नवग्रह आश्रम का स्थापना दिवस समारोह मनाया

 

भीलवाड़ा। जिले के मोतीबोर खेड़ा में संचालित श्रीनवग्रह आश्रम का स्थापना दिवस समारोह सादे तरीके से आश्रम संस्थापक हंसराज चोधरी की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। आश्रम के चिकित्सकों की मौजूदगी में हुए कार्यक्रम में केंसर जैसे कई असाध्य रोगों के उपचार के लिए आश्रम की ओर से सेवा प्रकल्प जारी रखने का संकल्प लेते हुए कहा गया कि 21 वीं सदी में विश्व में आयुर्वेद के प्रति लोगों का विश्वास बढ़ा है तथा आयुर्वेद ने अपनी ताकत से काफी विश्वनियता हासिंल की है। कोविड़ महामारी के दौरान भी आयुर्वेद की दवाएं रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में कारगर सिद्व हो रही है। कोविड एडवाइजरी के चलते कार्यक्रम का आयोजन सादे समारोह में किया गया तथा केवल स्वयंसेवकों ने ही हिस्सा लिया। कार्यक्रम की शुरूआत भगवान धनवन्तरी की मूर्ति के समक्ष दीप प्रज्जवलित करके किया गया।
आश्रम संस्थापक व सेवा संस्थान के अध्यक्ष हंसराज चोधरी ने आश्रम के स्वयसेवकों व चिकित्सकों का आव्हान किया कि परमार्थ के लिए सदैव प्रयासरत रहना चाहिए। आश्रम की ओर से जो भी परमार्थ के कार्य किये जा रहे है यह परमात्मा की कृपा से ही संभव हो पाया है। इसे अगले वर्ष विस्तारित करने की योजना पर कार्य चल रहा है। अब विश्व के कई देशों से रोगी यहां पहुंच कर अपने अपचार के लिए दवा प्राप्त कर रहे है। कोरोना कोविड़ के लोकडाउन को छोड़कर अब पूर्ण सर्तकता व सावधानी से आश्रम के कार्य को सुचारू संचालित किया जा रहा है। यहां सरकार की एडवाइजरी का अक्षरशः पालन किया जा रहा है।



टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

एलन कोचिंग की एक और छात्रा ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

शीतलाष्टमी की पूजा आज देर रात से, रंगोत्सव (festival of colors) कल लेकिन फैली है यह अफवाह ...!

21 जोड़े बने हमसफर, हेलीकॉप्टर से हुई पुष्पवर्षा

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक