Wednesday, February 3, 2021

केन्‍द्रीय बजट पर वेबीनार का आयोजन


भीलवाडा (हलचल) । मेवाड चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री एवं टेक्सबार एसोसियेशन की ओर से वर्ष 2021-22 के केन्द्रीय बजट पर वेबीनार का आयोजन किया गया। कालानी एण्ड कम्पनी जयपुर के पार्टनर पी सी परवाल ने केन्द्रीय बजट पर चर्चा करते हुए कहाकि काफी समय बाद केन्द्रीय बजट आधारभूत संरचनाओं के विकास पर केन्द्रीत करते हुए आया है। परिवहनशिक्षास्वास्थ्य सेवाओं पर विशेष ध्यान दिया गया है। इससे आधारभूत सुविधाओं के विकास होने से औद्योगिक उत्पादन एवं निर्यात को बढोतरी मिलेगी। स्टॉक मार्केट ने भी इस बजट को सकारात्मक रुप से स्वीकार किया है। कोविड के कारण कुछ विपरित असर से रेवेन्यु प्राप्ति में कमी आने से आगामी वर्ष का रेवेन्यु डेफिसिट 1140576 करोड का होगाजो कि देश की जीडीपी का 5.76 प्रतिशत होगा।

परवाल ने कहाकि वित्तमंत्री ने जीएसटी में इन्वर्टेड ड्यूटी की विसंगतियां दूर करने के साथ जीएसटी प्रणाली में भी कई बदलाव किये हैजिससे उद्यमियों एवं व्यापारियों को कार्य करने में आसानी होगी। प्रत्यक्ष कर या आयकर में कोई परिवर्तन नही किया गया है। सबसे महत्वपूर्ण परिवर्तन टीडीएस व टीसीएस के प्रावधानों में किया गया हैजिसमें पहले टीसीएस काटने की जिम्मेदारी विक्रेता की थीउसे अब क्रेता की ज़िम्मेदारी कर दिया गया है। साथ ही पेन नम्बर नही होने की स्थिति में टीसीएस की दर 5 प्रतिशत कर दी गई है। ऐसे व्यापारी जिनके पेन नम्बर तो है लेकिन पिछले 2 वर्षो से आयकर रिटर्न दाखिल नही कर रहे हैके लिए टीडीएस एवं टीसीएस की दर विभिन्न प्रावधानों में प्रदर्शित दर से दुगुनी कर दी गई है।

परवाल ने बताया कि रियल इस्टेट एवं अफोर्डेबल हाउसिंग को बढावा देने के लिए विभिन्न प्रावधानों को एक वर्ष के लिए आगे बढाया गया है। उन्होने विभिन्न प्रावधानों की विस्तार से चर्चा की। साथ ही जीएसटी में परिवर्तन के प्रावधानों के बारे में भी जानकारी दी। 

वेबीनार के प्रारम्भ में मेवाड चेम्बर के अध्यक्ष जी सी जैन ने सभी का स्वागत करते हुए कहाकि भीलवाडा के सभी औद्योगिक संगठनों को मिलकर इस बात का प्रयास करना चाहिए कि बजट में घोषित मेगा टेक्सटाइल पार्क में से पार्क भीलवाडा को आंवटित होताकि भीलवाडा के टेक्सटाइल उद्योग का टर्नऑवर 20 हजार करोड प्रतिवर्ष से बढकर 40 से 50 हजार करोड प्रतिवर्ष का हो सके। टेक्सबार एसोसियेशन के अध्यक्ष अतुल सोमाणी ने अतिथि वक्ता पी सी परवाल का परिचय देते हुए उन्हें आयकर विषयों में देश के सर्वश्रेष्ठ विशेषज्ञों में से एक बताया। वेबीनार में मेवाड चेम्बर एवं टेक्सबार एसोसियेशन के सदस्योंसीए एवं अन्य प्रोफेशनल्स ने भाग लिया।