देश में अबतक 88 लाख से अधिक लोगों को लगी वैक्सीन, उत्तर प्रदेश सबसे आगे

 


नई दिल्ली । कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान  में अब तक 88 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इनमें दो लाख से अधिक वे स्वास्थ्यकर्मी भी शामिल हैं, जिन्हें वैक्सीन की दूसरी डोज दी गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी है।

मंत्रालय ने बताया कि 1.90 लाख से अधिक सत्रों में 88,57,341 लोगों को टीका लगाया जा चुका है। इनमें टीके की पहली डोज लेने वाले 61,29,745 और दूसरी डोज लेने वाले 2,16,339 स्वास्थ्यकर्मी शामिल हैं। इसके अलावा इनमें पहली डोज लेने वाले 25,11,257 फ्रंटलाइन वर्कर्स भी शामिल हैं। 16 जनवरी को स्वास्थ्यकर्मियों को और दो फरवरी को फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाने की शुरआत हुई थी। चार हफ्ते बाद दूसरी डोज देने की शुरआत शनिवार को हुई थी।

मंत्रालय ने बताया कि टीकाकरण अभियान के 32वें दिन मंगलवार को शाम छह बजे तक 1,34,691 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। इनमें से 78,643 लाभार्थियों को वैक्सीन की पहली डोज की गई, जबकि 56,048 स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरी डोज।

 टीकाकरण केंद्र बढ़ाए जाएंगे 

रायटर के मुताबिक कोरोना के खिलाफ गठित राष्ट्रीय टास्क फोर्स के प्रमुख डॉ. वीके पॉल ने कहा है कि जल्द से जल्द लोगों को टीका लगाने के लिए टीकाकरण केंद्रों की संख्या पांच गुना ब़़ढाई जाएगी। अभी रोजाना औसत तीन लाख लोगों को ही टीका लगाया जा रहा है। जबकि, सरकार ने इस साल अगस्त तक तीन करो़़ड लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा है।

उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा लाभार्थी 

मंत्रालय ने बताया कि मंगलवार को पहली डोज लेने वालों में से नौ और दूसरी डोज लेने वालों में से सिर्फ एक लाभार्थी में प्रतिकूल प्रभाव देखने को मिला। अब तक टीका लगवाने वालों में सबसे ज्यादा 9,34,962 लाभार्थी उत्तर प्रदेश के हैं। इसके अलावा टीका लगवाने वालों में गुजरात के 7,10,082, राजस्थान के 6,28,400, मध्य प्रदेश के 5,75,728, बंगाल के 5,55,959 और कर्नाटक के 5,32,208 लाभार्थी भी शामिल हैं।