुन का सेवन करना फायदेमंद रहेगा। 


कल से बंद हो जाएगा आपका वॉट्सऐप ? बिना 0 लगाए नही होगी मोबाइल पर बात,बदल रहे हैं ये 10 नियम, पैसों के लेनदेन से लेकर कारोबार तक पर असर

 


चंद घंटों के बाद हम नये वर्ष में प्रवेश कर जाएंगे जिसकी तैयारी में सभी लगे हुए हैं. इसी बीच हम आपको कुछ काम की बात बताते हैं. दरअसल एक जनवरी 2021 (Rules changing from January 1) यानी कल से कई नियम बदल (rules changes) रहे हैं जिनका असर आपके जीवन पर सीधे तौर पर पड़ने जा रहा है. चेक पेमेंट से लेकर फास्टैग, UPI पेमेंट सिस्टम और GST रिटर्न के नियमों में बदलाव साल के पहले महीने से यानी एक जनवरी से लागू हो जाएंगे. इसका मतलब है कि कल से कुछ नियम बदल रहे हैं. आप इन सभी बदलावों के बारे में जान लें, नहीं तो आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है....

चेक पेमेंट सिस्टम : 1 जनवरी, 2021 से चेक पेमेंट से जुड़े नियम बदल में बदलाव किया जा रहा है. सकारात्मक भुगतान व्यवस्था (Positive Pay System) के तहत चेक (Cheque Payment) के माध्यम से 50,000 रुपये या इससे ज्यादा पेमेंट पर कुछ जरूरी जानकारियों को दोबारा कन्फर्म करने की आवश्यकता होगी. हालांकि, यह अकाउंट होल्डर पर निर्भर करेगा कि वो इस सुविधा का लाभ लेता है या नहीं....चेक जारी करने वाला व्यक्ति यह जानकरी SMS, मोबाइल ऐप, इंटरनेट बैंकिंग या एटीएम जैसे इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से देने का काम कर सकता है.

कॉन्टैक्टलेस कार्ड ट्रांसजेक्शन: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने कॉन्टैक्टलेस कार्ड पेमेंट्स की लिमिट्स 2,000 से बढ़ाकर 5,000 रुपये करने का काम किया है. एक जनवरी 2021 से यह प्रभाव में आ जाएगा. डेबिट और क्रेडिट कार्ड से 5,000 रुपये तक के पेमेंट्स के लिए पिन यूज करने की जरूरत नहीं होगी.

महंगी हो जाएंगी कारें : ऑटोमोबाइल कंपनियां जनवरी 2021 से अपने कई मॉडल के दाम बढ़ाने जा रहे हैं. इसका असर आम आदमी पर पडेगा. जी हां... कार खरीदना पहले की तुलना में महंगा हो जाएगा.

फास्टैग लगवाना होगा अनिवार्य: 1 जनवरी 2021 से सभी चार पहिया वाहनों पर फास्टैग (FASTag) लगाना अनिवार्य हो जाएगा. बिना फास्टैग के नेशनल हाईवे टोल पार करने वाले चालकों से दोगुना चार्ज वसूला जाएगा. अभी सभी टोल प्लाजा पर 80 परसेंट लाइनों को फास्टैग और 20 परसेंट लाइनों को कैश में इस्तेमाल किया जा रहा है.

लैंडलाइन से मोबाइल पर कॉल करने के लिए लगाना होगा जीरो: यदि आप 1 जनवरी के बाद लैंडलाइन से किसी भी मोबाइल नंबर पर फोन करेंगे तो उसके लिए आपको 0 का उपयोग में लाना होगा.

म्यूचुअल फंड निवेश के लिए बदले नियम: SEBI ने मल्टीकैप म्यूचुअल फंड के लिए असेट अलोकेशन के नियमों में बदलाव करने का काम किया गया है. नए नियमों की मानें तो अब फंड्स का 75 फीसदी हिस्सा इक्विटी में निवेश करना जरूरी हो जाएगा, जो कि अभी न्यूनतम 65 फीसदी है. SEBI के नए नियमों के अनुसार मल्टी कैप फंड्स के स्ट्रक्चर में बदलाव किया जाएगा. फंडों को मिडकैप और स्मॉलकैप में 25-25 फीसदी निवेश करना आवश्यक हो जाएगा. वहीं, 25 फीसदी लार्ज कैप में लगाना होगा.

UPI पेमेंट में होगा बदलाव: 1 जनवरी 2021 से UPI के माध्यम से पेमेंट करना महंगा हो जाएगा. थर्ड पार्टी की ओर से चलाए जा रहे ऐप्स पर एक्सट्रा चार्ज लगेगा. नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने यह निर्णय लिया है.

GST रिटर्न के नियम बदल जाएंगे: यहा चर्चा कर दें कि देश के छोटे कारोबारियों को सरल, त्रैमासिक गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) रिटर्न फाइलिंग में सुविधा प्रदान की जाएगी. नए नियम की मानें तो जिन कारोबारियों का टर्नओवर 5 करोड़ रुपये से कम है, उन्हें हर महीने रिटर्न दाखिल में माथा पच्ची नहीं करनी होगी. नया नियम लागू होने के बाद टैक्सपेयर्स को केवल 8 रिटर्न भरने की जरूरत होगी. इनमें 4 जीएसटीआर 3बी और 4 GSTR 1 रिटर्न भरना होगा.

सरल जीवन बीमा पॉलिसी होगी लॉन्च: 1 जनवरी के बाद कम प्रीमियम में बीमा खरीदने का काम आप कर सकेंगे. IRDAI ने सभी कंपनियों से सरल जीवन बीमा लॉन्च करने का आग्रह किया है.

वॉट्सऐप काम करना बंद कर सकता है: एक जनवरी के बाद कुछ एंड्रायड और आईओएस फोन पर वॉट्सऐप काम करना बंद कर सकता है. कंपनी की ओर से जानकारी दी गई है कि जो सॉफ्टवेयर पुराने हो चुके हैं उन पर वॉट्सऐप काम करना बंद कर देगा.

गांव गांव ढाणी ढाणी और नगर के हर बस्ती के हिन्दू परिवार तक पहुंचेगी दुर्गा वाहिनी मातृशक्ति की बहने

 

            


भीलवाड़ा(हलचल)

भीलवाड़ा महानगर  दुर्गा वाहिनी व मातृशक्ति  बहनों की बैठक में  दुर्गा वाहिनी मातृशक्ति प्रांत पालक ओम  बुलिया  व विभाग मंत्री गणेश प्रजापत ने  अयोध्या में बनने वाले श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण हेतु श्री राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र न्यास द्वारा चलाए जा रहे निधि समर्पण अभियान के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि 500 वर्षों के अनवरत संघर्ष के बाद आज अयोध्या में श्री राम की जन्म स्थली पर श्री राम का भव्य मंदिर निर्माण होने जा रहा है जिसमें श्री राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र न्यास  द्वारा  15 जनवरी  मकर सक्रांति से  27 फरवरी  माघ पूर्णिमा रविदास जयंती तक देशव्यापी अभियान चलाकर प्रत्येक हिंदू परिवार तक विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता पहुंचेंगे ....

 

 बैठक में भीलवाड़ा विभाग संयोजिका गायत्री  सोनी ,मातृशक्ति जिला संयोजिका लक्ष्मी वर्मा , दुर्गावाहिनी जिला संयोजिका सोनाली जांगीड़ ,सुनीता त्रिवेदी,कलावती सोनी,यशोदा मंडोवरा, कनिका प्रजापत,चन्दा सोनी,सरोज नाराणीवाल,कृष्णा त्रिपाठी,मंजू कंवर सहित 22 बहनो ने भाग लिया।सभी बहनों ने संकल्प लिया की इस देशव्यापी अभियान में गांव गांव ढाणी ढाणी और नगर के हर बस्ती के परिवार तक दुर्गा वाहिनी मातृशक्ति की बहने पहुंचेगी .

किसानों की ये दो मांगें मान गई सरकार- पराली जलाना जुर्म नहीं, बिजली बिल भी वापस, जानें 5 घंटे की लंबी बातचीत में और क्या हुआ

 

दिल्ली ।कृषि कानूनों को लेकर जारी किसान आंदोलन के बीच सरकार और किसान यूनियनों के बीतचीत में सकारात्मक पहल देखने को मिल रहे हैं। किसानों के कई प्रस्ताव में से दो प्रस्तावों पर मोदी सरकार ने अपनी सहमति जता दी है। किसानों और सरकार के बीच छठे दौर की बातचीत में बिजली बिल के मसले को सुलझा लिया गया है और अब पराली जलाना भी जुर्म नहीं होगा। करीब 5 घंटे चली बैठक के बाद कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि पर्यावरण अध्यादेश पर सहमति बन गई है और ऐसे में अब पराली जलाना जुर्म नहीं होगा और बिजली बिल का मसला भी सुलझ गया है।

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक,  सरकार ने बुधवार को एमएसपी खरीद प्रणाली के बेहतर क्रियान्वयन पर एक समिति गठित करने की पेशकश की और विद्युत शुल्क (बिजली बिल) पर प्रस्तावित कानूनों और पराली जलाने से संबंधित प्रावधानों को स्थगित रखने पर सहमति जताई, मगर किसान संगठनों के नेता पांच घंटे से अधिक समय तक चली छठे दौर की वार्ता में तीनों नए कृषि कानूनों को निरस्त किए जाने की अपनी मुख्य मांग पर अड़े रहे। अब चार जनवरी को फिर से वार्ता होगी।

बैठक के बाद केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि चार विषयों में से दो मुद्दों पर पारस्परिक सहमति के बाद 50 प्रतिशत समाधान हो गया है और शेष दो मुद्दों पर चार जनवरी को चर्चा होगी। तोमर ने कहा, 'तीन कृषि कानूनों और एमएसपी पर चर्चा जारी है तथा चार जनवरी को अगले दौर की वार्ता में यह जारी रहेगी।' तोमर, रेलवे, वाणिज्य और खाद्य मंत्री पीयूष गोयल तथा वाणिज्य राज्य मंत्री सोमप्रकाश ने यहां विज्ञान भवन में 41 किसान संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ वार्ता की।

राशिफल 31 दिसंबर: सिंह वालों का रुका हुआ धन वापस मिलेगा और मिथुन वालों की आर्थिक योजनाएं सुधर रही हैं, जानें आज साल के आखिरी दिन किसे मिलेगा भाग्य का साथ

 



मेष-घोर पराक्रमी बने हुए हैं। रोजी-रोजगार के क्षेत्र में तरक्‍की कर रहे हैं। सभी लोगों का साथ मिल रहा है आपको। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम, व्‍यापार सब कुछ अद्भुत दिखाई पड़ रहा है। सूर्य देव को जल देते रहें।

वृषभ-वाणी नियंत्रित रखें। पूंजी निवेश न करें। स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। प्रेम की स्थिति सही है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण भी आपका सही चल रहा है। शनिदेव की अराधना करते रहें।

मिथुन-आर्थिक योजनाएं सुधर रही हैं। नायक-नायिका की भांति चमकते हुए दिखाई पड़ रहे हैं। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा, प्रेम मध्‍यम, व्‍यापारिक दृष्टिकोण से आप सही चल रहे हैं। पीली वस्‍तु का दान करते रहें।

कर्क-थोड़ा मन चिंतित और परेशान रहेगा। उर्जा की कमी महसूस होगी। स्‍वास्‍थ्‍य करीब-करीब ठीक है। प्रेम,व्‍यापार अद्भुत चल रहा है। बजरंग बली की अराधना करते रहें।

सिंह-आर्थिक योजनाएं फलीभूत होंगी। रुका हुआ धन वापस मिलेगा। आय के नवीन स्रोत बनेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा, प्रेम मध्‍यम, व्‍यवसायिक दृष्टिकोण से सही चल रहे हैं। सूर्यदेव को जल देते रहें।

कन्‍या-रोजी-रोजगार के क्षेत्र में तरक्‍की कर रहे हैं। व्‍यवसायिक लाभ, राजनीतिक लाभ हो रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य ठीक है। प्रेम मध्‍यम है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से आप सही चल रहे हैं। शनिदेव की अराधना करते रहें।

तुला-भाग्‍यवश कुछ लाभ सम्‍भव है। स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। प्रेम में तू-तू, मैं-मैं से बचें। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से करीब-करीब आप सही चल रहे हैं। पीली वस्‍तु का दान करें। शनिदेव की अराधना करें।

वृश्चिक-परेशानी में पड़ सकते हैं। परिस्थितियां प्रतिकूल हैं। स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। चोट लग सकती है। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम मध्‍यम है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से सही चल रहे हैं। हरी वस्‍तु का दान करें।

धनु-जीवनसाथी का सानिध्‍य मिलेगा। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और व्‍यापार आपका सही चल रहा है। लाल वस्‍तु पास रखें।

मकर-विरोधियों पर भारी पड़ेंगे। अपनी बुद्धि और कौशल से निरंतर आगे बढ़ेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य मध्यम, प्रेम मध्‍यम, व्‍यापारिक दृष्टिकोण से सही चल रहे हैं। मां काली की अराधना करते रहें।

कुंभ-निर्णय लेने की क्षमता में भावुकता को हावी न होने दें। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम से अच्‍छे की तरफ है। व्‍यापार अच्‍छा है। प्रेम में भावुक बने रहेंगे। ध्‍यान रखें। हरी वस्‍तु पास रखें।

मीन-घरेलू सुख थोड़ा बाधित रहेगा। कलहकारी सृष्टि का सृजन हो रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और व्‍यापार आपका सही चल रहा है। हरी वस्‍तु का दान करें।

जय श्री कोटड़ी श्याम दरबार आज मंगला श्रृंगार आरती के दर्शन

 


जय श्री कोटड़ी श्याम दरबार
आज मंगला श्रृंगार आरती के दर्शन दिनांक  30-12-2020


बंसल ने कहा- गहलोत व पायलेट का नाम लेकर किया था मजाक

 


 

 भीलवाड़ा हलचल।  प्रदेश के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम  सचिन पायलट के नाम से  ऑडियो जारी करने को लेकर पुलिस के हरकत में आने के बाद नितेश बंसल ने खुद एक वीडियो वायरल किया है। जिसमें इस वायरल ऑडियो को मजाक बताया है।
वायरल वीडियो में बंसल ने कहा कि उसका किसी राजनैतिक पार्टी से लेना देना नहीं है और न ही वह किसी पार्टी से संबंध रखता है। बंसल ने कहाकि भावावेश में आकर उसने अशोक गहलोत व सचिन पायलेट का नाम लेकर मजाक किया था। बंसल ने कहा कि यह ऑडियो किसने वायरल किया है, इसकी जानकारी उसे नहीं है। अगर इससे कोई आहत हुआ है तो वह क्षमाप्रार्थी है। 

Wednesday, December 30, 2020

जाट की हत्या की सुपारी देने वाले ससुर-दामाद को भेजा जेल

 भीलवाड़ा हलचल । जित्यास के डीजे संचालक सांवरलाल जाट की हत्या के षड्यंत्र में शामिल  आरोपित ससुर व दामाद को सुभाषनगर पुलिस ने बुधवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। 

सुभाषनगर थाना सूत्रों ने  बताया कि सांवरलाल जाट की हत्या के षड्यंत्र में शामिल मानपुरा निवासी देबीलाल पुत्र कन्हैयालाल जाट व इसके दामाद चंदेला का झूंपड़ा निवासी रामेश्वर पुत्र हजारी जाट को पिछले दिनों गिरफ्तार कर रिमांड पर लेकर तफ्तीश व मौका तस्दीक कराई। इसके बाद आज दोनों आरोपितों को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।  उधर, वारदात के मुख्य आरोपित ईश्वर व सत्तू माली फिल्हाल पुलिस गिरफ्त से बाहर है। वहीं हत्या के आरोप में गिरफ्तार दो अन्य आरोपितों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

ठेके का शटर तोड़कर तीन लाख का दारू ले उड़े चोर

  भीलवाड़ा हलचल। जिले के गुलाबपुरा कस्बे के बाहर स्थित एक  ठेके का शटर तोड़कर चोर करीब तीन लाख रुपये की दारू ले उड़े। चोरों ने वारदात में पिकअप का इस्तमाल किया है। इस वारदात के बाद क्षेत्र के व्यापारियों में दहशत का माहौल है। 

गुलाबपुरा पुलिस के अनुसार, गुलाबपुरा कस्बे से बाहर हुरड़ा रोड़ पर स्थित अंग्रेजी शराब के ठेके का बीती रात चोरों ने शटर तोड़ दिया।  चोरों ने पिकअप आगे लगाकर ठेके से करीब तीन लाख रुपये की अंग्रेजी शराब चुरा ली। 
चोरी का पता बुधवार सुबह चलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और वारदातस्थल का जायजा लिया। प्रारंभिक तौर पर सेल्समैन ने ठेके से तीन लाख रुपये की शराब चोरी होने की बात कही है। फिल्हाल कोई मामला अब तक दर्ज नहीं हुआ है। सेल्समेन ने पुलिस को यह भी बताया कि वह हमेशा ठेके में ही सोता है, लेकिन मंगलवार को काम होने से वह गांव चला गया। इसके चलते ठेका सूना था। इसी का फायदा उठाकर चोर शराब चुरा ले गये। उधर, पुलिस का कहना है कि ठेके में आधी शराब पड़ी मिली। अगर चोर पिकअप लेकर आये थे तो आधी शराब छोड़कर क्यूं गये। ऐसे में मामला संदिग्ध प्रतित हो रहा है। फिल्हाल पुलिस इलाके में लगे सीसी टीवी कैमरों की जांच कर चोरों का सुराग तलाशने का प्रयास कर रही है। 

कोरोना ने ली एक और बुजुर्ग महिला की जान

  भीलवाड़ा हलचल। जिले के आसींद तहसील क्षेत्र की कोरोना पॉजिटिव बुजुर्ग महिला की जिला अस्पताल में उपचार के दौरान बुधवार को मौत हो गई। 

चिकित्सालय सूत्रों के अनुसार, आसींद तहसील क्षेत्र की 68 वर्षीय महिला को कोरोना लक्षण आने से 24 दिसंबर को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां महिला को कोरोना संदिग्ध मानते हुये उसका इलाज शुरू किया गया। साथ ही कोरोना जांच के लिए सैंपल भी लिये गये। जांच में महिला पॉजिटिव आई थी। इसके बाद से उसका उपचार किया जा रहा था। बुधवार को इस महिला ने दम तोड़ दिया। बता दें कि भीलवाड़ा में एक बार फिर कोरोना कहर बरपाने लगा है। दो दिन में यह दूसरी मौत है। 

Tuesday, December 29, 2020

गुवारड़ी नाले में गिरा ट्रक, चालक फंसा, अथक प्रयास से निकाला बाहर

  भीलवाड़ा हलचल।भीलवाड़ा-चित्तौडग़ढ़ हाइवे पर अल सुबह एक ट्रक गुवारड़ी नाले में जा गिरा। हादसे में चालक सहित दो लोग घायल हो गये। इनमें से चालक को अथक प्रयास के बाद बाहर निकाला जा सका। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। 

मंगरोप थाना प्रभारी स्वागत पांडया ने हलचल को बताया कि कंटेनर पाउडर भरकर चंदेरिया प्लांट जा रहा था। करीब चार बजे यह ट्रक गुवारड़ी नाले में जा गिरा। हादसे के दौरान ट्रक में चालक सहित दो लोग सवार थे, जो घायल हो गये। सूचना पर मंगरोप थाना प्रभारी पांडया मय जाब्ता मौके पर पहुंचे। पुलिस ने एक व्यक्ति को तो बाहर निकाल लिया, लेकिन चालक अंदर फंस गया, जिसे अथक प्रयास के बाद बाहर निकाला जा सका। बाद में दोनों घायलों, शास्त्रीनगर, झुंझुनूं निवासी ख्यालीराम पुत्र बोयतराम जाट व चंदेरिया निवासी जितेंद्र पुत्र राजेंद्रसिंह बंजारा को उपचार के लिए एंबुलेंस से जिला अस्पताल भिजवा दिया, जहां दोनों को भर्ती कर लिया गया। 
उधर, नाले में गिरे ट्रक को हाइड्रो मशीन व क्रेन की मदद से बाहर निकाला जा सका। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

VIDEO : बाजार, अस्पताल, बस स्टैंड व कलेक्ट्रेट को किया सैनेटाइज

  भीलवाड़ा संपत माली। जिले में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लगातार सामने आने से नगर परिषद ने फिर से शहर  में सैनिटाइजर का छिड़काव शुरु किया है। इसके तहत मंगलवार को शहर के साथ ही सरकारी बिल्डिंगों को सैनिटाइजर का छिड़काव किया गया। नगर परिषद स्टॉफ का कहना है कि मुख्य बाजार में परिषदकर्मियों को विरोध का भी सामना करना पड़ा। 

नगर परिषद सूत्रों के अनुसार, जिले में कारोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद नगर परिषद ने शुरुआती चरण में शहर के सभी वार्ड व मोहल्लों में सैनिटाइजर का छिड़काव कराया था। इसी बीच कोरोना पॉजिटिव मरीज लगातार सामने आ रहे हैं। जिसे देखते हुए नगर नगर परिषद ने एक बार फिर शहर में सैनिटाइजर का छिड़काव करने की पहल की है। नगर परिषद सूत्रों ने बताया कि शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल रहे हैं।   जिसे देखते हुए पूरे शहर में फिर से सैनिटाइजन का छिड़काव करने का काम शुरू किया। इसी के तहत मंगलवार को रेलवे स्टेशन, गोल प्याऊ, पेचएरिया, सुभाष मार्केट, महाराणा टाकिज, एमजीएच परिसर, कलेक्ट्रेट, रोडवेज बस स्टैंड आदि इलाकों में सैनिटाइजर का छिड़काव किया। 



देर रात भभक उठा यार्न गोदाम, लाखों का माल खाक, 10दमकल पहुंची, मकान कराया खाली, अंधेरे में डूबीकॉलोनी


 
भीलवाड़ा प्रेम कुमार गढ़वाल ।शहर के जवाहर नगर इलाके में सोमवार देर रात यान गोदाम में भीषण आग लग गई ।आग से इलाके के लोगों में दहशत फैल गई ।आग की सूचना पर 6 दमकल मौके पर पहुंची है। वहीं लाखों रुपए का माल चलने की आशंका जताई जा रही है ।वहीं दूसरी


ओर गोदाम संचालक का कहना है कि यह आग लगी नहीं बल्कि लगाई गई। आग किसने लगाई इसका पता लगाने के लिए क्षेत्र में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जाएंगे।

आजाद नगर निवासी सुनील पुत्र रतन जैन ने देर रात हलचल को बताया कि उनका प्रिंसी ट्रेडर्स के नाम से जवाहर नगर में इच्छापूर्ण महादेव मंदिर के पास यान गोदाम स्थित है। देर रात गोदाम में अचानक आग लग गई ।आग की सूचना क्षेत्र के लोगों से मिलने पर वे मौके पर पहुंचे, जहां लोगों ने बताया कि दो लोग गोदाम में आग लगाकर भागते हुए देखे गए थे ।साथ ही जैन ने यह भी बताया कि गोदाम में यार्न, कॉटन सहित अन्य माल रखा हुआ था, जिसकी कीमत 20 से 25 लाख रुपए है । आग की सूचना पर एक के बाद एक 10 दमकल मौके पर पहुंची, लेकिन फिलहाल आग पर काबू नहीं पाया जा सका। उधर भीषण आग के चलते गोदाम के आसपास रहने वाले लोगों में दहशत फैल गई ।लोग सर्द रात में घरों से बाहर सड़कों पर निकल आए ।आग की सूचना पर प्रतापनगर थाने से सहायक उपनिरीक्षक नवरत्न भी मौके पर पहुंचे हैं। गोदाम संचालक जैन का कहना है कि पड़ोसियों द्वारा दी गई ।अज्ञात लोगों के द्वारा आग लगाने की सूचना की पुष्टि करने के लिए क्षेत्र में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जाएंगे ।वहीं देर रात तक दमकल कर्मी आग पर काबू पाने के लिए मशक्कत करते रहे ।उधर,आगजनी की इस घटना के चलते इलाके की बिजली भी बंद कर दी गई ।इसके चलते लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

 पड़ोस का खाली कराया मकान

यार्न गोदाम के पास स्थित रतनलाल विश्नोई के मकान को एहतियात के तौर पर पुलिस ने खाली करवा  करवा दिया ।पुलिस ने यह कदम आग की लपटे मकान तक पहुंचने की आशंका के चलते उठाया है।

 रात के सन्नाटे में गूंजती सायरन की आवाज ने फैलाई दहशत

सर्द रात के सन्नाटे में सड़कों पर दौड़ती दमकल  के सायरन की आवाज  ने जवाहर नगर और मराठा कॉलोनी ही नहीं बल्कि कई कॉलोनियों के लोगों की परेशानी बढ़ा दी ।सायरन की आवाज सुनकर लोग सकते में आ गए। 

भीलवाड़ा में कोरोना से एक और मौत


भीलवाड़ा हलचल कोरोना संक्रमण के चलते एक और व्यक्ति की मौत हो गई है बताया गया कि कल रात कोरोना संक्रमित एक बुजुर्ग को उपचार के लिए महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी मृत्यु हो गई

ट्रेक्टर ने कुचला राहगीर को हुई दर्दनाक मौत

आसीन्द (मंजूर) । आसीन्द थाना क्षेत्र के कटार गांव के पास तेज गति से आ रहे एक ट्रैक्टर ने राहगीर को कुचल डाला जिसके चलते घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। वही जानकारी के अनुसार मेच्छा का बाडिया का निवासी धन्ना लाल पिता मदनलाल उम्र 18 साल रावणा राजपूत कटार गांव में अपने निजी कार्य के लिए आया हुआ था तथा वापस अपने गांव पैदल लौट रहा था कि गांव से बाहर ही तेज गति से आ रहे ट्रेक्टर ने चपेट में ले लिया जिसके चलते घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई । घटना की जानकारी आसींद पुलिस को मिली और मोके पर जाकर शव को कब्जे में लेकर आसींद सीएचसी की मोर्चरी में रखवाया तथा आज शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौप दिया है।


फू्रट का ठेला लगाने वाले युवक की अचानत तबीयत बिगडऩे के बाद मौत

 

 भीलवाड़ा हलचल। शहर में मियांचंद जी की बावड़ी के पास फू्रट का ठेला लगाने वाले एक युवक की अचानक तबीयत बिगडऩे के बाद मौत हो गई। 
एमजीएच चौकी सूत्रों के अनुसार, नंदराय निवासी कैलाश पुत्र रामपाल कीर मियांचंद जी की बावड़ी के पास फू्रट का ठेला लगाता था। जहां उसकी अचानक तबीयत बिगड़ गई। उसे उपचार के लिए पहले निजी क्लिनिक व बाद में जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाया है। मौत के कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही सामने आ पायेंगे। 

Monday, December 28, 2020

वर्चुअल सभा आयोजित

 


  भीलवाड़ा हलचल। अखिल भारतीय ग्रामीण माहेश्वरी सहयोग संस्थान मेजा की  होटल  पर आयोजित वर्चुअल सभा कार्यकारी मण्डल के सदस्यों ने भाग लिया।
         अध्यक्ष चांदरतन डागा मथानिया ने सदस्यों का स्वागत किया.ग्रामीण क्षैत्र में वितरित सहयोग एक करोड़ तीस लाख पर हर्ष व्यक्त किया।
योजना को अच्छा चलाने हेतु राजस्थान के बकाया 6 जिलों में विस्तार पर बलदिया। सदस्यता एवं सहयोग वापसी पर आमसभा के निर्णय की पालना हेतु बकाया
रखावें. प्रबन्धकारिणी निर्णयों की पालना एवं सदस्यता वृद्धि पर जोर दिया.मेजा गांव में कार्यालय बनाने हेतु निःशुल्क भूमि उपलब्धी पर स्वागत
किया.  मंत्री कृष्णगोपाल सोनी रूपाहेली कला ने कैलाश चन्द्र काबरा एवं भागचंद बाहेती को शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया। आमसभा 15 अगस्त को होने की
चर्चा की गई. कोविडकाल बाद सभा आयोजन का निर्णय लिया. 

दिल्ली सहित इन राज्यों में तीन दिन तक पड़ेगी कड़ाके की ठंड, जानें- मौसम विभाग की चेतावनी

  


नई दिल्ली। उत्तर भारत के कई इलाकों में आने वाले एक-दो दिन शीतलहर के साथ कड़ाके की ठंड पड़ेगी। हिमाचल और कश्मीर में तीन दिन बर्फबारी के साथ हल्की बारिश होगी। यहां कई इलाकों में पारा लगातार शून्य से नीचे बना हुआ है। पहाड़ी इलाकों की बर्फीली हवाओं से दिल्ली, राजस्थान और पंजाब में शीतलहर चलेगी। मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार, आज जम्मू-कश्मीर, लद्दाख के अलावा हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के अलग-अलग इलाकों में बारिश की संभावना है। इन इलाकों में बारिश के बाद मैदानी इलाकों में ठंड बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही है।

दिल्ली में देर रात बूंदाबांदी से आज से शीत लहर

दिल्ली का न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री और एयर क्वालिटी इंडेक्स 378 दर्ज किया गया। रविवार देर रात दिल्ली में कई स्थानों पर बूंदाबांदी हुई। वहीं, सबसे कम विजिबिलिटी 200 मीटर के करीब दर्ज की गई। मौसम विभाग का मानना है कि रविवार और सोमवार को पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की वजह से दिल्ली के तापमान में हल्की बढोतरी होगी। वहीं, 28 दिसंबर से शीतलहर चल सकती है। इस दौरान पारा 3 से 5 डिग्री पर पहुंच सकता है।

राजस्थान में 28, 29 और 31 को कोल्ड डे का ऑरेंज अलर्ट

राजस्थान के पहाड़ी इलाकों की बर्फीली हवाएं मैदानी इलाकों की ओर मुड़ने से राजस्थान में अगले तीन दिन सर्दी का सितम बढ़ेगा। शीतलहर चलने से पारा लुढ़केगा। मौसम विभाग का अनुमान है कि 30 दिसंबर तक कई शहरों में दिन-रात के तापमान में करीब 3-5 डिग्री तक गिरावट आ सकती है। फिलहाल पारे में उतार-चढ़ाव का दौर जारी है। बीती रात करीब एक दर्जन शहरों में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहा। माउंट आबू दो डिग्री के साथ सबसे ठंडा रहा। मौसम विभाग ने कुछ स्थानों पर अगले तीन दिन के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

मध्यप्रदेश में आज से जोर पकड़ेगी ठंड

मध्यप्रदेश में 22 जगहों पर तापमान 4 से 10 डिग्री तक दर्ज किया गया। होशंगाबाद में सबसे ज्यादा 13.2 डिग्री तक पारा गया। इंदौर में 12.5 डिग्री सेल्सियस और भोपाल में 10.8 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। हालांकि, उमरिया अब भी सबसे सर्द है। यहां रात का पारा 4.2 डिग्री तक आ गया। मध्यप्रदेश में 28 से ठंड के जोर पकड़ने की उम्मीद की जा रही है। मध्य पाकिस्तान के ऊपर साइक्लोन बनने की संभावना है।

पंजाब में अगले चार दिन कड़ाके की सर्दी के आसार

पंजाब में एक बार फिर शीतलहर चलने से कड़ाके की सर्दी पड़ने लगी है। बीते पांच दिनों में धूप से बढ़ा तापमान रविवार को हुई बारिश और शीतलहर के कारण नीचे आ गया। सूबे में अमृतसर सबसे ठंडा रहा। यहां का तापमान 9.6 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं, अन्य जिलों में 18 डिग्री तक तापमान रिकॉर्ड किया गया है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले चार दिन बर्फीली हवा और कोहरे के कारण तापमान में और गिरावट होगी।

बिहार में धूप खिलने से थोड़ी राहत, अभी मौसम में नहीं होगा कोई बदलाव

बिहार में धूप खिलने से लोगों को ठंड से राहत मिली है। पिछले 24 घंटे में मौसम में कोई खास बदलाव नहीं हुआ है। पटना का तापमान शनिवार के बराबर रहा। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि आने वाले 48 घंटे में तापमान में कोई खास बदलाव होने की संभावना नहीं दिख रही है। रविवार को गया सबसे ठंडा शहर रहा, जिसका तापमान 4.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पटना का अधिकतम तापमान 22.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 0.5 डिग्री सेल्सियस कम है।

हिमाचल में आज बर्फबारी और बारिश के आसार

हिमाचल पूरी तरह से शीतलहर की चपेट में आ गया है। यहां के सात बड़े शहरों का न्यूनतम तापमान फ्रीजिंग पॉइंट से नीचे चला गया है। रविवार देर शाम शिमला में हल्की बर्फबारी भी हुई। मौसम विभाग ने हमीरपुर, बिलासपुर, ऊना समेत मंडी, कांगड़ा, सिरमौर और सोलन जिलों के मैदानी भागों में 29, 30 और 31 दिसंबर को धुंध के साथ शीतलहर चलने का यलो अलर्ट जारी किया है।

कश्मीर में घाटी में अगले तीन दिनों में हल्की बारिश और बर्फबारी

कश्मीर में रविवार को शीतलहर और तेज हो गई, जिससे घाटी में न्यूनतम तापमान शून्य से कई डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया। उत्तरी कश्मीर में गुलमर्ग में तापमान शून्य से 7.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जबकि इससे पिछली रात तापमान शून्य से 6.5 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा था। घाटी में गुलमर्ग सबसे ठंडा स्थान रहा। मौसम विभाग का अनुमान है कि घाटी में अगले तीन दिनों में हल्की बारिश और बर्फबारी हो सकती है।

 

एनीकट ही बैरवा समाज के लिए बना तो फिर पानी ले जाने में आपत्ति क्यों

डाबला कचरा में एनीकट का पानी ले जाने के लिए पाइप लाइन डालने के मामले को लेकर प्रदर्शन व ज्ञापन दिया
शाहपुरा-
शाहपुरा पंचायत समिति के डाबला कचरा में राज्य सरकार की ओर से निर्मल जल योजना के अंर्तगत लगभग 15 वर्ष पूर्व निर्मित एनीकट का निर्माण ही क्षेत्र के दलित समुदाय विशेषकर बैरवा समाज के लोगों की कृषि भूमि तक पानी पहुंचाने के लिए किया गया था। समय परिस्थिति के चलते बैरवा समाज के लोग उस समय पाइप लाइन बिछा कर पानी ले जाने में समर्थ नहीं थे, अब जब बैरवा समाज के लोगों ने सामाजिक सहभागिता से राशि एकत्र कर एनीकट के पानी को अपने खेतों में ले जाने के लिए पाइप लाइन बिछाने का कार्य किया तो गांव के प्रभावशाली लोगों ने न केवल उनको रोककर मारपीट कर वरन पुलिस व प्रशासन को भी अपने प्रभाव में लेकर उनके खिलाफ झूंठा मामला दर्ज करा पानी ले जाने से रोका तथा तहसीलदार को मौके पर आकर एक तरफा कार्रवाई कर पाइप लाइन डालने के काम को रूकवा दिया। अब बैरवा समाज इस बात को लेकर परेशान है कि राज्य सरकार की ओर से उनके समाज के लिए उत्थान के लिए बनाये गये एनीकट का पानी उनके अपने खेतों में पहुंचाने के लिए पुलिस व प्रशासन की ओर से मंुह बायें          खड़े होना पड़ रहा है। समय रहते उनकी जमीनों पर पानी नहीं पहुंचा तो बैरवा समाज के खेतों में लाखों रू की फसल पानी के अभाव में नष्ट हो जायेगी।
डाबला कचरा के बैरवा समाज के प्रतिनिधि मंडल ने आज उपखंड अधिकारी डा. शिल्पा सिंह व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विमल सिंह से मुलाकात कर अपनी पीड़ा को बयां की है। इस प्रतिनिधि मंडल ने दोनो अधिकारियों को बताया कि निर्मल जल योजना के तहत राज्य सरकार ने उनके खेतों तक पानी पहुंचाने के लिए एनीकट का निर्माण करवाया था। उनके समाज के लोगों के राजस्व खातों की नकलें जमा करके एनीकट की प्रोजेक्ट रिपोर्ट में शामिल की गई थी। उस समय बैरवा समाज के पास राशि न होने के कारण एनीकट से पानी अपने खेतों में ले जाने के लिए पाइप लाइन बिछाने का कार्य नहीं कराया जा सका था तथा पंचायत व जनप्रतिनिधियों ने आश्वासन दिया था कि बजट आने पर एनीकट का पानी खेतों में पहुंचाने के लिए छोटी नहर का निर्माण करा दिया जायेगा पर ऐसा आज तक नहीं हो सका, इसका बेजा फायदा उठाकर एनीकट के पास प्रभावशाली लोगों के खेत होने के कारण उन सबने मिलीभगत करके एनीकट का पानी अपने खेतों में ले जाने के लिए बिना पंचायत व प्रशासन की इजाजत के अपने अपने खेतों के लिए जमीन की खुदाई कर पाइप लाइन डलवा दी तथा आये दिन उसके जरिये इंजन चलाकर पानी का अपने खेती के लिए उपयोग करते चले आ रहे है। बैरवा समाज ने आज तक इसका विरोध नहीं किया पर अब जब बैरवा समाज ने राशि एकत्र कर अपने ही एनीकट से अपने खेतों तक पाइप लाइप डालने का कार्य करना प्रारंभ किया तो प्रभावशाली लोगों ने मौके पर पहुंच कर बैरवा समाज के लोगों को पहले डराया धमकाया तथा बाद में मारपीट कर गाली गलौच कर झूंठा मुकदमा भी दर्ज करवा दिया।
ज्ञापन देने आये बैरवा समाज के लोगों ने बताया कि इतना ही नहीं प्रभावशाली लोगों ने षड़यंत्र रचकर तहसीलदार शाहपुरा व पुलिस को मौके पर बुलवाकर झूंठी जानकारी देकर बैरवा समाज द्वारा डाली जा रही पाइप लाइन के कार्य को न केवल रूकवा दिया वरन खोदी गयी लाइन को भी भरवा दिया जिससे समाज को हजारों रू का नुकसान हो चुका है। इन लोगों ने बताया कि पुलिस व प्रशासन के प्रभावशाली लोगों के पक्ष में खड़े होने के कारण निर्मल जल योजना व एनीकट के निर्माण के समय की योजना के बारे में उनके द्वारा एक नहीं सुनी गयी तथा डरा धमका मौके से भगा दिया जिससे समाज में आक्रोश व्याप्त है। अब उनके समाज के खेतों तक पानी न पहुंचने के कारण फसले खराब होना प्रारंभ हो गयी है। इन लोगों ने कहा है कि समय रहते उनको न्याय नहीं दिलाया गया तो क्षेत्र में दलित समाज की ओर से उग्र आंदोलन किया जा सकता है। 
प्रतिनिधि मंडल के साथ पहुंचे प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य व विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी रहे राजकुमार बैरवा ने कहा है कि डाबला कचरा प्रकरण की पूरी जानकारी उपखंड अधिकारी को अवगत करा दी है। उन्होंने प्रकरण में संज्ञान लेकर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। तीन दिन में मामले का पटापेक्ष न होने की स्थिति में प्रकरण को प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष, मुख्यमंत्री राजस्थान सरकार, पंचायत राज मंत्री, पंचायत समिति व जिला परिषद के संज्ञान में लाया जायेगा। प्रतिनिधि मंडल में श्रवणलाल, सत्यनारायण बैरवा, शंकर, देवालाल, खानालाल, रामलाल, सुखदेव, कालू, देबीलाल, भेरूलाल, रामलाल, जगदीश, रतनलाल, पोखर, श्यामलाल, नन्दलाल, कमलेश, परमेश्वर, शिवराज शामिल थे। 
 


समाज कटकों की शरण स्थली बना हुआ वाटर सेट क्वार्टर

 



  

 आकोला  रमेश चंद्र डाड / जनप्रतिनिधियों व प्रशासनिक अधिकारियों के कारण राज्य सरकार की ओर से कोटडी पंचायत समिति के रेड वास पंचायत क्षेत्र के भीलवाड़ा मांडलगढ़ सड़क मार्ग पर बन्ना वाटर सेट क्वार्टर का असामाजिक तत्वों न वे समाज के कारको की शरण स्थली बना हुआ हैं भीलवाड़ा मांडलगढ़ सड़क मार्ग पर सवाईपुर से 3 किलोमीटर दूर बने वाटर सेट का क्वार्टर लगभग 15 वर्ष पहले विभाग् ने बनाया था इस कार्यालय में कोई कार्य नहीं हुआ है और वीरान पड़ा हुआ है अज्ञात व्यक्ति। किवाड़ व खिड़कियां भी ले गए हैं यह बताया जा रहा है कि विभागने रेड वास पंचायत को यह भवन दे दिया हैं

ग्रांम पंचायतो में सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिड़काव किया

   निम्बाहेड़ा हलचल। निकटवर्ती ग्रांम पंचायत टाई एवं बरड़ा के अरनिया माली, बोरखेड़ी, ढावलिया,  पेमडीया गाव में बुधवार को कारोना महामारी सेे बचा...