Monday, January 25, 2021

नाथद्वारा के होटल में नाबालिग से दुष्कर्म करने के आरोपित को 10 साल की कैद


 भीलवाड़ा हलचल। विशिष्ट न्यायाधीश (पोक्सो एक) बन्नालाल जाट ने सोमवार ने जलानिया मोहल्ला, सुवाणा के नारायण पुत्र भंवर जाट को दस साल की कैद और 10 हजार रुपये जुर्माने से दंडित किया है। नारायण पर एक नाबालिग को अगवा कर नाथद्वारा के एक होटल में ले जाकर ब्लात्कार करने का आरोप है। 
विशेष लोक अभियोजक हर्ष रांका ने हलचल को बताया कि 1 मार्च 2018 को सदर थाने में एक युवक ने रिपोर्ट दी कि उसकी 15 वर्षीय नाबालिग बहन घर से बिना बताये कहीं चली गई। उसकी आस-पड़ौस व रिश्तेदारी में तलाश की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चल पाया। परिवादी ने उसकी बहन को नारायण जाट के फरार कर ले जाने की शंका जाहिर की। पुलिस ने पोक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर नाबालिग को दस्तयाब किया। पीडि़ता ने बयानों में कहा कि वह घटना की रात बाड़े पर ताला लगाने जा रही थी। नारायण जाट पहले से टवेरा लिये खड़ा था। नारायण ने उसका मुहं दबा दिया और माता-पिता व भाई को मारने और फोटो फेसबुक पर वायरल करने की धमकी देते हुये उसे गाड़ी में बैठा लिया। गाड़ी में नारायण के साथ ड्राइवर भी था। 
नारायण उसे नाथद्वारा के एक होटल में ले गया, जहां उसे कमरे में रखा और दुष्कर्म किया। फोटो वायरल करने की धमकी देता और मारपीट करता था। बाहर जाते समय उसे कमरे में बंद कर जाता था। इसके बाद वह, उसे ट्रेन से दिल्ली ले गया। उसी दिन दिल्ली से उसे पुन: नाथद्वारा के होटल में ले आया। जहां उसे दस-पन्द्रह दिन रखा। इसके बाद आरोपित, उसे उदयपुर ले गया, जहां पीडि़ता ने अपने पिता को पुलिस के साथ देखा। वह नारायण का हाथ छूड़ा कर पिता के पास चली गई। यहीं से पुलिस ने पीडि़ता को दस्तयाब किया। पुलिस ने मामले में आरोपित नारायण जाट को गिरफ्तार कर न्यायालय में चार्जशीट पेश की। सुनवाई पूरी होने पर न्यायालय ने आज आरोपित नारायण जाट को दस साल की कै द और दस हजार रुपये जुर्माने से दंडित किया। न्यायालय ने जुर्मान राशि जमा होने पर उक्त राशि पीडि़ता को उसके माता-पिता के जरिये देने के आदेश भी दिये। 

घर-घर पूजी गणगौर, की कोरोना से बचाव की कामना

  सवाईपुर ( सांवर वैष्णव )  सवाईपुर सहित सोपुरा, सालरिया, ढ़ेलाणा, बड़ला, बनकाखेड़ा, चांवड़िया, खजीना, ककरोलिया माफ,  लसाड़िया, रेड़वास आदि ...