शुक्र है सुध आई: कोरोना वैक्सीन लगवाने व आरटीपीसीआर जांच के लिए उमड़ी भीड़ लेकिन नहीं हो कोरोना गाइडलाइन की पालना

 


भीलवाड़ा (संपत माली)। भीलवाड़ा में कोरोना संक्रमण बढऩे के साथ लोगों में जागरुकता आने लगी है लेकिन कोरोना गाइडलाइन की पालना कहीं होती नजर नहीं आ रही है। सोमवार को महात्मा गांधी अस्पताल में हालात तो ये ही बयां कर रहे थे।
भीलवाड़ा हलचल की टीम ने सोमवार को महात्मा गांधी अस्पताल का जायजा लिया। इस दौरान कोरोना की पहली व दूसरी डोज लगवाने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ रही थी। महिला व पुरुषों की अलग-अलग कतारें लगी हुई थी लेकिन कोरोना गाइडलाइन की पालना कहीं नहीं हो रही थी। कई लोगों ने मास्क नहीं लगा रखे थे तो वहीं सोशल डिस्टेंसिंग भी दरकिनार थी। ऐसे में यदि एक भी कोरोना संक्रमित लाइन में लग गया तो वो दूसरों को भी संक्रमित कर सकता है।
लोगों ने बताया कि अब कोरोना की तीसरी लहर की आशंका की बात सामने आ रही हैं। अब भीलवाड़ा में कोरोना संक्रमण फैलने लगा है और रोज मरीज सामने आ रहे हैं जिससे लोगों में दहशत पैदा हो गई है जिन्होंने अब तक कोरोना वैक्सीन की पहली व दूसरी डोज नहीं लगवाई है वे भी अब वैक्सीन लगवाने पहुंच रहे हैं। ऐसे में सोमवार को महात्मा गांधी अस्पताल में वैक्सीन लगवाने आए महिला-पुरुषों की लंबी कतारें देखी गई।
नहीं हो रही कोरोना गाइडलाइन की पालना
महात्मा गांधी अस्पताल में कोरोना वैक्सीन लगवाने आए लोगों ने कोरोना गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई। सोशल डिस्टेंसिंग की पालना तो दूर कई लोगों ने तो मास्क तक नहीं लगा रखा था।
आरटीपीसीआर जांच में भी लापरवाही
सर्दी-जुकाम वाले मरीजों की आरटीपीसीआर जांच में भी लापरवाही देखने को मिली। जांच कराने आए लोग भी सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते नजर नहीं आए। वहीं जिम्मेदार चिकित्सा विभाग भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। ऐसे में कोरोना संक्रमण रुकेगा, कहना जल्दबाजी होगी।    


    

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?