विद्यालयों का अवलोकन कर उनकी समस्याओं का करें समाधान: जोशी

 


भगवानपुरा (कैलाश शर्मा)। विद्यालय के सर्वांगीण विकास में एसएमसी/एसडीएमसी के सदस्यों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है अत: सभी सदस्यों को चाहिए कि वे समय-समय पर विद्यालय का अवलोकन कर उनके स्तर की जो भी समस्याएं हों, उनका समाधान करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करें। यह बात शुक्रवार को ग्राम पंचायत आलमास में आयोजित दो दिवसीय गैर आवासीय प्रशिक्षण शिविर के उद्घाटन समारोह में कार्यवाहक प्रधानाचार्य जगदीश चंद्र जोशी ने अध्यक्षीय उद्बबोधन में कही। उन्होंने कहा कि एसएमसी/एसडीएमसी विद्यालय के विकास में रीढ़ की हड्डी के समान होती है। कार्यक्रम का शुभारंभ सर्वप्रथम मां भारती के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्ज्वलन कर किया गया। प्रशिक्षण शिविर के उद्घाटन समारोह में संदर्भ व्यक्ति रमेश चंद्र बलाई ने सदस्यों के कर्तव्य एवं भूमिका और आरटीई 2009 की जानकारी प्रदान की वहीं संदर्भ व्यक्ति भैरुलाल कुमावत ने समग्र शिक्षा के बारे में जानकारी उपलब्ध करवाई। प्रशिक्षण में 36 संभागी भाग ले रहे हैं। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि रामलाल गाडरी एसएमसी अध्यक्ष राउप्रावि किशनपुरा, विशिष्ट अतिथि  नारूलाल भील, वार्ड पंच, सोदानपुरा, भंवरलाल मेघवाल, प्रअ राउप्रावि किशनपुरा थे।
 

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?