समाज से बहिष्कृत कर बंद किया हुक्का-पानी, 11 लोगों पर केस दर्ज

 

 भीलवाड़ा बीएचएन।  तेली समाज विकास समिति रायला का एक लेटर पेड तैयार कर समाज के एक व्यक्ति को समाज से बाहर कर समाज में हुक्का पानी बन्द कर उसे घर बुलाने व उसके घर आने-जाने वाले समाज के लोगों  का भी हुक्का पानी बन्द कर देने का फरमान जारी कर दिया गया। पीडि़त ने यह फरमान जारी करने का 11 लोगों पर आरोप लगाते हुये कोर्ट के इस्तगासे से रायला थाने में केस दर्ज करवाया है।  

रायला पुलिस ने बताया कि इंद्रा कॉलोनी रायला निवासी गोपाल पुत्र लालू तेली ने  प्रभु लाल पुत्र नन्दा तेली निवासी बस स्टेण्ड रायला, राजू पुत्र नानूराम तेली  दगदी खेड़ा,  ऊंकार पुत्र   हजारी तेली  पिपली मोहल्ला, रायला, राजू पुत्र  मथरा तेली निवासी रेल्वे फाटक, रायला, देवी लाल पुत्र दीपा तेली निवासी बागर खेड़ा, देवकरण पुत्र लादू तेली स्टेशन खेड़ा, रायला, हरिशंकर पुत्र गोपाल तेली बागर खेड़ा, सांवर लाल पुत्र रामकरण तेली  लाम्बिया गेट, रायला,  जगदीश पुत्र  देववक्ष तेली  स्टेशन खेड़ा, रायला,  गणेश पुत्र हीरा लाल तेली छीपा मोहल्ला, रायला.  भैरू लाल पुत्र काना तेली बस स्टेण्ड रायला के खिलाफ रिपोर्ट दी।
परिवादी ने रिपोर्ट में बताया कि उसके बेटे गोविन्द लाल तेली ने कुछ दिनो पूर्व  तेली समाज की लड़की कृष्णा से राजी खुशी सामाजिक तौर से शादी की थी ।  पुत्र व पुत्र वधू  घर पर  रह रहे है। परिवादी का आरोप है कि इन आरोपितों ने उसे बुलाकर कहा कि 31 हजार रूपये  तेरे पुत्र के शादी के समाज की रसुम व दण्ड के जमा कराने होंगे । रूपये लेने के लिये परिवादी को डराया धमकाया व मारपीट भी की। इनके डर से  रूपये इक_े करने के लिये इधर-उधर घूमता रहा लेकिन रूपयों की व्यवस्था नही हुई।  आरोपितों ने परिवादी को पुन:  बुलाकर मीटिंग लेकर तेली समाज विकास समिति रायला का एक लेटर पेड तैयार कर इन आरोपितों ने परिवादी को समाज से बाहर कर समाज में हुक्का पानी बन्द दिया । साथ ही यह कहा कि जो वह समाज के ही किसी के घर व्यक्ति के घर जायेगा या किसी को  घर बुलायेगा तो उसका भी हुक्का पानी बन्द कर उसे भी समाज से बाहर किया जायेगा। इसके बाद से समाज का कोई भी व्यक्ति परिवादी से व्यवहार नहीं रख रहा है और न ही उसे बुला रहा है जिससे उसका व परिवार का अपमान हुआ है रिश्तेदारी में भी आना जाना बन्द हो गया है। आरोपितों ने तेली समाज के वाट्स अप पर भी मैसेज को वायरल किया है जिससे  समाज में प्रतिष्ठा धुमिल हुई है। परिवादी का आरोप है कि ये आरोपित समाज में किसी पद पर नहीं हैं, फिर भी फर्जी लेटर पेड तैयार कर उसे समाज से बाहर कर दिया। उसे जान से मारने की धमकी दी है। मुल्जिमानों ने जान बुझ कर समाज  के वाट्सअप ग्रुप पर भी उक्त लेटर पेड को वायरल किया है। इस शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरु कर दी। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा