आंखों की सेहत का ख्याल रखना चाहते हैं तो इन पांच चीजों को करें डाइट में शामिल

 


लाइफस्टाइल डेस्क। डिजिटलाइजेशन के इस दौर में हमारा ज्यादा से ज्यादा वक्त टीवी, मोबाईल और कंप्यूटर के आगे ही गुजरता है। घंटों स्क्रीन पर निगाहें टिकी रहने से आंखों की नसें सिकुडने लगती हैं। इससे आंखों की रोशनी कम होने के साथ सिरदर्द की समस्या भी बढ़ने लगती है। इतना ही नहीं, स्क्रीन के आगे ज्यादा समय गुजारने से धीरे-धीरे आंखों का नंबर बढ़ने लगता है और पतला चश्मा मोटा होने लगता है। अगर आप अपनी आंखों को लंबे समय तक तंदुरुस्त रखना चाहते हैं तो आप अपनी डाइट में उन चीजों को शामिल करें जिनसे आपकी आंखों की रोशनी कायम रहे और आंखों को सुकून पहुंचे।

लंबे समय तक स्क्रीन देखने से होने वाले नुकसान:

कंप्यूटर या स्क्रीन पर लंबे समय तक आंखें गढ़ा कर काम करने से आंखों पर जोर पड़ता है। इससे नज़र धुंधली होती है, दूर की चीजें देखने में परेशानी होती है, आंखें सूख जाती है, सिर दर्द, पीठ दर्द और कंधों में दर्द की शिकायत रहती है। आप भी आंखों की इन समस्याओं से बचना चाहते हैं तो सबसे पहले अपनी डाइट में ऐसी चीजें शामिल करें जिनसे आपकी आंखों की रोशनी में इज़ाफा हो।

मछली का सेवन करें:

अगर आप आंखों को कमजोर होने से बचाने चाहते हैं तो आपको ऐसा आहार लेना चाहिए जो पोषक तत्वों से भरपूर हो। मछली ओमेग-3 फैटी एसिड का बेस्ट स्रोत है। मछली के पेट और उसके उत्तकों में तेल मौजूद होता है जो आंखों के लिए बेहद उपयोगी है। कई अध्ययनों में ये बात सामने आई है कि मछली का तेल आंखों की ड्राईनेस को दूर करता है। आप लंबे समय तक कंप्यूटर के आगे बैठते हैं तो मछली का जरूर सेवन करें।

हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करें:

अच्छी सेहत के लिए हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन बहुत जरुरी है। हरी सब्जियों जैसे पालक और कैल आयरन और विटामिन से भरपूर होती हैं जो आंखों की रोशनी को बढ़ाने में बहुत जरूरी हैं।

नट और फलियों का सेवन करें:

नट और फलियां जो आंखों के स्वास्थ्य के लिए बेहद अच्छे हैं। नट्स ओमेगा -3 फैटी एसिड से भी भरपूर होते हैं। नट्स में उच्च स्तर का विटामिन ई पाया जाता है, जो आंखों को बढ़ती उम्र की वजह से होने वाले नुकसान से बचा सकता है। आखों की रोशनी कम न हो इसके लिए ड्राई फ्रूड और नट्स का अधिक सेवन करना चाहिए।

गाजर का करें सेवन:

गाजर आखों के लिए बहुत फायदेमंद है। गाजर में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता है, जो आखों की रोशनी बढ़ाने में उपयोगी है। रोजाना गाजर का जूस पीने से आंखों की रोशनी में इज़ाफा होगा।

चिया बीज का सेवन करें:

नट और फलियों की तरह, बीज ओमेगा-3 s में उच्च होते हैं और विटामिन ई का एक समृद्ध स्रोत होते हैं। चिया बीज, पटसन के बीज, भांग के बीज अधिकांश किराने की दुकानों में आसानी से उपलब्ध हो सकते हैं जो हमारी आंखों के लिए बेहद उपयोगी है।  

 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक