Wednesday, June 2, 2021

अब भी सिरदर्द बने ये 6 राज्य, कोरोना से 70 फीसदी मौतें यहीं हुईं


दिल्ली  कोरोना की दूसरी लहर से भारत भले ही उबरता दिखाई दे रहा है, मगर देश में महाराष्ट्र, कर्नाटक समेत 6 राज्य अभी भी सिरदर्द बने हुए हैं। देश में बीते कुछ समय से कोरोना के नए मामलों में कमी देखने को मिल रही है, मगर लगातार हो रही मौतें अब भी सरकार और एक्सपर्ट्स के लिए चिंता का विषय बनी हुई हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की डेटा के मुताबिक, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में ही देश की 70 फीसदी मौतें दर्ज की गई हैं।

देश में बुधवार को 3207 मौतों में सबसे अधिक मौतें महाराष्ट्र में दर्ज की गई हैं। बुधवार को दर्ज की गईं 3,207 नई मौतों में महाराष्ट्र से 854, तमिलनाडु से 490, कर्नाटक से 464, केरल से 194, उत्तर प्रदेश से 175, पश्चिम बंगाल से 137 और आंध्र प्रदेश से 104 मौतें शामिल हैं। 36 दिनों के बाद मंगलवार को भारत में रोजाना होने वाली मौतें 3,000 अंक से नीचे दर्ज की गई, मगर बुधवार को 3,207 और मौतें दर्ज कीं, जिससे भारत में कोरोना से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर कुल 3,35,102 हो गई है।


कोरोना की सबसे अधिक तबाही महाराष्ट्र में ही देखने को मिली है। देश में अब तक कुल 3,35,102 मौतें हुई हैं, जिनमें महाराष्ट्र में 96,198, कर्नाटक में 29,554, तमिलनाडु में 24,722, दिल्ली में 24,299, उत्तर प्रदेश में 20,672, पश्चिम बंगाल में 15,678, पंजाब में 14,649 और छत्तीसगढ़ में 13,077 मौतें हुई हैं।  

भारत में एक दिन में कोविड-19 के 1,32,788 नए मामले सामने आने से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 2,83,07,832 पर पहुंच गयी है जबकि संक्रमण की दैनिक दर गिरकर 6.57 प्रतिशत रह गई है। आंकड़ों के अनुसार, लगातार दूसरे दिन उपचाराधीन मरीजों की संख्या 20 लाख से कम दर्ज की गई है। मंत्रालय ने बताया कि मंगलवार को 20,19,773 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई। अभी तक देश में कुल 35,00,57,330 नमूनों की जांच की जा चुकी है जबकि संक्रमण की दैनिक दर 6.57 प्रतिशत दर्ज की गई।

 

बाजाद खुले, वाहनों की रेलमपेल रही और लोगो ने की खरीददारी

  भीलवाड़ा। जिले में लगभग पिछले दो माह से कर्फ्यु घोषित किया हुआ था राज्य सरकार के आदेशानुसार कर्फ्यु में ढ़ील देने के बाद बुधवार को सुबह 6 बज...