Saturday, February 27, 2021

लहसुन खाएंगे तो कम होगा ऐसी गंभीर बीमारियों का जोखिम, ऐसे हैं इसके फायदे


लाइफस्टाइल डेस्क। भारतीय पकवानों को तैयार करने में आमतौर पर जिन चीज़ों का इस्तेमाल किया जाता है, वे खाने का सवाद तो बढ़ाती ही हैं, लेकिन साथ ही सेहत के लिए भी फायदेमंद होती हैं। जिनकी मदद से हम कई तरह की बीमारियों से दूर रहते हैं। इन्हीं में से एक है लहसुन।

भारत में लहसुन दो तरह से इस्तेमाल किए जाते हैं। पहला दाल में तड़का लगाते वक्त और दूसरा सब्ज़ी बनाने वक्त। इसके साथ ही कुछ लोग लहसुन की चटनी भी बनाकर खाते हैं, तो कुछ लोग सुबह-सुबह खाली पेट इसे खाते हैं। वहीं, कुछ लोग सेहतमंद रहने के लिए इसे भून कर भी खाना पसंद करते हैं। अगर आपको लहसुन 

उसके स्वाद या सुगंध की वजह से नापसंद है, तो ये आर्टिकल ज़रूर पढ़ें।

लहसुन में होते हैं ज़रूरू खनिज पदार्थ 

लहसुन में विटामिन-सी, विटामिन-बी 6, फॉस्फोरस, मैंगनीज, जस्ता, कैल्शियम और लोहा जैसी बेहद ज़रूरी खनिज पाए जाते हैं। साथ ही इसमें थोड़ी मात्रा में प्रोटीन, थायमिन और पैंटोथेनिक एसिड भी होते हैं। ये सभी चीज़ें सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होती हैं। 

ख़ून को साफ करता है

आयुर्वेद लहसुन की चटनी खाने की सलाह देता है। इसके सेवन से ख़ून साफ होता है। लहसुन के सेवन से शरीर में मौजूद सभी अनावश्यक विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं।

कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रहता है

लहसुन में यौगिक एलिसिन की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो हानिकारक एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को ऑक्सीकरण से बचाता है। साथ ही यह शरीर से एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को भी ख़त्म करता है।

हाई ब्लड प्रेशर में फायदेमंद लहसुन

लहसुन को प्राकृतिक औषधि माना जाता है। इसके रोज़ाना सेवन से हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है, या कई मौके पर हाई ब्लड प्रेशर को भी कम करता है। साथ ही लहसुन प्लेटलेटस को भी बढ़ाने का काम करता है। जिससे Thrombosis से लड़ने में मदद मिलती है। 

कैंसर में फायदेमंद 

एक शोध में ये साबित हुआ है कि लहसुन प्रोस्टेट, एसोफैगल और कोलन कैंसर के जोखिम को कम करने में भी काफी फायदेमंद है। 

पाचन को बनाता है मज़बूत 

लहसुन रोज़ाना खाने से पाचन तंत्र को मज़बूती मिलती है। इससे पेट में होने वाली सभी तरह की बीमारियां जैसे सूजन, जलन, गैस्ट्रिक आदि से राहत भी मिल सकती है। 

Disclaimer: लेख में दिए गए सुझाव और टिप्स सिर्फ सामान्य जानकारी के उद्देश्य के लिए हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। इसके बारे में ज़्यादा जानकारी या फिर लहसुन को अपनी डाइट में शामिल करने से पहले अपने डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से ज़रूर सलाह लें। 

भक्त ने चारभुजा नाथ के 1 किलो चांदी की थाली, कटोरी भेंट की

  भीलवाड़ा ! श्री माहेश्वरी समाज श्री चारभुजा जी मंदिर ट्रस्ट, भीलवाड़ा बड़ा मंदिर चारभुजा नाथ के भक्त ने आज 1 किलो चांदी की थाली एवं भोग लग...