Tuesday, February 16, 2021

विधायक सांखला ने बिगड़ी कानून व्यवस्था पर विधानसभा में सरकार को घेरा


 आसींद मंजूर/  सष्टम विधानसभा सत्र के राज्यपाल  महोदय के अभिभाषण पर विधायक  जब्बर सिंह सांखला ने  क्षेत्र की समस्याओं को विधानसभा के पटल पर रखा।

विधायक सांखला ने राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा करते हुए कहा कि मेरे विधानसभा क्षेत्र आसींद हुरड़ा मैं भगवान चारभुजा नाथ मंदिर ब्राह्मणों की सरेरी में चोरी, मां बैराट भवानी मंदिर में चोरी, परा हनुमान मंदिर पर महंत की हत्या, डकैती, लूटमार आदि का आज दिन तक पुलिस प्रशासन द्वारा राजफाश नहीं किया जाने से क्षेत्र की जनता में आक्रोश एवं भय का माहौल बना हुआ है उक्त सभी प्रकरणों की राज्य सरकार उच्च स्तरीय जांच कमेटी गठित करवाकर निष्पक्ष जांच करवाई जावे।

उपखंड आसींद के ग्राम पंचायत रतनपुरा (लाछुड़ा) एवं उपखंड बदनोर के रतनपुरा (भादसी) में काफी वर्षो से टावर नहीं होने से क्षेत्र में आमजन को केंद्र एवं राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से वंचित रहना पड़ रहा है एवं अति आवश्यक समय में संचार सुविधा के अभाव में एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड आदि की सुविधा भी समय पर नही मिलने से कई गंभीर परिणाम भुगतने पड़ते है। इस गंभीर समस्याओं को देखते हुए राज्य सरकार इन दोनों स्थानों पर सरकारी अथवा निजी कंपनी का टावर लगवा कर आमजन को राहत प्रदान करवाएं।

आसींद में स्थित अंतर्राष्ट्रीय तीर्थ स्थल सवाई भोज मंदिर के समीप प्रेम सागर तालाब पर सौंदर्यीकरण करवाने हेतु तीन करोड की राशि स्वीकृत करने की मांग रखी.

विधानसभा क्षेत्र के आसींद से  दहीमथा वाया दौलतगढ़ तिलोली 23 किलोमीटर सड़क जो पूरी तरह टूट चुकी है जहां पर आए दिन हादसे हो रहे हैं उक्त सड़क पर प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में भारी वाहन गुजर रहे हैं। पूर्व में भी इस मार्ग पर कई गंभीर हादसे हो चुके हैं आमजन की समस्याओं को देखते हुए इस मार्ग को चौड़ा एवं टू लेन बनवाया जावे। यह सड़क रामगढ़ से भिंडर मेघा हाईवे काफी समय से स्वीकृत हो रखा है।  कटार चौराहे से कटार ग्राम की सड़क भी पूरी तरह से खराब होने से आमजन को आवा जावी मैं काफी परेशान उठानी पड़ रही है। 

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बदनोर में अब तक डीडी पावर नहीं मिलने के कारण वहां के कर्मचारियों को  समय पर भुगतान नहीं मिल रहा है इस हेतु राज्य सरकार सीएचसी बदनोर पर डीडी पावर के आदेश कराएं।

हिंदुस्तान जिंक आगूचा माइंस के उच्च अधिकारियों द्वारा 20 किलोमीटर की परिधि के क्षेत्र में किसानों की कृषि कार्य करने हेतु जमीन पूरी तरह बंजड़ हो चुकी है जहां पर कृषि कार्य करना संभव नहीं रहा है। जिससे क्षेत्र के गरीब तबके के किसान काफी चिंतित एवं दुखी है साथ ही स्थानीय युवाओं के साथ भी जिंक द्वारा धोखा किया किया जाकर स्थानीय को रोजगार नहीं देकर बाहरी लोगों को रोजगार दिया जा रहा है जो गलत है। राज्य सरकार उच्च स्तरीय निष्पक्ष जांच कमेटी गठित कर किसानों को न्याय एवं उचित मुआवजा दिलवाया जावे।

लॉकडाउन के दौरान विधायक मद से जो राशि स्वीकृत की गयी उसे  विधानसभा क्षेत्र में खाद्य सामग्री वितरण में अधिकारियों द्वारा राज्य सरकार के दबाव में कांग्रेस के लोगों द्वारा बटवा कर पार्टी विशेष का प्रचार प्रसार करवाया।

 

 

ग्रांम पंचायतो में सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिड़काव किया

   निम्बाहेड़ा हलचल। निकटवर्ती ग्रांम पंचायत टाई एवं बरड़ा के अरनिया माली, बोरखेड़ी, ढावलिया,  पेमडीया गाव में बुधवार को कारोना महामारी सेे बचा...