Saturday, February 13, 2021

घर से पुजारियों को ऑडी में लेकर गए, हनीट्रैप में फंसाकर पीटा और मांगी 10 लाख रंगदारी

 

नोएडा
नोएडा के सेक्टर 34 में रहने वाले पुजारी को पूजा अनुष्ठान के बहाने ले जाकर पिटाई करने और 10 लाख की रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। आरोप है कि पुजारी और उसके साथी के साथ एक होटल में ले जाकर मारपीट की गई और हनीट्रैप में फंसाकर रंगदारी मांगी गई। बदमाश ऑडी कार में आए थे। पुजारी ने शुक्रवार दोपहर घटना की शिकायत थाना सेक्टर 24 पुलिस से की है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।


    बदमाशों ने उनके ई-वॉलेट से 50 हजार रुपये अपने खाते में भी ट्रांसफर करवा लिए। साथ ही सोने की अंगूठी और दो मोबाइल लूट लिए। पुलिस के मुताबिक, मूलरूप से फतेहगंज, थाना बलदेव जिला मथुरा के मोहन कुमार पाठक उर्फ कृष्ण गोपाल जी महाराज सेक्टर 34 स्थित उदयगिरी अपार्टमेंट में रहते हैं। शिकायत में उन्होंने बताया कि 6 फरवरी को उनके पास एक नंबर से फोन आया और सेक्टर 54 में बड़ी पूजा कराने के बहाने बुलाया।

    लाल रंग की ऑडी में आए
    दोपहर करीब ढाई बजे दो युवक लाल रंग की ऑडी कार लेकर उनकी सोसायटी के बाहर पहुंचे। उन्हें और उनके साथी हरिओम पंडित निवासी मेखला शिरडी शिवपुर मध्यप्रदेश को बिठाकर सेक्टर 54 के पास एक होटल के 5वें फ्लोर पर ले गए।

    होटल में थे 5 बाउंसर और 1 युवती
    यहां पहले से ही 5 बाउंसर व एक युवती मौजूद थी। युवती ने मुंह ढका हुआ था। एक शख्स ने दरोगा की वर्दी पहन रखी थी। दोनों पंडितों को होटल के अलग-अलग कमरे में बंद कर दिया गया और उनके साथ मारपीट की गई। पिस्टल कनपटी पर लगाई गई। इस दौरान पुजारी ने एक शख्स को पहचान लिया। इसका नाम विनय है और वह दिल्ली के शकरपुर का रहने वाला है। पुजारी विनय और उसकी बहनों के यहां पूजा अनुष्ठान वगैरह कर चुके हैं।

    खुद को बताया एसटीएफ और क्राइम ब्रांच का अफसर
    पुजारी ने बताया कि वहां मौजूद युवकों ने खुद को एसटीएफ और क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताया। उन्होंने कहा कि तुम्हारे खिलाफ लड़कियों का शारीरिक शोषण और ब्लैकमेल करने की 9 शिकायतें हैं। इसके बाद उनको पीटा गया और एनकाउंटर की धमकी दी गई। आरोप है कि उनकी जबरन विडियो बनाई और युवतियों से अवैध संबंध होने की बात विडियो में कहलवाई। इस दौरान कमरे में युवती भी मौजूद थी।

    10 लाख की मांगी रंगदारी
    पुजारी का आरोप है कि आरोपितों ने इसके बाद 10 लाख की रंगदारी मांगी‌। जब उन्होंने 10 लाख रुपये न होने से इनकार किया तो आरोपित 5 लाख तुरंत देने व 5 लाख 15 फरवरी को देने की बात करने लगे। जब पुजारी ने बताया कि उनके अकाउंट में केवल 50 हजार रुपये हैं तो आरोपितों ने उनके ई-वॉलेट से अपने खाते में ट्रांसफर कर लिए। साथ ही सोने की अंगूठी और दोनों मोबाइल फोन लूट लिए।

    ग्रांम पंचायतो में सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिड़काव किया

       निम्बाहेड़ा हलचल। निकटवर्ती ग्रांम पंचायत टाई एवं बरड़ा के अरनिया माली, बोरखेड़ी, ढावलिया,  पेमडीया गाव में बुधवार को कारोना महामारी सेे बचा...