कृषि बिल किसानों के साथ ही 40 फीसदी लोगों को कर देगा बेरोजगार-राहुल गांधी

  अजमेर शिवराज भाटी ।कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को निकटवर्ती रूपनगढ़ गांव के नागरीदास स्टेडियम में आयोजित किसान व ट्रैक्टर रैली को संबोधित करते हुए कहा कि आज हिंदुस्तान का सबसे बड़ा व्यापार कृषि व्यापार हैं। इस व्यापार से देश की 40 फीसदी जनता जुड़ी हुई हैं ।यह कानून  सिर्फ किसानों को  ही नहीं  बल्कि  40 फीसदी  लोगों को बेरोजगार कर देगा। किसान देश का अन्नदाता है,और इससे मजदूर, रेहड़ी,ठेला व्यापारी सहित एक बड़ा वर्ग जुड़ा हुआ है।  उन्होंने अपनी बात को स्पष्ट करते हुए कहा कि आज एक गाड़ी बनाने वाली कंपनी चाहे वह महिंद्रा कंपनी हो ,चाहे टाटा कंपनी इससे एक व्यक्ति को ही लाभ होता है, लेकिन यह कृषि का व्यापार 40 लाख करोड़ का व्यापार है। इस व्यापार से प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से छोटे व्यापारी, छोटे उधमी, मजदूर ,फल सब्जी वाले बेचने वाले सभी जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि कृषि का कार्य दुनिया का सबसे बड़ा व्यापार है। यह किसी एक व्यक्ति का नहीं है, इसमें किसानों के साथ मजदूरों की भी पूर्ण भागीदारी हैं। उन्होंने आरोप करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि पूरा का पूरा व्यापार उनके दो दोस्तों का हो जाए, लेकिन हिंदुस्तान का किसान यह कभी नहीं होने देगा। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान का किसान आज कह रहा है कि हम मर जाएंगे लेकिन यह कानून बर्दाश्त नहीं करेंगे । उन्होंने कहा की किसान के पीछे मजदूर खड़ा है ,छोटा व्यापारी खड़ा है। मोदी जी का यह  कानून लागू हो गया तो सिर्फ किसान ही नहीं चने मूंगफली बेचने वाले, रेहडी वाले भी बेरोजगार हो जाएंगे। मोदी जी चाहते हैं कि हिंदुस्तान की कृषि का उपयोग केवल  उद्योगपति ही करें,  उन्होंने किसान बिल के बारे में कहा कि यह कानून किसान को बेचने व खरीदने दोनों ही मामलों में लूटने वाला कानून है। उद्योगपति 40 फीसदी अनाज का कंट्रोल करता है। किसानों से सस्ती दर में अनाज फल व सब्जी खरीदेगा  तथा जब इसकी मांग बढ़ेगी तो इसको वह महंगे भाव में बेचकर किसान को कंगाली के कगार पर ला छोड़ेगा। राहुल गांधी ने कहा कि यह व्यापार किसान के साथ ही भारत माता का व्यापार हैं। उन्होंने कहा कि मोदी जी किसानों से आज दो माह बाद भी वार्ता करने के लिए तैयार नहीं है। वह आज युवाओं को विकल्प देना चाहते हैं। अगर यह कानून लागू होता है तो बेरोजगारी और आत्महत्या जैसे ही विकल्प बेरोजगारों को मिलेंगे। उन्होंने कहा कि मोदी जी यह कानून लाकर मंडी खत्म  करना चाहते हैं ,जो क़भी संभव नहीं होगा। उद्योगपति अनाज, फल व सब्जी का स्टोरेज कर सकता है जिसे अनलिमिटेड जमाखोरी बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि जब नोटबंदी, जीएसटी कानून लाए गए तभी भी मैंने हिंदुस्तान की जनता से आह्वान किया था, लेकिन इस बात को लेकर मीडिया ने भी मजाक बनाया था। उन्होंने कहा कि मोदी जी किसान की हत्या करके एक सुपर मार्केट का निर्माण करना चाहते हैं, जिससे ठगा हुआ किसान वही अनाज खरीदने जाएंगे जिसको कभी उसने सस्ते में मजबूरी में बेचा था। उन्होंने  कहा कि मैं गारंटी से कह रहा हूं कि अगर यह कानून वापस नही लिया गया तो  लोगों को रोजगार नहीं मिलेगा, रोजगार के लिए लोगों को भटकना पड़ेगा। इससे पूर्व सभा को संबोधित करते हुए इससे पूर्व सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि किसान कानून को वापस करने के लिए आज पूरे देश की कांग्रेस आज किसान व आम जन के साथ खड़ी हैं।केंद्र सरकार की हठधर्मिता के चलते आज सड़को पर रात बिताने को मजबूर हो रहा हैं।राहुल गांधी के आगमन से पूर्व सभा को सादुलपुर विधायक कृष्णा पुनिया, पूर्व सांसद प्रभा ठाकुर,डेयरी अध्यक्ष रामचन्द्र चौधरी, ,पूर्व जिला प्रमुख रामस्वरूप चौधरी,नसीम अख़्तर इंसाफ,हाजी इंसाफ अली,जीवन भाकर, पूर्व मंत्री रामलाल चोधरी ने भी संबोधित किया।

पायलट  को मंच किया दूर- सभा के लिए चार ट्रैक्टरों की ट्रॉली को जोड़कर मंच बनाया गया था। राहुल गांधी के मंच पर आते ही सभी नेता मंच पर चढ़ गए। इस पर राहुल गांधी ने नाराजगी जताई ,जिस पर अजय माकन ने सभी को मंच से नीचे उतरने की कहा। इस दौरान मंच पर पायलट के जाने से पूर्व  सभी को दूर कर दिया गया। राहुल के भाषण के दौरन सचिन पायलट मंच के नीचे 12 मिनट तक खड़े रहे।मंच के आगे लगी खाट पर चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा,अशोक चांदना, डेयरी अध्यक्ष रामचन्द्र चौधरी, कृष्णा पुनिया आदि बैठे।वही मंच पर अशोक गहलोत, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा मौजूद रहे ।

सुरसुरा धाम की ली जानकारी- इससे पहले राहुल गांधी निकटवर्ती वीर तेजा धाम सुरसुरा पहुंचे। यह पर मंदिर  के पुजारी मनोज सैनी ने पूजा करवाई व दुपटटा पहनाकर स्वागत किया।धाम पर तसवीर भेंट कर गांधी स्वागत किया गया।

ट्रैक्टर चलाकर पहुंचे मंच पर राहुल गांधी रूपनगढ़ में सभा स्थल पर सभा स्थल से कुछ दूरी पर ट्रैक्टर पर बैठकर मंच तक पहुंचे उनके साथ ट्रैक्टर पर अशोक गहलोत चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा अशोक चांदना आदि मौजूद थे रुपनगढ़ की सभा के बाद राहुल गांधी निकटवर्ती मानपुरा तक ट्रैक्टर रैली के साथ पहुंचे 

राहुल गांधी सभा से पहले ही रालोपा नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार- कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी  राजस्थान के अजमेर और नागौर जिले के दौरे पर रहे । अजमेर में राहुल गांधी ट्रैक्टर सभा कर रहे थे। राष्ट्रीय लोकत्रांतिक पार्टी ने राहुल गांधी से विधानसभा चुनाव मे किसानों के समपर्ण कर्जा माफ की घोषणा को पुरा करने कि बात को लेकर सीधा सवाल करने कि योजना थी। राष्ट्रीय लोकत्रांतिक पार्टी के प्रदेश कार्यकारणी सदस्य विजय पाल राव के साथ अजमेर जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र रावत, आशिष सोनी, अंकुर चोहान, साकार जैन सहित सैकडों रालोपा कार्यकर्ताओं के साथ अजमेर से किशनगढ़ हवाई अड्डे की ओर राहुल गांधी से सीधा सवाल करने जा रहे थे, सिविल लाइन थाने पुलिस ने जयपुर रोड पर राजस्थान लोकसेवा आयोग के सामन बेरीकेट्स लगा कर रोका और रालोपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य विजयपाल राव व अजमेर जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र रावत सहित एक दर्जन कार्यकर्ताओं को पुलिस गिरफ्तार करके अज्ञात स्थान पर लकरे गई। राहुल गाधी अजमेर जिला से जाने के बाद सभी रालोपा नेताओं को थान लाकर छोड़ा ।