ग्रीन वैली स्कूल प्रशासन को सौंपा ज्ञापन


भीलवाड़ा । संपूर्ण भारतवर्ष में कोविड-19 महामारी का दौर चल रहा है जिसके चलते पूर्व मे हुए लोक डाउन के कारण आमजन की आर्थिक स्थिति बहुत विकट हो गई है व्यापार उद्योग नौकरी की स्थिति अत्यंत दयनीय है काम धंधा व्यापार उद्योग सब चौपट है रोजमर्रा की वस्तुएं भी व्यक्ति नहीं जुटा पा रहा है भरण पोषण मुश्किल हो रहा है ऐसे समय में उस स्कूल फीस देना बहुत विकट हो रहा है।


भाजपा जिला प्रवक्ता कैलाश सोनी के नेतृत्व में स्कूल के अभिभावकों की पांच प्रमुख मांगों को लेकर आज ग्रीन वैली स्कूल की प्रिंसिपल रविंदर कौर को  प्रातः 10 बजे 5 प्रमुख मांगों को लेकर अभिभावकों के प्रतिनिधि मंडल ने ज्ञापन सौंपा गया जिसमें इस वर्ष की गई स्कूल फीस की बढ़ोतरी वापस ली जाए , पिछले वर्ष की स्कूल फीस को इस वर्ष में भी रखते हुए  20% कम की जाए, स्कूल की  फीस 3 माह या प्रतिमाह अभिभावक की सुविधानुसार जमा करा सकता है, ऑनलाइन क्लासेज में जुड़ने हेतु किसी बच्चों को रोका ना जाए आईडी पासवर्ड दिया जाए , जिसको भी स्कूल की किताबों की आवश्यकता हो उसको स्कूल की लाइब्रेरी में किताबें उपलब्ध कराई जाए , और प्रतिनिधि मंडल के कैलाश सोनी विनोद कोठारी कमलेश शाह ने कहा कि हमने अन्य  स्कूलों में भी स्कूल फीस को लेकर चर्चा हुई जिसमें महेश पब्लिक स्कूल सहित अन्य स्कूल संचालकों ने कहां की हमने इस वर्ष की फीस मे 20% कमी कोरोना काल के कारण की है प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि ग्रीन वैली स्कूल मे भी इस तरह 20% स्कूल फीस कम की जाए


इस पर स्कूल की प्रिंसिपल रविंदर कौर ने अधिकतर मांगों को मानते हुए स्कूल कमेटी मे इन मांगों को रखकर निर्णय लेने एवं प्रतिनिधि मंडल को अवगत कराने के लिए अति शीघ्र आश्वासन दिया।


 विदित रहे कि पूर्व में दो बार स्कूल प्रशासन के साथ अभिभावकों की मीटिंग हो चुकी है लेकिन कोई निर्णय नहीं निकलने से आज अंतिम मीटिंग थी और  सोमवार तक का समय दिया गया अब यदि इस मीटिंग में भी कोई निर्णय नही निकलता है तो हम सब अभिभावक मिलकर जिला कलेक्टर महोदय से मिलकर इन मांगो को लेकर ज्ञापन देंगे इस प्रतिनिधिमंडल में कैलाश सोनी ,विनोद कोठारी ,अनुज मुछाल कमलेश शाह ,गौतम कोठारी ,संजय जैन ,विशाल जैन ,जय प्रकाश टेलर राकेश तिवारी सम्मिलित थे।



टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना