महर्षि वेदव्यास की जयंती एवं  गुरु पूर्णिमा मनाई 

 

राजसमन्द (राव दिलीप सिंह)चार वेद अठारह पुराण व महाभारत के रचयिता आदि गुरु महर्षि वेद व्यास की जयंती गुरु पूर्णिमा रविवार को जिले भर में  सामाजिक सुरक्षा का ध्यान रखते हुए श्रद्धा के साथ मनाई गई, वेद व्यास जी का ध्यान करते हुए अपने अपने गुरुओं का पूजन करने की परंपरा है समीपवर्ती राज्यावास स्थित शनि महाराज मन्दिर परिसर महंत ईश्वरदास महाराज की मूर्ति के समक्ष उनके प्रमुख शिष्यों ने हवन यज्ञ पूजा कर श्रद्धा व आस्था के साथ नमन किया प्रातः 8 बजे पंडित बृजलाल जोशी के सानिध्य में रामदरबार मन्दिर समिति के  प्रमुख शिष्यों माधुसिंह राठौड़ रामसिंह राठौड़, देवनारायण पालीवाल भगवतीलाल पालीवाल (विहिप), जोधसिंह पड़िहार, अभयसिंह चौहान,  सामंतनाथ चौहान, सुरेशपुरी गोस्वामी आदि ने उनकी मूर्ति के समक्ष सामाजिक दूरी रखते हुए  हवन यज्ञ पूजा आदि कर नमन किया परिसर में स्थित उनकी समाधि पर पूजन कर उन्हें श्रद्धा पूर्वक याद कर उनके बताये मार्ग पर चलने का संकल्प लिया,वर्तमान महामारी से आमजन को सुरक्षित रखने के लिए पंडित ब्रजलाल जोशी ने विशेष सामग्री से विशेष आहुतियां दिलवाई।


 



टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना