गले से जुड़ी हर समस्या होगी दूर बस ऐसे करें गरारे, जानें क्या है गरारे करने का सही तरीका

 

बदलता मौसम सबसे पहले आपके गले पर बुरा असर डालता है। इस दौरान लोग गले में दर्द, खराश जैसी समस्याओं से बेहद परेशान रहते हैं। जिससे निजात पाने के लिए अपनाए जाने वाले घरेलू उपायों में सबसे पहला नाम गरारे का आता है। लेकिन गरारे करने का तरीका अगर सही नहीं है तो आपको अपनी परेशानी से राहत नहीं मिलती है। ऐसे में आइए जानते हैं कैसे करने चाहिए गरारे और गरारे करने के लिए आखिर किस तरह के पानी का इस्तेमाल किया जा सकता है।

लौंग के पानी से करें गरारे-
लौंग में मौजूद औषधीय गुण मुंह के भीतर छिपे कीटाणुओं को मारने और गले की सूजन को कम करने में मदद करते हैं। लौंग के पानी से गरारे करने के लिए एक गिलास पानी में 2-3 लौंग उबालकर डालें। इस पानी से गरारे करने से कफ और गले की सूजन दोनों में राहत मिलती है।

gargling with salt water

अदरक के पानी से गरारे-
अदरक का रस गले की खराश को दूर करता है। गले की खराश दूर करने के लिए एक गिलास पानी को उबालकर उसमें अदरक पाउडर मिलाकर उस पानी से गरारे करें।

सेब के सिरके से करें गरारे-
सेब के सिरके में मुंह के कीटाणुओं को मराने की शक्ति मौजूद होती है। इस पानी से गरारे करने के लिए आपको आधा गिलास पानी में 2 चम्मच सेब का सिरका मिलाना है। इस बात का ध्यान रखें कि सेब के सिरके के पानी को उबालना नहीं है, इसे सिर्फ गर्म करके गरारे करने के उपयोग में लाएं।

हल्दी के पानी से गरारे-
हल्दी के पानी से गरारे करने के लिए आपको एक गिलास हल्के गर्म पानी में थोड़ी सी हल्दी और नमक मिलाकर गरारे करने हैं। गले की खराश में आपको आराम मिलेगा।