Sunday, January 31, 2021

पथरी से पीड़ित मरीज क्या खाएं और किन चीजों से करें परहेज

 


लाइफस्टाइल डेस्क। पथरी किडनी से संबंधित एक बीमारी है। इस बीमारी से पीड़ित मरीजों को किडनी में पत्थर का निर्माण होने लगता है। पत्थरों के आकार में अंतर होता है। किसी व्यक्ति की किडनी में बड़े पत्थर का निर्माण होता है, तो किसी अन्य की किडनी में छोटे पत्थर का निर्माण होता है। अक्सर छोटी-छोटी पथरियां मूत्र के जरिए बाहर निकल जाती हैं, लेकिन बड़ी पथरी न केवल मूत्र संचालन में बाधा उतपन्न करती है, बल्कि इससे कमर और पेट में भी पीड़ा होती है। महिलाओं की तुलना में पुरुषों को यह बीमारी अधिक होती है। विशेषज्ञों की मानें तो दस में से एक व्यक्ति पथरी से पीड़ित है। पथरी से पीड़ित मरीजों को रोजाना पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि पानी के जरिए भी पथरी निकल जाती है। हालांकि, हमेशा शुद्ध और साफ़ पानी पीना चाहिए। इसके लिए आरो अथवा बोतल बंद पानी पिएं। इसके अतिरिक्त डॉक्टर पथरी के मरीजों को कुछ चीजों से परहेज करने की सलाह देते हैं। अगर आपको पता नहीं है, तो आइए जानते हैं कि पथरी से पीड़ित मरीज क्या खाएं और किन चीजों से परहेज करें-

कलमी शाक का काढ़ा पिएं

अगर कोई व्यक्ति पथरी की समस्या से परेशान है, तो रोजाना एक मुठ्ठी कलमी शाक की पत्तियों का काढ़ा बनाकर पिएं। इससे बहुत जल्द पथरी से में आराम मिलता है। हालांकि, सेवन से पहले डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

आंवला का सेवन करें

विशेषज्ञों की मानें तो आंवला किडनी स्टोन को दूर करने में सक्षम है। इसके लिए आंवला पाउडर अथवा जूस का सेवन किया जा सकता है। रोजाना सुबह में खाली पेट आंवला जूस पीना फायदेमंद साबित हो सकता है।

 जैतून तेल का सेवन करें

researchgate.net पर छपी एक शोध से खुलासा हुआ है कि जैतून का तेल पथरी को गलाने में अहम भूमिका निभा सकता है। इसके लिए पथरी से पीड़ित मरीजों को रोजाना एक गिलास पानी में जैतून तेल की कुछ बूंदे मिलाकर सेवन करें। स्वाद बढ़ाने के लिए नींबू रस का भी सहारा लिया जा सकता है।

किन चीजों से करें परहेज

पथरी से पीड़ित लोगों को अपनी डाइट में ऑक्सलेट युक्त चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। साथ ही प्रोटीन और सोडियम भी नाममात्र सेवन करना चाहिए। इसके लिए पालक, चॉकलेट, कोल्ड ड्रिंक्स, खट्टे फल और रस आदि चीजों से परहेज करें।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

 

 

 

भीलवाड़ा में कोरोना का महाब्लास्ट, 407 नये पॉजिटिव, मांडल, बापूनगर, मांडलगढ़ बने हॉट स्पॉट

   भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा में कोरोना का शनिवार को महाब्लास्ट हुआ है। कोरोना ने पुराने सभी रेकार्ड तोडते हुये अपना रौद्र रुप दिखाया है। शनिव...