सीआई कृष्ण, रिटायर्ड एसआई परसुराम गिरफ्तारी वारंट से तलब, कोर्ट ने एसपी को भी लिखा पत्र

 


 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। हत्या के दो अलग-अलग मामलों में तारीख पेशी पर उपस्थित नहीं हो रहे सीआई कृष्ण कुमार व रिटायर्ड एसआई परसुराम को न्यायालय ने गिरफ्तारी वारंट से तलब किया है। कोर्ट ने सीआई को दस जून, जबकि एसआई को 23 जून की तारीख उपस्थिति के लिए दी है। वहीं  दो पुलिस दीवान के खिलाफ भी कोर्ट ने वारंट जारी किया है। वहीं, अनुसंधान अधिकारियों व कर्मचारियों की न्यायालय में उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए कोर्ट ने पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धू को भी पत्र लिखा है। 

पूनम हत्याकांड में सीआई कृष्ण की है अधूरी गवाही

विशिष्ट लोक अभियोजक संजू बापना ने बीएचएन को बताया कि सदर थाना इलाके में 3 अप्रैल 19 को कमल गुसर नामक युवक ने पूनम नामक युवती की दिनदहाड़े गला काटकर हत्या कर दी थी। कमल व पूनम की सगाई की बात चल रही थी। लेकिन घर वालों व पूनम को कमल पसंद नहीं था। ऐसे में परिवार जनों ने पूनम की अन्यत्र सगाई के लिए बातचीत चालू की थी। यह कमल को नागरवार गुजरा और उसने पूनम को उसके घर से बुलाकर उसकी चाकू से गला काटकर हत्या कर दी थी। सदर थाने में दर्ज इस मामले में तत्कालिन थाना प्रभारी कृष्ण कुमार अनुसंधान अधिकारी थे, जो अभी दौसा के महुवा थाने में तैनात है। इस मामले में कोर्ट गवाही के लिए सीआई कृष्ण को तलब कर रहा था। 9 मई 22 को वे, गवाही के लिए आये थे, लेकिन बयान अधुरे रहे। ऐसे में कोर्ट में सीआई कृष्ण को 11 मई को बयान के लिए पाबंद किया था, लेकिन  वे नहीं आये। ऐसे में उनके खिलाफ कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया। सीआई कृष्ण को अब 10 जून तक का समय दिया है। 

रिटायर्ड थानेदार परसुराम के भी होने हैं हत्या मामले में बयान
विशिष्ट लोक अभियोजक बापना ने बताया कि 13 जून 11 को एक महिला कंकू की हत्या कर शव को पत्थर से बांध कर कुएं में डाल दिया था। इसे लेकर करेड़ा थाना पुलिस ने मर्डर की एफआईआर दर्ज की थी। मामले की जांच तत्कालीन करेड़ा थाना प्रभारी परसुराम ने की। इस मामले में हरदेव व सुखी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भिजवाया था। न्यायालय में इस मामले में सुनवाई की जा रही है। तत्कालीन थाना प्रभारी परसुराम को तलब किया गया, लेकिन वे गवाही देने नहीं आये। ऐसे में न्यायालय ने परसुराम के खिलाफ भी गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया। बापना का कहना है कि एसआई परसुराम रिटायर्ड हो चुके हैं। कोर्ट के आदेश के अनुसार, परसुराम को उपस्थिति के लिए 23 जून तारीख दी गई है। 

कोर्ट ने एसपी को लिखा पत्र- अनुसंधान अधिकारियों व पुलिसकर्मियों की उपस्थिति हो सुनिश्चित
अतिरिक्त सेशन न्यायाधीश महिला उत्पीडऩ प्रकरण ने अनुसंधन अधिकारियों व पुलिसकर्मियों की न्यायालय में उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए जिला पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धू को पत्र लिखा है। विशिष्ट लोक अभियोजक बापना ने बताया कि एसपी को लिखे पत्र में कहा गया है कि न्यायालय में ज्यादातर मामले महिला उत्पीडऩ व हत्या जैसे गंभी अपराधों से संबंधित है। प्रत्येक पेशी परिवादी पक्ष के लिए महत्त्वपूर्ण है। इन मामलों के त्वरित निस्तारण के लिए अनुसंधान अधिकारी, पुलिकसर्मी, मालखान, एफएसएल आदि से संबंधित है को तलब किया जाता है, लेकिन उपेक्षापूर्ण रवैया अख्तियार करते हुये न्यायालय में उपस्थित नहीं आते। इससे प्रकरणों के निस्तारण में विलंब होता है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू