नवीन तकनीकी अपनाकर समृद्ध बने किसान

 भीलवाड़ा हलचल। शुक्रवार को आसींद  उपखंड क्षेत्र के बराना गांव में किसान मेले का आयोजन किया गया ए कृषि विज्ञान केंद्र अरनिया घोड़ा शाहपुरा एवं कृषि विभाग; आत्माद्ध भीलवाड़ा के संयुक्त तत्वाधान में ग्राम पंचायत बराना में आयोजित इस     कार्यक्रम में मुख्य अतिथि आसींद उपखंड अधिकारी सीएल शर्मा एविशिष्ट अतिथि विष्णु दत्त शर्मा प्रबंधक मंडल महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय उदयपुर ने किसानों को आह्वान करते हुए कहा कि कृषि विश्वविद्यालय कृषि विज्ञान केंद्र के द्वारा तैयार किए गए नई.नई उन्नत तकनीकों को अपनावे जैसे जैविक खेती एपोषण वाटिका एउन्नत यंत्र को आपनाकर उन्नत खेती करें एवं अपनी पैदावार को बढ़ाकर आमदनी दुगुनी कर सकते हैं । कार्यक्रम में चना फसल के प्रदर्शन एवं अन्य इकाइयों का भी अवलोकन करावाया । कृषि विज्ञान केंद्र अरनिया घोड़ा शाहपुरा ने नए कृषि बिलों की जानकारी दी ए वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ सीण्एमण् यादव ने किसानों को वैज्ञानिक विधि से दुधारू पशु एसंतुलित पशु आहार तैयार करने बकरी पालन आदि के बारे में बताया जिसमें की लागत में कमी करके अधिक उत्पादन  प्राप्त करें ।     परियोजना निदेशक एवं उपनिदेशक कृषि आत्मा भीलवाड़ा डॉक्टर जी ण्एलण् चावला ने किसानों के हितों के लिए विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्रदान कर किसानों को जागृत करने के निर्देश दिए । किसान ई मित्र पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवा कर नई.नई योजनाओं का फायदा लेवेए  एसण्डीण् धाकड़ विशेष अधिकारी एवं मुख्य वैज्ञानिक बारानी कृषि अनुसंधान केंद्र ने  किसानों को गोबर की खाद एवं वर्मी कंपोस्ट की जानकारी दी । डॉण्केण् सीण् नागर  एसोसिएट प्रोफेसर ;शस्यद्ध ने किसानों को जैविक खेती अपनाने में   उत्पादन एजीवामृत एअमृत पंचगव्य तैयार करने की जानकारी दी  साथ ही  रबी की फसलों में खरपतवार प्रबंधक की जानकारी दी । 

डॉ रवि कांत शर्मा ने फसलों को लगाने से पहले मृदा एवं जल के परीक्षण कर स्वास्थ्य कार्ड के अनुसार खाद एवं उर्वरकों का फसलों में उपयोग करने की जानकारी दी। मांडलगढ़  प्रधान सतीश जोशी ने कहा कि आज के समय में किसान सोशल मीडिया के माध्यम से भी कृषि के क्षेत्र की जानकारी ले सकते हैं । डॉ सुचित्रा दाधीच ने उन्नत बागवानी में सब्जी उत्पादन कैसे करें  जानकारी दी । इस कार्यक्रम में 100 कृषि प्रदर्शनो में  प्याज की पौध 40 पोध ए फूलगोभी 50 पोधे 20 नेपियर घास के  दिए गए।विशिष्ट अतिथि विष्णु दत्त पारीक सदस्य प्रबंधक मंडल महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय उदयपुर ने सभी का आभार प्रकट किया ।