Friday, February 12, 2021

क्या आपकी स्किन पर लाल चकत्ते हैं? जानिए इनसे छुटकारा पाने का आसान तरीका

 


लाइफस्टाइल डेस्क। कुछ लोगों को स्किन पर कई तरह की परेशानियां होती रहती हैं, उन्हीं में से एक है स्किन पर लाल दाने या चकत्ते आना। अक्सर लोग इन लाल दानों को नजरअंदाज कर देते हैं क्योंकि इनकी वजह से किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं होती लेकिन ये देखने में अच्छे नहीं लगते। किसी की स्किन ड्राई होती है तो किसी की ऑएली तो किसी की एक्सट्रा सेंसेटिव रहती है। आप जानते हैं इन सभी तरह की स्किन पर लाल चकत्ते हो सकते हैं। बांहें और पेट के पास लाल चकत्ते होना आम बात है। जब तक इन चकत्ते में बहुत बड़ा बदलाव या ये बहुत बड़े नहीं हो जाए तो यह नुकसान नहीं पहुंचाते।

चकत्ते होने का कारण:

बांहों पर होने वाले इन चकत्तों का कारण है कीराटोसिस पिलारिस। यह एक तरह की कंडीशन है जिसमें छोटे-छोटे लाल या भूरे रंग के चकत्ते बांहों के पीछे हो जाते हैं। दिलचस्प बात यह है कि ये चकत्ते कील-मुंहासों से अलग तरह की स्थिति में पनपते हैं। यह तब होते है जब स्किन की मरी हुई कोशिकाएं स्किन पोर में आकर फंस जाती हैं।

चकत्तों का आकार:

कुछ चकत्ते पिंपल की तरह ऊग जाते हैं यानी यह स्किन की सतह से बाहर निकल जाते हैं। कीराटोसिस पिलारिस आमतौर पर संख्या में ज्यादा होते है। एक साथ इसके कई बैचेज निकलते हैं। इसमें खुजली नहीं होती लेकिन यह कई रंग के होते हैं। प्रमुखतया ये लाल, भूरा और गुलाबी रंग के होते हैं। कीराटोसिस पिलारिस संक्रमण नहीं फैलाता, जिसके परिवार में इसके आनुवांशिक लक्षण है, उनमें इन चकत्ते होने की आशंका ज्यादा होती है। वैसे एग्जिमा या खुजली वाली बीमारी जिसे ज्यादा होती है, उसमें इसके होने की आशंका भी ज्यादा रहती है। हालांकि यह बहुत ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचाते लेकिन कभी-कभी इसमें भी इचिंग शुरू हो जाती है। तो आइए इसे हटाने का आसान तरीका बताते हैं-

परत उतारना:

सबसे आसान तरीका यह है कि जहां पर चकत्ते हैं वहां की परत को हटा दिया जाए। इससे डेड सेल वहां से हट जाएंगे जिसके बाद वह जगह साफ हो जाएगी। हालांकि इसे जबरदस्ती न करें। गुनगुने पानी में टॉवेल को डुबाएं और उस गुनगुने टॉवेल को चकत्ते वाली जगह पर आराम से सहलाएं। जैसे ही इसमें दर्द हो, उसे छोड़ दें और फिर से यही प्रक्रिया अपनाएं। याद रहे टॉवेल को बहुत ताकत के साथ न रगड़ें। बेहतर होगा कि गर्म पानी में स्क्रबर को डाले और इसी से लाल चकत्ते को साफ करें।

 

हाइड्रेशन लोशन:

बाजार में अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड (AHAs) वाले कई लोशन आते हैं। लैक्टिक एसिड की तरह यह भी ड्राई स्किन को कोमल बनाते है। ग्लिसिरीन भी इसके लिए सही उपचार है। इसके अलावा रोज वाटर से भी इन चकत्ते को हटाया जा सकता है।

ड्राई ब्रशिंग:

नहाने के लिए आप ड्राई ब्रशिंग का इस्तेमाल तो करते ही होंगे। ड्राई ब्रशिंग के इस्तेमाल से स्किन के पोर खुलते हैं और उनमें से डेड सेल बाहर आ जाते हैं। ड्राई ब्रशिंग से नहाते समय आप चकत्ते वाली जगह पर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। कुछ दिनों में अपने आप ये लाल चकत्ते गायब हो जाएंगे।

 

भीलवाड़ा में कोरोना का महाब्लास्ट, 407 नये पॉजिटिव, मांडल, बापूनगर, मांडलगढ़ बने हॉट स्पॉट

   भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा में कोरोना का शनिवार को महाब्लास्ट हुआ है। कोरोना ने पुराने सभी रेकार्ड तोडते हुये अपना रौद्र रुप दिखाया है। शनिव...