बिहार से इलाज के लिए आई पांच साल की बच्ची में दिखे मंकी पॉक्स लक्षण

 


बिहार के पटना से बधिरपन का इलाज कराने आई पांच साल की बच्ची में मंकी पॉक्स के लक्षण मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बच्ची के गले से नमूना लेकर जांच के लिए पुणे भेजा है। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. राकेश गुप्ता ने बताया कि बच्ची के शरीर पर जिस तरह के दाने या फुंसियां हैं, वह अधिक आम खाने की वजह से भी हो सकता है। हालांकि बच्ची की जांच रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। पुणे से रिपोर्ट 24 घंटे में आने की संभावना है।पटना की रहने वाली बच्ची के बधिरपन का इलाज आरडीसी स्थित हर्ष ईएनटी अस्पताल में चल रहा है। वह शुक्रवार को तीसरी बार इलाज के लिए आई थी। उसके हाथ, चेहरे और शरीर पर दाने और फफोले निकले हैं।
सीनियर ईएनटी सर्जन डॉ. बीपी त्यागी ने बच्ची को अस्पताल में आइसोलेट करने के बाद स्वास्थ्य विभाग को सूचना दी। इसके बाद सर्विलांस अधिकारी ने जांच करने के लिए टीम भेजा। बच्ची के पिता ने बताया कि बच्ची का विदेश आवागमन नहीं हुआ है, लेकिन बच्ची के चाचा कुछ दिन पूर्व ही दुबई से वापस लौटे हैं। परिवार के अन्य बच्चों में भी कुछ लक्षण हैं।

जांच और भर्ती की नहीं है कोई सुविधा
मंकी पॉक्स को लेकर शासन स्तर से अलर्ट जारी किया जा चुका है, लेकिन गाजियाबाद स्वास्थ्य विभाग इस बीमारी को लेकर अभी भी लापरवाही बरत रहा है। विदेश से आने वालों की जांच और संदिग्ध मरीज को आइसोलेशन में रखने की कोई व्यवस्था नहीं की गई है।

मंकी पॉक्स के प्रति एहतियात जरूरी
सीएमओ डॉ. भवतोष शंखधार ने बताया कि ज्यादा आम खाने से बच्चों के शरीर पर दाने निकल आते हैं, मंकी पॉक्स में भी वैसे ही दाने निकलते हैं। जांच रिपोर्ट आने पर ही मंकी पॉक्स के बारे में कुछ कहा जा सकता है। बच्ची को सामान्य मरीजों की तरह ही रखने के निर्देश दिए गए हैं। मंकी पॉक्स संक्रामक होने के चलते इसके प्रति एहतियात की जरूरत है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू