Wednesday, February 24, 2021

एक चिता पर पति-पत्नी और दूसरी पर दोनों बेटियों का का हुआ अंतिम संस्कार

 

 सीकर। रविवार को एक ही परिवार के 4 लोगों द्वारा सामूहिक आत्महत्या करने के बाद सोमवार को जब इनकी अर्थी घर से निकली तो सभी की आंखें नम हो गई। एक चिता पर पति-पत्नी जबकि दूसरी पर एक साथ दोनों बेटियों का अंतिम संस्कार किया गया। मुखाग्नि के वक्त बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। वहां मौजूद हर कोई यह कह रहा था कि हनुमान को थोड़ा तो साहस दिखाना चाहिए था। कम से कम अपने बूढ़े पिता के बारे में तो सोचा होता।

गौरतलब है कि रविवार को पुरोहित जी ढाणी इलाके में रहने वाले 48 साल के हनुमान प्रसाद सैनी अपनी पत्नी 45 साल की तारा, 2 बेटियों पूजा और अन्नू के साथ घर में फंदे पर लटके मिले। हनुमान भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद दिवंगत मदनलाल सैनी के भतीजे थे। वह सरकारी स्कूल में फोर्थ क्लास कर्मचारी थे। पत्नी हाउस वाइफ थीं। 24 साल की पूजा एमएससी फस्र्ट ईयर और 22 साल की चीकू बीएससी सेकंड ईयर में पढ़ती थीं।

भीलवाड़ा में कोरोना का महाब्लास्ट, 407 नये पॉजिटिव, मांडल, बापूनगर, मांडलगढ़ बने हॉट स्पॉट

   भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा में कोरोना का शनिवार को महाब्लास्ट हुआ है। कोरोना ने पुराने सभी रेकार्ड तोडते हुये अपना रौद्र रुप दिखाया है। शनिव...