सर्दी के साथ कोहरे का सितम: पक्षियों से लेकर प्राणी तक कांपे

 

भीलवाड़ा (संपत माली)। सर्दी का सितम बढ़ता जा रहा है। इसके साथ ही कोहरा भी अपना रंग दिखा रहा है। भीलवाड़ा के लोगों का कहना है कि हमने सर्दी तो देखी लेकिन सर्दी का सितम पहली बार देख रहे हैं। पहले केवल कबल या रजाई से काम चला लेते थे लेकिन अब तो दो रजाइयां भी कम पड़ती हैं। 
सुबह से छाया कोहरा
भीलवाड़ा में शनिवार को अलसुबह से लेकर देर सुबह तक कोहरा छाया रहा। सुबह पांच बजे उडऩे वाले पंछियों ने सुबह आठ बजे तक अपना घरोंदा नहीं छोड़ा। बसों सहित ट्रेनों की स्पीड धीमी रही। वाहन सड़कों पर हेडलाइट जलाकर रेंगते नजर आए। देर सुबह तक लोग घरों से नहीं निकले और चाय आदि का आनंद लेते रहे। शनिवार होने व मकर संक्रांति का खुमार उतरने के भी बाद लोगों की बाहर निकलने की हिम्मत नहीं हुई।

रोडवेज बस स्टैंड पर धूजते दिखे यात्री
बर्फ सी सर्दी में गंतव्य को जाने के लिए रोडवेज बस स्टैंड पहुंचे यात्री धूजते नजर आए। सबसे बड़ी समस्या बच्चों के साथ आई वे कंपकंपा रहे थे। परिजनों ने उनको कंबल, शॉल में लपेट रखा था लेकिन इसके बाद भी बच्चों के दांत किटकिटा रहे थे।
अलाव भी नहीं दे पा रहा राहत
शहर में कई चौराहों सहित गली-मोहल्लों में लोगों ने सर्दी से राहत के लिए अलाव जलाए लेकिन लोगों को फिर भी सर्दी से राहत नहीं मिली। लकडिय़ां भी मानों जलने से इनकार कर रही थी। लोगों ने बताया कि इस प्रकार की सर्दी आज तक हमने नहीं देखी। लगता है कि थोड़े दिनों में यहां बर्फबारी शुरू हो जाएगी। 
 

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?