अलग-अलग विभागों में काम कर रहे संविदाकर्मियों को परमानेंट करने का फैसला

 



राजस्थान सरकार ने अलग-अलग विभागों में काम कर रहे संविदाकर्मियों को परमानेंट करने का फैसला लिया है। इस फैसले के बाद राजस्थान में 1 लाख से ज्यादा संविदा कर्मी परमानेंट हो जाएंगे। इसके लिए सरकार जल्द ही सेवा नियम बनाएगी। इसके साथ ही इनकी सैलरी और सुविधाएं भी बढ़ा दी जाएगी। शिक्षा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने बताया कि किसी विभाग में यदि 5000 पदों पर भर्ती हो रही है तो उस विभाग में काम कर रहे संविदाकर्मियों को उन भर्तियों में एडजस्ट किया जाएगा। राज्य सरकार इसी तरह सभी संविदाकर्मियों को परमानेंट करेगी। सीएम गहलोत की अध्यक्षता में हुई बैठक में सेवा नियमों को लेकर फैसला हुआ है। सभी विभागों में काम कर रहे संविदाकर्मियों के लिए एक समान सेवा नियम बनाए जाएंगे। पहले भी प्रदेश सरकार ने कई बड़ी भर्तियां की हैं। इसी तर्ज पर अब सरकार नई भर्तियां निकालने का बड़ा फैसला करने जा रही है। इससे विभागों में सालों से काम कर रहे संविदाकर्मियों और उनके परिवारों को राहत मिलेगी। उनकी सैलरी बढ़ेगी, सरकारी नौकरी की सुविधाएं और दूसरे फायदे भी मिलेंगे।

इस तरह से होंगे एडजस्ट
संविदाकर्मियों को परमानेंट करने के लिए अलग से नियम बनेंगे। लेकिन ये बताया जा रहा है कि उन्हें नई भर्तियों में एडजस्ट करेंगे। यदि किसी भी डिपार्टमेंट में कोई नई भर्ती निकलती है तो उनमें संविदाकर्मियों का एक कोटा फिक्स किया जाएगा। इन्हीं नई भर्तियों में उन्हें एडजस्ट कर परमानेंट करने का प्लान तैयार किया जा रहा है। सरकार इस तरह से करीब 1 लाख से ज्यादा संविदाकर्मियों को एडजस्ट करेगी।

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?