मंगरोप में गांव बाहर भोज कल

 

मंगरोप (मुकेश खटीक) कस्बे के आसपास के लगभग सभी गांवों में बारिश न के बराबर हो रही है।पहली बारिश में किसानों ने फसल बुआई कर दी।बारिश समय पर न होने से किसानों ने जो बीज खेतों में बोया था जो जमीन में नमी नहीं होने के कारण खराब हो गया।समय पर बारिश नहीं होने से किसानों के चेहरे पर मायूसी छा गई। ग्रामीणों ने गुरु पूर्णिमा पर गांव बाहर भोज कर इंद्रदेव को मनाने का फैसला किया है।पंडित हीरालाल शास्त्री ने बताया कि सुबह कस्बे वासी गांव के बाहर चामुंडा माता के मंदिर पर जाकर पूजा अर्चना कर बारिश व सुख समृद्धि की कामना करेंगे।



टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना