4 उपखण्ड के सोनोग्राफी केंद्रों का निरीक्षण

 


चित्तौडग़ढ़ (हलचल)। पीसीपीएनडीटी अधिनियम के प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए जिला कलक्टर एवं जिला समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी ताराचन्द मीणा के निर्देशानुसार जिले के समस्त उपखण्ड समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी द्वारा जिले के विभिन्न उपखण्ड में जाकर एक ही दिन में सोनोग्राफी केंद्रों का औचक निरीक्षण किया गया।
चित्तौडग़ढ़, रावतभाटा, निंबाहेड़ा व कपासन में स्थित सोनोग्राफी केंद्रों का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान उपखण्ड समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी द्वारा केन्द्रों के संधारित रिकॉर्ड का अवलोकन किया गया, उन्होंने संस्थान पर पीसीपीएनडीटी एक्ट की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए तथा तीन माह के फॉर्म एफ  का निरीक्षण कर भौतिक सत्यापन किया।
निरीक्षण के दौरान समस्त केन्द्रों को निर्देशित किया गया कि संस्थान द्वारा एफ फॉर्म में पूर्ण वांछित सूचनाओं को गुणवत्तापूर्ण सावधानी से भरा जाए। इसमें किसी प्रकार की कमी व खामी रखना कानूनन संज्ञेय अपराध है, साथ ही गर्भवती महिलाओं के रिकॉर्ड संधारित करने वाले रजिस्टर को भी अपडेट रखने के लिए निर्देश दिए। प्रत्येक संस्थान पर नवीन मुखबिर योजना से संबंधित बोर्ड भी लगाया जाए। संस्थान द्वारा बिना आईडी अथवा बिना रेफरल किसी की सोनोग्राफी नहीं की जाए।
डॉ. रामकेश गुर्जर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा उपखण्ड चित्तौडग़ढ़ डॉ. ओपी कुल्हरि, अति. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (प.क) द्वारा उपखण्ड रावतभाटा डॉ. पंकज सोनी, जिला प्रजनन एवं शिशु स्वा. अधिकारी द्वारा उपखण्ड निंबाहेड़ा डॉ. राहुल कौशिक उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (स्वा.) द्वारा उपखण्ड कपासन स्थित सोनोग्राफी केंद्रों का निरीक्षण किया गया। आवंटित उपखण्डों के निरीक्षण के दौरान डॉ. मुनेश कुमार बैरवा, खुशवन्त कुमार हिण्डोनिया, विनायक मेहता, शफीक, इकबाल शेख उपस्थित थे।

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?