आशा सहयोगिनी की मौत, परिजनों ने कोरोना से मौत की जताई आशंका

 


 भीलवाड़ा हलचल। जिले के खैराबाद गांव की एक आशा सहयोगिनी की खांसी-जुकाम व बुखार के बाद मौत हो गई। परिजनों ने कोरोना से मौत की आशंका जताई है। इस पर मृतका के कोरोना जांच के सैंपल लिये गये हैं। अब रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। 
हमीरगढ़ थाने के दीवान मंगल सिंह ने हलचल को बताया कि खैराबाद निवासी निर्मला (40) पत्नी शंकर नायक खैराबाद में ही आशा सहयोगिनी के रूप में कार्यरत थी। बीती रात उसकी अचानक तबीयत बिगड़ गई। उसे जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। निर्मला की मौत के बाद परिजनों ने पुलिस को बताया कि निर्मला आशा सहयोगिनी थी और सर्वे का काम कर रही थी। दो-तीन दिन से उसे सर्दी, खांसी और बुखार था। परिजनों ने आशंका जताई कि निर्मला की मौत कोरोना से हुई है। ऐसे में गुरुवार सुबह मृतका के कोरोना जांच के लिए सैंपल लिये गये हैं। शव को मोर्चरी में सुरक्षित रखवाया गया है। कोरोना जांच रिपोर्ट का इंतजार है। पुलिस का कहना है कि रिपोर्ट नेगेटिव आने पर शव का पोस्टमार्टम करवाया जायेगा।