हिंदू और हिंदुत्व पर राहुल के बयान से तिलमिला गई है भाजपा: जोशी

 

भीलवाड़ा (संपत माली)। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी के हिंदू और हिंदुत्व के भाषण से भाजपा को जोरदार चोट लगी है और वह बुरी तरह तिलमिला गई है। यह बात जिले के प्रभारी मंत्री महेश जोशी ने कही। राहुल गांधी ने गत दिनों जयपुर में आयोजित महा महंगाई रैली में हिंदू और हिंदुत्व को लेकर भाषण दिया था। प्रभारी मंत्री जोशी राज्य सरकार के 3 साल पूरे होने पर मंगलवार को नगर परिषद सभागार में पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पूरी तरह एकजुट है। किसी भी तरह का मतभेद या मनभेद नहीं है। केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के वॉयस सैंपल नहीं देने को लेकर जोशी ने कहा कि गजेंद्र सिंह को आगे बढ़कर वॉयस सैंपल देना चाहिए। यदि वॉयस सैंपल की जांच में उनकी आवाज प्रमाणित नहीं होती है तो हम झूठे हो जाएंगे ना। इसलिए गजेंद्र सिंह को आगे होकर खुद को पाक साफ करना चाहिए।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सामने किसी तरह के चैलेंज की बात पर उन्होंने इनकार किया। वह भाजपा पर तल्ख तेवर दिखाते हुए बोले कि राजस्थान की जनता का मूड सहाड़ा व वल्लभनगर विधानसभा चुनाव में सबके सामने आ गया है। इसके बाद भी भाजपा के प्रदेश स्तरीय नेता 2023 में सरकार बनाने जैसी नासमझी की बातें कर रहे हैं। जनादेश के खिलाफ किसी को नहीं बोलना चाहिए। वे नेता सरकार के खिलाफ बोल रहे हैं जिनकी पार्टी उपचुनाव में तीसरे व चौथे नंबर पर रही थी। भाजपा आलाकमान को अब 2023 के बजाय 2028 के विधानसभा चुनाव के बारे में सोचना चाहिए।
जलदाय विभाग में लापरवाही बर्दाश्त नहीं
जोशी ने कहा कि जलदाय विभाग के किसी भी कार्य में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। चाहे वह पेयजल वितरण व्यवस्था हो या अन्य निर्माण कार्य। यदि शिकायत मिली तो जांच कराई जाएगी। चाहे कोई कार्य पूर्व मंत्री के कार्यकाल का ही क्यों ना हो।
घोषणापत्र के 70 प्रतिशत वादे पूरे
प्रभारी मंत्री ने राज्य सरकार की 3 साल की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि राज्य सरकार ने चुनाव से पहले किए गए घोषणापत्र के 70 प्रतिशत से अधिक वादे पूरे किए हैं। शेष 30 फीसदी वादों को भी जल्द ही पूरा किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि कोई भी घोषणा हो या योजना, जनता के सहयोग के बिना पूरी नहीं हो सकती।
नेहरू विहार के लोगों को राहत का प्रयास
नगर विकास न्यास द्वारा विकसित शहर की सबसे बड़ी कॉलोनी नेहरू विहार में 4 साल से भी आवंटियों को पेयजल संकट का सामना करने व जलदाय विभाग द्वारा चंबल प्रोजेक्ट की शेयर कोस्ट के लगभग साढ़े 5 करोड़ रुपए यूआईटी से मांगे जाने व यूआईटी द्वारा नहीं देने के सवाल पर जोशी ने आश्वासन दिया कि कल ही यह इश्यू उनके सामने आया है। कानून सम्मत प्रक्रिया से जो भी राहत दिलाना संभव होगी वह दिलाने का प्रयास करेंगे।

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?