फ्रेश होने गये युवक की भोपाल-जयपुर एक्सप्रेस की चपेट में आने से मौत, चेतक भी खड़ी रही 15 मिनिट

 


 भीलवाड़ा Aakash gadwal.

 चित्तौडग़ढ़ रेल मार्ग पर शुक्रवार अल सुबह फ्रेश होने गये युवक की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई।  उधर, शव ट्रैक पर ही पड़ा होने से दिल्ली से आई चेतक एक्सप्रेस स्टेशन से बाहर अजमेर तिराहे पर अटक गई, जो 15 मिनिट बाद वहां से स्टेशन पहुंचकर गंतव्य के लिए रवाना हुई। 
कोतवाली थाने के सहायक उप निरीक्षक रशीद मोहम्मद ने बीएचएन को बताया कि अल सुबह सूचना मिली कि सगस जी की पुलिया के पास एक युवक भोपाल से जयपुर जा रही ट्रेन की चपेट में आ गया। सूचना लोको पायलट ने स्टेशन मास्टर के जरिये कोतवाली पुलिस को दी। पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले ही दिल्ली-उदयपुर चेतक एक्सप्रेस स्टेशन के बाहर पहुंच गई। उधर, युवक का शव ट्रैक पर ही होने के कारण चेतक को अजमेर तिराहे के नजदीक रोक दिया गया। दूसरी और सूचना पर आरपीएफ, जीआरपी व कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। इसके बाद कोतवाली पुलिस ने घटनास्थल अपने इलाके में होने से शव को कब्जे में लेकर ट्रैक से हटवाया। ट्रैक क्लियर होने पर करीब 4.20 बजे से खड़ी चेतक 4.35 बजे वहां से स्टेशन से के लिए रवाना हो सकी। 
कोतवाली पुलिस ने प्रयास कर शव की पहचान कावांखेड़ा निवासी सुरेश सिंह 21 पुत्र मदनसिंह रावणा राजपूत के रूप में कर ली। मृतक के पिता मदन सिंह सहित अन्य परिजन भी अस्पताल पहुंच गये। मदन सिंह ने पुलिस को रिपोर्ट दी कि उनका बेटा सुरेश सिंह फ्रेश होने घर से निकला था, जो लौटकर नहीं आया। तलाश की, पता नहीं चला। बाद में सूचना मिली कि सेरश सिंह की ट्रेन से कटने से मौत हो गई। पुलिस का कहना है कि सुरेश सिंह अभी अविवाहित था। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंपते हुये हादसे के कारणों की जांच शुरू कर दी। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना