रोडवेज पर कोरोना का साया: बसों का संचालन प्रभावित नहीं लेकिन यात्रीभार में आई कमी

 

भीलवाड़ा (विजय गढ़वाल/नगेंद्र सिंह)। कोरोना के बढ़ते संक्रमण का असर हर क्षेत्र पर पड़ रहा है। इससे प्रदेश का सबसे बड़ा परिवहन विभाग रोडवेज भी अछूता नहीं है। भीलवाड़ा डिपो की बात करें तो यहां बसों के संचालन में कोई कमी नहीं की गई है लेकिन यात्रीभार कम होने से आय प्रभावित हुई है।
भीलवाड़ा डिपो के कार्यवाहक मैनेजर चंद्रशेखर महर्षि ने हलचल से बात करते हुए बताया कि यात्रियों की सुविधाओं को देखते हुए अभी हमने बसों का संचालन पूर्ववत ही रखा है। बसों में कोई कमी नहीं की गई है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण यात्रीभार में कमी आई है। इससे आय प्रभावित होना स्वाभाविक है।
हर जगह करवा रहे कोरोना गाइडलाइन की पालना
महर्षि ने बताया कि कार्यालय हो या बस स्टैंड या फिर बसें, हर जगह कोरोना गाइडलाइन की पालना करवाई जा रही है। मास्क पहनने के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग व सैनिटाइजर का प्रयोग किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि रोडवेज परिसर में आने वाले यात्रियों के हाथ सैनिटाइज किए जा रहे हैं। मास्क नहीं लगाने वालों को मास्क लगाने के लिए कहा जा रहा है। बसों में बिना मास्क वाले यात्रियों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। सभी परिचालकों को थर्मल गन उपलब्ध करवाकर हर यात्री की स्क्रीनिंग के साथ ही प्रवेश सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि बसों में निर्धारित सीटों के अनुपात में ही यात्रियों को बैठाया जा रहा है।
टिकट विंडो पर भी नहीं दिखी भीड़
कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते यात्रीभार में कमी आने से एक भी टिकट विंडो पर दो या तीन से ज्यादा यात्री नहीं दिखे। यात्रीभार में कमी आने से बस स्टैंड परिसर में चाय-नाश्ते की दुकानें लगाने वाले व्यापारी भी निराश दिखे। उन्होंने कहा कि पहले की तरह बिक्री नहीं हो रही है। जहां जाने वाले यात्रियों की संख्या में कमी आई है वहीं आने वाले यात्रियों की तादाद में भी गिरावट आई है। इससे उनका कामकाज प्रभावित हुआ है।            

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?