वहां रे बिहार ,आंगनबाड़ी भर्ती परीक्षा देने पहुंचीं सैंकड़ों महिलाएं, असलियत पता लगते ही उड़े होश


बिहार में भागलपुर के नारायणपुर में एलएनबीजे महिला महाविद्यालय भ्रमरपुर में रविवार को प्रगति बाल विकास योजना संस्थान (एनजीओ) द्वारा आंगनबाड़ी सेविका सहायिका की बहाली के नाम पर फर्जी परीक्षा लेने का भंडाफोड़ हुआ। संस्थान ने 384 अभ्यर्थियों से परीक्षा के नाम पर एक-एक हजार रुपये शुल्क भी उगाही की थी। रविवार को महाविद्यालय में परीक्षा देने के लिए सैकड़ों महिलाएं जमा हुईं। जिसकी सूचना नवगछिया एसडीओ यतेन्द्र व बिहपुर पुलिस को मिली। जांच करने पर फर्जीवाड़ा का भंडाफोड़ हुआ। 

इस मामले को लेकर बीडीओ ने प्राचार्य सहित आठ लोगों को नामजद करते हुए बिहपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है। पुलिस ने चार लोगों को पूछताछ के लिए थाने ले आयी। एसडीओ ने बताया कि सूचना मिलने पर महाविद्यालय में पूछताछ की गयी। जिसमें पता चला कि प्रगति बाल विकास योजना संस्थान (एनजीओ) सेविका सहायिका की बहाली के नाम पर परीक्षा ले रहा है, जो फर्जी प्रतीत हुआ।

उधर, महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. प्रभात रंजन ठाकुर ने बताया कि संस्थान ने लेटरहेड पर परीक्षा लेने के लिए पत्र दिया था। उसके बाद हमने महाविद्यालय में परीक्षा लेने के लिए निर्देश दिया था। इस मामले को लेकर एसडीओ ने बीडीओ हरिमोहन कुमार को इसकी जांच कर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया था। बिहपुर थानाध्यक्ष राज कुमार सिंह ने बताया कि क्षेत्रीय प्रबंधक पवन कुमार पासवान, विक्रम कुमार, रंजीत कुमार, आलोक कुमार, उदय कुमार मंडल व सुरेंद्र कुमार को थाना लाया गया है। थाने में कंचन कुमारी चकरामी, सौरभ कुमार, रूकसार बेगम, मो. हसीन, राजीव कुमार सिंह सहित अन्य लोगों ने संयुक्त आवेदन देकर शिकायत की है।

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?