अनलॉक के पहले दिन बाज़ारों में लोटी रोनक , कोरोना के चलते 98 साल बाद बंद किये गये रियासतक़ालीन दरवाज़े को फिर खोला गया

 


 बिजोलिया कपिल/ कोरोना की दूसरी वेव के बढ़ते संक्रमण के चलते 98 साल बाद बंद किये गये बिजोलिया की शहरकोट के रियासतक़ालीन बड़ा दरवाज़े को लोगों की आवाजाही के लिये आज अनलॉक के पहले दिन तहसीलदार शेतान सिंह यादव , थानाप्रभारी सूर्यभान सिंह की मोजूदगी में एक बार फिर सुबह 6 से 11 बजे तक खोला गया हे । वही दूसरी ओर अनलॉक के पहले दिन नियमों की अनदेखी ना हो ओर लोग गाइड लाइन की पालना करे इसको लेकर पुलिस विभाग ने क़स्बे के बाज़ारों में कोंस्टेबल गिरधारी , राजेश , सोदान एवं थान सिंह को नियमों की पालना कराने की ज़िम्मेदारी दी हे । नियमों की पालना को लेकर पुलिस ने क़स्बे में माइक से लोगों को बेवजह बाहर नही निकलने , भीड़ एकत्रित नही करने , मास्क पहनने एवं 12 बजे बाद सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन की पालना के निर्देश दिये हे । उल्लेखनीय हे की बिजोलिया उपखंड में संक्रमण के 700 से अधिक केस होने एवं सरकार के सख़्त लॉकडाउन के आदेश के बाद बिजोलिया में लोगों की आवाजाही को रोकने के लिये 500 वर्ष पूर्व बनी शहरकोट के दरवाज़ों को 98 साल बाद बंद किया गया था । 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक