कोरोना ने तोड़ी, आस्था की कतार...सावन में शिवालय सूने, बिना दर्शनों के भक्तों में दिखी निराशा

 

 भीलवाड़ा  (राजेश जीनगर)सावन मास आज से शुरू हो गया इसी के साथ शिवालयों में एक माह तक भक्त शिव आराधना में लीन रहेंगे तो वहीं हर सोमवार शिवालयों में दर्शनार्थ भी पहुचेंगे, लेकिन भगवान भोले के दर्शन इस बार नहीं हो पाऐगें। जिसको लेकर आज सावन के प्रथम सोमवार को ही शहर का सबसे बड़ा शिवालय हरणी महादेव में सन्नाटा पसरा नजर आया और कोरोना संक्रमण को लेकर इस वर्ष भक्तों को बिना दर्शनों के ही लोटना पड़ रहा है। 
सावन माह लगने के साथ ही सोमवार को अलसुबह लगने वाली लंबी कतारें और हाथ में पुजा सामग्री लिए दर्शनों को आतुर भक्तों ने भी भगवान भोले से कहीं ना कहीं दुरी बनाऐ रखी।
जबकि पैदल चलकर आने वाले भक्तों में भी इतना उत्साह देखने को नहीं मिला। मंदिर के पुजारी की माने तो उनका कहना था की सावन माह में कभी ऐसा नहीं देखा की जब शिवालय सूना रहा हो और भगवान भोले के दर्शनों को लेकर भक्तों को आतुर नहीं देखा गया हो, लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण इस वर्ष मंदिर प्रबंधन ने भी भक्तों के लिए एलईडी के माध्यम से दर्शनों की विशेष व्यवस्था की।



टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना