चलती ट्रेन के सामने कूदकर मां, बेटी ने दी जान

 


फतेहपुर । फतेहपुर जिले में एक मां और बेटी ने तेज रफ्तार ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली है। यह घटना गुरुवार की है। अधिकारियों ने कहा है कि ट्रेन की चपेट में आने से शवों के कई टुकड़े हो गए हैं। पुलिस ने इन्हें समेटकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

मृतकों की पहचान 47 वर्षीय ननबुध की पत्नी राजरानी और उनकी बेटी पूजा के रूप में हुई है।

सर्कल ऑफिसर अंशुमन मिश्रा के मुताबिक, "दोनों भीट बाबा देवस्थान पश्चिमी केबिन के पास पहुंचे और तेज रफ्तार के साथ आ रही एक मालगाड़ी के सामने कूद गए। इस हादसे में दोनों को कई चोटें आई हैं, जिससे मौके पर ही इनकी मौत हो गई है। ये दोनों खागा कोतवाली पुलिस सर्कल के तहत आने वाले इलाई गांव के रहने वाले हैं।"

पुलिस ने कहा कि कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। उनके द्वारा परिवार के सदस्यों से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस अधिकारी ने कहा, "हालांकि शुरुआती जांच के बाद यह पता चला है कि ननबुध द्वारा अपनी बेटी की शादी एक ऐसे शख्स से कराए जाने के अपनी पत्नी के दिए प्रस्ताव को ठुकराए जाने के बाद मां और बेटी ने मिलकर अपनी जान दे दी, जिसका इनके घर पर अकसर आना-जाना था। अभी छानबीन जारी है और मौत के सही कारण का पता लगाने के लिए हमें पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आने का इंतजार है।"